home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Cold Agglutinin Test: कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट क्या है?

कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट को जानें|जरूरत|सावधानियां और खतरे|प्रक्रिया|परिणामों को समझें
Cold Agglutinin Test: कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट क्या है?

कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट को जानें

कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट क्या है?

कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट एक विशेष शारीरिक स्थिति की जांच के लिए किया जाता है। इस स्थिति में शरीर में कुछ विशेष प्रकार के एंटीबॉडी बनने लगते हैं जिन्हे एग्लूटिनिन कहा जाता है। कोल्ड एग्लूटिनिन आमतौर पर संक्रमण के कारण इम्यून सिस्टम द्वारा बनाए जाते हैं। इसके कारण कम तापमान में लाल रक्त वाहिकाएं एक झुंड बनाने लगती हैं।

स्वस्थ लोगों के खून में आमतौर पर कोल्ड एग्लूटिनिन का स्तर कम होता है लेकिन लिम्फोमा या अन्य प्रकार के संक्रमण जैसे माइकोप्लाज्मा निमोनिया शरीर में कोल्ड एग्लूटिनिन का स्तर बढ़ा देते हैं।

आमतौर पर कोल्ड एग्लूटिनिन का अधिक स्तर किसी प्रकार की गंभीर स्थिति उत्पन्न नहीं करता है। हालांकि, कभी-कभी ठंडे तापमान के संपर्क में आने पर कोल्ड एग्लूटिनिन त्वचा के अंदर रक्त वाहिकाओं में खून के थक्के जमाने लगता है। इसके कारण त्वचा पीली पड़ सकती है और हाथ व पैर सुन्न हो जाते हैं। त्वचा के गर्म होने पर लक्षण अपने आप चले जाते हैं। कुछ मामलों में खून के थक्के हाथ और पैर की उंगलियों, कानों या नाक में खून का प्रवाह रोक देते हैं। इसके कारण ऊतकों को क्षति पहुंच सकती है और दुलर्भ मामलों में गैंग्रीन जैसी गंभीर स्थिति के उत्पन्न होने का खतरा रहता है।

कभी-कभी कोल्ड एग्लूटिनिन का अधिक स्तर शरीर की सभी लाल रक्त कोशिकाओं को नष्ट कर सकता है। इस स्थिति को ऑटोइम्यून हीमोलिटिक एनीमिया कहा जाता है।

और पढ़ें : एनीमिया और महिलाओं के बीच क्या संबंध है?

जरूरत

कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट कब करवाया जाता है?

इस टेस्ट की सलाह डॉक्टर व्यक्ति को तब देते हैं जब उसे ठंडे तापमान के संपर्क में आते ही हीमोलिटिक एनीमिया के लक्षण दिखाई देने लगते हैं जो कि कोल्ड एग्लूटिनिन रोग के कारण हो सकता है। इसके लक्षणों में निम्न शामिल हैं :

[mc4wp_form id=”183492″]

इसके अलावा कुछ मामलों में ठंडे तापमान के संपर्क आने पर हाथ व पैर की उंगलियों, कानों और नाक पर दर्दनाक नील पड़ सकती है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में थकान क्यों होती है, कैसे करें इसे दूर?

सावधानियां और खतरे

कोल्ड एग्लूटिनिन कराने से पहले क्या जानना है जरूरी?

इस टेस्ट को करवाने में कोई दुष्प्रभाव या खतरा नहीं होता है। हालांकि, नस से खून का सैंपल लेने के कारण कुछ सामान्य समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं, जैसे कि-

  • सुई लगने वाली जगह पर छोटा निशान पड़ना। लेकिन उस जगह पर कुछ समय के लिए दबाव बनाकर रखने से इसकी आशंका को कम किया जा सकता है।
  • दुर्लभ मामलों में ब्लड सैंपल लेने के बाद नसों में सूजन आ सकती है। इस स्थिति को फिलीबाइटिस कहा जाता है। सूजन का इलाज करने के लिए दिन में 2 से 3 बार गर्म सिकाई करें।

और पढ़ें : कोरोना वायरस प्रकोप: सुपर-स्प्रेडर क्या होता है और कैसे यह बीमारी को महामारी में बदलता है?

प्रक्रिया

कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट में होने वाली प्रक्रिया क्या है?

यह एक ब्लड टेस्ट है जो खून के अंदर कोल्ड एग्लूटिनिन की मात्रा को मापता है। यह टेस्ट ब्लड सैंपल को विभिन्न तापमान के संपर्क में लाने के दौरान भी किया जा सकता है। यह डॉक्टर को समझने में मदद करता है कि कौन से तापमान में आपकी लाल रक्त वाहिकाएं खून के थक्के जमाना शुरू करती हैं।

इस टेस्ट के लिए किसी प्रकार की विशेष तैयारी करने की जरूरत नहीं होती है। डॉक्टर आपकी कोहनी के ठीक ऊपर की त्वचा को साफ करेंगें। इसके बाद वह सुई की मदद से आपकी नस से खून का सैंपल निकालेंगे। इस संपूर्ण प्रक्रिया में केवल 2 से 3 मिनट का समय लग सकता है।

खून लेने के बाद उसे कई ट्यूब में घोल और फैला दिया जाता है। इसके बाद खून के सैंपल को कई प्रकार के कम तापमानों पर ठंडा किया जाता है। इससे यह निर्धारित हो पाता है कि आपके शरीर में किस तापमान पर लाल रक्त वाहिकाओं में खून के थक्के जमाना शुरू करती हैं।

कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट के बाद क्या होता है?

कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट के बाद डॉक्टर आपको इस स्थिति के लक्षणों के बारे में बताएंगे और परिणाम आने तक आप उन्हें कैसे कम कर सकेंगे। अपने स्वास्थ्य को बेहतर रखने के लिए आप निम्न बातों का खास ध्यान रखें-

  • ठंडा खाना न खाएं।
  • घर का तापमान गर्म रखने की कोशिश करें।
  • ठंडे पानी से स्नान न करें।
  • ठंडे मौसम में घर से बाहर न जाएं।

और पढ़ें : Cardiac perfusion test: कार्डियक परफ्यूजन टेस्ट क्या है?

परिणामों को समझें

मेरे परिणामों का क्या मतलब है?

कोल्ड एग्लूटिनिन टेस्ट का परिणाम आमतौर पर टिटर के रूप में आता है। टिटर एक लैब प्रक्रिया होती है जिसमें खून में मौजूद एंटीबॉडी को मापा जाता है जैसे कि 1:64 या 1:512। अधिक संख्या का मतलब होता है कि आपके रक्त में अधिक ऑटोएंटीबॉडीज मौजूद हैं।

पॉजिटिव टिटर का मतलब होता है कि व्यक्ति कोल्ड एग्लूटिनिन रोग से ग्रस्त है। कोल्ड एग्लूटानिन प्राथमिक या माध्यमिक हो सकता है जिसका अर्थ है कि यह किसी अन्य गंभीर रोग या स्थिति के कारण उत्पन्न हुआ है, जैसे कि-

  • माइकोप्लाज्मा निमोनिया संक्रमण- इस स्थिति से ग्रस्त मरीजों में कोल्ड एग्लूटिनिन होने की 75 फीसदी अधिक आशंका होती है।
  • मोनो (संक्रमिक मोनोन्यूक्लियोसिस)- इस संक्रमण के कारण कोल्ड एग्लूटिनिन की 60 फीसदी तक आशंका बढ़ जाती है। हालांकि, इस संक्रमण के कारण एनीमिया होना दुर्लभ है।
  • कुछ प्रकार के कैंसर जैसे लिम्फोमा, ल्यूकेमिया और मल्टिपल मायलोमा
  • कुछ अन्य प्रकार के बैक्टीरियल इंफेक्शन जैसे लेगियोनेयरेस रोग और सिफिलिस
  • कुछ परजीवी संक्रमण के कारण जैसे मलेरिया
  • कुछ वायरल इंफेक्शन जैसे एचआईवी, इन्फ्लूएंजा (फ्लू), साइटोमेगालो वायरस (सीएमवी), एपस्टीन-बार वायरस (लार से फैलने वाली बीमारी) और हेपेटाइटिस सी

ऑटोएंटीबॉडीज के अधिक टिटर स्तर और गर्म तापमान में प्रक्रिया करने वाले ऑटोएंटीबॉडीज हीमोलिटिक एनीमिया और गंभीर लक्षणों से जुड़ा होता है। लाल रक्त वाहिकाओं के हीमोलिटिक और हिमोलाइसिस एनीमिया का स्तर हर व्यक्ति में अलग हो सकता है। अपने परिणामों से जुड़े सवालों और कन्फ्यूजन को दूर करने के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अधिक जानकारी के लिए कृपया आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Cold Agglutinins/https://labtestsonline.org/tests/cold-agglutinins. Accessed On 12 October, 2020.

A Rapid Cold Agglutinin Test in Mycoplasma Pneumoniae Infection/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/2176924. Accessed On 12 October, 2020.

Cold agglutinin disease. https://rarediseases.info.nih.gov/diseases/6130/cold-agglutinin-disease. Accessed On 12 October, 2020.

Febrile/cold agglutinins. https://medlineplus.gov/ency/article/003549.htm. Accessed On 12 October, 2020.

Final Diagnosis — Hemolytic Cold Agglutinin Syndrome. https://path.upmc.edu/cases/case758/dx.html. Accessed On 12 October, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Shivam Rohatgi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 12/10/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड