home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

इन तीन वैज्ञानिकों को मिला नोबेल पुरस्कार

इन तीन वैज्ञानिकों को मिला नोबेल पुरस्कार

पुरस्कार मिलना आपके मानसिक स्तर पर काफी प्रेरित और खुश करता है। बचपन में स्कूल में किसी प्रोग्राम में अवार्ड मिलने से लेकर पार्टिसिपेशन सर्टिफिकेट तक हर चीज हमें ऊर्जा से भर देती है। जिससे हम भविष्य में और भी बेहतर प्रदर्शन कर पाते हैं। लेकिन, समाज में आपके अद्वितीय कार्यों के लिए हर क्षेत्र में एक अवार्ड दिया जाता है। जो यह साबित करता है कि आपने उस क्षेत्र में क्रांतिकारी कार्य किया है, जिसने स्थिति को बदलने में भूमिका निभाई है। किसी भी वैज्ञानिक के लिए नोबल पुरस्कार जीतना उसका सबसे बड़ा अचीवमेंट होता है। साल 2019 में ये अचीवमेंट तीन वैज्ञानिकों के नाम रहा । इस साल Physiology and Medicine के लिए तीन वैज्ञानिकों को नोबेल पुरस्कार दिया गया है।

नोबेल पुरस्कार विजेता (Nobel Prize Winner)

ये तीन विजेता हैं

1.प्रोफेसर विलियम जी. केलिन जूनियर ( Professor William G. Kaelin Jr)- वर्तमान में अमेरिका में हावर्ड ह्यूजेस मेडिकल इंस्टीट्यूट में काम करते हैं। विलियम जी केलिन जूनियर को फीजियोलॉजी औप मेडिसिन के लिए यह नोबेल पुरस्कार मिला। नोबल पुरस्कार विजेता विलियम जी केलिन जूनियर का जन्म 23 नवंबर 1957 न्यूयॉर्क, एनवाई, यूएसए में हुआ है।

जिस समय विलियम जी केलिन जूनियर को नोबेल पुरस्कार मिला उस समय उनका एफिलिएशन: दाना-फार्बर कैंसर संस्थान ( Dana-Farber Cancer Institute), ब्रिघम और महिला अस्पताल (Brigham and Women’s Hospital), और हार्वर्ड मेडिकल, बोस्टन, एमए, यूएसए, हॉवर्ड ह्यूजेस मेडिकल संस्थान (Howard Hughes Medical Institute), चेवी चेस, एमडी, यूएसए से था।

नोबल पुरस्कार प्रेरणा: उनकी खोजों के लिए कैसे सेल्स समझती हैं और ऑक्सीजन की उपलब्धता के अनुकूल होती हैं।

पुरस्कार हिस्सा: 1/3

और पढ़ें: नेत्रदान (eye donation) कर दूसरों की जिंदगी को करें रोशन

2.सर पीटर जे. रेडक्लिफ( Sir Peter J Radcliffe) – लंदन में फ्रांसिस क्रिक संस्थान के साथ ही ऑक्सफोर्ड में टारगेट डिस्कवरी संस्थान के नैदानिक अनुसंधान के निदेशक हैं। सर पीटर जे रैडक्लिफ को फिजियोलॉजी और मेडिसिन 2019 में नोबेल पुरस्कार मिला। नोबेल पुरस्कार विजेता सर पीटर जे. रेडक्लिफ का जन्म 14 मई 1954, लेंकशायर, यूनाइटेड किंगडम में हुआ था।

जिस समय सर पीटर जे. रेडक्लिफ को नोबेल पुरस्कार मिला उस समय उनका एफिलिएशन: यूनिवर्सिटी ऑफ ऑक्सफोर्ड, ऑक्सफोर्ड, यूनाइटेड किंगडम, फ्रांसिस क्रिक इंस्टीट्यूट, लंदन, यूनाइटेड किंगडम

नोबल पुरस्कार प्रेरणा: “उनकी खोजों के लिए कैसे सेल्स समझती हैं और ऑक्सीजन की उपलब्धता के अनुकूल होती हैं।”

पुरस्कार हिस्सा: 1/3

3.ग्रीग एल. सेन्जेनिया( Gregg L. Semenza) – जॉन हॉपकिंस इंस्टीट्यूट फॉर सेल इंजीनियरिंग में वैस्कुलर रिसर्च प्रोग्राम के निदेशक हैं। ग्रीग एल. सेन्जेनिया को फिजियोलॉजी और मेडिसिन 2019 में नोबेल पुरस्कार मिला। नोबेल पुरस्कार विजेता ग्रीग एल. सेन्जेनिया का जन्म: 12 जुलाई 1956, न्यूयॉर्क, एनवाई, यूएसए में हुआ है।

जिस समय ग्रीग एल. सेन्जेनिया को नोबेल पुरस्कार मिला उस समय उनका एफिलिएशन: जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय, बाल्टीमोर, एमडी, यूएसए

नोबेल पुरस्कार प्रेरणा: “उनकी खोजों के लिए कैसे सेल्स समझती हैं और ऑक्सीजन की उपलब्धता के अनुकूल होती हैं।”

पुरस्कार हिस्सा: 1/3

इन सभी को नौ मिलियन स्वीडिश क्रोनर से सम्मानित किया गया है। ये करीब 6.45 करोड़ रुपए के बराबर है। समाचार एजेंसी के अनुसार, कैरोलिंस्का इंस्टीट्यूट में नोबेल एसेंबली ने घोषणा के दौरान तीन वैज्ञानिकों को सम्मानित किया। इन वैज्ञानिकों ने ‘ कोशिकाएं किस तरह से आक्सीजन की उपलब्धता को पहचान लेती हैं और खुद को उसके अनुरूप ढाल लेती हैं.’ के बारे में बताया था।

और पढ़ें: डब्लूएचओ : एक बिलियन लोग हैं आंखों की समस्या से पीड़ित

सभी को शरीर के लिए ऑक्सीजन की उपयोगिता के बारे में जानकारी है। ये शरीर में खाने को आवश्यक एनर्जी के रूप में बदलने का काम करती है। कुछ ही लोगों को इस बारे में जानकारी थी कि किस तरह से सेल्स (कोशिकाएं) ऑक्सीजन के बदलते लेवल्स को एडॉप्ट करती हैं।

नोबेल पुरस्कार क्या है

27 नवंबर 1895 को अल्फ्रेड नोबेल ने अपनी आखिरी वसीयत और वसीयतनामा पर साइन किए जिसमें उन्होंने कुछ विषयों जैसे कि फिजिक्स, कैमिस्ट्री, फिजियोलॉजी मेडिसिन, लिटरेचर और पीस के लिए नोबेल पुरस्कारों का एलान किया। 1968 में, Sveriges Riksbank (स्वीडन के केंद्रीय बैंक) ने अल्फ्रेड नोबेल की याद में में आर्थिक विज्ञान में Sveriges Riksbank Prize की स्थापना की।

नोबेल पुरस्कार के बारे में यहां और जानें (Know about nobel prize)

नोबेल फाउंडेशन के कानूनों में यह कहा गया है: “एक पुरस्कार राशि को दो कार्यों के बीच समान रूप से बांटा जा सकता है जिनमें से हर एक को नोबेल पुरस्कार पाने के योग्य माना जाता है। अगर कोई ऐसा कार्य जो पुरस्कृत किया जा रहा है दो या तीन व्यक्तियों द्वारा किया गया है तो पुरस्कार उन्हें संयुक्त रूप से दिया जाएगा। किसी भी मामले में एक पुरस्कार राशि को तीन से अधिक व्यक्तियों के बीच नहीं बांटा जा सकता।

और पढ़ें: कॉफी का पहला कप करता है दिमाग में 5 बदलाव

नोबेल पुरस्कार के बारे में और

923 लॉरेटेस और 27 संगठनों को 1901 और 2019 के बीच नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। उनमें से 84 आर्थिक विज्ञान में लॉरेट हैं। कम से कम व्यक्तियों और संगठनों को एक से अधिक बार सम्मानित किया गया है जिसका मतलब है कि 919 व्यक्तियों और 24 यूनिक संगठनों को नोबेल पुरस्कार मिला है।

शुरुआत के बाद से 1901 में कुछ साल ऐसे हैं जब नोबेल पुरस्कार से सम्मानित नहीं किया गया है। नोबेल पुरस्कार ना देने की कुल संख्या 49 है। उनमें से अधिकांश फर्स्ट वर्ल्ड वॉर (1914-1918) और द्वितीय (1939-1945) के दौरान हैं। नोबेल फाउंडेशन के कानूनों में यह कहा गया है: “अगर किसी भी प्रक्रिया के तहत कोई भी कार्य पहले पैराग्राफ में जरूरी नहीं पाया जाता है तो अगले साल तक पुरस्कार राशि आरक्षित की जाएगी। अगर इसके बाद भी पुरस्कार नहीं दिया जाता है तो राशि को फाउंडेशन के रेस्ट्रिक्टेड फंड में रखा जाएगा।

दो नोबेल पुरस्कार विजेताओं ने पुरस्कार से इनकार कर दिया

जीन-पॉल सार्त्र को साहित्य में 1964 के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया उन्होंने पुरस्कार को अस्वीकार कर दिया क्योंकि उन्होंने लगातार सभी आधिकारिक सम्मानों को अस्वीकार कर दिया था।

ली डुक थो 1973 में नोबेल शांति पुरस्कार अमेरिकी विदेश सचिव हेनरी किसिंजर के साथ संयुक्त रूप से सम्मानित किया। वियतनाम शांति समझौते पर बातचीत करने के लिए उन्हें पुरस्कार दिया गया। ली डुक थो ने कहा कि वह नोबेल शांति पुरस्कार को स्वीकार करने की स्थिति में नहीं थे। उन्होंने पुरस्कार को ना लेने के लिए वियतनाम के कुछ कारणों का हवाला दिया।

और पढ़ें : सेंसर की हेल्प से टीबी पेशेंट ले सकेंगे मेडिसिन

मजबूरन नोबेल पुरस्कार देना पड़ा

नोबेल पुरस्कार को अस्वीकार करने के लिए अधिकारियों द्वारा चार नोबेल पुरस्कार विजेताओं को मजबूर किया गया है। एडोल्फ हिटलर ने नोबेल पुरस्कार स्वीकार करने से तीन जर्मन नोबेल पुरस्कार विजेताओं, रिचर्ड कुह्न, एडोल्फ ब्यूटेनड्ट और गेरहार्ड डॉमागैक को मना किया। ये सभी बाद में नोबेल पुरस्कार डिप्लोमा और पदक ले सकते थे लेकिन पुरस्कार राशि नहीं।

बोरिस पास्टर्नक साहित्य में 1958 के नोबेल पुरस्कार विजेता ने शुरू में नोबेल पुरस्कार स्वीकार किया था, लेकिन बाद में उनके मूल देश के सोवियत संघ के अधिकारियों ने उन्हें नोबेल पुरस्कार को अस्वीकार करने के लिए मजबूर किया गया था।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

NOBEL PRIZES 2019/https://www.nobelprize.org/all-2019-nobel-prizes/Accessed on 10/12/2019

Gregg L. Semenza Facts/https://www.nobelprize.org/prizes/medicine/2019/semenza/facts/Accessed on 10/12/2019

Sir Peter J. Ratcliffe Facts/https://www.nobelprize.org/prizes/medicine/2019/ratcliffe/facts/Accessed on 10/12/2019

William G. Kaelin Jr Facts/https://www.nobelprize.org/prizes/medicine/2019/kaelin/facts/Accessed on 10/12/2019

Gregg L. Semenza, M.D., Ph.D/https://www.hopkinsmedicine.org/profiles/results/directory/profile/0800056/gregg-semenza/Accessed on 10/12/2019

Sir Peter J Ratcliffe wins the Nobel Prize in Medicine 2019/http://www.ox.ac.uk/news/2019-10-07-sir-peter-j-ratcliffe-wins-nobel-prize-medicine-2019/Accessed on 10/12/2019

WILLIAM G. KAELIN, Jr., MD/https://www.dfhcc.harvard.edu/insider/member-detail/member/william-g-kaelin-jr-md/Accessed on 10/12/2019

लेखक की तस्वीर
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित
अपडेटेड 09/10/2019
x