बढ़ती उम्र सिर्फ जिंदगी ही नहीं हाइट भी घटा सकती है

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट नवम्बर 26, 2019 . 2 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

बचपन से जब हम जवानी की दहलीज तक आते हैं तो हमारी हाइट बढ़ती चली जाती है पर क्या आपने कभी सोचा है कि बढ़ती उम्र हाइट घटा भी सकती है? अगर नहीं तो आज इस आर्टिकल में जानें बढ़ती उम्र और बुढ़ापे से जुड़े कुछ ऐसे तथ्य जो आपको हैरान कर देंगे।

बढ़ती उम्र और जल्दी नींद खुलना

‘अर्ली टू बेड, अर्ली टू राइज’ जैसी अच्छी आदत हम फॉलो करना चाहते पर ऐसा हो नहीं पाता। चिंता की कोई बात नहीं, जब आप बुढ़ापे में जाएंगे तो यह अपने आप होने लगेगा। दरअसल, एक रिसर्च से पता चला है कि बुजुर्ग व्यक्ति रात होते ही जल्दी सोने लगते हैं और अल  सुबह उनकी नींद खुल जाती है। इसी तरह कई अजीबो-गरीब तथ्य बुढ़ापे से जुड़े हैं। जानते हैं बढ़ती उम्र से जुड़े ऐसे ही इंटरेस्टिंग फैक्ट्स।

बढ़ती उम्र से जुड़े 11 तथ्य

  • जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है दवाएं, बीमारी (जुकाम, फ्लू, मसूड़ों की बीमारियां आदि) और एलर्जी जैसी चीजें आपकी गंध और स्वाद को भांपने की क्षमता को कम कर देती है। इससे बूढ़े लोगों के आहार और स्वास्थ्य पर भी असर पड़ता है। 
  • बुढ़ापे में पुरुष अपने जीवनसाथी के साथ रहने की इच्छा रखते हैं जबकि ज्यादा उम्र की महिलाएं अकेले रहना पसंद करती हैं।
  • आपकी उम्र जैसे-जैसे बढ़ती है आपकी हाइट वैसे-वैसे कम होती जाती है। होता यह है कि रीढ़ की हड्डियों के बीच मौजूद खाली जगह जिन्हें कशेरुक (Vertebrae) कहा जाता है। उम्र के साथ-साथ पास आने लगती हैं। इससे कद एक-दो इंच कम लगने लगता है। 

यह भी पढ़ें : परिवार बढ़ाने के लिए उम्र क्यों मायने रखती है?

  • हर पांच में से चार सीनियर सिटीजन में कम से कम एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या देखने को मिलती है। हृदय विकार (heart disorder), गठिया (arthritis) या ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) जैसी बीमारियां आम होती हैं। 
  • ऐसा अनुमान है की 2020 तक विकासशील देशों में तीन-चौथाई मौतें बुढ़ापे से संबंधित होंगी। इनमें भी सबसे आधिक मौतें रक्तवाही तंत्र के रोगों (Hemorrhagic system disease), कैंसर (cancer) और मधुमेह (diabetes) जैसे असंक्रामक रोगों से होगी। 

  • अरे भाई बुढ़ापे का यह तो बड़ा फायदा है। अगर आपको पहले माइग्रेन रहा है तो 70 की उम्र आते ही माइग्रेन की समस्या दूर हो जाती है। केवल कुछ बुजुर्गों में ही माइग्रेन रह जाता है। 
  • 65 वर्ष से अधिक आयु के केवल 3.6% लोग नर्सिंग होम में हैं। 

यह भी पढ़ें : क्या 50 की उम्र में भी महिलाएं कर सकती हैं गर्भधारण?

बुढ़ापे पर क्या कहती है ये रिपोर्ट ?

  • अमेरिकन साइकोलॉजिकल एसोसिएशन की रिपोर्ट के अनुसार बच्चों और ज्यादा उम्र के वयस्कों में कम उम्र के लोगों की तुलना में कम तनाव पाया जाता है।

यह भी पढ़ें : सेक्स के दौरान क्या चाहती हैं महिलाएं?

  • सीनियर सिटीजन फेसबुक पर सबसे तेजी से बढ़ने वाला डेमोग्राफिक हैं। प्यू इंटरनेट एंड अमेरिकन लाइफ प्रोजेक्ट द्वारा किए गए शोध अध्ययन में पाया गया कि 53% अमेरिकी जो 65 या उससे अधिक उम्र के हैं, वे ऑनलाइन हैं और इनमें से 34% फेसबुक जैसी कई सोशल साइट्स पर भी हैं।
  • 40 और उससे अधिक उम्र की महिलाओं के एक अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने पाया कि उम्र के साथ यौन संतुष्टि में सुधार आता है। सेक्शुयली एक्टिव वृद्ध महिलाओं के एक नए अध्ययन में पाया गया है कि महिलाओं में यौन संतुष्टि उम्र के साथ बढ़ती है। वहीं, सेक्स की कम इच्छा के बावजूद भी ऑर्गेज्म प्राप्त किया जा सकता है। 

और भी पढ़ें :

उबासी (यॉनिंग) से जुड़ी मजेदार बातें, जो शायद ही आप जानते हों

क्या आप दुनिया के सबसे छोटे और बड़े फल के बारे में जानते हैं?

जानिए कॉफी से जुड़ी 11 मजेदार बातें

हाथ और पैर की अंगुलियों के नाखूनों से जुड़ी मजेदार बातें

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    बुजुर्गों के लिए योगासन, जो उन्हें रखेंगे फिट एंड फाइन

    जानिए बुजुर्गों के लिए योगासन कौन से हैं, जो उन्हें फिट रखने में मदद कर सकते हैं। बुजुर्गों के लिए योगासन के फायदे क्या हैं? bujurg log konse yogasan karein, budhape mein aasan yogasan, वृद्ध लोगों के लिए आसान योगासन। yoga for senior citizen in hindi.

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
    सीनियर हेल्थ, स्वस्थ जीवन अप्रैल 17, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    कैसे प्लान करें अपने लिए एक हेल्दी और हैप्पी रिटायरमेंट?

    रिटायमेंट प्लान क्या है, retirement plan in hindi, रिटायरमेंट के बाद क्या करें, retirement plan kaise banaein, retire hone ke baad kya karein, बुढ़ापे में कैसे बिजी रहें।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
    सीनियर हेल्थ, स्वस्थ जीवन फ़रवरी 17, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    बुजुर्गों के स्वास्थ्य के बारे में बताता है सीनियर सिटीजन फिटनेस टेस्ट

    सीनियर सिटीजन फिटनेस टेस्ट क्या है, Senior Citizen Fitness Test in hindi, सीनियर सिटीजन फिटनेस टेस्ट कैसे होता है, senior citizen fitness test kya hai, buddhon ki fitness kaise dekhein, बुजुर्गों की फिटनेस कैसे देखें।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
    सीनियर हेल्थ, स्वस्थ जीवन फ़रवरी 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    बुजुर्गों के लिए टेक्नोलॉजी गैजेट्स में शामिल करें इन्हें, लाइफ होगी आसान

    बुजुर्गों के लिए कौनसे टेक्नोलॉजी गाजिएट मददगार साबित होते हैं? बुजुर्ग टेक्नोलॉजी गैजेट्स का उपयोग किस तरह कर सकते हैं? जानिए कैसे बुजुर्ग टेक्नोल

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
    के द्वारा लिखा गया Shilpa Khopade
    सीनियर हेल्थ, स्वस्थ जीवन अक्टूबर 2, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    Recommended for you

    रिटायरमेंट के बाद मेंटल हेल्थ

    रिटायरमेंट के बाद बिगड़ सकती है मेंटल हेल्थ, ऐसे रखें बुजुर्गों का ख्याल

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
    प्रकाशित हुआ सितम्बर 4, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
    सीनियर सिटीजन के लिए कोरोना एडवाइजरी

    World Senior Citizen day : जानें बुजुर्ग कैसे रख रहे हैं महामारी के समय अपना ध्यान

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
    प्रकाशित हुआ अगस्त 21, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
    Elder Abuse - एल्डर एब्यूज

    जानें एल्डर एब्यूज को कैसे पहचानें और कैसे इसे रोका जा सकता है

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
    प्रकाशित हुआ मई 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    ईयर टिकल थेरिपी-Ear-tickle therapy

    ईयर टिकल थेरिपी क्या है? जानें कैसे बढ़ती उम्र की टेंशन दूर करने में करती है मदद

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
    प्रकाशित हुआ मई 19, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें