home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

बच्चों के लिए फ्लू का टीका क्यों होता है जरूरी औ रखनी चाहिए कौन सी सावधानियां?

बच्चों के लिए फ्लू का टीका क्यों होता है जरूरी औ रखनी चाहिए कौन सी सावधानियां?

इंफ्लूएंजा को फ्लू के नाम से भी जाना जाता है। ये एक प्रकार का खतरनाक वायरस इंफेक्शन है, जो बच्चे के नाक, गले और फेफड़ों को नुकसान पहुंचाने का काम करता है। फ्लू का असर सर्दियों के मौसम में अधिक देखने को मिलता है। अगर बच्चे को फ्लू वैक्सीन दी जाए, तो वो फ्लू से सुरक्षा पा सकते हैं। बच्चों की फ्लू वैक्सीन समय पर लगना बहुत जरूरी होता है वरना इसका असर न के बराबर भी हो सकता है। छह माह के बाद बच्चों को फ्लू का वैक्सीन दिया जाता है। अगर घर में सभी सदस्यों ने फ्लू वैक्सीन लिया है, तो ये बच्चे के लिए भी लाभकारी होता है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बच्चों की फ्लू वैक्सीन (Flu shots for kids) के बारे में जानकारी देंगे और साथ ही ये भी बताएंगे कि क्या सावधानियां रखना जरूरी होता है।

और पढ़ें: बच्चों को DTaP वैक्सीन के लिए दिए जाते हैं ये डोज, जानिए क्यों हैं ये जरूरी?

बच्चों की फ्लू वैक्सीन (Flu shots for kids)

बच्चों की फ्लू वैक्सीन (Flu shots for kids) के बारे में जानने से पहले आपको इस बारे में जानना बहुत जरूरी है कि सीजनल इंफ्लूएंजा क्या होता है। सीजनल इंफ्लूएंजा टाइप A या B के कारण फैलता है। इस कारण से फीवर, कफ, सिर में दर्द, मसल्स में पेन के साथ ही ज्वाइंट्स में दर्द की समस्या (Joint pain) भी हो सकती है। बच्चों में अक्सर नाक बहने की समस्या (Runny nose) भी हो जाती है। इस संक्रमण के लक्षण करीब एक सप्ताह तक नजर आते हैं और फिर ये अपने आप ठीक भी हो जाते हैं। यानी बिना दवा के भी ये संक्रमण ठीक हो जाता है। वैसे तो फ्लू अपने आप ही ठीक हो जाता है लेकिन कुछ लोगों के लिए ये भयानक भी साबित हो सकता है। मौसम परिवर्तन के साथ ही फ्लू की समस्या आम हो जाती है। ट्रॉपिकल और सबट्रॉपिकल कंट्रीज में इंफ्लूएंजा होने की संभावना पूरे वर्ष रहती है। जानिए किन लोगों को फ्लू होने का अधिक खतरा रहता है।

और पढ़ें:बच्चों के लिए एमएमआर वैक्सीन क्यों है जरूरी, जानिए यहां

बच्चों के लिए फ्लू का टीका कब लेना होता है असरदार?

बच्चों की फ्लू वैक्सीन छह माह के पहले नहीं दी जा सकती है। यानी 6 महिने से कम उम्र के बच्चे को इस वैक्सीन की जरूरत नहीं है। अगर घर के अन्य सदस्यों को वैक्सीन लग चुकी है, तो बच्चा भी सुरक्षित रहेगा। नौ साल से कम उम्र के बच्चों को, जिन्हें फ्लू वैक्सीन (Flu vaccine) की एक डोज मिल चुकी है, उन्हें एक महीने के अंतर में दो डोज की जरूरत होती है। 9 साल से कम उम्र के बच्चों जिन बच्चों को फ्लू की दो डोज मिल चुकी हैं, उन्हें अब केवल एक डोज की जरूरत है। नौ साल से अधिक उम्र के बच्चे को केवल एक डोज की जरूरत रहती है।

कैसे दी जाती है फ्लू वैक्सीन (Flu vaccine)

फ्लू वैक्सीन लगवाना आसान होता है क्योंकि ये आसानी से उपलब्ध रहती है। ये आसानी से डॉक्टर से ऑफिस में, क्लीनिकमें, दवा की दुकान, कुछ स्कूलों में भी उपलब्ध रहती है। डॉक्टर से सलाह करने के बाद इसे लगवाया जा सकता है। फ्लू वैक्सीन मुख्य रूप से दो प्रकार से दी जाती हैं। पहला फ्लू शॉट (Flu shot), जिसमें दवा को सुई से इंजेक्ट किया जाता है। दूसरा नाक का स्प्रे (Nasal spray) जिसके माध्यम से नाक में दवा डाली जाती है। बच्चे की उम्र के अनुसार फ्लू शॉट या नाक के स्प्रे का चुनाव किया जा सकता है। नाक में डालने वाला स्प्रे 2 साल से 49 की उम्र के लोगों के लिए होता है, जिनका इम्यून सिस्टम कमजोर हो और साथ ही उन्हें कोई हेल्थ कंडीशन जैसे कि अस्थमा (Asthma) है। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के ये स्प्रे नहीं दिया जाता है।

और पढ़ें: कैसे बचाएं अपने बच्चों को इन संक्रामक रोगों से?

बच्चों की फ्लू वैक्सीन: डॉक्टर दे सकते हैं ये वैक्सीन (Flu shots for kids)

बच्चों के लिए फ्लू का टीका कब लगवाना चाहिए या फिर क्या सावधानी रखनी चाहिए, आपको इस बारे में डॉक्टर से जानकारी प्राप्त करनी चाहिए। डॉक्टर से आप बच्चे को बीमाारियों के बारे में परामर्श जरूर करें। एलर्जी (Allergies) के साथ ही किसी हेल्थ कंडीशन की स्थिति में डॉक्टर को जानकारी देना बहुत जरूरी है। अगर बच्चे को एग एलर्जी (Egg allergy) है, तो भी वो वैक्सीन ले सकते हैं। हम आपको यहां कुछ वैक्सीन के ब्रांड बता रहे हैं, जो डॉक्टर इस्तेमाल कर सकते हैं।

इन्फ्लुवैक टेट्रा 2020/2021 वैक्सीन (Influvac Tetra 2020/2021 Vaccine)

इन्फ्लुवैक टेट्रा 2020/2021 वैक्सीन फ्लू की बीमारी से बचाने का काम करती है। इसे इंजेक्शन के माध्यम से लगाया जाता है। इस वैक्सीन की हेल्प से एक साल तक सुरक्षा प्रदान होती है। समय के साथ ही वायरस के स्ट्रेन में बदलाव आ जाता है, इसलिए हर साल वैक्सीन की जरूरत पड़ सकती है। अगर बच्चे को किसी प्रकार की हेल्थ कंडीशन (Health condition) है, तो वैक्सीन दिलवाने से पहले इस बारे में डॉक्टर को जानकारी जरूर देनी चाहिए। वैक्सीन की कीमत 1344 रु तक हो सकती है।

और पढ़ें: क्या बच्चों के लिए फ्लू और कोविड वैक्सीन एक ही है : जानें इस पर एक्सपर्ट की राय

बच्चों की फ्लू वैक्सीन: एबट इन्फ्लुवैक वैक्सीन (Abbott Influvac Vaccine)

बच्चों की फ्लू वैक्सीन (Flu shots for kids) में इस वैक्सीन का नाम भी शामिल है। एबट इन्फ्लुवैक वैक्सीन इंफ्लूएंजा से बचाने का काम करती है। वैक्सीन लगने के बाद शरीर वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी बनाने लगती है और शरीर को फ्लू से सुरक्षा मिलती है। डॉक्टर ने आपको जिस ब्रांड की वैक्सीन की सलाह दी है, वहीं लें। इस वैक्सीन की कीमत 760 रु है।

फ्लूरिक्स टेट्रा 2020/2021 एनएच वैक्सीन (Fluarix Tetra 2020/2021 NH Vaccine)

फ्लूरिक्स टेट्रा 2020/2021 एनएच वैक्सीनवैक्सीन में इनएक्टिवेटेड इंफ्लूएंजा वैक्सीन (Influenza vaccine) होती है, जो शरीर को वायरस से सुरक्षा दिलाती है। अगर बच्चे को फ्लू हो चुका है, तो वैक्सीन लगवाने से सुरक्षा नहीं मिलेगी। मौसम में परिवर्तन होने पर जल्द से जल्द वैक्सीन लगवानी चाहिए। ये वैक्सीन मसल्स में दी जाती है। ये वैक्सीन कोल्ड सीजन के पहले दी जाती है, ताकि इम्यूनिटी को फ्लू के खिलाफ बढ़ाया जा सके। इसकी कीमत 1580 रु है। वैक्सीन लगवाने से कुछ साइडइफेक्ट्स हो सकते हैं, जो कुछ समय बाद अपने आप ठीक हो जाते हैं।

अगर आपके बच्चे को फ्लू की पहली वैक्सीन लगने पर किसी तरह का रिएक्शन हुआ हो, तो डॉक्टर को इस संबंध में जानकारी जरूर दें। ऐसे में डॉक्टर बच्चे को फ्लू की दूसरी वैक्सीन न देने की सलाह देते हैं। बच्चे को फ्लू की वैक्सीन कब और कैसे देनी है, ये निर्धारण डॉक्टर ही करते हैं। आपको बिना डॉक्टर से परामर्श किए बच्चे को फ्लू की वैक्सीन (Flu vaccine) नहीं लगवानी चाहिए। अगर बच्चे को वैक्सीन के कुछ दुष्प्रभाव दिखें, तो घबराएं नहीं बल्कि डॉक्टर से पहले ही इस बारे में जानकारी लें।

इस आर्टिकल में दिए गए ब्रांड के नाम का हैलो स्वास्थ्य प्रचार नहीं कर रहा है। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता। इस आर्टिकल में हमने आपको बच्चों की फ्लू वैक्सीन (Flu shots for kids) के संबंध में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 24/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड