home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

‘जेट लैग’ के लिए पैसेंजर्स खुद हैं जिम्मेदार! जानें जेट लैग के लिए टिप्स

‘जेट लैग’ के लिए पैसेंजर्स खुद हैं जिम्मेदार! जानें जेट लैग के लिए टिप्स

क्वॉन्टस एयरवेज लिमिटेड (Qantas Airways Ltd.) न्यूयॉर्क से सिडनी के लिए इस वीकेंड अपनी मैराथन नॉनस्टॉप फ्लाइट के लिए पारंपरिक इन-फ्लाइट रूटीन को बदलेगा। लगभग 20 घंटों की यह फ्लाइट दुनिया की सबसे लंबी दूरी की फ्लाइट होने वाली है। क्वॉन्टस एयरलाइन के लिए यह एक महत्वपूर्ण टेस्ट रन है। एयरलाइंस 2022 तक सिडनी को न्यूयॉर्क और लंदन से जोड़ने वाली कर्मशियल सर्विस को शुरू करने की तैयारी कर रही है। बात जब लंबी दूरी की फ्लाइट्स की हो तो पहला ख्याल, जो दिमाग में आता है वह है ‘जेट लैग’। वहीं क्वॉन्टस के द्वारा कराई गई रिसर्च में खुलासा हुआ कि जेट लैग के लिए खुद पैसेंजर्स ही जिम्मेदार हैं।

कैसे की गई जेट लैग से जुड़ी रिसर्च

एरलाइंस ने इस रिसर्च के लिए 500 लंबी दूरी की यात्रा करने वाले पैसेंजर्स को शामिल किया। अध्ययन के नतीजों में सामने आया कि जेट लैग के लिए पैसेंजर्स का व्यवहार और गलत आदतें ही जिम्मेदार होती हैं। इस रिसर्च को सिडनी यूनिवर्सिटी के चार्ल्स पर्किंस सेंटर में जेट लैग से शरीर पर होने वाले प्रभावों को समझने के लिए किया गया।

आगे की रिसर्च क्वॉन्टस की न्यू यॉर्क से सिडनी की सबसे लंबी डायरेक्ट फ्लाइट पर की जाएगी। इस 20 घंटे लंबी फ्लाइट को ‘प्रोजेक्ट सनराइज’ (Project Sunrise) के तहत मॉनिटर किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट में पैसेंजर्स के सोने के पैटर्न और उनके व्यवहार पर नजर रखी जाएगी।

और पढ़ें:प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग सेफ है या नहीं?

जेट लैग से बचने के टिप्स क्या हैं?

जेट लैग के लिए टिप्स निम्नलिखित हैं। जैसे-

कुछ आसान टिप्स को फॉलो करके पैसेंजर्स जेट लैग से बच सकते हैं या इसके प्रभाव को कम कर सकते हैं। सालों से इसे झेल रहें फ्लाइट क्रू, पैसेंजर्स और इस पर काम कर रहे एक्सपर्ट्स ने इसके लिए कुछ टिप्स बताएं हैं।

जेट लैग के लिए टिप्स 1. एल्कोहॉल को कहें बाय

लंबी दूरी की फ्लाइट्स में टाइम जोन बदलने के साथ ही मुफ्त मिलने वाली शराब पीने से शरीर पर सबसे ज्यादा बुरा प्रभाव पड़ सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि शराब शरीर को डिहाइड्रेट करती है। ऐसे में आपको थकान या सिरदर्द से बचने के लिए अधिक पानी पीने की जरुरत होगी।

जेट लैग के लिए टिप्स 2. सोने के लिए सही सीट चुनें, जेट लैग रहेगा दूर

प्लेन पर सोना टाइम जोन के लिहाज से बॉडी को एडजस्ट करने के लिए सबसे अच्छा ऑप्शन है। साथ ही अगर आप सही सीट चुनते हैं तो यह सोने पे सुहागा साबित होगा। स्लीप एक्सपर्ट डॉ. ब्रीयूस मानते हैं कि सोने के लिए विंडो सीट चुननी चाहिए क्योंकि ऐसे आप लाइट को कंट्रोल कर सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जो लोग बिस्तर की किसी एक साइड पर सोना पसंद करते हैं, वे फ्लाइट में भी उसी साइड की सीट लें। इसके अलावा अगर फ्लाइट में न सो पाए, तो लैंड करने के बाद तीन घंटे की नींद शरीर को नए टाइम जोन में एडजस्ट करने और जेट लैग से बचाने के लिए काफी है।

और पढ़ें: दोपहर में क्यों आती है नींद? क्या दोपहर में सोने के फायदे भी हैं?

जेट लैग के लिए टिप्स 3. खाने की आदते बदलें

लंबी दूरी की फ्लाइट्स में सही समय पर मील लेने से भी जेट लैग से बचने में सहायता मिलती है। एक्सपर्ट्स मानते हैं कि आप जिस भी देश में जा रहे हैं, वहां के खाने के पैटर्न और टाइम जोन को अगर एक दिन से पहले से ही फॉलो किया जाए, तो भी जेट लैग से बचा जा सकता है। उदाहरण के लिए, यदि आप अमेरिका से सिडनी लौट रहे हैं, तो आपको पांच घंटे पहले डिनर करना चाहिए। क्वॉन्टस के सीईओ एलन जॉयस कहते हैं कि उड़ान के दौरान पाचन तंत्र को ओवरलोड करने से बचने के लिए हल्का भोजन भी एक बेहतर विकल्प है।

जेट लैग के लिए टिप्स 4. रनिंग कर जेट लैग को भगाएं

द जर्नल ऑफ फिजियोलॉजी के एक अध्ययन में पाया गया कि फिजीकल मूवमेंट्स बॉडी को रेगुलरेट करने में मदद कर सकते हैं। शोध में पाया गया कि दिन के एक निश्चित समय पर एक्सरसाइज करना बॉडी क्लॉक को आगे बढ़ा सकता है या इसमें देरी ला सकता है, जिससे आप अपनी बॉडी को डेस्टिनेशन के लिहाज से एडजस्ट कर सकते हैं।

जेट लैग के लिए टिप्स 5. कम्फर्टेबल कपड़े पहनें

ढीले और मुलायम कपड़ें पहनना आरामदायक महसूस करने और खतरनाक जेट लैग से बचने का सबसे अच्छा तरीका है। साथ ही कपड़ों की लेयरिंग करें, जिससे केबिन के तापमान के हिसाब से आप कपड़ें उतार और पहन सकें। इसके अलावा पसीने से बचने के लिए कॉटन के कपड़ें चुनें।

और पढ़ें: जेट लैग डिसऑर्डरः विदेशी दौरे पर जाने से पहले समझें टाइम जोन

जेट लैग के लिए टिप्स समझने के बाद जानते हैं इसके लक्षण क्या हैं?

  • ठीक से नींद नहीं आना।
  • बार-बार उबासी (जम्हाइयां) लेना।
  • थका हुआ महसूस करना।
  • ठीक से नहीं सोने की वजह से सिर दर्द होना।
  • नींद न पूरी होने की वजह से काम करने में असमर्थ होना।
  • घबराहट महसूस करना और कभी-कभी चक्कर आना।
  • किसी भी वक्त भूख लगना

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार उड़ान (फ्लाइट) के दौरान या उससे पहले शराब या कैफीन पीने से स्थिति और ज्यादा खराब हो सकती है। जेट लैग की वजह से निर्जलीकरण भी हो सकता है। इसलिए अगर आप लॉन्ग रूट की यात्रा पर जाने वाले हैं, तो चाय, कॉफी या अन्य नशीले पदार्थों का सेवन न करें। एल्कोहॉल के सेवन से बार-बार टॉयलेट जाना पड़ता है और ऐसे में आप ठीक तरह से सो नहीं पाते हैं। ठीक वैसे ही कैफीन के सेवन से बार-बार प्यास लगती है और आप साउंड स्लीप नहीं ले पाएंगे।

अगर आप यात्रा कर रहें हैं, तो निम्नलिखित बातों का भी ध्यान रखें। जैसे-

जेट लैग के लिए टिप्स फॉलो कर रहें हैं, तो हेवी खाना न खायें (मसाले वाले खाने से भी परहेज करें)

जेट लैग के लिए टिप्स अपना रहें हैं तो जरूरत से ज्यादा वर्कआउट न करें और यह भी ध्यान रखें की सोने के वक्त पर एक्सरसाइज न करें

कोशिश करें आउटडोर वर्क सूर्य की रोशनी में ही करें

जेट लैग के लिए टिप्स अपनाने के साथ-साथ नॉर्मल टाइम पर सोने की कोशिश करें

जेट लैग के लिए टिप्स फॉलो कर रहें हैं, तो सोने के दौरान शांत जगह का चयन करें। इस दौरान आप रेड लाइट (नाइट बल्ब) ऑन कर के रख सकते हैं। इससे नींद अच्छी आएगी।

लंबी दूरी की फ्लाइट के दौरान जेट लैग के लिए टिप्स समझने के बाद भी अगर आप समझना चाहते हैं तो इन लक्षणों को पहचान कर विशेषज्ञ की मदद ले सकते हैं। वैसे अगर विदेशी दौरे पर जाते-आते रहते हैं और इस वजह से जेट लैग की समस्या से परेशान रहते हैं तो इसे हेल्थ एक्सपर्ट की मदद से आसानी से ठीक किया जा सकता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Jet lag disorder/https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/jet-lag/symptoms-causes/syc-20374027/Accessed on 13/12/2019

Jet Lag and Sleep/https://www.sleepfoundation.org/articles/jet-lag-and-sleep/Accessed on 13/12/2019

How to Cope With Jet Lag/https://www.webmd.com/sleep-disorders/features/jet-lag-remedies#1/Accessed on 13/12/2019

What Causes Jet Lag and What Can You Do to Manage and Prevent the Symptoms?/https://www.healthline.com/health/jet-lag/Accessed on 13/12/2019

Jet Lag/https://www.medicinenet.com/jet_lag/article.htm/Accessed on 13/12/2019

लेखक की तस्वीर
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Govind Kumar द्वारा लिखित
अपडेटेड 19/10/2019
x