जानें हायपरटेंशन कम करने के उपाय

    जानें हायपरटेंशन कम करने के उपाय

    हायपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर की समस्या दुनिया ही नहीं भारत में भी लगातार बढ़ती जा रही है। यह बुजुर्गों से लेकर युवाओं तक में अपना शिकंजा कसने लगी है। एक सर्वे के अनुसार देश में हर 5 में से एक व्यक्ति को हायपरटेंशन की समस्या है। यदि आप भी प्री-हायपरटेंशन या हायपरटेंशन से जूझ रहे हैं और हायपरटेंशन कम करने का उपाय (Ways to reduce hypertension) ढूंढ़ रहे हैं तो आर्टिकल जरूर पढ़ें।

    हायपरटेंशन कम करने के उपाय (Ways to reduce hypertension) क्या हैं?

    हायपरटेंशन कम करने का उपाय में सबसे पहले जिसका नाम आता है वह है आहार। आहार को संतुलित और सही तरह से लेने पर इस बीमारी से राहत पाया जा सकता है।

    ब्लड प्रेशर कम करने के उपाय : क्या खाएं?

    हर बीमारी की जड़ भोजन ही है और उसका उपचार भी भोजन ही है। हायपरटेंशन कम करने का उपाय भी डायट है। ब्लड प्रेशर में क्या खाना चाहिए, कब खाना चाहिए? इन सभी बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है।

    डायट चार्ट तैयार करें

    सुबह का नाश्ता, लंच, डिनर ही नहीं मिड डे मील और इवनिंग मील का टाइम फिक्स कर लें तो ब्लड प्रेशर कम करने के साथ ही अच्छी आप अन्य स्वास्थय संबंधी बीमारियों से भी राहत पा लेंगे।

    और पढे़ंः इन हर्ब्स की मदद से कम करें हाइपरटेंशन

    खाने में क्या शामिल करें?

    हायपरटेंशन कम करने का उपाय में खाना कब खाना है के साथ यह भी होना चाहिए कि खाने में क्या खाना है और कितना खाना है? कोशिश करें कि खाने की थाली में एक हिस्सा लीन प्रोटीन, एक हिस्सा अनाज और हिस्सा फल और सब्जियों से भरा होना चाहिए।

    हाइपरटेंशन कम करने का उपाय: प्रोसेस्ड फूड, नमक और चीनी से दूरी बनाएं

    चूंकि हायपरटेंशन कम करने का उपाय यह है कि नमक और वजन से दूरी बनाकर रखनी होती है तो प्रोसेस्ड फूड से दूरी बनाकर रखना ही उचित है। प्रोसेस्ड फूड में नमक, चीनी और अत्यधिक मात्रा में कैलोरीज होती हैं। यह सभी हाइपरटेंशन के लिए नुकसानदायक होते हैं।

    पोटेशियम से भरपूर आहार लें

    हायपरटेंशन कम करने का उपाय में पोटाशियम की कमी को दूर करना भी जरूरी है। पोटेशियम की कमी के कारण भी ब्लड प्रेशर हाई होता है। इसलिए पोटेशियम से भरपूर चीजें जैसे केला, पालक आदि को अपनी डायट में शामिल करें। यदि आप किडनी की बीमारी से जूझ रहे हैं तो इस विषय पर अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

    और पढ़ेंः हाई ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन के लक्षण क्या होते हैं?

    पानी पीएं

    पानी शरीर के तापमान को कम करने में मदद करेगा और साथ ही आपको हाइड्रेटेड रखेगा। इसलिए हायपरटेंशन को कम करने के उपाय में दिन भर पानी पीने को भी शामिल करें।

    कौन सी एक्सरसाइज करें? (Tips to reduce High blood pressure)

    हायपरटेंशन को कम करने के उपाय में एक्सरसाइज बहुत महत्वपूर्ण है। हर रोज यदि आप आधे घंटे की ब्रिस्क वॉक करें तो भी हाई ब्लड प्रेशर कम करने में मदद मिलेगा। इसके साथ ही अन्य एक्सरसाइज करेंगे तो सोने पर सुहागा है।

    हायपरटेंशन कम करने का उपाय: कार्डियो एक्सरसाइज

    हायपरटेंशन का सीधा तालुक दिल से होता है। इसलिए बीपी बढ़ने पर हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए अच्छा होगा कि आप कार्डियो एक्सरसाइज पर ध्यान दें। कार्डियो एक्सरसाइज में वॉक, जॉगिंग, साइकिलिंग, स्वीमिंग आदि शामिल हैं।

    तनाव से कैसे रहें दूर?

    चिंता से मुक्त नहीं रहेंगे तो इंसोम्निया की बीमारी का खतरा बढ़ेगा। इस इंसोम्निया के साथ ही दिल की बीमारी, सिर दर्द, घबराहट आदि की समस्या अपने आप बढ़ जाती है। बता दें कि यह सब हाई ब्लड प्रेशर को ट्रिगर करने वाली समस्याएं हैं। इसलिए स्ट्रेस से दूर रहना ही उचित है। कार्डियो एक्सरसाइज के साथ ही आप योगा व मेडिटेशन का सहारा ले सकते हैं। इससे तनाव में कमी आएगी। तनाव को दूर करने के लिए आप बहुत प्रकार के रास्ते अपना सकते हैं।

    हायपरटेंशन कम करने का उपाय: साइकोथेरिपी या मनोचिकित्सा (Psychotherapy)

    साइकोथेरिपी या मनोचिकित्सा के द्वारा डिप्रेशन के कारण को जानने की कोशिश की जाती है और इसके समाधान का रास्ता खोजा जाता है।

    म्यूजिक थेरिपी

    आप चाहें तो म्यूजिक थेरिपी को भी आजमा सकते हैं। 2011 के ब्रिटिश जर्नल ऑफ साइकाइट्रिस्ट (The British Journal of Psychiatry) में प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार ​अवसादग्रस्त लोगों पर जब म्यूजिक थेरिपी का उपयोग किया गया तो वह अन्य मरीजों के मुकाबले जल्दी ठीक हुए। यही नहीं कई रिसर्च में यह साबित हुआ है कि संगीत हार्ट रेट को प्रभावित करता है और आपको रिलेक्स करने में मददगार होता है। रिसर्च में बताया गया कि म्यूजिक की वजह से एंडॉर्फिन्स भी रिलीज होता है, जो कि एक प्रकार का नेचुरल पेनकिलर होता है।

    दवाओं को स्किप ना करें?

    यदि आप हाई ब्लड प्रेशर या प्री-हायपरटेंशन की समस्या से जूझ रहे हैं और डॉक्टर ने आपको कुछ सलाह और दवा दी हैं तो उसे फॉलो करें। दवाओं को नियमित रूप से समय पर खाएं। कई बार दवा का असर नहीं होता और ब्लड प्रेशर हाई ही रहता है। इस प्रकार के हायपरटेंशन को रेसिस्टेंड हायपरटेंशन कहते हैं। यदि आपके साथ ऐसा हो रहा है तो तुरंत डॉक्टर से मिलें।

    ब्लड प्रेशर कम करने के उपाय (Ways to reduce hypertension): शराब और स्मोकिंग से दूरी बनाएं

    ज्यादा स्मोकिंग और शराब के कारण भी ब्लड प्रेशर की समस्या बढ़ सकती है। इसलिए इन दोनों चीजों से दूरी बनाकर रखें।

    और पढ़ेंः हाइपरटेंसिव क्राइसिस(Hypertensive Crisis) क्या है?

    ब्लड प्रेशर कम करने के उपाय: घर के लिए खरीदें बीपी मशीन

    हायपरटेंशन को कम करने का उपाय ढूंढ़ रहे हैं तो ब्लड प्रेशर चेक करने वाली मशीन घर पर ले आएं और नियमित रूप से अपना ब्लड प्रेशर चेक करें। यदि ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ नजर आए तो डॉक्टर से मिलने जरूर जाएं।

    हायपरटेंशन (Hypertension) को कैसे चेक करें?

    जब ब्लड प्रेशर 120/80 mmHg रहता है तो उसे नॉर्मल ब्लड प्रेशर कहा जाता है। 120/80 mmHg से अधिक और 139/89 mmHg के मध्य जब रीडिंग आती है तो इसे प्री—हायपरटेंशन कहा जाता है। वहीं 140/90 mmHg से ज्यादा को हाई ब्लड प्रेशर कहा जाता है। हायपरटेंशन कम करने का उपाय में हमेशा ब्लड प्रेशर चेक करते रहना भी शामिल है।

    हायपरटेंशन के कारण (Hypertension causes)

    खराब लाइफस्टाइल हाई ब्लड प्रेशर का सबसे बड़ा कारण है। हायपरटेंशन का मुख्य कारण खराब डायट, एक्सरसाइज से दूर भागना, फ्रेश के बजाए जंक फूड खाना, स्ट्रेस या तनाव लेना है। इसके अलावा मोटापा, धूम्रपान, शराब, आहार उच्च रक्तचाप में अहम भूमिका निभाते हैं। इसलिए इनको कंट्रोल में रखना जरूरी है। आप चाहें तो बी एम आई कैलक्युलेटर के तीन स्टेप में ही आप जान सकते हैं कि आप मोटापे के कितने करीब हैं?

    हायपरटेंशन कम करने का उपाय बहुत सरल हैं। इनका अतिरिक्त बोझ आपकी जेब पर भी नहीं पड़ेगा। बस जरूरत है हायपरटेंशन को कम करने के उपाय को नियमित रूप से फॉलो करने की। यदि आप इन उपायों को अपना लेते हैं तो हार्ट अटैक की समस्या, स्ट्रोक की समस्या जैसी बीमारियों से दूर रह सकते हैं।

    उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। हाई ब्लड प्रेशर कम करने के उपाय के रूप में लाइफस्टाइल में बदलाव करना बहुत ही जरूरी है। साथ ही खानपान में सुधार करना आपके फायदेमंद साबित होगा। अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/01/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड