आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Stomach Pimples: स्टमक पिंपल की हो जाए समस्या, तो क्या करना चाहिए समाधान?

    Stomach Pimples: स्टमक पिंपल की हो जाए समस्या, तो क्या करना चाहिए समाधान?

    अगर आपकी स्किन हेल्दी है, तो यकीनन आपको इसे सुंदर दिखाने के लिए ज्यादा प्रयास नहीं करने पड़ते हैं।अगर आपका शरीर स्वस्थ है, तो स्किन हेल्दी होने के चांसेज भी बढ़ जाते हैं। कई बार स्किन संबंधी समस्याएं स्किन के प्रकार पर भी निर्भर करती है। एक ऐसी ही समस्या है पिंपल की समस्या। लोगों में विभिन्न प्रकार की स्किन पाई जाती हैं। कुछ लोगों में ऑइली स्किन पाई जाती है, तो कुछ लोगों में ड्राय स्किन। वहीं नॉर्मल स्किन वाले लोगों को स्किन संबंधित समस्याओं का सामना कम करना पड़ता है। आपने अक्सर ऑयली स्किन वाले लोगों में मुंहासों की समस्या के बारे में सुना होगा। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारे चेहरे में बहुत सारी ऑयल ग्लैंड्स पाई जाती है। यह किसी कारण से बंद हो जाती हैं, तो मुंहासों की समस्या पैदा हो जाती है। लेकिन क्या आप जाते जानते हैं की स्टमक पिंपल (Stomach Pimples) की समस्या भी हो सकती है। जी हां! पेट में भी पिंपल हो सकते हैं। आखिर पेट में मुहांसे की समस्या किन लोगों को होती है? अगर यह समस्या हो जाए, तो ऐसे में कारण क्या हो सकते हैं और साथ ही इस समस्या से छुटकारा कैसे पाया जा सकता है। आइए जानते हैं इससे संबंधित अहम जानकारी।

    और पढ़ें: इसोफैगस: पाचन तंत्र के इस अंग के बारे में कितना जानते हैं आप?

    स्टमक पिंपल (Stomach Pimples) क्या है?

    स्टमक पिंपल (Stomach Pimples)

    पिंपल्स विभिन्न प्रकार के हो सकते हैं। यह ब्लैकहेड्स के रूप में, वाइट हेड्स के रूप में, सिस्ट के रूप में या फिर पस्टयूल्स (pustules) के रूप में भी हो सकते हैं। एक्ने की समस्या अगर पेट में हो रही है, तो उससे संबंधित कोई ना कोई कारण जरूर होगा। जैसे कि हमने आपको पहले ही बताया कि चेहरे में मुंहासों की समस्या इसलिए होती है क्योंकि चेहरे में सबसे अधिक तेल की ग्रंथियां पाई जाती हैं। जबकि शरीर के अन्य भाग में इतनी मात्रा में तेल की ग्रंथियां नहीं पाई जाती है। लेकिन कुछ लोगों को यह समस्या पेट में भी पैदा हो सकती है। आइए जानते हैं कि पेट में यह समस्या आखिर क्यों पैदा होती है?

    और पढ़ें: इजी डायजेस्टिव फूड के बारे में जाने यहां और अपने पाचन को दे आराम

    स्टमक पिंपल के क्या हो सकते हैं कारण (Causes a stomach pimple)?

    स्टमक पिंपल की समस्या को आम समस्या नहीं माना जा सकता है क्योंकि पेट के आसपास के स्थान में तेल की ग्रंथियां बहुत कम मात्रा में होती है। चेहरे और ऊपरी धड़ में तेल ग्रंथियों की मात्रा अधिक होती है। जब डेड स्किन सेल्स के साथ तेल ग्रंथियों का संयोजन हो जाता है, तो पोर्स बंद हो जाते हैं। अगर आपको पेट में इस प्रकार की समस्या दिख रही है, तो यह इनग्रोन हेयर (ingrown hair) हो सकते हैं। जब आपके रोम छिद्र या पोर्स के नीचे बाल बढ़ने लगते हैं, तो इस प्रकार की समस्या पैदा हो सकती है। इनग्रोन हेयर सिस्ट के रूप में बदल जाते हैं। कुछ केसेज में बेसल सेल कार्सिनोमा के कारण भी पेट में पिंपल की समस्या पैदा हो सकती है।

    फॉलिकुलिटिस (folliculitis) कंडीशन भी मुंहासों के समान होती है और ये पिंपल्स या स्टमक पिंपल का कारण बनती है। फॉलिकुलिटिस एक आम समस्या है, जिसमें आपके पोर्स में सूजन आ जाती है। आमतौर पर यह वायरल या फंगल इंफेक्शन से संबंधित होता है। फॉलिकुलिटिस आमतौर पर एक छोटे लाल गांठ या सफेद सिर के रूप में शुरू होता है, लेकिन यह फैल सकता है या एक खुला घाव बन सकता है। इस घाव में आपको दर्द का एहसास हो सकता है। अगर आप तंग कपड़े पहनते हैं, तो समस्या बढ़ भी सकती है। इसमें खुजली की समस्या पैदा होने के साथ ही फफोले भी पड़ सकते हैं, जो टूट कर खुल जाते हैं और ऊपर पपड़ी बन जाते हैं।

    और पढ़ें: जानिए पेट में खाना कब तक रहता है और कैसे होता है इसका पाचन

    पेट के पिंपल से कैसे मिल सकता है छुटकारा?

    आपके मन में यह सवाल जरूर आ रहा होगा कि आखिरकार पेट के पिंपल या स्टमक पिंपल से कैसे छुटकारा पाया जा सकता है? आप स्टमक पिंपल की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं लेकिन आपको कुछ बातों का ध्यान रखने की भी जरूरत है। अगर आपके पेट में फुंसी या फोड़ा कभी भी हो जाए और यह संक्रमण के कारण है, तो ऐसे में आपको बहुत सावधानी और उस स्थान की साफ-सफाई रखने की जरूरत है। जानिए कुछ उपायों के बारे में, जो आप घर पर इस्तेमाल कर सकते हैं।

    1. ऐसे में आपको वार्म कंप्रेस का इस्तेमाल करना चाहिए। सबसे पहले एक कपड़े को गिला कर लें। आप पेपर टॉवल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें आपको वार्म यानी कि गुनगुने नमक युक्त पानी का इस्तेमाल करना होगा। ऐसे आप पिंपल वाले स्थान पर साफ करें। संक्रमण को दूर करने में यह प्रोसेस बहुत काम आता है
    2. अगर आपको पिंपल में खुजली की समस्या हो रही है, तो ऐसे में आपको लोशन या क्रीम का इस्तेमाल करना चाहिए। आप हाइड्रोकार्टिसोन एंटी-इच लोशन (hydrocortisone anti-itch lotion) का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपको बहुत राहत मिलेगी।
    3. साथ ही जिस स्थान पर पिंपल है, वहां पर आपको किसी भी चीज को रगड़ने से बचना चाहिए। आपको ऐसे में टाइट कपड़े ना पहन कर ढीले कपड़े पहनने चाहिए। ऐसा करने से घाव अधिक बढ़ेगा नहीं।
    4. अगर आपको पेट में पिंपल की समस्या है, तो ऐसे में आपको पेट के आसपास के बालों को नहीं हटाना चाहिए। जब तक कि पिंपल पूरी तरीके से ठीक नहीं हो जाते हैं।
    5. आपको अगर अधिक समस्या हो रही है, तो ऐसे में आपको ओवर-द- काउंटर दवाओं और क्रीम का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। आपको इससे राहत भी मिल जाएगी और साथ ही पिंपल वाले स्थान को साफ करने में मदद मिलेगी।
    6. आपको पिंपल के आसपास के स्थान को एक्सफोलिएट भी करना चाहिए ताकि डेड स्किन को हटाने में मदद मिल सके।
    7. दिन में कम से कम दो बार साबुन और गर्म पानी से पिंपल वाले स्थान की सफाई करें। सफाई के बाद घाव पर नियोस्पोरिन जैसा एंटीबायोटिक मरहम लगाएं।
    8. अगर फॉलिकुलिटिस में सुधार नहीं होता है, तो इसका कारण यह भी हो सकता है कि इंफेक्शन फंगल या बैक्टीरिया से संबंधित नहीं है। इस कंडीशन में, माइक्रोनाजोल ओटीसी (OTC) एंटिफंगल क्रीम का इस्तेमाल किया जा सकता है।

    और पढ़ें: 8 प्राकृतिक पाचक एंजाइम युक्त खाद्य पदार्थ जो पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में करेंगे मदद!

    स्टमक पिंपल की समस्या आम तौर पर अपने आप ठीक हो जाती है। घरेलू उपाय की मदद से यह 1 से 2 हफ्ते में ठीक हो जाता है। आपको पिंपल को फोड़ना नहीं चाहिए क्योंकि ऐसे में संक्रमण फैल सकता है। अगर फिर भी दो से तीन हफ्तों में स्टमक पिंपल की समस्या खत्म नहीं हो रही है और साथ ही आप घाव न भरने के साथ दर्द की भी समस्या है, तो ऐसे में आपको डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए। आप इस बारे में डॉक्टर से अधिक जानकारी ले सकते हैं।

    और पढ़ें: दूध का पाचन होने में कितना समय लगता है? जानिए दूध के बारे में सबकुछ

    इस आर्टिकल में हमने आपको स्टमक पिंपल (Stomach Pimples) के बारे में अहम जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की ओर से दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको स्किन कंडीशन के संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हैलो हेल्थ की वेबसाइट में आपको अधिक जानकारी मिल जाएगी।

    health-tool-icon

    बीएमआर कैलक्युलेटर

    अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/04/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: