हार्ट बर्न, एसिड रिफलेक्स और GERD क्या है तीनों का इलाज?

    हार्ट बर्न, एसिड रिफलेक्स और GERD क्या है तीनों का इलाज?

    बदलती लाइफ स्टाइल के कारण हमसभी के जीवन में कुछ अच्छे तो कुछ बुरे प्रभाव पड़ रहें हैं। अब देखिये ना टेंशन और अनहेल्दी फूड हैबिट्स की वजह से हार्ट बर्न, एसिड रिलेक्स और GERD (Heartburn Vs Acid Reflux Vs GERD) जैसी समस्याओं का होना सामान्य है। हालांकि हार्ट बर्न, एसिड रिफलेक्स और GERD की समस्याओं इग्नोर करना अनजाने में गंभीर बीमारियों को इन्वाइट करने से कम नहीं है। इसलिए आज इस आर्टिकल में हार्ट बर्न, एसिड रिलेक्स और GERD (Heartburn Vs Acid Reflux Vs GERD) से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी आपके लिए लेकर आये हैं। चलिए अब इन सवालों का जवाब जानते हैं।

    और पढ़ें : Digestive Health Issues : जानिए क्या है पाचन संबंधी विकार और इससे जुड़ी खास बातें

    हार्ट बर्न, एसिड रिलेक्स और GERD की समस्या क्या है?

    हार्ट बर्न, एसिड रिलेक्स और GERD (Heartburn Vs Acid Reflux Vs GERD)

    इन तीनों को एक-एक कर आगे समझते हैं।

    हार्ट बर्न, एसिड रिलेक्स और GERD: हार्ट बर्न क्या है?

    हार्ट बर्न जिसे सामान्य शब्दों में सीने में जलन भी कहा जाता है। हार्ट बर्न की समस्या तब होती है, जब पेट में मौजूद एसिड वापस फूड पाइप (Esophagus) में आ जाता है। ऐसा प्रायः कुछ निगलने और अन्नप्रणाली (इसोफेगस) के नीचे के चारों तरफ की मांसपेशियां भोजन और तरल पदार्थ को पेट के नीचे ले जाती हैं। यदि लोअर इसोफेगल स्पिंकटर (Lower esophageal sphincter) किसी भी कारण से कमजोर होता है या ठीक तरह से काम नहीं कर पाता है, तो पेट का एसिड वापस इसोफेगस में चला जाता है जिस वजह से हार्ट बर्न की समस्या शुरू हो जाती है। ध्यान रखें कि लेटने के दौरान या झुकते वक्त एसिड का वापस आना गंभीर हो सकता है। इसलिए हार्ट बर्न यानी सीने में जलन की समस्या को इग्नोर ना करें। चलिए अब जानते हैं एसिड रिलेक्स के बारे में।

    हार्ट बर्न का इलाज (Treatment for Heart Burn)-

    हार्ट बर्न की समस्या से राहत पाने के लिए डॉक्टर मरीज के डायट रूटीन में बदलाव कर सकते हैं। इसके अलावा डॉक्टर निम्नलिखित दवा प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। जैसे:

    • एंटासिड्स (Antacids)
    • एच2 रेसेप्टर ब्लॉकर्स (H2 receptor blockers)
    • प्रोटोन पंप इन्हीबेटर्स (Proton Pump Inhibitors [PPI])

    और पढ़ें : Probiotics For IBS: IBS के लिए प्रोबायोटिक्स कैसे लाभकारी है?

    हार्ट बर्न, एसिड रिफलेक्स और GERD: एसिड रिफलेक्स क्या है?

    लोअर इसोफेजियल स्फिंक्टर (Lower Esophageal Sphincter) नामक मसल इसोफेगस और पेट को आपस में जोड़ती है। पेट में भोजन जाने के बाद यह मसल्स इसोफेगस में कसाव के लिए जिम्मेदार होती है। यदि ये मसल्स कमजोर हो जाएं या भोजन नलिका में ठीक से कसाव न ला पाए तो पेट से एसिड दोबारा इसोफेगस में पहुंच जाता है और इसी स्थिति को एसिड रिफलेक्स कहा जाता है। एसिड रिफलेक्स की वजह से हार्ट बर्न के साथ ही अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं। ध्यान रखें एसिड रिफलेक्स की समस्या होने पर कफ (Cough), गले में खराश (Throat Soreness), मुंह में कड़वा स्वाद आना, मुंह में खट्टा फील होना (Tongue soreness), बर्निंग और सेंसेशन जो ब्रेस्ट बोन तक पहुंच जाता है। और अब जानते हैं GERD के बारे में।

    और पढ़ें : बच्चों के लिए इंडियन ब्रेकफास्ट: इन आइडियाज से बच्चों को मिलें स्वाद और सेहत दोनों

    एसिड रिफलेक्स का इलाज (Treatment for Acid Reflux)-

    एसिड रिफलेक्स के इलाज की शुरुआत में सबसे पहले मरीज के लक्षणों को समझने की कोशिश करते हैं। खानपान में बदलाव की सलाह देते हैं और हेल्थ कंडिशन को ध्यान में रखते हुए निम्नलिखित दवाओं को प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। जैसे:

    • एंटाएसिड्स (Antacids)
    • एच2 रेसेप्टर ब्लॉकर्स (H2 receptor blockers)
    • प्रोटोन पंप इन्हीबेटर्स (Proton pump inhibitors)

    और पढ़ें : क्या आप महसूस कर रहे हैं पेट में जलन, इंफ्लमेटरी बाउल डिजीज हो सकता है कारण

    हार्ट बर्न, एसिड रिफलेक्स और GERD: क्या है GERD की समस्या?

    गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज एक डायजेस्टिव डिसऑर्डर (Digestive Order) है, जिसमें पेट में उत्पन्न एसिड या पेट में मौजूद तत्व भोजन नली (Esophagus) में वापस आ जाता है। इस कराण भोजन नली की अंदरूनी सतह में जलन होने लगती है। बहुत सारे लोगों को यह परेशानी समय-समय पर होती रहती है। एसिड भाटा रोग (GERD) बच्चों से लेकर वयस्कों में होने वाली परेशानी है।

    डायजेशन के प्रक्रिया में लोअर इसोफेगल स्पिंकटर (Lower Esophageal Sphincter) खाने को पेट में पास करता है और भोजन और एसिड को इसोफेगस में वापस आने से रोकता है। गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज (GERD) अक्सर तब होता है, जब लोअर इसोफेगल स्पिंकटर (Lower Esophageal Sphincter) कमजोर होता है और पेट की सामग्री को इसोफगस में प्रवाह करने की अनुमति देता है।

    प्रेग्नेंट महिलाओं को गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज (GERD) के कारण होने वाली हर्ट बर्न (Heartburn) और एसिड इनडायजेशन (Acid indigestion) की परेशानी का सामना करना पड़ता है। डॉक्टर्स का मानना है कि हाइटल हर्निया (Hiatal Hernia) के कारण कई लोगों को गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज (GERD) की परेशानी होती है।

    कुछ लोग लाइफस्टाइल में बदलाव करके और कुछ दवाओं का सहारा लेकर इससे राहत पा लेते हैं। वहीं इस बीमारी से ग्रसित कुछ लोगों को इसके लक्षण को कम करने के लिए हाई डोज दवाइयां और सर्जरी की जरूरत होती है। अस्थमा से ग्रसित लोगों में इस बीमारी के होने की संभावना अधिक होती है।

    और पढ़ें : Bacterial Vaginal Infection : बैक्टीरियल वजायनल इंफेक्शन क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

    गैस्ट्रोइसोफेगल रिफलेक्स का इलाज (Treatment for Gastroesophageal reflux disease)-

    गैस्ट्रोइसोफेगल रिफलेक्स के इलाज की शुरुआत में सबसे पहले मरीज के लक्षणों को समझने की कोशिश करते हैं। खानपान में बदलाव की सलाह देते हैं और हेल्थ कंडिशन को ध्यान में रखते हुए निम्नलिखित दवाओं को प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। जैसे:

    • एंटाएसिड्स (Antacids)
    • एच2 रेसेप्टर ब्लॉकर्स (H2 receptor blockers)
    • प्रोटोन पंप इन्हीबेटर्स (Proton Pump Inhibitors [PPI])
    • मेटोक्लोप्रोमाइड (Metoclopramide)

    नोट: हार्ट बर्न, एसिड रिफलेक्स और GERD के इलाज के दौरान प्रिस्क्राइब की गई दवाएं डॉक्टर द्वारा बताये अनुसार ही सेवन करें। प्रिस्क्राइब्ड डोज से ज्यादा कम सेवन से इसके साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। इसलिए डॉक्टर द्वारा दिए गए सलाह का पालन करें।

    और पढ़ें : इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम (IBS) का यूनानी इलाज कैसे किया जाता है?

    हार्ट बर्न, एसिड रिफलेक्स और GERD: डॉक्टर से कब करें कंसल्ट?

    निम्नलिखित परिस्थितियों में डॉक्टर से कंसल्ट करना आवश्यक है। जैसे :

    अगर आपभी ऐसे लक्षण महसूस कर रहें हैं, तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

    और पढ़ें : सर्दियों में डायजेशन प्रॉब्लम से बचने के लिए अपने खान-पान में शामिल करें ये चीजें, रहें फिट

    हार्ट बर्न, एसिड रिफलेक्स और GERD जैसी तकलीफों से आसानी से बचा जा सकता है। हालांकि अगर आप हार्ट बर्न, एसिड रिफलेक्स और GERD या किसी अन्य बीमारी के प्रति लापरवाही बरतते हैं, तो आपकी छोटी सी शारीरिक परेशानी को गंभीर होने में ज्यादा वक्त नहीं लगेगा। इसलिए शरीर में होने वाले अच्छे-बुरे बदलाओं को समझें और आवश्यकता पड़ने पर डॉक्टर से कंसल्ट करें।

    कॉन्स्टिपेशन (Constipation) की समस्या को योग से भी दूर किया जा सकता है। जानने के लिए नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Czinn, S. J., & Blanchard, S. (2013). Gastroesophageal reflux disease in neonates and infants: When and how to treat. Paediatric Drugs, 15(1), 19-27./https://ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/23322552/Accessed on 07/01/2022
    Definition and facts for GER and GERD. (2014)./https://niddk.nih.gov/health-information/health-topics/digestive-diseases/ger-and-gerd-in-adults/Pages/definition-facts.aspx/Accessed on 07/01/2022
    Disposal of unused medicines: What you should know. (2019)./https://fda.gov/drugs/safe-disposal-medicines/disposal-unused-medicines-what-you-should-know/Accessed on 07/01/2022
    FDA requests removal of all ranitidine products (Zantac) from the market. (2020)./https://fda.gov/news-events/press-announcements/fda-requests-removal-all-ranitidine-products-zantac-market/Accessed on 07/01/2022
    Gastroesophageal reflux. (January)./https://kidshealth.org/en/parents/gerd-reflux.html
    GERD, Barrett’s esophagus and the risk for esophageal cancer. (n.d.)./https://asge.org/patients/patients.aspx?id=402/Accessed on 07/01/2022
    Pregnancy in gastrointestinal disorders. (2011)./https://gi.org/wp-content/uploads/2011/07/institute-PregnancyMonograph.pdf/Accessed on 07/01/2022
    Quigley, E. M. M. (2015). Prokinetics in the management of functional gastrointestinal disorders. Journal of Neurogastroenterology and Motility, 21(3)./https://ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4496896/Accessed on 07/01/2022
    What is GER? (2015)./https://niddk.nih.gov/health-information/health-topics/digestive-diseases/ger-and-gerd-in-children-teens/Pages/definition-facts.aspx/Accessed on 07/01/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/01/2022 को
    Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड