आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

ये लक्षण आपमें हो सकते हैं मैलिग्नेंट हायपरटेंशन के, संकट से बचने के लिए इसे न करें अनदेखा...

ये लक्षण आपमें हो सकते हैं मैलिग्नेंट हायपरटेंशन के, संकट से बचने के लिए इसे न करें अनदेखा...
हाय ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) को हाइपरटेंशन (Hypertension) भी कहा जाता है, यह एक ऐसी स्थिति से है, जिसमें दिल की धमनियों में रक्त का प्रवाह (Blood flow) काफी तेज हो जाता है। शरीर में रक्त का काफी तेज संचार की काफी खतरनाक होता है। हायपरटेंशन की इस गंभीर स्थिति को मैलिग्नेंट हायपरटेंशन (Malignant Hypertension) कहते हैं। इसका समय रहते इलाज बहुत जरूरी है, नहीं तो इसकी वजह से व्यक्ति की मौत भी हो सकती है। हायपरटेंशन की इस गंभीर स्थिति को मैलिग्नेंट हायपरटेंशन कहते हैं। हाय बीपी शरीर में बहुत सारी गंभीर बीमारियों का कारण बन सकती है। आज हम बात करेंगे हायपरटेंशन के एडवांस स्टेज मैलिग्नेंट हायपरटेंशन (Malignant Hypertension) की, जानिए:

मैलिग्नेंट हायपरटेंशन (Malignant Hypertension) क्या होता है ?

आपको बता दें क‍ि 140-159/90-99 और इससे ज्यादा प्रेशर, हाय ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) और मैलिग्नेंट हायपरटेंशन (Malignant Hypertension) माना जाता है। सामान्य ब्लड प्रेशर की सीमा 120/80 तक होती है। ब्लड प्रेशर में 120 सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर (Systolic blood pressure) है, तो वहीं 80 डायस्टोलिक ब्लड प्रेशर (Diastolic blood pressure) को बताता है। यदि किसी का ब्लड प्रेशर 180/120 एमएम एचची से ऊपर है, तो उस स्थिति को मैलिग्नेंट हायपरटेंशन या हायपरटेंसिव क्राइसिस कहते हैं। हाय ब्लड प्रेशर की समस्या को संभाला और कंट्रोल किया जा सकता है, यदि आप समय रहते डाॅक्टर की सलाह लें:

यदि किसी का बीपी 180/120 मिमी एचजी है या उससे अधिक है, तो उसका बुरा प्रभाव कई बार आंखे, हार्ट या ब्रेन पर पड़ सकता है। यानि कि हायपरटेंशन () के दौरान लागों में हार्ट अटैक (heart attack) और स्ट्रोक (Stroke) का कारण बन सकता है। यदि आपको इनमें कोई दिक्कत हो रही है यानि कोई लक्षण नजर आ रहे हैं, तो ऐसी स्थिति में इमरजेंसी मेडिकेशन की जरूरत होती है। हाय डायबिटीज (High diabetes) के साथ इसके होने का खतरा और भी बढ़ सकता है। यदि आप समय रहते इलाज नहीं ले रहे हैं, तो आपमें गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा हो सकती हैं, जैसे:

कई स्थितियों में उच्च रक्तचाप से ग्रस्त व्यक्ति की जान भी जा सकती है। इसलिए ऐसे में समय रहते मेडिकेशन बहुत जरूरी है।

और पढ़ें: जब ना खुले ‘हाय ब्लड प्रेशर’ का ताला, तो आयुर्वेद की चाबी दिखाएगी अपना जादू

मैलिग्नेंट हायपरटेंशन के लक्षण (Symptoms of a Malignant Hypertension)

उच्च रक्तचाप (high blood pressure) यानि कि हाय ब्लड प्रेशर को आमतौर पर “साइलेंट किलर” (Silent Killer) भी कहा जाता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि इसमें जरूरी नहीं है कि हमेशा कोई लक्षण नजर आए। लेकिन कई लोगों में इसके कुछ लक्षण नजर आ सकते हैं। उन लक्षणों में शामिल हो सकते हैं:

  • सीने में दर्द (chest pain)
  • दृष्टि में परिवर्तन या धुंधला दिखाई देना (changes in vision, including blurred vision)
  • उलझन हाेना (confusion)
  • मतली या उल्टी महसूस होना (nausea or vomiting)
  • हाथ, पैरों में कमजोरी (numbness or weakness)
  • सांस लेने में दिक्कत होना (shortness of breath)
  • सिर में दर्द होना (headache)
  • यूरिन कम होना (reduced urine output)

हाय ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) से शिकार लोगों की यह स्थिति उनमें इन्सेफैलोपैथी नामक कंडिशन (Condition called encephalopathy) का कारण में भी हो सकती है, इस विकार के लक्षणों में शामिल हैं:

  • तेज सिरदर्द होना (severe headache)
  • धुंधला दिखायी देना (blurry vision)
  • मानसिक उलझन बने रहना (confusion or mental slowness)
  • दौरा (seizure)

और पढ़ें: Hypertension : हायपरटेंशन क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

मैलिग्नेंट हायपरटेंशन (Malignant Hypertension)

मैलिग्नेंट हायपरटेंशन: अन्य टिप्स

अगर आपको हाय ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम से बचना है, तो डॉक्टर द्वारा बताए गए मेडिकेशन के अलावा अपने लाइफस्टाइल में भी बदलाव लाएं। इसी के साथ कि आपको क्या करना चाहिए और क्या नहीं, जैसे कि:

  • अपने डायट में फल (Fruit), सब्जियां, कम वसा वाले डेयरी उत्पाद (Low Fat Dairy Product), उच्च पोटेशियम वाले खाद्य पदार्थ (High potassium foods) और साबुत अनाज खाना शामिल करें।
  • खाने में सोडियम (Sodium) की कम मात्रा लें।
  • वजन कम (Weight Loss) करें।
  • अपने रक्तचाप को कम करने के लिए स्वस्थ आहार अपनाएं।
  • दिनभर में 30 मिनट एक्सरसाइज (Exercise) जरूर करें।
  • शराब (alcohol) के सेवन से बचें।
  • स्मोकिंग से बचें (Smoking)।

यह सभी आपके हाय ब्लड प्रेशर की समस्या को कम करने में मदद कर सकते हैं। इसे कोई उपचार न मानें। बस आप इस तरह अपने लाइफस्टाइल में बदलाव कर कर के इस समस्सा में राहत पा सकते हैं। लेकिन यह मैलिग्नेंट हायपरटेंशन का काई स्थायी ट्रीटमेंट नहीं है। डॉक्टर द्वारा इसका समय पर मेडिकेशन बहुत जरूरी है, नहीं तो हाय ब्लड प्रेशर आपमें भी कई बड़ी और गंभीर बीमारियों का कारण बन सकता है। सबसे लक्षणों के देखते हुए अलग-अलग प्रकार के मेडिकेशन की जरूरत हो सकती है। बस इसके रिस्क के कारको को कम करने की कोशिश करें। इसी के साथ ही यह टिप्स अपना कर के इस समस्या में थोड़ी राहत भी पा सकते हैं। इमरजेंसी केस पर घर पर उपचार की कोशिश न करें, तुरंत डॉक्टर से मिलें।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Malignant Hypertension https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK507701/ Accessed 27 April, 2021

Malignant Hypertension https://www.winchesterhospital.org/health-library/article?id=96924 Accessed 27 April, 2021

Malignant Hypertension https://www.mountsinai.org/health-library/diseases-conditions/malignant-hypertension Accessed 27 April, 2021

Malignant Hypertension https://edren.org/ren/edren-info/malignant-hypertension/ Accessed 27 April, 2021

Malignant Hypertension https://jasn.asnjournals.org/content/jnephrol/9/1/133.full.pdf Accessed 27 April, 2021

Hypertensive crisis: What are the symptoms? https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/high-blood-pressure/expert-answers/hypertensive-crisis/faq-20058491 Accessed 27 April, 2021

A New Breath for Malignant Hypertension: Implementation of the HAMA Cohort (HAMA)/https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT03755726/Accessed on 25/01/2022

Malignant hypertension/https://medlineplus.gov/ency/article/000491.htm/Accessed on 25/01/2022

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/01/2022 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड