home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

एसीई इंहिबिटर्स : हार्ट से जुड़ी कई बीमारियों का है एक समाधान!

एसीई इंहिबिटर्स : हार्ट से जुड़ी कई बीमारियों का है एक समाधान!

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (Angiotensin-converting enzyme inhibitors) का उपयोग ब्लड वेसल्स को रिलैक्स और चौड़ा करने के लिए किया जाता है। एंजियोटेंसिन कंवर्टिंग एंजाइम इंहिबिटर्स (ACE inhibitors) मेडिसन का ग्रुप है। यह हार्ट के साथ ही ये किडनी कंडिशन, माइग्रेन (Migraine) और स्केलेरोडर्मा (Scleroderma) के इलाज में भी उपयोगी है।

ये एंजियोटेंसिन के प्रोडक्शन को ब्लॉक करके काम करती हैं। यह एक सब्सटेंस है जो ब्लड वेसल्स को संकरा करता है और एंजियोटेंसिन कंवर्टिंग एंजाइम को रोककर एल्डोस्टेरॉन और नॉरेपिनेफ्रिन जैसे हॉर्मोन को रिलीज करता है। एंजियोटेंसिन, एल्डोस्टेरॉन और नॉरेपिनेफ्रिन (Aldosterone and norepinephrine) ये तीनों ब्लड प्रेशर और यूरिन के प्रोडक्शन को बढ़ाते हैं। अगर बॉडी में इन तीनों की मात्रा कम हो जाती है, तो ब्लड वेसल्स को रिलैक्स होने के साथ ही चौड़ी हो जाती है। साथ ही ब्लड और किडनी का प्रेशर भी कम हो जाता है। इसके अलावा एसीई इंहिबिटर्स ब्रैडिकिनिन (Bradykinin) का प्रोडक्शन भी बढ़ा देता है जो ब्लड वेसल्स को डायलेट करने में मदद करता है।

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स: एसीई इंहिबिटर्स का उपयोग (ACE inhibitors uses)

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (ACE Inhibitors in Heart problems) का उपयोग तो किया ही जाता है कुछ अन्य स्थितियों का इलाज भी इनके द्वारा होता है।

और पढ़ें : हृदय और फेफड़ों में संबंध : थोड़ी सी लापरवाही, बन सकती है जान का खतरा, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (ACE Inhibitors in Heart problems)

एसीई इंहिबिटर्स के साइड इफेक्ट्स क्या हैं? (ACE inhibitors side effects)

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स का उपयोग कर रहे हैं तो जान लें ये इनके उपयोग से कुछ साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। जिनमें निम्न शामिल हैं।

  • लगातार सूखा कफ
  • धुंधला दिखाई देना
  • सिर चकराना
  • मुंह सूखना या मुंह में टेस्ट नहीं आना
  • थकान
  • गेस्ट्रोइंटेस्टिनल अपसेट (डायरिया, कब्ज और जी मिचलाना)
  • सिर में दर्द
  • ब्लड में पोटेशियम और क्रिएटिन का लेवल बढ़ना।
  • ब्लड प्रेशर कम होना खासकर बैड से उठते समय।
  • पसीना आना

और पढ़ें : ये लक्षण आपमें हो सकते हैं मैलिग्नेंट हायपरटेंशन के, संकट से बचने के लिए इसे न करें अनदेखा…

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (Angiotensin-converting enzyme inhibitors) का उपयोग सेफ है?

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स का उपयोग जब डॉक्टर की सलाह पर डोज के रूप में किया जाता है तो इन्हें सेफ माना जाता है। हालांकि कुछ परिस्थितियों में इनका उपयोग सुरक्षित नहीं है:

  • इन दवाओं का उपयोग प्रेग्नेंसी के दौरान रिकमंड नहीं किया जाता। यह बेबी के किडनी डेवलपमेंट को प्रभावित करने के साथ ही मिसकैरिज का भी कारण बन सकते हैं।
  • इनके उपयोग से जानलेवा एलर्जिक रिएक्शन (anaphylactoid reactions) हो सकता है।

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (ACE Inhibitors in Heart Problems)

यहां हम आपको 5 एसीई इंहिबिटर्स के बारे में जानकारी दे रहें, इनका उपयोग की सलाह पर ही करें।

1.बेनजिल (Benzil)

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (ACE Inhibitors in Heart Problems) का उपयोग डॉक्टर ने जैसा प्रिस्क्राइब किया है वैसे ही करना चाहिए। बेनजिल एसीई इंहिबिटर्स है। इसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में बेनाजेप्रिल (Benazepril) पाया जाता है। इसका उपयोग हायपरटेंशन, हार्ट अटैक, स्ट्रोक और हार्ट फेलियर के इलाज में किया जाता है। यह हार्ट के स्ट्रेस को कम कर, ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करने का काम करती है ताकि हार्ट आसानी से पंप कर सके।

इस दवा के कॉमन साइड इफेक्ट्स में ब्लड प्रेशर का कम होना, कफ, ब्लड में पोटेशियम लेवल का बढ़ना, थकान, कमजोरी, चक्कर आना आदि शामिल हैं। अगर दवा के सेवन से कफ, गले में खराश आदि हो और कुछ समय बाद ठीक ना तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं। दवा के सभी फायदे प्राप्त करने के लिए इसे हर दिन एक ही समय पर लें। इस दवा की ऑनलाइन कीमत 215 रुपए है।

2.ऐसेटेन (Aceten)

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (ACE Inhibitors in Heart Problems) का उपयोग हमेशा एक ही समय पर करना चाहिए। ताकि दवा के मिस होने की संभावना ना रहे। ऐसेटेन दवाओं के उस समूह से संबंधित है जिसे एसीई इंहिबिटर्स कहा जाता है। इसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में कैप्टोप्रिल (Captopril) पाया जाता है।

इसका उपयोग हायपरटेंशन, हार्ट अटैक, स्ट्रोक और हार्ट फेलियर के इलाज में किया जाता है। यह हार्ट के स्ट्रेस को कम कर, ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करने का काम करती है ताकि हार्ट आसानी से पंप कर सके। यह हार्ट अटैक और स्ट्रोक के रिस्क को कम करती है।

इस दवा के कॉमन साइड इफेक्ट्स में ब्लड प्रेशर का कम होना, कफ, ब्लड में पोटेशियम लेवल का बढ़ना, थकान, कमजोरी, चक्कर आना आदि शामिल हैं। अगर दवा के सेवन से कफ, गले में खराश आदि हो और कुछ समय बाद ठीक ना तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं। इस दवा की ऑनलाइन कीमत 15 रुपए है।

और पढ़ें : वैलव्युलर हार्ट डिजीज: दिल से जुड़ी इस बीमारी की पूरी जानकारी जानें यहां!

3.एनम (Enam)

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (ACE Inhibitors in Heart Problems) उपयोगी साबित हो सकते हैं, लेकिन इनका उपयोग हमेशा डॉक्टर की सलाह पर ही करें। एनम भी एक एसीई इंहिबिटर है। जिसका एक्टिव इंग्रीडिएंट एनालाप्रिल (Enalapril) है। इसका उपयोग हायपरटेंशन, हार्ट अटैक, स्ट्रोक और हार्ट फेलियर के इलाज में किया जाता है। यह हार्ट के स्ट्रेस को कम कर, ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करने का काम करती है ताकि हार्ट आसानी से पंप कर सके। यह हार्ट अटैक और स्ट्रोक के रिस्क को कम करती है।

इस दवा के कॉमन साइड इफेक्ट्स में ब्लड प्रेशर का कम होना, कफ, ब्लड में पोटेशियम लेवल का बढ़ना, थकान, कमजोरी, चक्कर आना आदि शामिल हैं। इस दवा के उपयोग से ब्लड में पोटेशियम की मात्रा बढ़ सकती है इसलिए पोटेशियम रिच फूड का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर करें। इसकी ऑनलाइन कीमत 30 रुपए है।

4.फोवस (Fovas)

हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (ACE Inhibitors in Heart Problems) का उपयोग हार्ट अटैक और स्ट्रोक के इलाज में किया जाता है। फोवस भी इसी ग्रुप से संबंधित है। इसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में फोसिनोप्रिल (Fosinopril) पाया जाता है। यह हार्ट के स्ट्रेस को कम कर, ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करने का काम करती है ताकि हार्ट आसानी से पंप कर सके। यह हार्ट अटैक और स्ट्रोक के रिस्क को कम करती है।

इस दवा के कॉमन साइड इफेक्ट्स में ब्लड प्रेशर का कम होना, कफ, ब्लड में पोटेशियम लेवल का बढ़ना, थकान, कमजोरी, चक्कर आना आदि शामिल हैं।इस दवा के उपयोग से ब्लड में पोटेशियम की मात्रा बढ़ सकती है इसलिए पोटेशियम रिच फूड का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर करें। इसकी ऑनलाइन कीमत 68 रुपए है।

और पढ़ें: हार्ट इन्फेक्शन में एंटीबायोटिक आईवी : इस्तेमाल करने से पहले जान लें ये बातें!

5. हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स :लिस्ट्रिल (Listril)

लिस्ट्रिल (Angiotensin converting enzyme (ACE) inhibitor) गुप से संबंधित लिस्ट्रिल का उपयोग हायपरटेंशन, हार्ट फेलियर, स्ट्रोक और हार्ट अटैक के प्रिवेंशन में किया जाता है। इसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में लिस्नोप्रिल (lisinopril) पाया जाता है। यह हार्ट के स्ट्रेस को कम कर, ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करने का काम करती है ताकि हार्ट आसानी से पंप कर सके।

इस दवा के कॉमन साइड इफेक्ट्स में ब्लड प्रेशर का कम होना, कफ, ब्लड में पोटेशियम लेवल का बढ़ना, थकान, कमजोरी, चक्कर आना आदि शामिल हैं। इस दवा के उपयोग से ब्लड में पोटेशियम की मात्रा बढ़ सकती है इसलिए पोटेशियम रिच फूड या सप्लिमेंट्स का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर करें। इसकी ऑनलाइन कीमत 83 रुपए है।

नोट: इन दवाओं का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर ही करें। इस जानकारी को चिकित्सा सलाह का विकल्प ना समझें। हमारा उद्देश्य इन ब्रांड्स का प्रचार करना नहीं अपने पाठकों तक जानकारी पहुंचाना है। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि जहां से आप दवा खरीदते हैं उसके आधार पर कीमतों में अंतर हो सकता है।

उम्मीद करते हैं कि आपको हार्ट प्रॉब्लम्स में एसीई इंहिबिटर्स (ACE Inhibitors in Heart Problems) के उपयोग से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

FDA approves new treatment for a type of heart failure/https://www.fda.gov/news-events/press-announcements/fda-approves-new-treatment-type-heart-failure/ Accessed on 6th July 2021

Common Generic and Brand Names for ACE Inhibitors and ARBs/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK51219/table/cerconsangina.tu1/Accessed on 6th July 2021

Angiotensin-converting enzyme (ACE) inhibitors/https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/high-blood-pressure/in-depth/ace-inhibitors/art-20047480/Accessed on 6th July 2021

(ACE) inhibitors/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK430896/Accessed on 6th July 2021

heart failure https://www.heart.org/en/health-topics/heart-failure/what-is-heart-failureAccessed on 6th July 2021

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ दिन पहले को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड