आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Laparoscopic surgery for colorectal cancer: जानिए कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    Laparoscopic surgery for colorectal cancer: जानिए कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    कोलोरेक्टल कैंसर एक ऐसा कैंसर है, जो पेट या मलाशय (Rectum) में होता है। इस कैंसर को पेट का कैंसर (Colon) या रेक्टल (Rectal) कैंसर भी कहा जा सकता है। दरअसल यह इस बात पर निर्भर करता है कि कैंसर कहां से शुरू होता है। कोलन कैंसर और रेक्टल कैंसर आमतौर पर एक जैसे होते हैं। बड़ी आंत को भी कोलन कहते हैं। कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery for colorectal cancer) का सहारा लिया जाता है, जिससे इस बीमारी से बचने में मदद मिल सके।

    और पढ़ें : Bile Duct Cancer: बाइल डक्ट कैंसर क्या है? जानिए बाइल डक्ट कैंसर के लक्षण, कारण और इलाज!

    • कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी से जुड़ी क्या है महत्वपूर्ण जानकारियां?
    • लैप्रोस्कोपिक सर्जरी क्या है?
    • कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी होने के बाद मरीज को ठीक होने में कितना वक्त लगता है?
    • कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के लिए खुद को कैसे तैयार करना चाहिए?
    • कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी में होने वाली प्रक्रिया क्या है?
    • कोलोरेक्टल कैंसर के कारण क्या हैं?

    चलिए अब कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery for colorectal cancer) से जुड़े इन सवालों का जवाब जानते हैं।

    और पढ़ें : ALK positive lung cancer: एएलके पॉसिटिव लंग कैंसर क्या है? जानिए इसके लक्षण और इलाज!

    कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery for colorectal cancer) से जुड़ी क्या है महत्वपूर्ण जानकारियां?

    कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery for colorectal cancer)

    कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के बारे में समझने से पहले सबसे पहले लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery) क्या है यह समझते हैं और यह सर्जरी कोलोरेक्टल कैंसर पेशेंट्स (Colorectal cancer patients) के लिए कैसे लाभकारी है यह समझते हैं।

    लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery) क्या है?

    लैप्रोस्कोपिक सर्जरी को सेफ और पेनलेस माना गया है। इस सर्जरी के बाद पेशेंट को कोई विशेष परेशानी नहीं होती है और पेशेंट को जल्द से जल्द हॉस्पिटल से छुट्टी भी मिल जाती है। लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के बाद पेशेंट को 24 घंटे के भीतर या बाद वॉक (Walk) करने की भी सलाह दी जाती है

    नोट: लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के बाद अस्पताल से छुट्टी मिलनी हो या पेशेंट को वॉक करना हो। यह सभी बातें कैंसर पेशेंट के हेल्थ कंडिशन और बीमारी की गंभीरता पर निर्भर होती है। लैप्रोस्कोपिक सर्जरी की प्रक्रिया कैंसर के मरीजों के लिए थोड़ा अलग होता है।

    और पढ़ें : Endometrial Cancer: एंडोमेट्रियल कैंसर क्या है? जानिए एंडोमेट्रियल कैंसर के लक्षण, कारण और इलाज

    कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी होने के बाद मरीज को ठीक होने में कितना वक्त लगता है? (Recovery time after Laparoscopic surgery for colorectal cancer)

    कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के बाद मरीज को दर्द (Pain), जी मिचलाना (Nausea), कब्ज (Constipation), ब्लोटिंग (Bloating) या फिर दस्त (Diarrhea) की समस्या हो सकती है। हालांकि ये परेशानियां लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। वहीं पेशेंट को सर्जरी से रिकवर करने में तकरीबन 4 से 6 सप्ताह का वक्त लग सकता है।

    नोट: अगर सर्जरी के बाद तेज एवं असहनीय दर्द (Pain), कब्ज (Constipation) या डायरिया (Diarrhea) की समस्या होने पर इसे इग्नोर नहीं करना चाहिए और जल्द से जल्द डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए।

    और पढ़ें : Lung cancer treatment: लंग कैंसर ट्रीटमेंट कैसे किया जाता है, जानिए इसके बारे में विस्तार से!

    कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के लिए खुद को कैसे तैयार करना चाहिए? (How to prepare for Laparoscopic surgery for colorectal cancer)

    कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery for colorectal cancer) करवाने से पहले अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए। डॉक्टर से मिल कर आपको अपनी दवाओं (जो आप पहले से ले रहे हो), एलर्जी (Allergy) और हेल्थ कंडिशन (Health Condition) के बारे में बात करनी चाहिए। इसके साथ ही आप अपने एनेस्थेटिस्ट से भी मिलें और सुन्न या बेहोश करने की प्रक्रिया प्लान करें। साथ में आप अपने डॉक्टर से जान लें कि आपको सर्जरी से पहले क्या खाना पीना चाहिए। इसके अलावा आप अपने ये भी पूछ लें कि सर्जरी से कितने घंटे पहले से खाना पीना बंद करना है। परिवार के लोगों को भी आप डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देशों के बारे में बता दें। ज्यादातर मामलों में सर्जरी कराने से आठ घंटे पहले से कुछ भी नहीं खाना होता है। ऐसे में डॉक्टर द्वारा बताए गए तरल पदार्थ या ड्रिंक्स ही लें।

    और पढ़ें : Stomach cancer radiation therapy: जानिए पेट के कैंसर के लिए रेडिएशन थेरिपी से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी में होने वाली प्रक्रिया क्या है? (Process during Laparoscopic surgery for colorectal cancer)

    कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery for colorectal cancer) करने में एक से डेड घंटे का समय लगता है। सर्जरी से पहले आपको एनेस्थेटिस्ट बेहोश करते हैं। इसके बाद सर्जन कई चीरे लगाते हैं। इन सभी चीरों में से सर्जन सर्जिकल उपकरण पेट में डालते हैं। इन सर्जिकल उपकरण में दूरबीन (Telescope) लगा रहता है। जिसकी मदद से पेट के अंदर सर्जरी की जाती है।

    कैंसर का कारण (Cause of Cancer) आजकल ऐसी-ऐसी चीजें भी बनती जा रही हैं, जिन्हें जानकर आप हैरान रह जाएंगे। कैंसर मनुष्य को शारीरिक और मानसिक दोनों ही तरह से कष्ट देता है। इसलिए इस बीमारी से जितना हो उतना सतर्क रहें और ऐसी कोई लापरवाही न करें जिससे यह खतरनाक बीमारी आपको चपेट में ले ले। बहुत कम लोग जानते होंगे कि हम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में बहुत कुछ ऐसा करते हैं, जो आगे चलकर कैंसर का कारण (Cause of Cancer) बन सकता है। इसलिए यहां कोलोरेक्टल कैंसर के कारण को समझें जिससे इस बीमारी से बचने में मदद मिल सके।

    और पढ़ें : Radiation therapy for Colorectal cancer: जानिए कोलोरेक्टल कैंसर के लिए रेडिएशन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    कोलोरेक्टल कैंसर के कारण क्या हैं? (Causes of Colorectal cancer)

    कोलोरेक्टल कैंसर की समस्या उन लोगों में ज्यादा डायग्नोस की जाती है, जो अनहेल्दी डायट (Unhealthy Diet) एवं अनहेल्दी लाइफस्टाइल (Unhealthy lifestyle) फॉलो करते हैं। इसके साथ ही जरूरत से ज्यादा वजन या ओबेसिटी (Obesity) के शिकार लोगों में भी कोलोरेक्टल कैंसर की समस्या देखी जाती है। इसलिए कोलोरेक्टल कैंसर के लक्षण को समझें और फिर जानेंगे कोलोरेक्टल कैंसर के लिए रेडिएशन थेरिपी (Radiation therapy for Colorectal cancer) कैसे सहायक हो सकती है।

    नोट: कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery for colorectal cancer) की वजह से अगर आपको कोई साइड इफेक्ट्स नजर आये या पेशेंट महसूस करते हैं, तो अपनी मर्जी से किसी भी दवाओं का सेवन ना करें। साइड इफेक्ट्स के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें और उनके द्वारा प्रिस्क्राइब की गई दवा और सलाह का ही पालन करें।

    अगर आप कोलोरेक्टल कैंसर (Colorectal cancer) या कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery for colorectal cancer) से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते हैं। हमारे हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे। हालांकि अगर आप कोलोरेक्टल कैंसर से पीड़ित है, तो डॉक्टर से कंसल्टेशन करें, क्योंकि ऐसी स्थिति में डॉक्टर आपके हेल्थ कंडिशन को ध्यान में रखकर इलाज शुरू करेंगे और कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic surgery for colorectal cancer) पर विचार करेंगे।

    स्वस्थ रहने के लिए अपने डेली रूटीन में योगासन शामिल करें। यहां हम आपके साथ योग महत्वपूर्ण जानकारी शेयर कर रहें हैं, जिसकी मदद से आप अपने दिनचर्या में योग को शामिल कर सकते हैं। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर योगासन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी जानिए।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Surgery for Colon Cancer/https://www.cancer.org/cancer/colon-rectal-cancer/treating/colon-surgery.html/Accessed on 24/06/2022

    Laparoscopic surgery for rectal cancer/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3480851/Accessed on 24/06/2022

    Laparoscopic Surgery for Colorectal Cancer in Korea: Nationwide Data from 2013 to 2018/https://www.e-crt.org/m/journal/view.php?number=3086/Accessed on 24/06/2022

    Laparoscopic surgery for rectal cancer/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3480851/Accessed on 24/06/2022

    Laparoscopic surgery/https://medlineplus.gov/ency/presentations/100166_3.htm/Accessed on 24/06/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 24/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: