home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

अस्थमा इनहेलर्स : चुनें मगर ध्यान से!

अस्थमा इनहेलर्स : चुनें मगर ध्यान से!

अस्थमा (Asthma) एक ऐसी क्रॉनिक स्थिति है, जो फेफड़ों के एयरवेज को ब्लॉक कर देती है, जिससे व्यक्ति को सांस लेने में दिक्कत होती है। आमतौर पर जब हम सांस लेते हैं तो हवा हमारी नाक या मुंह से हो कर गले और वायुमार्ग में जाती है। इसके बाद आखिरी में वह फेफड़ों में समा जाती है।हमारे फेफड़ों में ऐसे कई छोटे पैसेज होते हैं, जो ऑक्सिजन को रक्त प्रवाह से मिलने में मदद करती है

जब वायुमार्ग में सूजन या उसके आसपास की मांसपेशियों में अकड़न आने लगती है तो यह अस्थमा का संकेत होता है। इसके बाद बलगम वायुमार्ग को भर देता है जिससे फेफड़ों तक हवा पहुंचने में कमी आने लगती है। इस स्थिति के कारण अस्थमा अटैक पड़ सकता है। अस्थमा की स्थिति में सांस लेने में दिक्कत पैदा होती है और सांस के साथ घरघराहट की आवाज भी आती है। ऐसी स्थिति में रोगी को अस्थमा इनहेलर्स (Asthma inhalers) का सहारा लेना पड़ता है। अस्थमा इनहेलर्स (Asthma inhalers) कई अलग-अलग तरह के होते हैं, जो रोगी की तकलीफ के अनुसार उन्हें प्रिस्क्राइब किये जाते हैं। लेकिन इस बारे में जानने से पहले जान लेते हैं अस्थमा के अन्य लक्षणों के बारे में।

और पढ़ें: अस्थमा से राहत पाने के लिए ये घरेलू उपाय हैं कारगर

क्या होता है जब होती है अस्थमा की समस्या? (Symptoms of Asthma)

सांस लेते हुए घरघराहट ये अस्थमा का एक मुख्य लक्षण (Asthma) हो सकता है, लेकिन इसके अलावा भी अस्थमा के कई लक्षण होते हैं, जिनमें –

इन लक्षणों को देखने के बाद आपको अस्थमा इन्हेलर्स लेने की हिदायत दी जाती है, जो आपकी तकलीफ में आराम पहुंचाते हैं। आइये अब जान लेते हैं अस्थमा इन्हेलर्स के बारे में कुछ ख़ास बातें। क्योंकि अस्थमा इन्हेलर्स (Asthma inhalers) इस्तेमाल कब और कैसे किये जाता है, ये जानना किसी भी अस्थमा पेशंट (Asthma patient) के लिए बेहद जरूरी है।

इस खास 3डी मॉडल के ज़रिए देखिए सीओपीडी से जुड़ी समस्या कैसे आपको कर सकती है परेशान

अस्थमा इनहेलर्स : जानें इनके प्रकार और उपयोग (Types of Asthma inhalers)

अस्थमा इनहेलर (Asthma inhaler) हाथ में पकड़े जाने वाले पोर्टेबल डिवाइस की तरह होते हैं, जो मुंह के जरिए आपके फेफड़ों तक दवा को पहुंचाते हैं। अस्थमा के लक्षणों को नियंत्रित करने के लिए उपयोग में लाई जाने वाली दवा को इन इनहेलर्स के जरिए लिया जाता है, लेकिन इसका सही इस्तेमाल और इसके द्वारा ली जाने वाली दवाओं के बारे में आपको पता होना चाहिए। जिससे अस्थमा अटैक (Asthma attack) की स्थिति में आपको परेशानी का सामना ना करना पड़े।

एक अस्थमा इनहेलर खोजने के लिए आपको सही दवा और अस्थमा इनहेलर के बीच संतुलन को ढूंढने की जरूरत है, जो आपकी जरूरत के अनुसार उपयोग करने की क्षमता के अनुकूल हो। सेंटर फ़ॉर डिज़ीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) की मानें, तो अपने अस्थमा को तब कंट्रोल करने के लिए आपको सही समय पर चिकित्सक द्वारा दी गई सही खुराक लेनी चाहिए, जिससे आपकी स्थिति ना बिगड़े और वो अस्थमा अटैक में परिवर्तित न हो।

इसलिए आपके द्वारा खरीदे गए अस्थमा इनहेलर का इस्तेमाल करने के लिए आपको सबसे पहले चिकित्सक से सलाह और प्रशिक्षण लेने की जरूरत पड़ सकती है, जिससे आप जरूरत पड़ने पर अस्थमा इनहेलर (Asthma inhaler) का इस्तेमाल कर सके। आइए अब जानते हैं बाजार में कितने तरह के अस्थमा इनहेलर उपलब्ध है और इनका इस्तेमाल कैसे किया जाता है।

और पढ़ें: बच्चों में अस्थमा की बीमारी होने पर क्या करना चाहिए ?

डोज के मुताबिक लिए जाने वाले अस्थमा इनहेलर (Metered dose inhalers)

यह इनहेलर बूट शेप्ड यानी कि जूते के आकार का होता है, जिसमें एक भाग प्रेशराइज्ड कंटेनर के तौर पर होता है। इसमें अस्थमा की दवा भरी जाती है। इसके दूसरे भाग में इन्हेल करने की जगह बनाई जाती है। खास तौर पर इस तरह के अस्थमा इनहेलर को मुंह में रखकर एक पुश (Push) के साथ लिया जाता है।

इनमें से कुछ मीटर्ड डोज इनहेलर (Metered dose inhalers) ऐसे बने होते हैं, जो सांस लेने के साथ ही दवा को रिलीज करते हैं और यह दवा आपके फेफड़ों तक पहुंच जाती है। कुछ इनहेलर्स में डोज काउंटर्स बने होते हैं, जिससे आपको पता लग सके कि आपने दवा की कितनी डोजेस ले ली है। वर्तमान में आनेवाले इनहेलर्स वायरलेस होते हैं और इन्हें आप डोज की जानकारी देने वाले एप्स के साथ भी जोड़ सकते हैं। यदि आपके इनहेलर में यह डोज काउंटर नहीं बना हुआ है, तो आपको ली जाने वाली खुराक के अनुसार ही ध्यान रखने की जरूरत पड़ेगी और खाली होने के बाद कंटेनर बदलने की भी जरूरत पड़ेगी।

इनमें से कुछ अस्थमा इनहेलर स्पेसर और वॉल्व्ड होल्डिंग चेंबर (Spacer and Valved holding chamber) के साथ आते हैं, जो बच्चों और वयस्कों के लिए खास तौर पर बनाए जाते हैं। स्पेसर की मदद से दवा धीरे-धीरे आपके फेफड़ों में पहुंचती है और इससे आप आसानी से अस्थमा इनहेलर से दवा को सांस के जरिए ले सकते हैं। स्पेसर और होल्डिंग चैंबर्स (Spacer or valved holding chamber) को खरीदने के लिए आपको प्रिसक्रिप्शन की आवश्यकता हो सकती है।

ड्राय पाउडर इनहेलर (Dry powder inhaler)

इस अस्थमा इनहेलर्स (Asthma inhaler) में आप मेडिकेशन को अपने मुंह के जरिए पुश करने की बजाए एक लंबी सांस खींचकर फेफड़ों तक पहुंचाते हैं। इसके लिए आपको लंबी गहरी सांस छोड़नी होती है और फिर पाउडर के रूप में दी जाने वाली मेडिसिन को मुंह से सांस खींचकर फेफड़ों तक पहुंचाना होता है। इसमें कई तरह के डिवाइस मार्केट में उपलब्ध है, जिसमें साधारण तौर पर लोगों को सिंगल डोज डिवाइस (Single dose devices) दिया जाता है। इन अस्थमा इन्हेलर्स में हर बार जरूरत से पहले कैप्सूल की मदद से दवा लेते हैं।

सॉफ्ट मिस्ट इनहेलर (Soft mist inhaler)

ये सॉफ्ट मिस्ट इनहेलर, मीटर्ड डोज इनहेलर से थोड़े बड़े होते हैं। यह लो वेलोसिटी एरोसॉल मिस्ट को पैदा करते हैं, जिसे धीरे-धीरे सांस के जरिए लंबे समय तक लिया जाता है। यह पाउडर इनहेलर और मीटर्ड इनहेलर्स की तुलना में लंबे समय तक और आरामदायक सांस लेने के लिए बनाए गए हैं। सॉफ्ट मिस्ट इनहेलर (Soft mist inhaler) को बच्चों के लिए खास तौर पर उपयोग में लाया जाता है।

और पढ़ें: कोरोना की वजह से अस्थमा के मरीजों को मिला है फायदा या नुकसान, जानें

अस्थमा इनहेलर्स (Asthma inhaler) के अलावा अन्य उपकरण

फेस मास्क के साथ मीटर्ड डोज इनहेलर (Metered dose inhalers)

कुछ लोग स्टैंडर्ड मीटर्ड डोज इनहेलर (Metered dose inhalers) या ड्राय पाउडर इनहेलर का उपयोग नहीं कर सकते। उन लोगों के लिए अस्थमा की दवाई लेने के कई अन्य उपकरण उपयोग में लाए जाते हैं। इसमें से पहला उपकरण है फेस मास्क के साथ मीटर्ड डोज इनहेलर। आमतौर पर शिशुओं या छोटे बच्चों के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। यह एक तरह का स्टैंडर्ड मीटर इनहेलर (Standard metered dose inhaler) है, जो स्पेसर के साथ आता है। इसका फेस मास्क, जो स्पेसर के साथ जुड़ा होता है, नाक और मुंह पर आसानी से फिट बैठ जाता है और यह सुनिश्चित करता है कि दवा की सही खुराक फेफड़ों तक पहुंच जाए।

नेबुलाइजर (Nebulizer)

यह उपकरण अस्थमा की दवा को नाक और मुंह पर पहने जाने वाले माउथपीस या मास्क के माध्यम से सांस के जरिए फेफड़ों तक पहुंचाता है। नेबुलाइजर (Nebulizer) का इस्तेमाल उन लोगों के लिए किया जाता है, जो इनहेलर का उपयोग नहीं कर सकते। खासतौर पर शिशु और छोटे बच्चे जो बहुत बीमार होते हैं या जिन्हें बड़ी खुराक की आवश्यकता होती है, उन्हें नेबुलाइजर (Nebulizer) दिया जाता है।

और पढ़ें: Asthma: दमा अस्थमा क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

कैसे करें अस्थमा इनहेलर का इस्तेमाल?

अस्थमा इनहेलर्स (Asthma inhaler

अस्थमा इनहेलर के इस्तेमाल से पहले आपको इनहेलर की बनावट के बारे में जानना चाहिए। अस्थमा इनहेलर के तीन भाग होते हैं –

  • माउथपीस – जिसकी मदद से हम दावा लेते हैं
  • कैप – जो माउथपीस को ढंकने के काम आती है
  • कंटेनर – जिसमें अस्थमा की दवा होती है

अब आती है अस्थमा इनहेलर के इस्तेमाल की। इसकी भी तीन स्टेजेस हैं।

पहली स्टेज – तैयारी करें

  • इनहेलर और स्पेसर से कैप उतारें।
  • प्रत्येक उपयोग से पहले 10 से 15 बार इनहेलर को हिलाएं।
  • इनहेलर में स्पेसर जोड़ें ।
  • अपने फेफड़ों को खाली करने के लिए धीरे से सांस लें। जितना हो सके उतना हवा बाहर धकेलने का प्रयास करें।

दूसरी स्टेज – धीरे – धीरे सांस लें

  • स्पेसर को अपने दांतों के बीच रखें और अपने होठों से उसे कवर करें।
  • अपनी ठुडी ऊपर की ओर रखें
  • अपने मुंह के माध्यम से धीरे-धीरे सांस लेना शुरू करें।
  • इनहेलर के नीचे दबाकर स्पेसर में एक पफ स्प्रे करें।
  • धीरे-धीरे सांस लेते रहें। जितना हो सके उतनी गहरी सांस लें।

तीसरी स्टेज – अपनी सांस रोकें

  • अपने मुंह से स्पेसर को बाहर निकालें।
  • यदि आप कर सकते हैं तो अपनी सांस को 10 सेकंड तक रोकें, इससे दवा आपके फेफड़ों में गहराई तक पहुंच सकती है।
  • अब धीरे-धीरे मुंह से सांस लें।

कैसा हो अस्थमा इनहेलर का रख-रखाव?

इनहेलर को साफ़ रखें

उस छेद को देखें, जहां दवा आपके इनहेलर से बाहर निकलती है। यदि आप छेद में या उसके आसपास पाउडर देखते हैं, तो अपने इनहेलर को साफ करें। सबसे पहले, एल के आकार के प्लास्टिक के माउथपीस से कनिस्टर हटा दें। गर्म पानी से माउथपीस और कैप को धो लें। रात भर हवा में सूखने दें। अपने इनहेलर को कमरे के तापमान पर स्टोर करें। कनेस्टर में दवा दबाव में स्टोर होती है, इसलिए सुनिश्चित करें कि इसे बहुत गर्म तापमान में न रखें।

ध्यान रखें कि इन सभी उपकरणों का इस्तेमाल आपकी सुविधा और जरूरत के हिसाब से किया जाना चाहिए, जिसमें दवा की सही खुराक और इनहेलर के सही इस्तेमाल के बारे में जानना भी बेहद जरूरी है। इसलिए अपने डॉक्टर से बात किए बगैर इनहेलर या दवा का चुनाव ना करें। समय-समय पर इन अस्थमा इनहेलर्स (Asthma inhaler) को बदलने की जरूरत पड़ती है, इसलिए अपने डॉक्टर से इसकी एक्सपायरी डेट और इसके रखरखाव के बारे में भी जानकारी हासिल करें। यही कारण है कि अस्थमा इनहेलर के इस्तेमाल से पहले आपको डॉक्टर से सलाह लेने की हिदायत दी जाती है।

powered by Typeform

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Accessed on 27 April, 2021

How to use an inhaler – https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000041.htm

INHALED ASTHMA MEDICATIONS – https://www.aaaai.org/conditions-and-treatments/library/asthma-library/inhaled-asthma-medications

Know How to Use Your Asthma Inhaler – https://www.cdc.gov/asthma/inhaler_video/default.htm

Asthma Treatment – https://www.aafa.org/asthma-treatment/

How to Use a Metered-Dose Inhaler the Right Way – https://getasthmahelp.org/inhalers-how-to.aspx

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Toshini Rathod द्वारा लिखित
अपडेटेड 2 weeks ago
x