home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Kale : केल क्या है?

परिचय|उपयोग|केल से जुड़ी सावधानियां एवं चेतावनी|केल से जुड़े परस्पर प्रभाव / केल से पड़ने वाले प्रभाव|केल की खुराक
Kale : केल क्या है?

परिचय

केल क्या होता है?

हरे रंग की पत्तेदार सब्जी केल (Kale) का इस्तेमाल विदेशोंं में काफी मात्रा किया जाता है। ब्रोकली की तरह दिखने वाली यह पत्तियां खाने में जितनी स्वादिष्ट होती हैं, उससे कहीं ज्यादा स्वास्थ्य के लिए लाभदायक मानी जाती है। इसका इस्तेमाल कई दवाओं का निर्माण करने के लिए भी किया जाता है। इसका बोटेनिकल नाम ब्रैसिका ओलेरासिया संस्करण सैबेलिका (Brassica oleracea var. sabellica) है, जो कि ब्रेसीकेसी (Brassicaceae) फैमिली से आता है। यह हरे और बैंगनी रंग में भी होता है और यह ब्रोकली, पत्तागोभी और फूलगोभी के ही परिवार का सदस्य होता है ।

हालांकि, केल में विटामिन्स और खनिज की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। जो सूजन, थायरॉइड और दिल की बिमारियों का कारण भी बन सकता है। हाल ही में हुए एक शोध में विशेषज्ञों ने इसके गुणों के साथ इसके अधिक सेवन से होने वाले गंभीर परिणामों के बारे में भी जिक्र किया है। अध्ययन के मुताबिक, केल के गहरे हरे रंग के पत्तों में मांस से कई गुना अधिक मात्रा में आयरन और कैल्शियम की मात्रा होती है। इसमें विटामिन ए, विटामिन सी और विटामिन के का भरपूर स्रोत होता है जो आंखों के लिए, रक्त और प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए लाभकारी भी होता है। हालांकि, इसका सेवन हमेशा उचित मात्रा में ही करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: Ginger : अदरक क्या है?

उपयोग

केल (Kale) का इस्तेमाल किसलिए किया जाता है?

इस पर हाल ही में हुए शोध के मुताबिक, केल में कई तरह के एंटीऑक्सिडेंट पाए जाते हैं, जो मूत्राशय के कैंसर, स्तन कैंसर, हृदय रोग, कोलाइटिस, कब्ज, क्रोहन रोग, मधुमेह, हैंगओवर, हाई कोलेस्ट्रॉल, आंखों की रोशनी कमजोर होना और घाव भरने के लिए किया जाता है।

केल (Kale) कैसे काम करता है?

हर्बल सप्लीमेंट के उपयोग से जुड़े नियम, दवाओं के नियमों जितने सख्त नहीं होते हैं। इनकी उपयोगिता और सुरक्षा से जुड़े नियमों के लिए अभी और शोध की जरुरत है। इस हर्बल सप्लीमेंट के इस्तेमाल से पहले इसके फायदे और नुकसान की तुलना करना जरुरी है। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए किसी हर्बलिस्ट या आयुर्वेदिक डॉक्टर से संपर्क करें।

इस पर हुए शोध में यह बात सामने आई है कि इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट कैंसर से लड़ने में सहायक होते हैं।

यह भी पढ़ें : Iodine :आयोडीन क्या है?

केल से जुड़ी सावधानियां एवं चेतावनी

केल के सेवन से पहले मुझे इसके बारे में क्या-क्या जानकारी होनी चाहिए?

  • अगर आप गर्भवती हैं या फिर छोटे बच्चों को स्तनपान करवा रही हैं तो इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह ले लीजिए। इस पर शोध करने वाले शोधकर्ताओं का कहना है कि गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान महिलाओं को कुछ दवाइयों का सेवन करने की सलाह दी जाती है। इस दौरान किसी भी हर्बल सप्लीमेंट का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले लीजिए।
  • अगर आप किसी तरह की दवा का सेवन कर रहे हैं तो एक बार इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर या चिकित्सक से सलाह अवश्य लें। बिना सलाह के केल का सेवन बिल्कुल भी न करें।
  • अगर आपको किसी तरह के हर्बल सप्लीमेंट से एलर्जी है तो इसका इस्तेमाल करने से बचें।
  • शोधकर्ताओं ने पाया कि केल का इस्तेमाल करने से उन लोगों को बचना चाहिए जिन्हें किसी तरह के फूड से एलर्जी हो।

हर्बल सप्लीमेंट के उपयोग से जुड़े नियम, दवाओं के नियमों जितने सख्त नहीं होते हैं। इनकी उपयोगिता और सुरक्षा से जुड़े नियमों के लिए अभी और शोध की जरुरत है। इस हर्बल सप्लीमेंट के इस्तेमाल से पहले इसके फायदे और नुकसान की तुलना करना जरुरी है। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए किसी हर्बलिस्ट या आयुर्वेदिक डॉक्टर से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें : Kalonji : कलौंजी क्या है?

केल कितना सुरक्षित है?

इसका भोजन में इस्तेमाल करने से पहले इसके दुष्प्रभावों के बारे में जरूर जान लें। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें। केल पर हुए शोध के मुताबिक, यह जरूरी नहीं है कि हर बार आयर्वेदिक औषधि का इस्तेमाल आपके लिए सुरक्षित ही हो। इसलिए इसके दुष्प्रभाव की जानकारी डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

विशेषज्ञों के अनुसार, इसके पत्ते का अधिक सेवन करने से पाचन संबंधी समस्याओं, हाइपोथायरायडिज्म, अनियमित दिल की धड़कन और अचानक मौत होने का जोखिम भी बढ़ सकता है। इसमें मौजूद हाई पोटैशियम दिल की धडकनों को अनियमित कर सकता है जो अचानक मौत होने का कारण बन सकता है। वहीं, यह हाई फाइबर का सबसे स्रोत होता है जिसकी वजह से लोग इसका सेवन अधिक करते हैं। लेकिन, इसके अधिक सेवन के लिए पेट दर्द, सूजन, कब्ज जैसे पेट संबधी समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने डॉक्टर से बात करें।

गर्भावस्था और स्तनपान:

केल पर हुए शोध में यह बात सामने आई है कि गर्भावस्था या स्तनपान के दौरान यह कितनी मात्रा में खाना चाहिए इसकी जानकारी स्पष्ट नही हैं। गर्भावस्था के दौरान किसी भी हर्बल सप्लीमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से संपर्क करें। शोधकर्ताओं का कहना है कि गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को कई तरह की दवाएं दी जाती हैं, इसलिए उन्हें किसी सप्लीमेंट का इस्तेमाल एहतियात के साथ करना चाहिए।

यह भी पढ़ें : Mangosteen : मैंगोस्टीन क्या है?

केल से जुड़े परस्पर प्रभाव / केल से पड़ने वाले प्रभाव

केल के सेवन से अन्य किन-किन चीजों पर प्रभाव पड़ सकता है?

इसके सेवन से आपकी बीमारी या आप जो वतर्मान में दवाइयां खा रहे हैं उनके असर पर प्रभाव पड़ सकता है। इसलिए सेवन से पहले डॉक्टर से इस विषय पर बात करें।

यह भी पढ़ेंः Flax Seeds : अलसी के बीज क्या है?

केल की खुराक

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प ना मानें। किसी भी दवा या सप्लीमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

आमतौर पर कितनी मात्रा में केल खाना चाहिए?

इस हर्बल सप्लीमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

शोध के मुताबिक इसकी खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है। इसलिए एक बार इसका सेवन करने से पहले हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा चर्चा अवश्य करें।

केल किन-किन रूपों में उपलब्ध है?

वर्तमान में केल बाजार में निम्नलिखित प्रकारों में उपलब्ध है:

  • रॉ केल
  • जूस पाउडर
  • जूस

और पढ़ें:-

Mushroom : मशरूम क्या है?

Fig: अंजीर क्या है?

Guava: अमरूद क्या है?

Chikungunya : चिकनगुनिया क्या है? जाने इसके कारण लक्षण और उपाय

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Kale https://www.webmd.com/vitamins-supplements/ingredientmono-1484-kale.aspx?activeingredientid=1484&activeingredientname=kale. Accessed on 9 January, 2020.

What are the health benefits of kale? https://www.medicalnewstoday.com/articles/270435.php. Accessed January 09, 2018

10 Health Benefits of Kale. https://www.healthline.com/nutrition/10-proven-benefits-of-kale. Accessed on 9 January, 2020.

Our 10 best kale recipes. https://www.theguardian.com/lifeandstyle/2015/jan/03/kale-recipes-crisps-stew-salad-10-best. Accessed on 9 January, 2020.

6 Things You Don’t Know About Kale. https://www.shape.com/weight-loss/food-weight-loss/6-things-you-dont-know-about-kale. Accessed on 9 January, 2020.

लेखक की तस्वीर
Anoop Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/01/2020 को
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x