backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना

Pulmonary Arterial Hypertension Diet: जानिए इस कंडिशन में क्या खाएं और किन चीजों का करें परहेज?

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


AnuSharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 15/03/2022

Pulmonary Arterial Hypertension Diet: जानिए इस कंडिशन में क्या खाएं और किन चीजों का करें परहेज?

पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन (Pulmonary Arterial Hypertension) एक लाइफ-थ्रेटनिंग कंडिशन है, जो समय के साथ बदतर होती जाती है। हालांकि, इसके उपचार से लक्षणों से राहत मिल सकती है और रोगी को इस डिजीज के साथ बेहतर जीवन जीने में मदद मिलती है। इसके लिए रोगी को कुछ चीजों की प्लानिंग करनी चाहिए। इन्हीं से एक है पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट (Pulmonary Arterial Hypertension Diet)। आज हम आपको जानकारी देने वाले हैं पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट (Pulmonary Arterial Hypertension Diet) के बारे में। आइए जानें कि इस कंडिशन में क्या खाना चाहिए और किन चीजों से करना चाहिए परहेज? किंतु, सबसे पहले इस समस्या के बारे में जानें।

पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन (Pulmonary Arterial Hypertension) क्या है?

पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन (Pulmonary Arterial Hypertension) होने का मतलब है कि आपकी आर्टरीज में हाय ब्लड प्रेशर (High blood pressure) है, जो हार्ट से लंग्स तक जाता है। यह रेगुलर हाय ब्लड प्रेशर (High blood pressure) से अलग होता है। इस कंडिशन में लंग्स की टाइनी आर्टरीज नैरो या ब्लॉक हो जाती हैं। ऐसे में ब्लड फ्लो मुश्किल हो जाता और ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। हमारे हार्ट को इन आर्टरीज के माध्यम से ब्लड पंप करना मुश्किल हो जाता है और हार्ट मसल कमजोर हो जाती हैं। जिसके कारण हार्ट फेलियर हो सकता है। पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट (Pulmonary Arterial Hypertension Diet) से पहले इस समस्या के लक्षणों के बारे में जान लेते हैं।

और पढ़ें: डायबिटीज और हायपरटेंशन में क्या संबंध है? बचाव के लिए इन बातों का रखें ध्यान

पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन (Pulmonary Arterial Hypertension) के लक्षण क्या हैं?

इस समस्या के लक्षणों को आमतौर पर नोटिस नहीं किया जा सकता। इसका मुख्य लक्षण है सांस लेने में समस्या होना। यह समस्या धीरे-धीरे शुरू होती है और समय के साथ बदतर होती जाती है। इसके अन्य लक्षण इस प्रकार हैं:

  • छाती में दर्द (Chest pain)
  • कमजोरी (Fatigue)
  • घुटनों और टांगों में सूजन (Swelling in your ankles and legs)
  • यह तो थे इस परेशानी के लक्षणों के बारे में जानकारी। पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन की समस्या को मैनेज करने के लिए रोगी के लिए अपनी डायट का ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है। आइए, जानें पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट (Pulmonary Arterial Hypertension Diet) के बारे में।

    और पढ़ें: हायपरटेंशन को मैनेज करने के लिए यह खास फ्रूट्स और फ्रूट जूस हो सकते हैं फायदेमंद!

    पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट (Pulmonary Arterial Hypertension Diet): जानिए क्या खाएं और क्या नहीं?

    इस बीमारी के रोगियों के लिए विभिन्न तरह के फल, सब्जियों, साबुत अनाज और लीन प्रोटीन का सेवन करना जरूरी माना गया है। इस दौरान आपकी डायट कैसी होनी चाहिए, इसके लिए आप अपने डॉक्टर और डायटीशियन से बात करें। इसके साथ ही इन चीजों का अवश्य ध्यान रखें:

    पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट में नमक कम मात्रा में लें (Eat less salt)

    अगर आप पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन (Pulmonary Arterial Hypertension) जैसे क्रॉनिक डिजीज है, तो आपके लिए हेल्दी और बैलेंस्ड डायट का सेवन करना बेहद जरूरी है। इस बात का भी ख्याल रखें कि आपका शरीर सही न्यूट्रिएंट्स प्राप्त करें। ऐसे में अपने आहार में नमक को कम मात्रा में लें। ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए कम मात्रा में नमक का सेवन बेहद जरूरी है। इसलिए, जितना हो सके कम नमक का सेवन करें। पैक्ड को जंक फूड को लेने से भी बचें।

    पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट,Pulmonary Arterial Hypertension Diet

    पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट में लिमिटेड फ्लूइड लें (Have limited fluid)

    कई आर्टेरियल हायपरटेंशन के रोगियों को रोजाना दो लीटर से कम मात्रा में पानी या तरल पदार्थों का सेवन करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि, फ्लूइड रिटेंशन (Fluid retention) से हार्ट पर अधिक प्रेशर पड़ता है।

    और पढ़ें: हायपरटेंशन में एक्यूप्रेशर भी पहुंचा सकता है आराम, जानिए ब्लड प्रेशर को कम करने वाले पॉइंट्स के बारे में

    कैफीन और एल्कोहॉल को अवॉयड करें (Avoid alcohol and caffeine)

    पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट (Pulmonary Arterial Hypertension Diet) में यह पॉइंट बेहद महत्वपूर्ण है कि स्टीमुलेंट जैसे कैफीन और एल्कोहॉल का सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि इससे ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है। इनकी जगह ऐसे ड्रिंक्स का सेवन करें जो नॉन-कैफीनेटेड और नॉन-एल्कोहॉलिक  हों।

    आयरन अधिक मात्रा में लें (Increase iron intake)

    पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट में आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का अधिक मात्रा में होना लाभदायक हो सकता है। ऐसी डायट जिसमें आयरन लो मात्रा में हो। PH लक्षणों के लिए इसे लाभदायक पाया गया है। ऐसे खाद्य पदार्थ चुनें जो आयरन से भरपूर हों जैसे कि रेड मीट, हरी पत्तेदार सब्जियां, मशरूम आदि।

    लहसुन का सेवन करें (Eat garlic)

    ऐसा माना जाता है कि लहसुन से ब्लड प्रेशर को लो होने में मदद मिलती है। ऐसे में इस समस्या से पीड़ित लोगों को कच्चा लहसुन खाना चाहिए या फिर अपनी पसंदीदा डिश में भी आप इसका अतिरिक्त फ्लेवर ऐड कर सकते हैं। इसके साथ ही विटामिन के (Vitamin-K) का कंसिस्टेंट लेवल बनाए रखें। विटामिन-के ब्लड-थिनिंग मेडिकेशन्स के काम को प्रभावित कर सकता है। ऐसे में इसके लेवल को कंसिस्टेंट बनाए रखना जरूरी है।

    और पढ़ें: हायपरटेंशन में सिलाहार्ट 10 एमजी: हार्ट रिस्क्स से बचाव के लिए दी जा सकती है इस मेडिसिन की सलाह!

    एक फूड डायरी मैंटेन रखें (Maintain food diary)

    अगर आप पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन (Pulmonary Arterial Hypertension) से पीड़ित हैं, तो एक फूड डायरी अपने पास रखें। इस डायरी से आप अपनी डायट को ट्रैक कर सकते हैं। यानी, आपको यह जानने में मदद मिल सकती है कि किन खाद्य पदार्थों से आपको बेहतर महसूस हो सकता है और किन खाद्य पदार्थों का सेवन करने से आपकी स्थिति बदतर हो जाती है। इससे आपको अपनी स्थिति को बेहतर बनाने में मदद मिल सकती है।

    इसके अलावा, बहुत से पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन (Pulmonary Arterial Hypertension) रोगियों को मेडिकेशन्स से बेचैनी और जी मिचलाना जैसी समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में ऐसी चीजों का सेवन करें जिनसे आपको इन समस्याओं से राहत मिल सके। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर की राय अवश्य लें। ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करे जिनमें पोटेशियम, मैग्नीशियम और विटामिन हाय मात्रा में हो। इसके साथ ही रिफाइंड शुगर, सैचुरेटेड फैट्स और कोलेस्ट्रॉल को सीमित मात्रा में लें। यही नहीं, ऐसे फूड्स का भी सेवन करें जिनमें फाइबर में अधिक मात्रा में हो जैसे फल, सब्जियां, साबुत अनाज आदि।

    उम्मीद है कि पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट (Pulmonary Arterial Hypertension Diet) के बारे में यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। अपनी डायट के साथ ही अपनी जीवनशैली में इन चीजों में भी बदलाव करें, ताकि आप एक हेल्दी लाइफ जी सकें। जानिए इस बारे में।

    और पढ़ें: लेबाइल हायपरटेंशन क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और उपचार

    पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन (Pulmonary Arterial Hypertension) में किन अन्य चीजों का रखें ध्यान?

    जैसा कि पहले ही बताया गया है कि यह एक गंभीर समस्या है। ऐसे में रोगी को अपनी डायट के साथ ही अन्य चीजों का भी ध्यान रखना चाहिए, जैसे:

    • अपने वजन को संतुलित बनाए रखें।
    • एक्टिव रहें और नियमित व्यायाम करें। इसके साथ ही पर्याप्त आराम भी करें।
    • स्मोकिंग करने से बचें।
    • प्रेग्नेंसी और बर्थ कंट्रोल पिल्स को लेना नजरअंदाज करें।
    • ऐसी किसी भी सिचुएशन से बचें, जिससे आपका ब्लड प्रेशर बहुत अधिक कम हो।
    • नियमित जांच कराएं और डॉक्टर की सलाह के अनुसार सही वैक्सीन लें व डॉक्टर की सलाह का पूरी तरह से पालन करें।
    • और पढ़ें: मुंह के जरिए हायपरटेंशन के सिम्टम्स पहचानना है आसान, बस रखना होगा थोड़ा ध्यान!

      यह तो थी पल्मोनरी आर्टेरियल हायपरटेंशन डायट (Pulmonary Arterial Hypertension Diet)(Pulmonary Arterial Hypertension Diet) के बारे में जानकारी। हालांकि,इस कंडिशन को मैनेज करना बेहद क्रिटिकल है। इस दौरान आपको क्या खाना चाहिए और क्या नहीं इसके बारे में अपने डॉक्टर से भी अवश्य जानें। आपके मन में इस बारे में कोई भी सवाल है, तो डॉक्टर से इस बारे में अवश्य जानें। आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

      डिस्क्लेमर

      हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

      के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

      डॉ. प्रणाली पाटील

      फार्मेसी · Hello Swasthya


      AnuSharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 15/03/2022

      ad iconadvertisement

      Was this article helpful?

      ad iconadvertisement
      ad iconadvertisement