home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

चीज खाते हैं तो हो जाएं सावधान, बढ़ सकता है ब्रेस्ट कैंसर का खतरा

चीज खाते हैं तो हो जाएं सावधान, बढ़ सकता है ब्रेस्ट कैंसर का खतरा

चीज़ का नाम सुनते ही हर किसी के मुंह में पानी आ जाता है। फिर बात चाहे बच्चों की करें या बड़ों की, ज्यादातर सभी लोगों को चीज़ खाना पसंद होता है। सैंडविच से लेकर पिज्जा और सैलेड में चीज़ उसके स्वाद को चार गुना बढ़ा देता है। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि चीज़ के सेवन से महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा होता है। जी हां, कई रिसर्च में ये बात सामने आई है।

और पढ़ें : ब्रेस्टफीडिंग बचा सकता है आपको जानलेवा बीमारी से

चीज़ में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम मौजूद होता है। शोधकर्ताओं के अनुसार, कैल्शियम युक्त चीज़ों को खाने से ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा बढ़ सकता है। इसी को लेकर नॉन प्रॉफिट फिजिशियन कमिटी फॉर रिस्पॉन्सिबल मेडिसिन के डॉक्टर्स ने यू.एस.फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन से गुहार लगाई है। इन्होंने मांग की है कि बाजार में धड़ल्ले से बिक रहे गाय के दूध से बने चीज़ के पैकेट के ऊपर वॉर्निंग लेबल लगाकर बेचा जाए। इस लेबल में उन्हें चीज़ से होने वाले नुकसानों के बारे में बताएं। उन्हें बताया जाए कि इसमें ऐसे हॉर्मोन मौजूद होते हैं, जिससे स्तन कैंसर होने का खतरा ज्यादा रहता है।

और पढ़ें : 5 Steps: ब्रेस्ट कैंसर की जांच ऐसे करें

शोध में सामने आया आंकड़ा

अक्टूबर महीने को ब्रेस्ट कैंसर जागरुकता महीने के रूप में सेलिब्रेट किया जाता है। चीज़ से होने वाले दुष्परिणामों को देखते हुए 3 अक्टूबर, 2019 को नॉन प्रॉफिट फिजिशियन कमिटी फॉर रिस्पॉन्सिबल मेडिसिन के डॉक्टर्स ने याचिका दायर की है। इस संस्था के 12,000 सदस्यों ने शोध का हवाला दिया है जिसमें बताया गया है कि उच्च वसा वाले चीज़ से कैंसर होने के जोखिम में 53% तक वृद्धि होती है।

और पढ़ें : जानें क्या है ब्रेस्ट कैंसर, सर्जरी और टिप्स

चीज़ के सेवन से स्वास्थ्य को नुकसान होता है या नहीं, इसे लेकर कई शोध किए गए हैं, जिसमें अलग-अलग बात सामने आई है। एक तरफ कुछ शोध बताते हैं कि चीज़ का सेवन करने से कैंसर का खतरा होता है। वहीं, कुछ शोध में मालूम हुआ है कि चीज़ के सेवन से दिल संबंधित बीमारी और कैंसर का कोई लेना देना नहीं है। वहीं, कुछ न्यूट्रिशिनिस्ट भी बताते हैं कि ज्यादातर सभी लोगों के लिए चीज़ सेफ है और इसके सेवन से उन्हें कुछ फायदे भी हो सकते हैं।

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के आंकड़ों के अनुसार, दुनियाभर में ब्रेस्ट कैंसर तेजी से बढ़ रहा है। अमेरीकी महिलाओं में स्तन कैंसर मौत का दूसरा सबसे आम कारण है। हर साल 40 हजार से अधिक महिलाओं की ब्रेस्ट कैंसर के चलते मौत होती है। इसमें ब्रेस्ट कैंसर के 240, 000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं।

और पढ़ें : ब्रेस्ट कैंसर का खतरा कम करता है स्तनपान, जानें कैसे

चीज़ खाने से होते हैं ये भी नुकसान

चीज़ में सेचुरेटेड फैट और सोडियम की प्रचूर मात्रा पाई जाती है। जिस कारण से हाई ब्लड प्रेशर, कार्डियोवैस्कुलर डिजीज और टाइप 2 डायबिटीज आदि समस्याएं होती हैं।

डायट्री गाइडलाइंस एडवाइसरी कमेटी 2015 की एक रिपोर्ट के मुताबिक अपनी रोजना के आहार में हमें 20 से 30 प्रतिशत ही फैट को शामिल करना चाहिए। जिसमें से सिर्फ 10 प्रतिशत मात्रा में ही सेचुरेटेड फैट लेना चाहिए। अगर कोई 1800 कैलोरी की डायट ले रहा है तो उसमें मात्र 18 ग्राम सेचुरेटेड फैट की मात्रा हर रोज लेनी चाहिए। अगर आपको चेडार चीज़ पसंद है तो उसमें छह ग्राम सेचुरेटेड फैट होता है। ज्यादा मात्रा में सेचुरेटेड फैट लेने से डायबिटीज, मोटापा और हृदय रोग होने का खतरा बढ़ सकता है।

और पढ़ें : रेड मीट बन सकता है ब्रेस्ट कैंसर का कारण, इन बातों का रखें ख्याल

कंसल्टिंग होमियोपैथ एंड क्लिनीकल न्यूट्रिशनिस्ट डॉ. श्रुति श्रीधर ने बताया कि सेचुरेटेड फैट सेहत के लिए सही नहीं होता है। उसकी एक नियमित मात्रा का सेवन ही शरीर के लिए सही है। जबकि अनसेचुरेटेड फैट को लेने से वह फैट आपके बॉडी में सेचुरेट होता है, इसलिए ये कम नुकसानदायक होता है।

वहीं, चीज़ में फैट के साथ सोडियम भी होता है, जो चीज़ के स्वाद में इजाफा करता है। लेकिन सोडियम की ज्यादा मात्रा भी ब्लड प्रेशर, मोटापा और हृदय रोग को बढ़ाने के लिए काफी होता है। इसके अलावा चीज़ का सेवन ज्यादा करने से एंडोक्राइन सिस्टम बाधित होता है और कई तरह के कैंसर होने का रिस्क बढ़ जाता है।

और पढ़ें : ट्रिपल-नेगिटिव ब्रेस्ट कैंसर (Triple-Negative Breast Cancer) क्या है ?

चीज़ खाने के फायदे क्या हैं?

चीज़ दूध से बनता है और डेयरी प्रोडक्ट्स में कैल्शियम और न्यूट्रीशन प्रचूर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए नुकसान से ज्यादा फायदे भी हैं, लेकिन शर्त सिर्फ इतनी सी है कि चीज का सेवन नियमित मात्रा में करना है। चीज़ से निम्न फायदे होते हैं :

  • डेयरी प्रोडक्ट का नाम आते ही हड्डियों का स्वास्थ्य दिमाग में आता है। चीज़ खाने से कैल्शियम, प्रोटीन, जिंक, मैग्नीशियम, विटामिन ए, विटामिन डी और विटामिन के मिलता है। जो बच्चों के मानसिक विकास और बड़ों में हड्डियों को मजबूत रखने में मदद करता है। वहीं, चीज खाने से ऑस्टियोपोरोसिस होने का खतरा भी कम हो जाता है।
  • अगर आपका ब्लड प्रेशर हमेशा लो रहता है तो चीज़ आपके लिए बड़ी काम की चीज है। चीज का सेवन करने से आपका ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहेगा।
  • चीज़ का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल और सोडियम भरपूर मात्रा में मिलते हैं। जिससे हृदय रोग नहीं होते हैं। एक रिसर्च के मुताबिक डेयरी प्रोडक्ट्स में एंटीऑक्सिडेंट, ग्लूटाथियोन की अच्छी मात्रा पाई जाती है। एंटीऑक्सीडेंट ब्रेन हेल्थ के लिए सही होता है। जिससे उम्र ढलने के साथ ही न्यूरोडिजेनरेशन से भी बचाता है। वहीं, कुछ वैज्ञानिकों का यह भी मानना है कि चीज़ की एंटीऑक्सिडेंट प्रॉपर्टी शरीर पर पड़ने वाले सोडियम के निगेटिव इफेक्ट को कम करती है। जिससे हमारे खून की नसें भी स्वस्थ रहती हैं।

और पढ़ें : ‘पॉ द’ऑरेंज’ (Peau D’Orange) कहीं कैंसर तो नहीं !

हैलो स्वास्थ्य आपको कोई मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

नए संशोधन की डॉ. शरयु माकणीकर द्वारा समीक्षा

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Valley doctor wants FDA to require breast cancer warning label on cheese/ww.12news.com/Accessed on 13/12/2019

Is Cheese Bad for You? https://www.healthline.com/health/is-cheese-bad-for-you#risks Accessed on 13/12/2019

Nutrients in Cheese https://www.healthyeating.org/Milk-Dairy/Nutrients-in-Milk-Cheese-Yogurt/Nutrients-in-Cheese Accessed on 13/12/2019

Is cheese good or bad for you? https://www.medicalnewstoday.com/articles/299147.php#types_of_cheese Accessed on 13/12/2019

Some doctors say women should avoid cheese due to its link to breast cancer/https://amp.insider.com/does-cheese-cause-breast-cancer-fda-warning-labels-2019-10/Accessed on 13/12/2019

Doctors Against Dairy: Cheese Linked to Breast Cancer Risk/https://www.haaretz.com/science-and-health/doctors-against-dairy-cheese-linked-to-breast-cancer-risk-1.7990087/Accessed on 13/12/2019

Does Eating Cheese Actually Increase Breast Cancer Risk?/https://www.survivornet.com/articles/does-eating-cheese-actually-increase-breast-cancer-risk/Accessed on 13/12/2019

DAIRY PRODUCTS AND BREAST CANCER RISK/https://ww5.komen.org/BreastCancer/Table16Dairymilkconsumptionandbreastcancerrisk.html/Accessed on 13/12/2019

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 18/03/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x