स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी किए जिम और योगा सेंटर के लिए गाइडलाइन

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अगस्त 4, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

कोरोना काल में किए गए लॉकडाउन के दौरान जहां पूरे भारत में सभी चीजें बंद हो गई थी, जिम और योगा सेंटर भी उनमें  से एक थें। लॉकडाउन 4.0 के बाद जब अनलॉक 1.0 शुरू हुआ तो उसमें भी जिम और योगा सेंटर को खोलने की मंजूरी सरकार की तरफ से नहीं मिली थी। इसके बाद अनलॉक 2.0 बीतने के बाद अनलॉक 3.0 में 5 अगस्त, 2020 से सरकार ने जिम और योगा सेंटर को खोलने की मंजूरी दे दी है। लेकिन स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना में जिम और योगा के लिए गाइडलाइन जारी कर दी है। पांच पन्नों की ये गाइडलाइन सभी जिन और योगा सेंटर को फॉलो करनी होगी। आइए जानते हैं कि लॉकडाउन के बाद खुले जिम और योगा के लिए गाइडलाइन क्या है?

और पढ़ें : क्या मॉनसून और कोरोना में संबंध है? बारिश में कोविड-19 हो सकता है चरम पर

कोरोना में जिम और योगा के लिए गाइडलाइन क्या है?

स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से सोमवार 3 अगस्त, 2020 को जिम और योगा के लिए गाइडलाइन ट्विटर के जरिए जारी की गई है। जिसे सभी जिम और योगा सेंटर और फिटनेस लवर्स को मानना पड़ेगा। इस तरह से अगर आप अब जिम जाएंगे तो आपको नए कलेवर में जिम और योगा सेंटर दिखाई दे सकते हैं। इसके साथ ही आपको भी फिटनेस के नियमों के साथ कोरोना से बचने को नियमों को भी फॉलो करना पड़ेगा। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी जिम और योगा के लिए गाइडलाइन निम्न प्रकार हैं :

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

जिम और योगा करने वालों के लिए गाइडलाइन क्या हैं?

जिम और योगा के लिए गाइडलाइन में जिम और योगा करने वालों के लिए कुछ दिशा निर्देश हैं, जिसे उन्हें फॉलो करना होगा :

  • जिम और योगा सेंटर जाने वालों के लिए सरकार ने उम्र सीमा को तय किया है, 10 साल से कम उम्र के बच्चे और65 साल से ज्यादा के बुजुर्ग जिम और योगा सेंटर में नहीं जा सकते हैं। 
  • जिम और योगा सेंटर में गर्भवती महिला का प्रवेश वर्जित होगा।
  • जिम और योगा सेंटर में एक्सरसाइज और योग करने वालों को कम से कम छह मीटर की दूरी का ध्यान रखना होगा। ये सोशल डिस्टेंसिंग के नियम के तहत ही है।
  • जिम और योगा सेंटर के परिसर में स्टाफ, ट्रेनर और विजिटर सभी लोगों को फेस मास्क लगाना जरूरी है। 
  • जिम और योगा सेंटर में एक्सरसाइज और योग मास्क लगा कर करना मुश्किल है। इसलिए आपको वाइजर या फेस शील्ड लगा कर एक्सरसाइज करना होगा।
  • जिम और योगा सेंटर में अपने हाथों को समय-समय पर साबुन और पानी की मदद से कम से कम 40 से 60 सेकेंड तक धुलते रहें। ऐसा आपको तब भी करना है जब आपके हाथ गंदे ना भी हो। इसके अलावा 70 प्रतिशत एल्कोहॉल से बने हैंड सैनिटाइजर से हाथों 20 सेकेंड के लिए सैंनिटाइज करते रहें। 
  • जिम और योगा सेंटर में आपको खुले में नहीं छींकना है और ना ही खांसना है। छींकते और खांसते समय आपका मुंह ढका होना चाहिए।
  • योगा सेंटर में योगा करने वाले लोग अपनी मैट खुद ले कर जाएंगे।
  • जिम और योगा सेंटर में कहीं भी थूंकना नहीं है। 
  • सभी के फोन में आरोग्य सेतु ऐप होना अनिवार्य है। 
  • अगर आप बीमार हैं या किसी भी तरह की स्वास्थ्य समस्या है तो आपको जिम और योगा सेंटर में जाने की अनुमति नहीं है।

और पढ़ें : कोरोना काल में कैंसर के इलाज की स्थिति हुई बेहतर: एक्सपर्ट की राय

जिम और योगा सेंटर के लिए गाइडलाइन क्या हैं?

जिम और योगा के लिए गाइडलाइन में बहुत कुछ है, जिसे जिम और योगा सेंटर के मालिक को फॉलो करना है। ये दिशा-निर्देश निम्न प्रकार हैं :

  • जिम और योगा सेंटर में प्रत्येक व्यक्ति के लिए 4 वर्ग मीटर की जगह सुनिश्चित करनी होगी।
  • जिम में इस्तेमाल होने वाले कार्डियो और स्ट्रेंथ मशीनों के बीच में भी कम से कम छह फीट की दूरी रखनी होगी। जिससे इन मशीनों पर एक्सरसाइज करने वाले लोग सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को फॉलो कर सकें। 
  • अगर जिम परिसर के बाहर खुले में जगह हो तो वहां पर एक्सरसाइज या योग करने की जगह बना सकते हैं।
  • जिम और योगा सेंटर में भीड़ ना लगने दें, बल्कि जिम में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए गोले बनाएं और लोगों को उसमें प्रतिक्षा करने के लिए कहें।
  • जिम और योगा सेंटर में लगी एसी का तापमान 24 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच में ही रखना, इससे कम तापमान नहीं होना चाहिए।
  • स्पा, सौना, स्टीम बाथ और स्वीमिंग पूल अभी भी बंद रहेंगे। अगर जिम करने के बाद आप स्टीम बाथ लेना पसंद करते हैं तो वो आपको अपने घर जा कर करना होगा।
  • जिम और योगा सेंटर के पूरे परिसर को रोजाना सैनिटाइज कराना होगा।
  • जिम और योगा सेंटर के सभी उपकरणों को भी सैनिटाइज कराना होगा।
  • बाथरूम और टॉयलेट की अचेछ से सफाई करानी है।

और पढ़ें : कोरोना वायरस का काम तमाम करेगी यह डिवाइस, जल्द होगी लॉन्च

जिम और योगा सेंटर में किन बातों का ध्यान रखना है?

जिम और योगा के लिए गाइडलाइन में जिम और योगा सेंटर में एक्सरसाइज करने वाले व्यक्ति और ट्रेनर को निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए :

  • योगा को जहां तक हो सके खुले स्थान पर कराएं।
  • ग्रुप में एक्सरसाइज और योगा कराने से बचना चाहिए। हो सके तो ऑनलाइन फिटनेस क्लास दें। इसके अलावा अगर ग्रुप में एक्सरसाइज और योगा कराना हो तो सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए खुले में कराएं।
  • एक्सरसाइज और योगा के दौरान ट्रेनर और एक्सरसाइज करने वाले व्यक्ति के बीच शारीरिक संपर्क नहीं होना चाहिए।
  • एक्सरसाइज और योगा के लिए ट्रेनर और एक्सरसाइज करने वाले व्यक्ति को अपना तौलिया और जरूरी चीजों का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • जिम और योगा के लिए गाइडलाइन में एक्सरसाइज और योगा करने के लिए ट्रेनर को सेशन तय करने होंगे, ताकि ज्यादा भीड़ ना हो।
  • एक्सरसाइज और योगा करने से पहले सभी उपकरणों का डिसइंफेक्शन सुनिश्चित करना होगा।

और पढ़ें : गृह मंत्री अमित शाह भी आए कोरोना की चपेट में, देश में नहीं थम रही कोरोना की रफ्तार

माना कि कोरोना का ये दौर कठिन है, लेकिन फिटनेस का भी ध्यान हमें ही रखना है। इसलिए जिम और योगा के लिए गाइडलाइन को फॉलो करते हुए अपना पूरी तरह से ध्यान रखें। इससे आपको जिम और योगा के एक नया अनुभव मिलेगा। क्योंकि कोरोना की जब तक कोई सटीक काट नहीं मिल जाती है, तब तक सभी को कोरोना से अपना बचाव करना होगा और सुरक्षित रहना होगा। सोशल डिस्टेंसिंग के साथ फेस शील्ड पहन कर एक्सरसाइज और योगा करें। इसके साथ ही आपको हाथों को सैनिटाइज करने के साथ ही अपने आसपास साफ सफाई का भी ध्यान रखना होगा। वहीं, इम्यूनिटी बूस्टर डायट लेना ना भूलें। इस विषय में अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

कोविड-19 और सीजर्स या दौरे पड़ने का क्या है संबंध, जानिए यहां

कोविड-19 और सीजर्स का संबंध: कोविड-19 के पेशेंट में दौरे के लक्षण देखने को मिले हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोना वायरस दिमाग पर अटैक कर रहा है, जिस कारण सीजर्स के लक्षण देखने को मिल रहे हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
कोविड-19, कोरोना वायरस नवम्बर 5, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

इस दिवाली घर में जलाएं अरोमा कैंडल्स, जगमगाहट के साथ आपको मिलेंगे इसके हेल्थ बेनिफिट्स भी

इस दिवाली में अरोमा कैंडल से घर को करें रोशन करें। ऐसा करने से अच्छी खुशबू के साथ ही आपको रिलेक्स भी महसूस होगा। इस आर्टिकल के माध्यम से जानिए अरोमा कैंडल के फायदे।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन नवम्बर 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

हाथों की स्वच्छता क्यों है जरूरी, जानिए एक्सपर्ट की राय

जो लोग नियमित हाथों की सफाई रखते हैं उन्हें कोल्ड और फ्लू की समस्या कम होती है। जानिए हाथों की सफाई क्यों है जरूरी। HAND WASH

के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन अक्टूबर 15, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

क्या कोरोना होने के बाद आपके फेफड़ों की सेहत पहले जितनी बेहतर हो सकती है?

कोविड के बाद फेफड़ों का स्वास्थ्य आपके लिए चिंता का विषय बन सकता है। कोविड के बाद फेफड़ों का स्वास्थ्य निमोनिया, सांस फूलने जैसे स्थितियों से गुजर सकता है। वर्ल्ड लंग डे पर जानें कोरोना के बाद फेफड़ों की कैसे देखभाल करें, world Lung Day, Coronavirus, COVID-19.

के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
सांस संबंधी समस्याएं, हेल्थ सेंटर्स सितम्बर 22, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

कोरोना वायरस वैक्सीनेशन (Coronavirus Vaccination)

क्यों कोरोना वायरस वैक्सीनेशन हर एक व्यक्ति के लिए है जरूरी और कैसे करें रजिस्ट्रेशन?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ जनवरी 11, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
कोविड-19 वैक्सीनेशन

अधिकतर भारतीय कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए हैं तैयार, लेकिन कुछ लोग अभी भी करना चाहते हैं इंतजार

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया AnuSharma
प्रकाशित हुआ जनवरी 8, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
यूके में मिला कोरोना वायरस-Coronavirus new variant found in United Kingdom

यूके में मिला कोरोना वायरस का नया वेरिएंट, जो है और भी खतरनाक! 

के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
प्रकाशित हुआ दिसम्बर 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
कोविड-19 वैक्सीन-COVID-19 vaccine

ब्रिटेन में जल्‍द शुरू होगा कोरोना का वैक्‍सीनेशन (COVID-19 vaccine), सरकार ने दिया ग्रीन सिग्नल

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ दिसम्बर 3, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें