backup og meta

डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट के फायदे जानते हैं आप?

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Sayali Chaudhari · फार्मेकोलॉजी · Hello Swasthya


Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 25/04/2022

डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट के फायदे जानते हैं आप?

आपको जानकर हैरानी होगी कि ट्रेडिशनल और अल्टरनेटिव मेडिसिन ट्रीटमेंट्स (Alternative medicine treatments) में ड्रैगन फ्रूट को हाय ब्लड प्रेशर (Hypertension) के लिए लाभकारी माना गया है। साथ ही इसके सीड्स टाइप-2 डायबिटीज (Type 2 diabetes) के प्रिवेंशन और मैनेजमेंट में बेनेफिशियल होते हैं। डायबिटिक लोगों को लो से मीडियम ग्लाइसेमिक (Glycemic) फ्रूट्स जैसे सेब, स्ट्रॉबेरी और संतरे को शामिल करना चाहिए। इस लिस्ट में डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit in diabetes) को भी शामिल किया जा सकता है। हालांकि, डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit in diabetes) का पोर्शन साइज क्या होना चाहिए, यह आपके लिए फायदेमद है या नहीं? इस बारे में डॉक्टर से सलाह लेना बहुत जरूरी होता है।

एनिमल बेस्ड स्टडीज में पाया गया है कि ड्रैगन फ्रूट पैंक्रिएटिक बीटा सेल्स (Pancreatic cells) को डेवलप करके और ओबेसिटी के रिस्क को कम करके एंटी-डायबिटिक इफेक्ट (Anti-diabetic effect) पैदा करता है। इस फल के और भी कई हेल्थ बेनिफिट्स हैं जिनके बारे में इस आर्टिकल में बताया गया है।

और पढ़ें: Banana in diabetes: डायबिटीज में केला खाना चाहिए या नहीं?

ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit) में पाए जाने वाले पोषक तत्व

डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit in diabetes) के फायदे से पहले इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्वों के बारे में जान लेते हैं। ड्रैगन फ्रूट कैलोरी में कम होता है लेकिन आवश्यक विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में डायटरी फायबर (Dietary fiber) भी होता है। यहां एक कप सर्विंग में कैलोरी, प्रोटीन, फैट, कार्बोहाइड्रेट, फायबर, आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन सी, विटामिन ई जैसे न्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं। इसके अलावा ड्रैगन फ्रूट पॉलीफेनोल्स (Polyphenols), कैरोटेनॉयड्स (Carotenoids) और बीटासायनिन (Betacyanin) जैसे लाभकारी प्लांट कंपाउंड्स से भी भरपूर है।

 डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट: ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Glycemic index of dragon fruit)

ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) 0 से 100 के बीच की एक संख्या है जो फूड को दिया जाता है जो उस फूड को खाने के 2 घंटे बाद ब्लड शुगर लेवल में स्पाइक को दर्शाता है। फूड्स के लो जीआई में होने की रेंज 55 से कम या उसके बराबर है। ड्रैगन फ्रूट का ग्लाइसेमिक इंडेक्स केले के बराबर 51 या इससे कम होता है। इसलिए ड्रैगन फ्रूट लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स के अंतर्गत आता है। इससे यह स्पष्ट होता है कि डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit in diabetes) का सेवन एक छोटी मात्रा में किया जा सकता है।

डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit in diabetes)

और पढ़ें: डायबिटीज में सिनेमन टी: जानना न भूलें दालचीनी की चाय के ढेरों फायदों के बारे में!

डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit in diabetes) फायदेमंद है, क्या कहती है रिसर्च?

पीएलओएस (PLOS) जर्नल में प्रकाशित एक स्टडी ने डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit in diabetes) के सेवन से होने वाले फायदे को एनालाइज करने के लिए प्रकाशित रिसर्च रिव्यू किया। यह स्टडी विशेष रूप से प्रीडायबिटीज (Prediabetes) और टाइप 2 डायबिटीज पर बेस्ड थी। चार रैंडमाइज्ड कंट्रोल्ड क्लिनिकल ट्रायल्स (Randomized controlled clinical trials) के डेटा का विश्लेषण किया गया। सभी चार ट्रायल्स में एक कंट्रोल ग्रुप था, और लिए गए रिजल्ट फास्टिंग प्लाज्मा ग्लूकोज (FPG) और दो घंटे के बाद के ग्लूकोज (2HPP) के लेवल के थे। अन्य बीमारियों वाले मरीजों को रिव्यू से बाहर रखा गया था।

स्टडी में पाया गया है कि ड्रैगन फ्रूट दिए गए ग्रुप में, प्रीडायबिटीज के रोगियों में फास्टिंग प्लाज्मा ग्लूकोज (Fasting plasma glucose) में कमी आई थी। टाइप 2 डायबिटीज के रोगियों के लिए, ओवरऑल रिडक्शन थी, लेकिन यह डेटा महत्वपूर्ण नहीं था। इसलिए, डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit in diabetes) की स्टडीज के रिजल्ट ज्यादा संतुष्ट करने वाले नहीं थे। हालांकि, ड्रैगन फ्रूट ने चूहों पर हुई एक स्टडी में संभावित लाभ दिखाए हैं। यह समझने के लिए और अधिक क्लिनिकल ट्रायल्स ​​की आवश्यकता है कि क्या डायबिटीज के मैनेजमेंट में ड्रैगन फ्रूट का उपयोग किया जा सकता है। इसलिए, एक अच्छे डाइट प्लान के लिए किसी एक्सपर्ट से सलाह लेना उचित रहता है।

और पढ़ें: डायबिटीज में करेला जामुन जूस नहीं किया है कभी ट्राय, तो आज ही पढ़ें इसके लाभ!

ड्रैगन फ्रूट के हेल्थ बेनिफिट्स (Health benefits of dragon fruit)

डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit in diabetes) के फायदे तो हैं ही। साथ ही यह अन्य स्वास्थ्य लाभों के लिए भी लाभकारी है। जैसे-

  • यह फ्लेवोनोइड्स (Flavonoids), फेनोलिक एसिड (Phenolic acid) और बीटासायनिन (Betacyanin) जैसे एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर है। ये नैचुरल सब्सटेंस सेल्स को फ्री रेडिकल्स डैमेज से बचाते हैं। ये मॉलिक्यूल्स कैंसर और प्रीमैच्योर एजिंग को जन्म दे सकते हैं।
  • लीड्स यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं द्वारा की गई एक स्टडी के अनुसार, फायबर युक्त खाद्य पदार्थों के सेवन से कार्डियोवस्कुलर डिजीज (Cardiovascular disease) और कोरोनरी हार्ट डिजीज (Coronary heart disease) दोनों का खतरा कम हो सकता है। ड्रैगन फ्रूट डाइटरी फाइबर का एक अच्छा स्रोत है, इसलिए यह न केवल हार्ट के लिए अच्छा है, बल्कि ब्लड प्रेशर और हेल्दी वेट को बनाए रखने में भी मदद करता है।
  • ड्रैगन फ्रूट में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बहुत कम होती है, साथ ही इसमें सैचुरेटेड (Saturated) और ट्रांस फैट (Trans fat) भी होता है। फल का नियमित सेवन लंबे समय तक आपके हेल्दी हार्ट के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके अलावा, फल में मौजूद बीज ओमेगा 3 फैटी एसिड आपके ओवरऑल वेल-बीइंग के लिए आवश्यक होते हैं।
  • यह आपके इम्यून सिस्टम को स्ट्रॉन्ग कर सकता है। ड्रैगन फ्रूट विटामिन सी और अन्य एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो आपके इम्यून सिस्टम के लिए अच्छा होता है।
  • इसमें प्रीबायोटिक्स होते हैं, जो आपकी गट हेल्थ के लिए अच्छे होते हैं। आपके सिस्टम में अधिक प्रीबायोटिक्स होने से आपकी इंटेस्टाइन में अच्छे और बुरे बैक्टीरिया के बैलेंस में सुधार हो सकता है। विशेष रूप से, ड्रैगन फ्रूट प्रोबायोटिक्स लैक्टोबैसिली (Probiotics lactobacilli) और बिफीडोबैक्टीरिया (Bifidobacterial) के डेवलप को प्रोत्साहित करता है। आपकी आंत में, ये और अन्य सपोर्टिव बैक्टीरिया, डिजीज पैदा करने वाले वायरस (Disease-causing viruses) और बैक्टीरिया को खत्म कर सकते हैं।

डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट को डायट में कैसे शामिल कर सकते हैं? (How to add dragon fruit in your diet)

आप इसे फ्रूट, सलाद या शुगर फ्री स्मूदी के फॉर्म में ले सकते हैं। आपको इसे अपने डायट प्लान में शामिल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

और पढ़ें: डायबिटीज में नेटेल टी या नेटल लीफ के क्या होते हैं फायदे, जानिए यहां!

ड्रैगन फ्रूट के नुकसान (Disadvantages of dragon fruit)

ड्रैगन फ्रूट आमतौर पर खाने के लिए सेफ है, वहीं डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट फायदेमंद है, लेकिन कुछ स्टडीज ने अलग-अलग एलर्जी रिएक्शन के बारे में रिपोर्ट किया है। लक्षणों में जीभ की सूजन, पित्ती (Hives) और उल्टी शामिल हैं। हालांकि, इस तरह का रिएक्शन बहुत ही रेयर है। इसलिए इस फल का सेवन बहुत ही सावधानी से किया जाना चाहिए, विशेष रूप से अगर आप प्रेग्नेंट हैं या बुजुर्ग हैं। इसके अलावा, यह सबसे अच्छा होगा यदि आप पहले अपने डॉक्टर से किसी ऐसे फूड प्रोडक्ट्स के बारे में पूछें जिसे आप अपने आहार में शामिल करना चाहते हैं। भविष्य में किसी भी स्वास्थ्य समस्या से बचने के लिए यह आवश्यक है।

मधुमेह रोगियों को अपना फेवरेट फ्रूट खाने से पहले कई बार सोचना पड़ता है। केले, अनानास और तरबूज जैसे पौष्टिक लेकिन हाय ग्लाइसेमिक फ्रूट ब्लड शुगर लेवल में वृद्धि करने का एक कारण बन सकते हैं। ऐसे में लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स और हाय न्यूट्रिशनल वैल्यू (High nutritional value) के चलते डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट डायबिटीज मैनेजमेंट में सहायक साबित हो सकता है। लेकिन इसे अपने डायबिटीज डायट चार्ट में शामिल करने से पहले अपने डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से सलाह लें और फिर ही इसके टेस्ट को एन्जॉय करें।

उम्मीद करते हैं कि आपको डायबिटीज में ड्रैगन फ्रूट के उपयोग से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Sayali Chaudhari

फार्मेकोलॉजी · Hello Swasthya


Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 25/04/2022

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement