home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Hemorrhoids : बिना सर्जरी भी हिमोरॉइड्स का इलाज है संभव, जानिए कैसे!

Hemorrhoids : बिना सर्जरी भी हिमोरॉइड्स का इलाज है संभव, जानिए कैसे!

हिमोरॉइड्स को बवासीर या पाइल्स के नाम से भी जाना जाता है। हर व्यक्ति अपने जीवन में कभी न कभी इस समस्या का सामना करता ही है। अधिकतर मामलों में कुछ दिनों में बिना उपचार के भी इसके लक्षण खुद ही दूर हो जाते हैं। लेकिन, कई मामलों में हिमोरॉइड्स की समस्या गंभीर हो सकती है, जिसमें मेडिकल हेल्प की जरूरत होती है। गंभीर मामलों में बवासीर का उपचार सर्जरी द्वारा किया जा सकता है। लेकिन, बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) भी संभव है। जानिए, बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) कैसे होता है:

हिमोरॉइड्स क्या है? (What is Hemorrhoids?)

बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) कैसा होता है, इससे पहले जानते हैं कि हिमोरॉइड्स क्या है। हिमोरॉइड्स मलाशय या गुदा के नीचे बढ़ी या सूजी हुई नसें हैं। हालांकि, इनसे कोई गंभीर हेल्थ समस्या नहीं होती, लेकिन यह परेशान करने वाली और अनकम्फर्टेबल हो सकती है। हिमोरॉइड्स महिलाओं और पुरुषों दोनों में होना सामान्य है। लेकिन, कुछ स्थितियों में इसका जोखिम बढ़ सकता है, जैसे:

यह भी पढ़ें: बवासीर या पाइल्स का क्या है आयुर्वेदिक इलाज

बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज

क्या हैं हिमोरॉइड्स के कारण? (Causes of hemorrhoids)

सामान्य, तौर पर बवासीर का कारण पेल्विस और गुदा क्षेत्र में नसों पर दबाव बढ़ जाता है। इसके कई कारण हो सकते हैं, जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

कुछ मामलों में ख़राब खानपान और बिगड़ती जीवनशैली आदि के कारण भी यह समस्या हो सकती है

हिमोरॉइड्स के लक्षण (Symptoms of hemorrhoids)

हिमोरॉइड्स यानी पाइल्स की समस्या आनुवांशिक कारणों से भी होता है। इसके लक्षण हर व्यक्ति के लिए अलग होते हैं। कुछ लोगों को इसके लक्षण गंभीर होते हैं, कई लोगों में यह हल्के होते हैं। जानिए इसके लक्षणों के बारे में:

  • दर्द रहित मलाशय रक्तस्राव, आमतौर पर एक छोटी मात्रा में (Painless Rectal Bleeding)
  • गुदा में दर्द और खुजली (Anal Itching or Pain)
  • गुदा के आसपास टिश्यू बल्जिंग (Tissue Bulging around the Anus)
  • मल त्याग के बाद सफाई में कठिनाई (Difficulty Cleaning after a Bowel Movement)

रेक्टल ब्लीडिंग (Rectal Bleeding)

हिमोरॉइड्स से पीड़ित लोग अपने मल में ब्राइट रेड रंग के खून के धब्बे भी नोटिस कर सकते हैं। आमतौर पर यह खून की मात्रा कम होती है। हालांकि, अधिक ब्लीडिंग बहुत कम सामान्य है। जबकि बवासीर मलाशय के रक्तस्राव के सबसे सामान्य कारणों में से एक है। हालांकि, जांच के बिना इनके बारे में जानना संभव नहीं है। यदि आपको मल त्याग के बाद रक्तस्राव दिखाई देता है, तो आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

रेक्टल पेन (Rectal Pain)

पाइल्स में रेक्टल एरिया की ब्लड वेसल्स बड़ी हो जाती हैं, जिसके कारण जलन के साथ दर्द की समस्या हो सकती है। यही वजह है कि कुछ केसेस में बवासीर दर्दनाक हो सकता है। यदि आपको गंभीर दर्द हो, तो अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता को तुरंत कॉल करें। यह एक गंभीर समस्या का संकेत हो सकता है।

हिमोरॉइड्स के प्रकारों के बारे में जानें (Hemorrhoid Types)

हिमोरॉइड्स दो तरह के होते हैं। बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) कराने से पहले आपको इनके प्रकारों के बारे में पता होना चाहिए। इनके प्रकारों के अनुसार आप इन्हें पहचान कर इसका इलाज करा सकते हैं। इसके प्रकार इस तरह से हैं:

यह भी पढ़ें: Hemorrhoids: हिमोरॉइड्स (पाइल्स) क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

एक्सटर्नल हिमोरॉइड्स (External Hemorrhoids)

एक्सटर्नल हिमोरॉइड्स गुदा के बाहर दिखाई देते हैं और गुदा के निचले हिस्से में होते हैं। ये सूजन भरे हो सकते हैं, जिससे नसों के अंदर रक्त का थक्का बन सकता है। यह एक थ्रोम्बोस्ड (Thrombosed) या क्लॉटेड बवासीर (Clotted Hemorrhoid) है।

इंटरनल हिमोरॉइड्स (Internal Hemorrhoids)

इंटरनल हिमोरॉइड्स आमतौर पर बाहर की तरफ दिखाई नहीं देते हैं। इसका कारण यह है कि वे एनल कैनाल में उत्पन्न करते हैं। बॉवेल मूवमेंट के बाद अधिकतर इंटरनल बवासीर रक्तस्राव का कारण बनता है। अगर इंटरनल हिमोरॉइड्स बड़ा या गंभीर हो जाता है तो यह गुदा से बाहर भी आ सकता है और दिखाई देता है यह दर्दभरा हो सकता है।

Hemorrhoids Treatment without Surgery

हिमोरॉइड्स का नॉनसर्जिकल ट्रीटमेंट

अब बात करते हैं बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) कैसे होता है। हिमोरॉइड्स के उपचार का सबसे मुख्य स्टेप यह है कि कब्ज की समस्या को ध्यान में रख कर किया जाता है। क्योंकि, सख्त मल रेक्टल ब्लीडिंग और गुदा में समस्या का कारण बन सकता है जिसे एनल फिशर कहा जाता है। अपने आंत्र को स्थानांतरित करने के लिए धक्का देने और दबाव देने के साथ मौजूदा बवासीर बदतर हो सकती है। हिमोरॉइड्स का नॉनसर्जिकल ट्रीटमेंट इस प्रकार हैं:

फाइबर सप्लीमेंट्स (Fiber supplements) —

अपने डायट में पर्याप्त फाइबर लेना अपने मल को नरम करने का सबसे अच्छा तरीका है। फाइबर फल और सब्जियों से प्राप्त किए जा सकते हैं। आपको इस स्थिति में रोजाना 25 से 35 ग्राम अपने आहार में फाइबर लेना चाहिए। कई फाइबर सप्लीमेंटस भी यहां मौजूद हैं जैसे मिथाइलसैलूलोज साइलियम (Methylcellulose Psyllium) और वीट डेक्सट्रिन (Wheat Dextrin)। सप्लीमेंट्स लेने से पहले डॉक्टर की सलाह अनिवार्य है।

Quiz: कहीं आपको बवासीर (पाइल्स) तो नही? पाइल्स के बारे में जानने के लिए खेलें क्विज

लैक्सेटिव्स (Laxatives) —

इसके बाद बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) है लैक्सेटिव का प्रयोग। लेकिन, कई लोग नियमित रूप से इनका सेवन करने से बचते हैं। उन्हें ऐसा लगता है कि जब वो इनका प्रयोग करना बंद कर देंगे तो प्राकृतिक बॉवेल मूवमेंट में उन्हें समस्या होगी। लेकिन, यह समझना जरूरी है कि लैक्सेटिव एक आदत नहीं हैं। वास्तव में, लैक्सेटिव का उपयोग भविष्य में आपके कब्ज के जोखिम को नहीं बढ़ाता है। इसके बजाय, वे वास्तव में कब्ज से जुड़ी दीर्घकालिक समस्याओं को रोक सकते हैं। इसके लिए आप प्राकृतिक लैक्सेटिव का प्रयोग भी कर सकते हैं जैसे एलोवेरा, चिया सीड्स, जिंजर या मिंट टी आदि।

वार्म सिट्ज़ बाथ्स (Warm Sitz Baths) —

वार्म सिट्ज़ बाथ्स में आप को अपने रेक्टल एरिया को दस से पंद्रह मिनटों के लिए दिन में दो से तीन बार गर्म पानी में रखना होता है। यह टब बहुत सी दुकानों में उपलब्ध होता है। लेकिन, ध्यान रहे इस पानी में आपको साबुन या अन्य किसी भी चीज को नहीं डालना है। सिट्ज़ बाथ रक्त के प्रवाह में सुधार और गुदा के आसपास की मांसपेशियों को आराम पहुंचाने का काम करता है।

यह भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी में पाइल्स: 8 आसान टिप्स से मिलेगी राहत

टॉपिकल ट्रीटमेंट्स (Topical Treatment) —

बाजार में बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) करने के लिए कई तरह की क्रीम और सपोसिटरीज मौजूद हैं। इनमें से अधिकतर ओवर-द-काउंटर बिना डॉक्टर की सलाह के मौजूद हैं। यह क्रीम और रेक्टल सपोसिटरीज अस्थायी दर्द, जलन और खुजली से राहत दिलाने में मदद कर सकती हैं। लेकिन, आपको एक सप्ताह से अधिक समय तक रक्तस्रावी क्रीम और सपोसिटरी, विशेष रूप से हाइड्रोकोर्टिसोन का उपयोग नहीं करना चाहिए। अगर आप इसका अधिक समय तक प्रयोग करना चाहते हैं, तो आपको इससे पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। यदि आपकी समस्या के हलके लक्षण नजर आ रहे हैं, तो इन दवाओं की सलाह दे सकते हैं। बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) करने के लिए यह दवाइयां मददगार हो सकते हैं। यह दवाइयां इस स्थिति का इलाज नहीं कर सकती हैं लेकिन इसके लक्षणों को कम करने में मददगार हैं।

अन्य टिप्स (Other Tips)

बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) करने के लिए सबसे जरूरी है आपको अपने लाइफस्टाइल में परिवर्तन लाना। अगर आप इस समस्या से राहत पाना चाहते हैं तो आपको अपने जीवन में कुछ बदलाव लाने चाहिए, जैसे:

व्यायाम (Exercise) :रोजाना कुछ देर व्यायाम करने से आपको बोवेल मूवमेंट को स्टिमुलेट करने में मदद मिलेगी। जैसे दिन में 20–30 मिनटों तक सैर करनी। इससे आप हिमोरॉइड्स की समस्या से कुछ हद तक राहत पा सकते हैं।

बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज

दिनचर्या बनाएं (Make a Schedule) : जब आपको मल त्याग की इच्छा हो, तुरंत बाथरूम जाएं। इसके लिए इंतजार न करें। क्योंकि इससे मल पीछे चला जाएगा जिससे दबाव और स्ट्रैनिंग बढ़ती है। इसलिए, रोजाना मल त्याग का एक समय रखें और रोजाना उसी समय पर मल त्याग करें। इससे आपको नियमित बोवेल हैबिट को बनाए रखने में मदद मिलेगी।

आहार (Right Food) : बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) करने के लिए सबसे जरूरी है सही आहार। अगर आपका खानपान सही नहीं होगा तो कब्ज की समस्या होना सामान्य है। कब्ज की समस्या के कारण हिमोरॉइड्स की परेशानी बढ़ सकती है। सादा और हल्का आहार मल की नरमता को बनाए रखने में मददगार हो सकता है। इसलिए अधिक फाइबर युक्त आहार जैसे फल, सब्जियां, साबुत अनाज आदि लें। इसके साथ ही अधिक से अधिक पानी और हेल्दी पेय पदार्थों का सेवन भी अनिवार्य है।

तनाव से बचें (Avoid Stress) : चिंता या तनाव भी कब्ज का एक कारण है और इससे हिमोरॉइड्स की समस्या भी हो सकती है इसलिए, अगर आप इस परेशानी से बचना चाहते हैं तो सबसे पहले खुद को चिंता और तनाव मुक्त रखने की कोशिश करें इसके लिए आप मेडिकल हेल्प भी ले सकते हैं

यह भी पढ़ें: बवासीर (piles) का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? पाइल्स होने पर क्या करें और क्या न करें?

सबसे जरूरी है हिमोरॉइड्स के लक्षणों को पहचानना। गंभीर मामलों में सर्जरी जरूरी है, लेकिन अगर यह शुरुआती चरणों में है तो बिना सर्जरी हिमोरॉइड्स का इलाज (Hemorrhoids Treatment without Surgery) हो सकता है। अगर आप अपने रेक्टम यानी मलाशय से ब्लीडिंग नोटिस करते हैं तो तुरंत डॉक्टर से जांच कराएं। क्योंकि यह किसी अन्य गंभीर स्थिति के कारण भी हो सकता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Simple, Painless Hemorrhoid Treatment Without Surgery.https://www.capitalhealth.org/news/simple-painless-hemorrhoid-treatment-without-surgery .Accessed on 05/04/21

Hemorrhoids and what to do about them.https://www.health.harvard.edu/diseases-and-conditions/hemorrhoids_and_what_to_do_about_them .Accessed on 05/04/21

Hemorrhoids: Which Treatment Should I Use?. https://www.uofmhealth.org/health-library/aa66614 .Accessed on 05/04/21

treatment of complicated hemorrhoids without surgery. https://www.alliedacademies.org/proceedings/new-discovery-of-treatment-of-complicated-hemorrhoids-without-surgery-1486.html .Accessed on 05/04/21

Hemorrhoidectomy. https://surgery.ucsf.edu/conditions–procedures/hemorrhoidectomy.aspx .Accessed on 05/04/21

Hemorrhoids. https://www.sclhealth.org/services/gastro/colon-and-rectal-conditions/hemorrhoids/ .Accessed on 05/04/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 06/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड