आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Lariago DS : लारियागो डीएस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानी और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Lariago DS : लारियागो डीएस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

लारियागो डीएस (Lariago DS) कैसे काम करता है?

लारियागो डीएस (Lariago DS) मलेरिया में दी जाने वाली दवा है। ये टैबलेट एंटी पैरासिटिक और एंटीमलेरियल दवा है। मलेरिया के साथ ही ये दवा अमिबिएसिस के इलाज में भी इस्तेमाल की जाती है। अमिबिएसिस को पेचिश भी कहा जाता है, जिसमें एंटअमिबा हिस्टोलिटिका नामक प्रोटोजोअन परजीवी आंत और लिवर में फोड़ा या घाव बना देता है, जिससे मल में ब्लड या पस निकलता है। इस दवा का उपयोग रूमेटाइड आर्थराइटिस में भी करते हैं। ये टैबलेट क्लोरोक्विन 500 mg (Chloroquine) नामक जेनेरिक फॉर्मूला से बनता है। क्लोरोक्विन (Chloroquine) मलेरिया के परजीवी के टॉक्सिक मॉलिक्यूल की सांद्रता (concentration) को बढ़ा देता है, जिससे मलेरिया का परजीवी जिंदा नहीं रह पाता है।

और पढ़ें : Ivabrad 5 mg : आइवाब्राड 5 एमजी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डोसेज

इस टैबलेट के डोज के लिए आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। बिना डॉक्टर के परामर्श के आपको किसी भी दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।

[mc4wp_form id=”183492″]

लारियागो डीएस (Lariago DS) की खुराक मिस हो जाए तो क्या करें?

लारियागो डीएस (Lariago DS) का डोज अगर छूट जाए या मिस हो जाए तो जितनी जल्दी आपको याद आ सके, उतने जल्दी ही आपको दवा खा लेनी चाहिए। अगर आपके अगले डोज का वक्त हो गया है तो मिस हुई डोज को छोड़ दें। लेकिन दवा का डबल डोज एक साथ ना लें। इससे आपकी सेहत को नुकसान हो सकता है।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

अगर गलती से आपने इस टैबलेट का ओवर डोज ले लिया है तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। किसी भी दवा का ओवरडोज होना खुद में एक मेडिकल इमरजेंसी हो सकती है।

और पढ़ें : Hexigel : हेक्सीजेल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

लारियागो डीएस (Lariago DS) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

लारियागो डीएस (Lariago DS) टैबलट का सेवन खाना खाने के बाद अपने डॉक्टर के परामर्श के अनुसार पानी के साथ ले सकते हैं। डॉक्टर के द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों का पालन दवा के डोज लेते समय जरूर करना चाहिए। वहीं इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि डॉक्टर के द्वारा बताए गए डोज से न कम और न ही ज्यादा मात्रा का सेवन करना चाहिए। वहीं, इस दवा का सेवन करने के बाद रिएक्शन हो सकता है। इसके अलावा कोई स्वास्थ्य समस्या भी हो सकती है। ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर के पास जा कर अपना इलाज कराना चाहिए। वहीं दवा का सेवन बिना डॉक्टर से पूछे बंद ना करें। डॉक्टर से पूछने के बाद और जांच के बाद ही दवा की खुराक को बंद करें।

इस दवा का उपयोग इस स्वास्थ्य समस्या के इलाज के लिए किया जाता है :

मलेरिया

मलेरिया एक मच्छर जनित रोग है, जिसमें ठंड के साथ बुखार, मांसपेशियों में दर्द, थकान, सिरदर्दआदि समस्याएं होती हैं। इसके इलाज के लिए इस दवा का उपयोग किया जाता है।

अमिबिएसिस (Amebiasis)

अमिबिएसिस एक प्रोटोजोन जनित रोग है, जो दूषित पानी पीने के कारण होता है। एंटअमीबा हिस्टोलिटिका के कारण आंत और लिवर में फोड़ा या घाव हो जाता है, जिससे मल में पस या खून निकलने लगता है। इसके इलाज के लिए इस दवा का इस्तेमाल किया जाता है।

और पढ़ें : Oflox 200 : ओफ्लॉक्स 200 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

साइड इफेक्ट्स

लारियागो डीएस (Lariago DS) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इस दवा का सेवन करने से निम्न साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, लेकिन ये सभी काफी रेयर है, जो बुहत कम लोगों में देखे गए हैं :

और पढ़ें : Mucopain gel: म्यूकोपेन जेल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानी और चेतावनी

लारियागो डीएस (Lariago DS) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

कब इस दवा का सेवन न करें?

एलर्जी

अगर आपको क्लोरोक्विन (Chloroquine) से एलर्जी हो तो इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे आपको स्वास्थ्य संबंधी समस्या हो सकती है।

नजर कमजोर होना या रेटिनल प्रॉब्लम होने पर

अगर आपको आंखों से संबंधित कोई भी समस्या है तो इस बीमारी का सेवन ना करें। इससे आपके आंखों की रोशनी कमजोर होने का रिस्क बढ़ सकता है।

सोरायसिस

अगर आपको सोरायसिस है तो इस स्थिति में क्लोरोक्विन (Chloroquine) फॉर्मूला से बनी दवा का सेवन ना करें। इससे त्वचा पर खुजली और रैशेज बढ़ सकते हैं।

प्रोफाइरिया

प्रोफाइरिया के मरीज को इस दवा सेवन नहीं करना चाहिए। इससे शरीर में प्रोफाइरिन की मात्रा ज्यादा बढ़ सकती है।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लारियागो डीएस (Lariago DS) को लेना सुरक्षित है?

कोई भी डॉक्टर इस टैबलेट को प्रेग्नेंसी में तब तक लेने की सलाह नहीं देते हैं, जब तक कि बहुत जरूरी ना हो। जिससे मां और गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए परेशानी पैदा हो सकती है। वहीं, स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी बिना डॉक्टर के परामर्श पर इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे बच्चे में कई तरह से साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

इसके अलावा अन्य स्थितियों में भी सावधानी बरतनी चाहिए :

हैवी मशीन ऑपरेशन या ड्राइविंग

अगर दवा का सेवन कर आप ड्राइविंग या हैवी मशीन चलाते हैं तो अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है। क्योंकि दवा के सेवन के बाद ऊपर बताए गए साइड इफेक्ट्स, जैसे- सिरदर्द, चक्कर आना आदि में से कोई भी लक्षण महसूस हो सकते हैं। ऐसे में सही यही होगा कि दवा का सेवन करने के बाद ड्राइविंग ना करें और ना ही कोई भारी मशीन का संचालन करें।

किडनी डिजीज

आपको अगर पहले किडनी से संबंधित समस्या रही है या हाल फिलहाल में है तो इस दवा का सेवन ना करें। ये आपकी स्थिति को और अधिक बिगाड़ सकती है।

लिवर प्रॉब्लम

अगर आपको पहले कभी या फिलहाल में लिवर फंक्शन से जुड़ी समस्या रही है तो आप इस दवा का सेवन ना करें। इसके लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर के दवा के डोज में बदलाव करा सकते हैं।

ब्लड सेल काउंट

अगर इस दवा का लंबे समय तक सेवन करते हैं तो लोवर ब्लड सेल काउंट हो सकता है। जिन लोगों को ग्लूकोज-6 फॉस्फेट डिहाइड्रोजिनेस डेफिसिएंसी की समस्या है तो उन्हें इस दवा के सेवन के पहले डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

सुनने की परेशानी (Hearing problem)

अगर आपको हियरिंग प्रॉब्लम है तो इस दवा का सेवन ना करें। इससे आपकी परेशानी और ज्यादा बढ़ सकती है। इगर दवा लेना जरूरी हो तो अपने डॉक्टर से परामर्श कर के डोज को एडजस्ट करा सकते हैं।

हाइपोग्लाइसीमिया (Hypoglycemia)

हाइपोग्लाइसीमिया में ब्लड शुगर लेवल काफी ज्यादा कम हो जाता है। इस कंडीशन में ये टैबलेट का सेवन करने से हाइपोग्लाइसीमिया से पीड़ित मरीज का ब्लड शुगर लेवल और कम हो सकता है। ये स्थिति व्यक्ति के लिए जानलेवा साबित हो सकती है।

और पढ़ें : Meganeuron : मेगान्यूरॉन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां लारियागो डीएस (Lariago DS) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

यूं तो हर दवा हर व्यक्ति पर अलग-अलग तरह से रिएक्ट करती है। इस दवा को लेने से पहले भी इसके रिएक्शन को लेकर डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

क्या लारियागो डीएस (Lariago DS) भोजन या शराब के साथ रिएक्शन करती है?

ये टैबलेट भोजन के साथ रिएक्ट करता है या नहीं, अभी तक इसकी कोई खास जानकारी नहीं मिल पाई है। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

शराब के साथ इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके अलावा शराब के साथ अगर गलती से आपने इस दवा का सेवन कर लिया है तो कुछ स्वास्थ्य समस्या हो सकती है। ऐसी स्थिति में तुरंत डॉक्टर से मिलें।

इन दवाओं के साथ हो सकता है रिएक्शन

इन बीमारियों के साथ भी लारियागो डीएस (Lariago DS) के रिएक्शन की संभावनाएं हैं :

सिजर डिसऑर्डर

अगर आपको मिर्गी के दौरे आने की समस्या है तो इस दवा का सेवन आपके लिए सुरक्षित नहीं है। इससे एपिलेप्सी और दौरे आने का रिस्क बढ़ सकता है। सिजर डजिसऑर्डर के साथ ये दवा रिएक्शन कर सकती है।

और पढ़ें : Okacet cold : ओकासेट कोल्ड क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज

लारियागो डीएस (Lariago DS) को कैसे स्टोर करें?

लारियागो डीएस (Lariago DS) को कमरे के तापमान में रखना चाहिए, कोशिश करें कि उसे सीधे धूप में ना रखें। लारियागो डीएस (Lariago DS) को फ्रिज में नहीं रखना चाहिए। इसके साथ ही इस दवा को बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें। लारियागो डीएस (Lariago DS) एक्सपायर होने के पहले ही इसका खा लें, वहीं अगर टैबलेट का लंबे समय तक सेवन करना हो तो डॉक्टर का सलाह जरूर लें। दवा एक्सपायर हो जाए तो उसे कैसे डिस्पोज करना है उसको लेकर फॉर्मासिस्ट से सलाह लेनी चाहिए। टैबलेट के रैपर को डस्टबिन में डिस्पोज करें ताकि बाद में इसे रिसाइकिल किया जा सके।

किस रूप में उपलब्ध है?

ये दवा टैबलेट के रूप में उपलब्ध है।

उम्मीद है कि ये आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार होगा। इस आर्टिकल में बताए गए सभी दिशा-निर्देशों के बाद भी अपने डॉक्टर के द्वारा सलाह दिए जाने पर ही इस टैबलेट का सेवन करें।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 30/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड