home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट खाना सेफ है या नहीं?

प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट खाना सेफ है या नहीं?

प्रेग्नेंसी में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं? इस बात को लेकर अक्सर संशय रहता है। ऐसे ही गर्भावस्था में फलों के सेवन को लेकर भी कई तरह के सवाल खड़े हैं। उन्हीं में से एक है कि प्रेग्नेंसी के दौरान ड्रैगन फ्रूट का सेवन करना सुरक्षित है या नहीं। आपको बता दें कि इसे पिताया के नाम से भी जाना जाता है। ऐसे तो ड्रैगन फ्रूट्स के फायदे बेशुमार हैं लेकिन, क्या प्रेग्नेंसी में पिताया के फायदे मिलते हैं? शिशु की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, कई गर्भवती महिलाओं को शंका होती है कि उन्हें गर्भावस्था के दौरान ड्रैगन फ्रूट खाना चाहिए। आइए जानते हैं कि प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट के फायदे, नुकसान और यह गर्भवती महिलाओं को कैसे प्रभावित कर सकता है।

ड्रैगन फ्रूट क्या है?

पिताया फ्रूट, हालांकि मध्य अमेरिका के कुछ हिस्सों के साथ-साथ दक्षिणी अमेरिका और मैक्सिको के क्षेत्रों का मूल फल है। लेकिन, भारत में भी यह कई जगह पाया जाता है। यह सुपरमार्केट में आसानी से देखा जा सकता है और इसे ऑनलाइन भी ऑर्डर किया जा सकता है। अंदर से यह कुछ हद तक कीवी फ्रूट की तरह दिखता है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में पानी का सेवन गर्भवती महिला और शिशु के लिए कैसे लाभकारी है?

क्या प्रेग्नेंसी में पिताया या गर्भावस्था में ड्रेगन फ्रूट के फायदे मिलते हैं?

ड्रैगन फ्रूट पोषक तत्वों का खजाना है जिससे प्रेग्नेंट महिला के स्वास्थ्य के साथ-साथ शिशु की हेल्थ को भी बढ़ावा मिलेगा। बता दें कि पिताया में कार्बोहाइड्रेट की मौजूदगी गर्भवती महिला को एनर्जेटिक रखने में काफी फायदेमंद साबित होती है। इसमें कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा शिशु की हड्डियों की संरचना के विकास को प्रभावित करती है। साथ ही इसमें मौजूद आयरन, पोटैशियम और कई अन्य प्रोटिनों से इम्यूनिटी सिस्टम बूस्ट होता है। फोलिक एसिड से शिशु का न्यूरोलॉजिकल डेवलपमेंट बेहतर होता है। वहीं, प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट में मिलने वाला विटामिन सी, फाइबर और बीटा-कैरोटीन मां के स्वास्थ्य के लिए मूल्यवान होते हैं। इसमें मुख्य रूप से मौजूद लाइकोपीन हृदय समस्याओं और हाई ब्लड प्रेशर से निपटने में मदद करता है।

प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट्स के फायदे

गर्भवती महिला के लिए ड्रैगन फ्रूट के विभिन्न लाभ निम्नलिखित हैं:

एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर

प्रेग्नेंसी के दौरान ड्रैगन फ्रूट का सेवन करना अच्छा माना जाता है क्योंकि यह विटामिन सी से भरपूर होता है। विटमिन सी एस्कॉर्बिक एसिड के नाम से भी जाना जाता है। एस्कॉर्बिक एसिड का सेवन कच्चे फल और सब्जियों के रूप में या जूस के रूप में करना गर्भवती महिला के लिए अच्छा माना जाता है। एंटीऑक्सिडेंट आपकी कोशिकाओं को फ्री रैडिकल्स से लड़ने में मदद करते हैं। इससे प्रेग्नेंट महिला की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूती मिलती है। एक शोध से पता चलता है कि लाल ड्रैगन फ्रूट के एंटीऑक्सिडेंट प्रभाव से सिगरेट के धुएं के संपर्क में आने से शिशु को होने वाले खतरे से बचाया जा सकता है। दरअसल, धूम्रपान के संपर्क में आने वाली गर्भवती महिलाओं में प्रसव के समय कम वजन वाले शिशु को जन्म देने का जोखिम हो सकता है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में स्किन प्रॉब्लम: गर्भवती महिलाएं जान लें इनके बारे में

न्यूरल बर्थ डिफेक्ट्स का खतरा कम

विटामिन सी के अलावा ड्रैगन फ्रूट में विटामिन बी 12 या फोलिक एसिड भी होता है। महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान बी 12 विटामिन की खुराक लेने की सलाह दी जाती है ताकि गर्भ में पल रहे शिशु की तंत्रिका वृद्धि सही तरीके से हो सके।

प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट एनीमिया दूर करे

एक रिसर्च के अनुसार, गर्भवती महिलाओं में हीमोग्लोबिन और एरिथ्रोसाइट लेवल पर रेड ड्रैगन फ्रूट के रस का सेवन महत्वपूर्ण प्रभाव डालता है। हालांकि, पिताया के इस स्वास्थ्य लाभ के बारे में अभी सीमित अध्ययन ही मौजूद हैं।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में हर्बल टी से शिशु को हो सकता है नुकसान

प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट गर्भकालीन मधुमेह को रोकता है

ड्रैगन फ्रूट में डायट्री फाइबर होते हैं। यह गर्भावस्था के दौरान बहुत अधिक महत्व रखता है क्योंकि हाई फाइबर फूड आपको शुगर क्रेविंग्स को रोकता है। इसके अलावा, उच्च फाइबर खाद्य पदार्थ उन लोगों के लिए अच्छे माने जाते हैं जिन्हें जेस्टेशनल डायबिटीज है या जिन्हें मोटापे के कारण बाद में मधुमेह होने का खतरा है। इसके साथ ही उच्च फाइबर वाले खाद्य पदार्थ दिल की सेहत के लिए भी फायदेमंद होते हैं।

और पढ़ें : गर्भावस्था में जरूरत से ज्यादा विटामिन लेना क्या सेफ है?

हड्डियों के विकास में मददगार

गर्भ में पल रहे शिशु में हड्डी की संरचना को विकसित करने के लिए सिर्फ कैल्शियम की ही जरूरत नहीं होती है। बोन डेवलपमेंट में फास्फोरस भी एक आवश्यक भूमिका निभाता है, और ये दोनों ही दोनों ड्रैगन फ्रूट में उचित मात्रा में मौजूद होते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान ड्रैगन फ्रूट का सेवन मां की डेंटल हेल्थ को बनाए रखने में भी मददगार होता है।

प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट इंफेक्शन से बचाता है

गर्भवती महिला के संक्रमित होने से गर्भ में शिशु को खतरा हो सकता है क्योंकि रोगाणु प्लेसेंटा से बेबी तक पहुंच सकते हैं। ड्रैगन फ्रूट सेलुलर रिजेनरशन (cellular regeneration) में मददगार होता है जिससे संक्रमण को रोकने में मदद मिलती है। साथ ही साथ इसके एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण शरीर में पहले से मौजूद रोगाणुओं से लड़ने में हेल्पफुल साबित होते हैं।

और पढ़ें : ओवर वेट गर्भवती महिला की कैसी हो डायट ?

प्रेग्नेंसी में पिताया से प्रीक्लेमप्सिया (preeclampsia) का खतरा दूर

प्रेग्नेंसी में हाई ब्लड प्रेशर स्थिति प्रीक्लेमप्सिया के जोखिम को बढ़ाती है। ड्रैगन फ्रूट ब्लड प्रेशर के साथ-साथ ब्लड शुगर को भी कंट्रोल करने में मदद करता है। प्रेग्नेंसी के दौरान पिताया फल के सेवन गर्भावस्था से जुड़ी जटिलताओं का जोखिम कम कर सकता है।

प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट खाने से कब्ज से राहत

प्रेग्नेंसी में कब्ज की समस्या काफी आम है। लेकिन, ड्रैगन फ्रूट के इस्तेमाल से इस समस्या से आसानी से निपटा जा सकता है। इसमें मौजूद हाई फाइबर गर्भवती महिला में कॉन्स्टिपेशन की समस्या को दूर करता है। प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट का नियमित सेवन करने से पाचन तंत्र को सामान्य स्थिति में वापस लाया जा सकता है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में संतरा खाना कितना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट खाने से गर्भपात का जोखिम कम

पहली तिमाही के दौरान मिसकैरिज का खतरा अधिक होता है। ड्रैगन फ्रूट फोलिक एसिड से भरपूर होता है और इसके सेवन से गर्भपात का खतरा काफी हद तक कम किया जा सकता है।

गर्भावस्था में ड्रैगन फ्रूट के नुकसान क्या हैं?

प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट खाने के कोई बड़े दुष्परिणाम नहीं हैं। लेकिन, अगर आपको किसी तरह की एलर्जी का अनुभव होता है, जैसे कि खुजली, छींक, चकत्ते या मुंह में जलन तो इसे खाना बंद कर दें। अगर आपको पिताया फल से एलर्जी नहीं है, तो प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट के फायदे आपको मिल सके इसके लिए इसे संतुलित मात्रा में खाना चाहिए।

एक दिन में कितना ड्रैगन फ्रूट खा सकते हैं?

एक औसत आकार के ड्रैगन फ्रूट का वजन 350 से 400 ग्राम हो सकता है। गर्भवती महिलाओं को एक दिन में 200 ग्राम फल लेने की सलाह दी जाती है। यदि आप इसके सेवन के बारे में अनिश्चित हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करें।

प्रेग्नेंसी डायट में ड्रैगन फ्रूट को कैसे शामिल करें?

अपने आहार में ड्रैगन फ्रूट को शामिल करने के कुछ तरीके हैं-

  • फल के अंदर के भाग को या तो क्यूब्स या स्लाइस में काटें। आप इसे अन्य फलों के साथ फ्रूट सैलेड के रूप में लें।
  • इसे नियमित फल के रूप में खाया जा सकता है।
  • जूस के रूप में भी इसको लिया जा सकता है।

गर्भावस्था के दौरान ड्रैगन फ्रूट को शामिल करना आपके और शिशु के स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। इस फल के कई लाभ आपके शिशु के विकास के लिए आवश्यक हैं। गर्भवती महिलाओं द्वारा बिना किसी चिंता के पिताया फल का सेवन एक सीमित मात्रा में किया जा सकता है। यदि आपको कोई मेडिकल कंडीशन है, तो इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से इस बारे में चर्चा करें।

अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Eating right during pregnancy. https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000584.htm. Accessed on 06 May 2020

DIET IN PREGNANCY AND LACTATION. http://www.nutritionsocietyindia.org/Download_files/pregnancy%20and%20lactation%20diet%20fianl%20-1%2010.4.13.pdf. Accessed on 06 May 2020

Dragon Fruit. https://defeatdiabetes.org/resources/healthful-eating/fruits/dragon-fruit/. Accessed on 06 May 2020

EFFECT OF CONSUMING RED DRAGON FRUIT (HYLOCEREUS COSTARICENSIS) JUICE ON THE LEVELS OF HEMOGLOBIN AND ERYTHROCYTE AMONG PREGNANT WOMEN. https://belitungraya.org/BRP/index.php/bnj/article/view/97/pdf. Accessed on 06 May 2020

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Shikha Patel द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/11/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x