home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

World Vegan Day: कौन होते हैं 'वीगन'? जानें इनसे जुड़े मिथ्स और फैक्ट्स

World Vegan Day: कौन होते हैं 'वीगन'? जानें इनसे जुड़े मिथ्स और फैक्ट्स

वर्ल्ड वीगन डे (World Vegan Day) हर साल 1 नवंबर को मनाया जाता है। वर्ल्ड वीगन डे के दिन दुनिया भर के वीगन लोग पशुओं के अधिकारों (Animal Rights) का जश्न मनाने के लिए एक साथ जुड़ते हैं। इस दिन को मनाने के लिए यह लोग बड़े शहरों में वीगन के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए सड़कों पर स्टॉल लगाते हैं। लोगों की जागरुकता के लिए इस दिन अलग-अलग शहरों में इवेंट्स का आयोजन किया जाता है।

ये भी पढ़ें- वेगन डाइट (Vegan Diet) क्या है?

वीगन्स कौन होते हैं?

वीगन लोग ऐसे शाकाहारी होते हैं, जो मांस, मछली, मुर्गी नहीं खाते हैं और पशु उत्पाद या यहां तक ​​कि अंडे, डेयरी उत्पाद, शहद, चमड़ा (leather), फर (fur), रेशम (silk), सौंदर्य प्रसाधन (Cosmetics) जिनमें पशु उत्पादों का उपयोग होता है, वे इनका इस्तेमाल भी नहीं करते। लोग आमतौर पर स्वास्थ्य, पर्यावरण या नैतिक कारणों से वीगन डायट को प्राथमिकता देते हैं। साथ ही मनावता को बढ़ावा देने के लिए भी ऐसा करते हैं।

वीगन लोगों के प्रकार

इस जीवन शैली के प्रमुख प्रकारों में शामिल हैं:

  • वीगन आहार (Dietary vegans) अक्सर पौधों पर निर्भर रहने वाले लोगों को डायटरी वीगन कहा जाता है। यह शब्द उन लोगों को दर्शाता है, जो अपने आहार में पशु उत्पादों से बचते हैं, लेकिन उन्हें अन्य उत्पादों, जैसे कपड़े और सौंदर्य प्रसाधन में उपयोग करना जारी रखते हैं।
  • साबुत-खाद्य वीगन (Whole-food vegans) ये लोग फलों, सब्जियों, साबुत अनाज, फलियां, नट्स, और बीज जैसे संपूर्ण खाद्य पदार्थों से भरपूर आहार लेते हैं।
  • जंक-फूड वीगन (Junk-food vegans) कुछ लोग प्रोसेस्ड वीगन डायट पर निर्भर करते हैं। जैसे कि वीगन मीट(मीट के स्वाद से मिलते स्वाद वाले फूड आयटम्स), फ्राइज, फ्रोजन डिनर और डेसर्ट, जिसमें ओरेओ कुकीज और नॉन-डेयरी आइसक्रीम शामिल हैं।
  • रॉ फूड वीगन (Raw food vegans) यह ग्रुप केवल उन खाद्य पदार्थों को खाता है, जो कच्चे हों या 118 ° F (48 ° C) से नीचे के तापमान पर पकाए गए हों।
  • लो फैट, रॉ फूड वीगन (Low-fat, raw-food vegans) इन्हें फ्रूटेरियन के रूप में भी जाना जाता है। यह मुख्य रूप से फल पर निर्भर होने के बजाय हाई फैट वाले खाद्य पदार्थ, जैसे नट्स, एवोकैडो और नारियल को अपनी डायट में शामिल करते हैं। अन्य पौधों को कभी-कभी कम मात्रा में खाया जाता है।

ये भी पढ़ें- जानें आप वेज डायट के साथ बच्चे को कैसे हेल्दी रखें

लेकिन अक्सर वीगन्स को अलग-अलग सवालों का सामना करना पड़ता है। जैसे – वे केवल घास क्यों खाते हैं?

यहां हम आपको वीगन के बारे में फैले पांच मिथकों के बारे में बताएंगे:

वीगन लोग केवल कच्ची सब्जियां खाते हैं!

ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। कुछ वीगन अपनी मर्जी से कच्ची सब्जियां खाना शुरू करते हैं। कई अलग-अलग प्रकार के व्यंजन हैं, जो एक वीगन खा सकते हैं और वे सिर्फ टोफू (tofu), सैतान (seitan) और टेम्पेह (tempeh) नहीं खाते, लजानिया (lasagna) जैसे स्वादिष्ट व्यंजन भी वीगन तरीके से बनाए जा सकते हैं।

वीगन्स को जरूरी प्रोटीन नहीं मिलता!

प्रोटीन का एकमात्र स्रोत जानवर नहीं है, वास्तव में इसमें फैट और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा ज्यादा होती है और साथ ही इसमें हृदय रोग का भी खतरा होता है। लेकिन, प्लांट प्रोटीन में पर्याप्त फाइबर, लो फैट और यह कोलेस्ट्रॉल मुक्त होता है।

आधा कप छोले, टोफू और वेज बर्गर में एक दिन के लिए पर्याप्त प्रोटीन होता है और नहीं वीगन्स फिट रहने के लिए किसी भी अतिरिक्त विटामिन की खुराक का सेवन नहीं करते हैं।

ये भी पढ़ें- ग्‍लूटेन फ्री डाइट (Gluten Free Diet) क्‍या है? जानिए इसके फायदे और नुकसान

वीगन्स के पास एक मैन्यूल होता है, जिसे वो खाने से पहले देखते हैं!

जरुरी नहीं!

यह एक मिथक है, जिसमें माना जाता है कि वीगन्स के लिए नियमों की एक लंबी लिस्ट होती है। वीगन्स के लिए केवल एक नियम है कि किसी जानवर का मांस खाने से या उसके शरीर से मिलने वाले किसी भी उत्पाद को इस्तेमाल करने से बचे।

वीगन डायट आपको दिवालिया बना देगी

पनीर और चिकन के बजाए सब्जियों से भरा पिज्जा खाना हमेशा सस्ता होता है। इसके अलावा टर्की डिश की जगह सलाद खाना बिल्कुल भी असुविधाजनक नहीं होता है। वास्तव में यह किसी भी मांसाहारी व्यंजन की ही तरह आसानी से उपलब्ध होते हैं और सस्ते होते हैं।

सभी वीगन सोशियल एक्टिविस्ट होते हैं

जब भी मौका मिलता है, सभी वीग्न्स अपनी जीवनशैली का प्रचार नहीं करते हैं और न ही दूसरो को इसके लिए प्रेरित करते हैं।

इसके अलावा अलग-अलग प्रकार के वीगन भी हैं, उनमें से कुछ ग्लूटन फ्री हैं या वीगन हैं – जो खट्टे शहद का उपयोग करने के लिए तैयार हैं और जो टोफू नहीं खाते हैं क्योंकि वे सोया के प्रति संवेदनशील हैं। यह भी जान लें कि सभी वीगन आपको वीगन बनाने के लिए कोशिश नहीं करेंगे।

ये भी पढ़ें- जानें आप वेज डायट के साथ बच्चे को कैसे हेल्दी रखें

वीगन ऐसे लोग हैं,जो नैतिक, स्वास्थ्य या पर्यावरणीय कारणों से पशु उत्पादों से बचते हैं। इसके बजाय, वे अलग-अलग आहार लेते हैं, जिनमें फल, सब्जियां, साबुत अनाज, फलियां, नट, बीज और इन खाद्य पदार्थों से बने उत्पाद शामिल हैं।

वीगन डायट के फायदे

वीगन डायट के साथ तमाम मिथ्स के साथ इस डायट के कुछ फायदे भी हैं। सिर्फ यह ही नहीं की न्यूट्रीनिस्ट भी अब वीगन डायट को अपनाने की सलाह देते हैं।

दिल के लिए फायदेमंद है वीगन डायट

कई शोधों में यह बात सामने आई है कि वीगन डायट से बॉडी में कॉलेस्ट्रॉल का स्तर ठीक बना रहता है। इसका मुख्य कारण है कि वीगन डायट में ज्यादातर फैट स्वास्थ फूड आयटम्स जैसे कि फलियों, एवोकैडो और फलों से मिलते हैं। साथ ही यह जानना भी जरूरी है कि मीट और डेयरी प्रोडक्ट्स में मिलने वाला ज्यादातर फैट बेड कॉलेस्ट्रॉल को पैदा करता है। ऐसे में वीगन डायट को फॉलो करने वालों का बेड कॉलेस्ट्रॉल इनटेक काफी कम होता है। यहां कारण है कि वीगन लोगों का दिल हेल्दी रहता है।

ब्लड प्रेशर का खतरा रहता है कम

वीगन डायट को लेकर की गई रिसर्च में सामने आया है कि इस डायट को फॉलो करने से शरीर में कॉलेस्ट्रॉल का स्तर कम रहता है, जिसकी वजह से ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल में रहता है। यही कारण है कि वीगन डायट को डायबिटीज टाइप 2 और किडनी की समस्या में बेहतर विकल्प माना जाता है।

अगर आप इस खाने के पैटर्न के बारे में उत्सुक हैं, तो आपके लिए वीगन बनना आसान हो सकता है। हालांकि, आप यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपके अपने शरीर को सभी पोषक तत्व मिलते रहे आप सप्लीमेंट लेने के बारे में सोच सकते हैं

और पढ़ें:

ब्लड प्रेशर की समस्या है तो अपनाएं डैश डायट (DASH Diet), जानें इसके चमत्कारी फायदे

तीसरी तिमाही की डायट में महिलाएं इन चीजों को करें शामिल

फॉलो करें यह बनाना डायट प्लान, जल्दी घटेगा वजन

अपनी डायट में शामिल करें ये 7 चीजें, वायरल इंफेक्शन से रहेंगे कोसों दूर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Lucky Singh द्वारा लिखित
अपडेटेड 31/10/2019
x