home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Chickenpox: चिकनपॉक्स क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

Chickenpox: चिकनपॉक्स क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय
जरूरी बातें जानिए|जानिए इसके लक्षण |कारण|चिकनपॉक्स (Chickenpox) का निदान और उपचार|लाइफस्टाइल में बदलाव और घरेलू उपचार

जरूरी बातें जानिए

चिकनपॉक्स (Chickenpox) क्या है?

चिकनपॉक्स को वेरिसेला भी कहा जाता है, जो त्वचा पर दिखाई देता है। इस बीमारी में पूरे शरीर और चेहरे पर दाने जैसे ब्लिस्टर हो जाते हैं। यह वायरस के कारण होता है। यह उन लोगों को भी हो सकता है, जिन्होंने इसका वेक्सिनेशन नहीं लिया होता। यह एक सामान्य हर्पिस वायरस के कारण होता है, जिसे हम वेरिसेला जोस्टर वायरस भी कहते हैं। यह वायरस बचपन मे होता है और वयस्क होने पर दाद (herpes zoster) का कारण बनता है। वह दाद काफी दर्दनाक होता है।

और पढ़ें : Skin Disorders : चर्म रोग (त्वचा विकार) क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

चिकनपॉक्स कितना सामान्य है?

यह एक सामान्य वायरस की बीमारी है, यह किसी भी उम्र के लोगों को हो सकता है। लेकिन, ज्यादातर 15 साल से कम उम्र के बच्चों को यह बीमारी होती है। इसके अलावा, जिनका इम्यून सिस्टम कमजोर होता है, उन्हें यह बीमारी हो सकती है, जैसे गर्भवती महिला,शिशु, बुजुर्ग आदि। ऐसे में इसका वेक्सिनेशन बीमारी को रोकने और कम करने में मदद करता है। चिकन पॉक्स की तरह ही एक और बीमारी है जिसे मंकीपॉक्स कहते हैं।

और पढ़ें : जानिए किस तरह हेल्दी इम्यून सिस्टम के लिए जरूरी हैं प्रोबायोटिक्स

जानिए इसके लक्षण

चिकनपॉक्स (Chickenpox) के लक्षण क्या हैं?

चिकनपॉक्स के लक्षण आमतौर सात या 21 दिन बाद दिखाई देते हैं। इसमें हल्का बुखार, सिरदर्द, हल्की खांसी, थकान और भूख न लगना जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं। दो से तीन दिन बाद शरीर पर खुजली वाले लाल धब्बे जैसे दिखाई देते हैं। हालांकि, वह धब्बे पर चार से पांच दिनों में सूख जाते हैं। इस बीमारी में कुछ लोगों को शरीर पर 500 से ज्यादा छाले भी हो सकते हैं। आमतौर पर यह रैशेज होने के एक से दो दिन पहले और ब्लिस्टर बनने के बाद छह दिन तक संक्रमित रहता है। यह छाले मुंह, कान और आंखों मे भी हो सकते हैं। यह बताए गए कुछ लक्षण हो सकते हैं। अगर आपको ऐसा कोई भी लक्षण नजर आए, तो डॉक्टर से संपर्क करने में देरी न करें।

और पढ़ें : Leprosy: कुष्ठ रोग क्या है? जानें इसके लक्षण, कारण और उपाय

बच्चों में दिखने वाले लक्षण क्या हैं?

निम्नलिखित लक्षण बच्चों में नजर आ सकते हैं। जैसे-

  • बच्चे को सिरदर्द होना
  • शरीर का तापमान ज्यादा होना या बुखार होना
  • बीमार महसूस करना
  • मांसपेशियों में दर्द होना
  • छोटे खुजली वाले लाल धब्बे के गुच्छे आमतौर पर कान के पीछे, चेहरे, छाती, पेट, हाथ और पैरों पर होते हैं। हालांकि, ये कहीं भी दिखाई दे सकते हैं।

मुझे अपने डॉक्टर से कब मिलना चाहिए?

नीचे बताए गए लक्षण दिखाई देते हैं, तो आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए, जैसे:

  • अगर आप एक या दोनों आंखों में लाल धब्बे दिखाई दें।
  • अगर त्वचा पर स्पॉट सेंसेटिव और हॉट हो जाते हैं। यह इंफेक्शन का लक्षण हो सकता है।
  • चक्कर आना, तेजी से दिल का धड़कन, सांस लेने में दिक्कत, उल्टी होना, तेज बुखार होना, गर्दन का जकड़ जाना आदि।

अगर आपको ऊपर बताए गए लक्षण दिखाई दें और यह बढ़ रहे हों, तो आपको अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए। हर किसी का शरीर अलग तरीके से काम करता है। अपने डॉक्टर से बात करना आपके लिए अच्छा रहेगा।

और पढ़ें : Nipah Virus Infection: निपाह वायरस का संक्रमण

कारण

चिकनपॉक्स (Chickenpox) होने का क्या कारण है?

इसका कारण वेरिसेला-जोस्टर हर्पीज वायरस होता है। अगर आसपास किसी को चिकनपॉक्स हुआ हो, तो यह दूसरे को होने का खतरा बढ़ सकता है।

किन कारणों से मुझे चिकनपॉक्स (Chickenpox) का जोखिम बढ़ सकता है?

चिकनपॉक्स के कई जोखिम कारण हैं,जैसे:

  • अगर आपको पहले चिकनपॉक्स न हुआ हो।
  • अगर आपका चिकनपॉक्स का वेक्सिनेशन नहीं हुआ हो।
  • नर्सरी या स्कूल में काम करना।
  • या अगर आप बच्चों के साथ रहते हैं।

चिकनपॉक्स (Chickenpox) का निदान और उपचार

दी गई जानकारी किसी भी मेडिकल एडवाइज का विकल्प नहीं है। ज्यादा जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करे।

चिकनपॉक्स (Chickenpox) का निदान कैसे किया जाता है?

इससे होने वाले लाल धब्बे खासतौर पर अलग तरह के स्पॉट से होते हैं। इस तरह का निदान सरल होता है। ऐसे में डॉक्टर मेडिकल हिस्ट्री को देखकर इसका पता लगाते हैं।

चिकनपॉक्स (Chickenpox) का इलाज कैसे किया जाता है?

हेल्दी बच्चों को किसी विशेष दवा की जरूरत नहीं होती। लेकिन, ये लक्षण दिखने पर राहत दिलाने में मदद कर सकती हैं। एसिटामिनोफेन जैसे नॉन-एस्पिरिन प्रोडक्ट बुखार को कम करने में मदद करते हैं। लेकिन, चिकनपॉक्स वाले बच्चों को एस्पिरिन न दें। एंटीथिस्टेमाइंस, कैलेमाइन जैसे लोशन,और ओटमील बाथ खुजली को कम करने में मदद करते हैं। वहीं, लिक्विड ड्रिंकिंग से आराम मिलता है और यह चिकनपॉक्स फैलने से रोकते हैं। चिकनपॉक्स फैलने से रोकने के लिए बच्चों को दूसरों से तब तक दूर रखें, जब तक ब्लिस्टर ठीक न हो जाएं। गंभीर इन्फेक्शन और बिगड़े हुए इम्यून सिस्टम वाले लोगों को डॉक्टर एंटीवायरल दवा दे सकते हैं।

और पढ़ें : Syphilis : सिफिलिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

लाइफस्टाइल में बदलाव और घरेलू उपचार

लाइफस्टाइल में बदलाव क्या हैं, जो मुझे चिकनपॉक्स (Chickenpox) से निपटने में मदद कर सकते हैं?

नीचे दी गई लाइफस्टाइल और घरेलू उपचार आपको चिकनपॉक्स से निपटने में मदद कर सकते हैं:

  • अगर आप गर्भवती हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें कि कि क्या आप चिकनपॉक्स के संपर्क में तो नहीं है।
  • अपने हाथों को नियमित रूप से धोएं और बिस्तर की चादर और पहने हुए कपड़ों को गर्म, और साबुन वाले पानी से धोएं।
  • इन्फेक्शन से बचने के लिए अपने को छोटा रखिए।नाखूनों
  • डॉक्टर की सलाह से बुखार के लिए नॉन-एस्पिरिन मेडिसिन का उपयोग करें।
  • खुजली को कम करने के लिए एंटीहिस्टामाइन कुल स्पंज बाथ का उपयोग करे।
  • अगर आपका तापमान 38 डिग्री से ज्यादा है या वीकनेस,सिरदर्द जैसा महसूस हो रहा है तो डॉक्टर से संपर्क करें।
  • अगर आपको उल्टी, बेचैनी जैसा महसूस हो, तो डॉक्टर से संपर्क करें।
  • जिन्हें अभी तक यह बीमारी नहीं हुई वो लोग चिकनपॉक्स का वैक्सिनेशन ले सकते हैं।
  • कैलेमाइन लोशन खुजली को कम करने में मदद कर सकता है। इस लोशन में जिक-ऑक्साइड के साथ स्किन सूदिंग गुण होते हैं।
  • चिकनपॉक्स बच्चों के मुंह के अंदर भी दिखाई दे सकता है। यह विशेष रूप से दर्दनाक हो सकता है। बच्चों को बीच-बीच में शुगर फ्री लॉली पॉप दें। ये उनके शरीर में शुगर की मात्रा को ठीक रखता है और उन्हें इसको खाने में आराम मिलता है।

चिकनपॉक्स के लिए घरेलू उपचार क्या हैं?

चिकनपॉक्स के लिए घरेलू उपचार के तौर पर आप निम्न उपायों को अपना सकते हैं, जिसमें शामिल हैंः

गाजर और धनिया से चेचक का घरेलू उपचार करना

गाजर और धनिया के पत्ते प्राकृतिक तौर पर दोनों में शरीर को ठंडक प्रदान करने वाले गुण होते हैं। ऐसे में इनका मिश्रण एक अच्छा एंटी-ओक्सिडेंट की तरह काम कर सकता है। चेचक के उपचार के लिए इनका इस्तेमाल करने के लिए आप गाजर हरी धनिया के पत्तों को पानी में उबाल कर नियमित रूप से कुछ दिनों के लिए उस पानी पी सकते हैं। हालांकि, अगर आप इस दौरान किसी भी तरह की दवा का सेवन कर रहे हैं या आपको कोई अन्य शारीरिक समस्या है, तो इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

नीम के इस्तेमाल से करें चिकनपॉक्स का घरेलू उपचार

नीम के गुण कई तरह के संक्रमण को खत्म करने के लिए काफी प्रभावी होते हैं। इसका इस्तेमाल करने के लिए आप नीम के पत्तों को उबालें और इसी पानी का इस्तेमाल नहाने के लिए कर सकते हैं। इससे इसका संक्रमण अधिक नहीं फैलता और खुजली से भी राहत मिल सकती है।

विटामिन ई से करें चिकनपॉक्स का घरेलू उपचार

विटामिन ई के गुणों वाले आप किसी भी तेल का इस्तेमाल इसके लिए कर सकते हैं। विटामिन ई युक्त तेल के इस्तेमाल से आपको खुजली की समस्या से राहत मिल सकती है।

बेकिंग सोडा का करें इस्तेमाल

बेकिंग सोडा में जीवाणुरोधी गुण होते हैं। यह घावों को भरने में भी मदद कर सकते हैं। चेचक की घरेलू उपचार करने के तौर पर आप आधा चम्मच बेकिंग सोडा पानी में मिला लें। फिर कॉटन की मदद से उस पानी को प्रभावित स्थान पर लगाएं। इसे धुलें नहीं और सीधा सूखने दें। आप चाहें तो कुछ घंटों बाद स्नान कर सकते हैं।

एलोवेरा से करें चिकनपॉक्स का घरेलू उपचार

एलोवेरा में पाएं जाने वाले गुण चिकनपॉक्स से संक्रमित हुई त्वचा को ठंडक देने में मदद कर सकते हैं। इसमें मौजूद एंटीइंफ्लेमेट्री गुण त्वचा को नमी प्रदान करता है और खुजली की समस्या को कम करता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए आप इसके ताजे जेल को सीधे प्रभावित त्वचा पर लगाकर उसे सूखने के लिए छोड़ सकते हैं।

अगर आप चिकनपॉक्स से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Chickenpox Also called: Varicella/https://medlineplus.gov/chickenpox.html/Accessed on 06/01/2020

Chickenpox/https://www.nhp.gov.in/disease/skin/chickenpox/Accessed on 06/01/2020

Chickenpox (varicella zoster infection)/https://www.health.ny.gov/diseases/communicable/chickenpox/fact_sheet.htm/Accessed on 06/01/2020

Chickenpox (varicella)/https://healthywa.wa.gov.au/Articles/A_E/Chickenpox-varicella/Accessed on 06/01/2020

Chickenpox (Varicella). https://www.cdc.gov/chickenpox/index.html. Accessed On 23 October, 2020.

लेखक की तस्वीर
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Shivani Verma द्वारा लिखित
अपडेटेड 05/07/2019
x