home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

अब फेसबुक पर लगा इस ऐप के साथ मिलकर स्वास्थ्य से संबंधित पर्सनल इंफॉर्मेशन लीक करने का आरोप

अब फेसबुक पर लगा इस ऐप के साथ मिलकर स्वास्थ्य से संबंधित पर्सनल इंफॉर्मेशन लीक करने का आरोप

सोशल मीडिया पर यूजर्स का डाटा लीक होने की खबरें आए-दिन आती रहती हैं। थोड़े दिन पहले फेसबुक पर यूजर्स की पर्सनल इंफॉर्मेशन को बेचने का आरोप लगा था और अब फेसबुक पर यूजर्स के स्वास्थ्य से संबंधित निजी डाटा को लीक करने का मामला सामने आया है। दरअसल, ब्रिटेन के एडवोकेसी ग्रुप प्राइवेसी इंटरनेशनल (Privacy International) की एक रिपोर्ट के अनुसार महिलाओं में पीरियड (mensuration )और प्रेग्नेंसी ट्रैक करने वाली ऐप माया (Maya) अपने यूजर्स का निजी डाटा फेसबुक के साथ शेयर कर रही है। इस ऐप में डाटा यूजर्स खुद रिकॉर्ड करता है, जिसमें कई बातें शामिल होती हैं जैसे आखिरी बार शारीरिक संबंध कब बनाया?, कौन-सा गर्भनिरोधक उपाय अपनाया? आदि।

रिपोर्ट के अनुसार, यह सूचना ‘फेसबुक सॉफ्टवेयर डेवलेपमेंट किट’ द्वारा लीक हो रही है। फेसबुक सॉफ्टवेयर डेवलेपमेंट किट (Facebook Software Development Kit) किसी खास ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए ऐप डेवलेप करने, ट्रैक एनालिटिक्स और ऐप को मोनेटाइज करने में सहायता करती है। प्राइवेसी इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार जैसे ही यूजर द्वारा माया ऐप डाउनलोड की जाती है, वैसे ही ये अपना डाटा फेसबुक के साथ शेयर करना शुरू कर देती है।

क्या प्रेग्नेंसी में हॉट वॉटर बाथ लेना सुरक्षित है?

क्या है माया ऐप?

लड़कियों और महिलाओं के बीच काफी लोकप्रिय माया ऐप पीरियड्स, प्रेग्नेंसी, मूड स्विंग और अन्य संबंधित जानकारियां देता है। इस ऐप के जरिए महिलाओं को उनके द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब आसानी से मिल जाते हैं। महिलाएं कुछ समस्याओं को किसी और से बताने में संकोच करती हैं। ऐसे में इस ऐप का प्रयोग कर महिलाएं अपनी प्राइवेसी को बरकरार रखते हुए पीरियड आदि से जुड़ी समस्याओं की जानकारी आसानी से प्राप्त कर सकती है।

जानें प्री-टीन्स में होने वाले मूड स्विंग्स को कैसे हैंडल करें

डाटा का इस्तेमाल इनके लिए हो सकता है उपयोगी

यूजर्स के स्वास्थ्य से संबंधित लीक हुए डाटा का उपयोग विज्ञापन और इंश्योरेंस कंपनियों द्वारा गलत इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, BuzzFeed की एक रिपोर्ट के अनुसार, फेसबुक के प्रवक्ता जो ओसबर्न ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है। वहीं माया ऐप डेवलपर्स ने कहा है कि ऐप यूजर्स का कोई भी सेंसटिव डाटा शेयर नहीं करती है। फिर भी नए वर्जन में फेसबुक सॉफ्टवेयर डेवलेपमेंट किट को हटा दिया गया है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Shikha Patel द्वारा लिखित
अपडेटेड 12/09/2019
x