हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट जानिए किस तरह करती है मदद?

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट जानिए किस तरह करती है मदद?

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट (Sorbitrate tablet for heart attack) का उपयोग चेस्ट पेन, एंजिना पेक्टोरिस और कंजेस्टिव हार्ट फेलियर के इलाज में किया जाता है। इसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में आइसोसोरबिड डिनिट्रेट (Isosorbide Dinitrate) पाया जाता है। यह ड्रग के एक ग्रुप से संबंधित है जिसे निटरेट्स (Nitrates) कहा जाता है। ये ब्लड वेसल्स को डायलेट करके ब्लड फ्लो को आसान बनाती है जिससे हार्ट को पंप करना आसान होता है। जिससे परिणाम स्वरूप हार्ट को कम ऑक्सिजन की जरूरत होती है और चेस्ट पेन कम हो जाता है। हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट का (Sorbitrate tablet for heart attack) उपयोग तो करते ही हैं डॉक्टर अन्य मेडिकल कंडिशन के लिए भी इस दवा का उपयोग कर सकते हैं।

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट का उपयोग कैसे किया जाता है? (How is Sobitrate Tablet used in Heart Attack?)

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट का उपयोग डॉक्टर की सलाह के आधार पर ही किया जाना चाहिए। आम तौर पर टैबलेट को चीभ के नीचे मसूड़े और गाल के नीचे रखकर डिसॉल्व किया जाता है। इस दवा का उपयोग आमतौर पर जरूरत के हिसाब से फिजिकल एक्टिविटीज से 5 से 10 मिनट पहले या फिर एंजिना का पहला संकेत दिखने पर उपयोग किया जाता है। हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट (Sorbitrate tablet for heart attack) का यूज वैसे ही करें जैसा प्रिस्क्राइब किया गया हो। अगर आप दवा का सेवन बीच में बंद कर देते हैं तो इससे स्थिति बिगड़ सकती है। दवा के साथ ही लाइफस्टाइल चेंजेस जैसे कि डायट, एक्सरसाइज और स्मोकिंग ना करना आदि को फॉलो करने से यह बेहतर तरीके से काम करती है।

    और पढ़ें: ट्रायकसपिड अट्रीशिया : इस तरह से बचाएं अपने बच्चों को इस जन्मजात हार्ट डिफेक्ट से!

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट उपयोग करने के साइड इफेक्ट्स क्या हैं? (What are the side effects of using Sobitrate Tablet in a heart attack?)

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट (Sorbitrate tablet for heart attack) उपयोग करें या किसी दूसरी कंडिशन में इसके उपयोग से सिर में दर्द, सिर में हल्कापन, चक्कर आना, जी मिचलाना जैसे साइड इफेक्ट्स नजर आते हैं। ये लक्षण जब आप दवा के लिए यूज्ड टू हो जाते हैं तो चले जाते हैं, लेकिन अगर आप इन साइड इफेक्ट्स को लेकर परेशान हैं तो इस बारे में डॉक्टर से जरूर बात करें।

    हार्ट अटैक में सॉबिट्रेट टैबलेट (Sorbitrate tablet for heart attack)

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट उपयोग करते वक्त किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? (What are the precautions to be taken while using Sobitrate tablet in heart attack?)

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट उपयोग भले ही लाभदायक माना गया हो, लेकिन कुछ कंडिशन में दवा का उपयोग करने से बचना चाहिए। जान लेते हैं उनके बारे में।

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट का उपयोग करते वक्त इन बातों का भी रखें ख्याल (Keep these things in mind while using Sobitrate tablet in heart attack)

    • हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट उपयोग कर रहे और अगर आप दवा का डोज मिस कर देते हैं, तो जितनी जल्दी हो सके उसे ले लें। अगर अब अगला डोज लेने का समय हो गया है तो पुराना डोज छोड़कर अगला डोज ही लें। कभी भी दवा का डबल डोज ना लें।
    • इस दवा के उपयोग के साथ सिडनाफिल (Sildenafil) दवा का उपयोग ना करें। दोनों दवाओं का साथ में उपयोग करने से ब्लड प्रेशर कम हो सकता है।
    • हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट के साथ ही दूसरी दवाओं का भी उपयोग होता है।

    जिसमें एक है एस्प्रिरिन जो डिस्प्रिन नाम के ब्रांड नेम से बेची जाती है। आइए जानते हैं ये कैसे हार्ट अटैक के इलाज में मदद करती है।

    और पढ़ें: बीटा ब्लॉकर्स: हायपरटेंशन से लेकर हार्ट अटैक तक दिल से जुड़ी बीमारियों के इलाज में हैं उपयोगी

    हार्ट अटैक के इलाज के लिए एस्प्रिरिन (Aspirin to treat heart attack)

    एस्पिरिन एक ब्लड थिनर (Blood thinner) मेडिसिन है। यह ब्लड में प्लेटलेट्स (Platelets) के थक्के जमने को रोककर हार्ट अटैक (Heart attack) को रोकने में मदद करती है। ब्लड क्लॉटिंग (Blood clotting) एक हेल्दी सर्कुलेटरी सिस्टम का हिस्सा हैं। जब आप इंजर्ड होते हैं, तो क्लॉटिंग एक्सेस ब्लड लॉस (Blood loss) को रोकता है। थक्के खतरनाक हो जाते हैं जब वे शरीर के चारों ओर मूव करते हैं या महत्वपूर्ण ऑर्गन्स में ब्लड फ्लो को रोकते हैं। हार्ट अटैक तब होता है जब प्लेटलेट्स एक क्लॉट बनाता है, जो हार्ट में ब्लड फ्लो (Blood flow) को ब्लॉक करता है।

    यह उन लोगों में होने की अधिक संभावना है जिनमें कुछ मेडिकल कंडिशंस होती हैं, जैसे हाय ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) या हाय कोलेस्ट्रॉल (High cholesterol)। ये स्थितियां धमनियों को कमजोर और नैरो कर देती हैं, जिससे ब्लड को सर्कुलेट करना कठिन हो जाता है। यदि ब्लड क्लॉट्स के रिस्क फैक्टर्स मौजूद हैं, तो आपका डॉक्टर हार्ट अटैक के जोखिम को कम करने के लिए ब्लड को पतला करने वाली दवा प्रिस्क्राइब कर ​​सकता है।

    हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट के साथ हार्ट अटैक के इलाज के लिए बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers to treat heart attack)

    हार्ट प्रॉब्लम में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers in Heart Problems) का उपयोग किया जाता है। बीटा ब्लॉकर्स ड्रग्स को बीटा एड्रेनेरजिक (Beta-adrenergic) ब्लॉकिंग एजेंट्स भी कहा जाता है। ये ड्रग हार्ट रेट को कम करने के साथ ही ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) को कम करने, ब्लड वेसल्स को डायलेट करने में मददगार हैं। जिससे हार्ट का लोड कम होता है और वह आसानी से ब्लड पंप कर पाता है।

    और पढ़ें: कार्डिएक कैथेटेराइजेशन: कई प्रकार की हार्ट डिजीज का पता लगाने के लिए किया जाता है ये टेस्ट

    हार्ट अटैक के इलाज के में डाइयुरेटिक्स (Diuretics in the treatment of heart attack)

    डाइयूरेटिक्स का उपयोग शरीर से अतरिक्त पानी और नमक की मात्रा को निकालने के लिए किया जाता है। इससे हार्ट के लिए पंप करना आसान हो जाता है और ब्लड प्रेशर कंट्रोल हो जाता है। जिससे हार्ट का लोड कम हो जाता है और हार्ट अटैक का खतरा कम होता है। इनके अलावा भी दूसरी दवाओं का उपयोग हार्ट अटैक के इलाज में किया जाता है। इसके बारे में डॉक्टर से सलाह लें। साथ ही किसी भी दवा का उपयोग डॉक्टर की सलाह के बिना ना करें।

    और पढ़ें: हार्ट वॉल्व डिजीज के लिए बेहद उपयोगी हैं डाइयुरेटिक्स, हार्ट अटैक का खतरा कर सकती हैं कम!

    उम्मीद करते हैं कि आपको हार्ट अटैक में सोर्बिट्रेट टैबलेट (Sorbitrate tablet for heart attack) के उपयोग से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    The Big 6 Heart Medications/https://health.clevelandclinic.org/the-big-six-heart-medications/ Accessed on 8th September 2021

    Heart attack/ https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/heart-attack/diagnosis-treatment/drc-20373112/Accessed on 8th September 2021

    Treatment of a Heart Attack/https://www.heart.org/en/health-topics/heart-attack/treatment-of-a-heart-attack/Accessed on 8th September 2021

    Treatment Heart Attack/ https://www.nhs.uk/conditions/heart-attack/treatment/Accessed on 8th September 2021

    Heart Medications https://www.fda.gov/news-events/press-announcements/fda-approves-new-treatment-type-heart-failure Accessed on 8th September 2021

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 17/11/2021 को
    Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड