home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

15 अप्रैल के बाद एयर इंडिया को छोड़कर अन्य एयरलाइंस कर रही हैं टिकटों की बुकिंग, जानिए

15 अप्रैल के बाद एयर इंडिया को छोड़कर अन्य एयरलाइंस कर रही हैं टिकटों की बुकिंग, जानिए

लॉकडाउन के बाद यात्रा करने के लिए लोग बहुत बेताब हैं। वजह सिर्फ एक ही किसी को अपने घर जाना है तो कोई जरूरी काम से एक जगह से दूसरी जगह जाना चाहता है। 21 दिनों के लॉकडाउन के बाद यात्रा करना कुछ लोगों के लिए बहुत जरूरी हो गया है। अब ऐसे में बुकिंग तो चालू है लेकिन लोगों के मन में ये सवाल अब भी है कि क्या 21 दिनों के बाद लॉकडाउन खत्म हो जाएगा या फिर ये पूरे अप्रैल रहेगा। अगर लॉकडाउन नहीं रहेगा तो क्या सभी लोग आराम से यात्रा कर पाएंगे। साथ ही रेलवे पैसेंजर भी कई बातों को लेकर दुविधा में है। अभी फिलहाल सरकार की ओर से किसी तरह की घोषणा नहीं की गई है। रेल यात्री भी 15 के बाद की बुकिंग करा चुके हैं। वहीं अगले महीने की बुकिंग लगभग फुल हैं। एयरलाइंस की बात की जाए तो फिलहाल एयर इंडिया को छोड़कर अन्य एयरलाइंस टिकटों की बुकिंग कर रही हैं

लॉकडाउन के बाद यात्रा करना संभव होगा या नहीं ?

कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के कारण देशभर में लॉकडाउन जारी है। ऐसे में एयरलाइन कंपनी एयरएशिया इंडिया ने कहा कि उसकी 15 अप्रैल के बाद की उड़ानों के लिए बुकिंग चालू है। लेकिन भविष्य में किसी भी प्रकार के बदलाव (अगर लॉकडाउन की डेट बढ़ा दी गई) के लिए DGCA का फैसला अंतिम माना जाएगा। आपको बताते चले कि इंडिगो, गोएयर, स्पाइसजेट आदि एयरलाइन कंपनियों ने भी 15 अप्रैल की तारीख से फ्लाइट की टिकट की बुकिंग शुरू कर दी है। कोरोना वायरस के तेजी से फैलते संक्रमण के कारण देश में 21 दिनों का लॉकडाउन चल रहा है और साथ ही इस दौरान लोगों के टिकट को भी कैंसिल कर दिया गया था। लॉकडाउन की वजह से सभी डोमेस्टिक और इंटरनेशनल फ्लाइट को कैंसिल कर दिया गया था। कोरोना वायरस के कारण कुछ ही दिनों में पूरी दुनिया बदलती नजर आ रही है।

और पढ़ें : कोरोना पर जीत हासिल करने वाली कोलकाता की एक महिला ने बताया अपना अनुभव

30 अप्रैल तक एयर इंडिया नहीं करेगी बुकिंग

ज्यादातर एयरलाइन कंपनी ने अपने ग्रहकों के लिए 15 अप्रैल के बाद की बुकिंग को चालू कर दिया है लेकिन एअर इंडिया ने ग्रहकों के लिए अप्रैल के महीने में बुकिंग करने से मना कर दिया है। यानी ग्रहकों को अगर एयर इंडिया से सफर करना है तो 30 अप्रैल के बाद की ही बुकिंग करानी पड़ेगी। कुछ लोगों के मन में इस बात की शंका बनी हुई है कि शायद 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन की तारीख न बढ़ा दी जाए, शायद इसीलिए एयर इंडिया ने भी फिलहाल टिकट बुकिंग को लेकर फैसला नहीं लिया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार लोग तेजी से लॉकडाउन के बाद यात्रा के लिए टिकट बुकिंग करा रहे हैं।

और पढ़ें : कोरोना महामारी के समय जानिए इम्यूनिटी पावर से जुड़े मिथ्स और फैक्ट्स

लॉकडाउन के बाद यात्रा : इंटरनेशनल उड़ानों के लिए 30 अप्रैल के बाद बुकिंग

डोमेस्टिक फ्लाइट में जहां 15 अप्रैल के बाद बुकिंग शुरू हो चुकी है वहीं कुछ एयरलाइन इंटरनेशनल फ्लाइट के लिए एक तारीख के बाद बुकिंग की अनुमति दे रही है। स्पाइसजेट और गो एयर ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए एक तारीख की बाद की बुकिंग शुरू की है। भले ही बुकिंग शुरू हो गई हो, लेकिन एक बात तो तय है कि अगर लॉकडाउन की समय-सीमा बढ़ाई जाती है तो DGCA की ओर से फैसले में बदलाव भी किया जा सकता है।

और पढ़ें: अगर आपके आसपास मिला है कोरोना वायरस का संक्रमित मरीज, तो तुरंत करें ये काम

लॉकडाउन के बाद यात्रा : ट्रेन में भी बुकिंग है चालू

एयरलाइन की तरह ही लोग ट्रेन में भी लॉकडाउन के बाद यात्रा करने के लिए टिकट की बुकिंग करा रहे हैं। रेलवे की ओर से अभी तक इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं दी गई है। मीडिया रिपोर्ट के रेलवे कर्मचारियों को अगली यात्रा के निर्देश दिए जा रहे है। फिलहाल इस बारे में किसी ने भी कुछ कहने से मना किया है। इस बात की जानकारी तो लॉकडाउन के बाद ही मिल पाएगी कि ट्रेन सेवा 15 अप्रैल के बाद चालू होगी या फिर नहीं।

महामारी के दौरान ट्रेवल करना कितना सही ?

फिलहाल भारत के साथ ही दुनिया में कोरोना महामारी का कहर साफ देखने को मिल रहा है। 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन खुलेगा या नहीं, ये कहना तो मुश्किल है, लेकिन अगर ऐसा हुआ तो वाकई में ये सोचने वाली बात है। महामारी के दौरान ट्रेवल करना सेफ तो बिल्कुल नहीं है, लेकिन सरकार ने अगर लॉकडाउन के बाद यात्रा के लिए हरी झंडी दिखा दी तो वाकई लोगों को बहुत सजग रहने की जरूरत पड़ेगी। जिस तरह से लोग बुकिंग करा रहे हैं, ऐसा लगता है कि वाकई बड़ी संख्या में लोग ट्रेवल करना चाहते हैं। फिलहाल सभी को सरकार की ओर से आने वाले आदेश का इंतजार करना होगा।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस फैक्ट चेक: कोरोना वायरस की इन खबरों पर भूलकर भी यकीन न करना, जानें हकीकत

इन बातों का रखे ध्यान

अगर यात्रा को फिर से शुरू कर दिया जाता है तो कई बातों का ध्यान रखना होगा। सफर के दौरान सावधानी रखनी होगी। साथ ही अगर जरूरी न हो तो अगले कुछ महीने के लिए अपनी टिकट कैंसिल करवा लें। साथ ही लॉकडाउन के बाद यात्रा के दौरान सुरक्षा के लिए मास्क का प्रयोग जरूर करें।

  • हाथों की सफाई कोरोना को दूर करने का काम कर सकती रहै। हाथों को दिन में कई बार धुलें।
  • भीड़ में कोरोना आसानी से एक व्यक्ति से दूसरे में फैल सकता है। भीड़ में न जाएं
  • बार-बार आंख, नाक या मुंह को न छुएं, वरना कोरोना का संक्रमण हो सकता है।
  • छींकते या खांसते समय मुंह को खुला न रखें बल्कि रूमाल या टिशू पेपर का यूज करें।
  • कोरोना के लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। लापरवाही करने से दूसरों लोगों में भी कोरोना फैल सकता है।
  • डॉक्टर आपको जो भी सलाह दें, उसका पालन करें।
  • अगर आप मास्क लगा रहे हैं तो हाथों की सफाई करना न भूलें।
  • मास्क का इस्तेमाल कैसे करना है, इस बारे में जानकारी लें।
  • एक मास्क को बार-बार इस्तेमाल करने से बचें।
  • डिस्पोजल मास्क को एक बार इस्तेमाल करने के बाद डस्टबिन में फेंक दें।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित
अपडेटेड 05/04/2020
x