मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स: प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट में आने वाले इस बदलाव से ना हो परेशान!

    मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स: प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट में आने वाले इस बदलाव से ना हो परेशान!

    अगर आपने निप्पल्स को ध्यान से देखा होगा तो आपने नोटिस किया होगा कि एरोला की डार्क स्किन के आसपास की त्वचा पर कुछ छोटे बम्प्स होते हैं। कुछ अजीब लग सकते हैं, लेकिन वे वास्तव में पूरी तरह से सामान्य हैं। उन्हें मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स (Montgomery tubercles) या मोंटगोमरी ग्लैंड (Montgomery glands) के रूप में जाना जाता है। ये बच्चे को स्तनपान कराने में मदद करते हैं। मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स ल्यूब्रिकेशन ग्लैंड्स (Lubrication glands) हैं जो ऑयल प्रोड्यूस करती हैं और एरोलाज और निप्पल्स को ब्रेस्टफीड के दौरान सॉफ्ट रखती हैं।

    इन बम्प से प्रोड्यूस होने वाले ऑयल में एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं। इसके साथ ही इसमें एक स्पेशल सेंट होता है। कुछ रिसर्च में बताया जाता है कि नवजात इस ऑयल की खुशबु से निप्पल की लोकेशन को पहचानते हैं और ब्रेस्टफीड करते हैं। ये ऑयल निप्पल को भी प्रोटेक्ट करता है। इस आर्टिकल में मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स औरमोंटगोमरी ग्लैंड्स जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी दी जा रही है।

    मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स (Montgomery tubercles) क्या हैं और ये कब दिखाई देते हैं?

    मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स (Montgomery tubercles) एक प्रकार के बम्प्स होते हैं जिनमें किसी प्रकार का दर्द नहीं होता है, लेकिन इनके संक्रमित होने पर दर्द हो सकता है। ये बम्प्स हर महिला में अलग तरह के हो सकते हैं। कुछ महिलाओं में ये नहीं भी दिखाई दे सकते। कई बार इनमें बैक्सी सब्सटेंस होता है इसलिए ये कई बार पीले या सफेद पिंपल की तरह दिखाई देते हैं। महिलाओं में मोंटगोमरी ग्लैंड्स होती हैं लेकिन ये अर्ली प्रेग्नेंसी के दौरान ज्यादा बड़ी, डार्क और नोटिसेबल हो जाती हैं। यह ट्रांसफॉर्मेशन प्रेग्नेंसी का पहला संकेत हो सकता है। पीरियड मिस होने से पहले भी ये दिखाई दे सकते हैं।

    जिसके साथ ही दूसरे ब्रेस्ट चेंजेंस जैसे कि कोमल निपल्स भी दिखाई दे सकते हैं। आप मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स (Montgomery tubercles) तब भी नोटिस कर सकते हैं जब आप प्रेग्नेंट ना हो। इसलिए आपको प्रेग्नेंसी टेस्ट करना जरूरी है। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान नोटिस में आने वाले ये मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स हमेशा परमानेंट नहीं होते। ब्रेस्टफीडिंग बंद करने के बाद ये सिकुड़ जाते हैं और अपने ओरिजनल साइज में वापस आ जाते हैं।

    और पढ़ें: जिनसेंग को प्रेग्नेंसी में लेना कितना सुरक्षित है, जानिए इस आर्टिकल के माध्यम से

    मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स की केयर कैसे करें? (How to take care of Montgomery tubercles?)

    ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली मांओं को निप्पल्स को साबुन से नहीं धोना चाहिए। इसके साथ ही निप्पल पर किसी प्रकार का डिसइंफेक्टेंट्स या किसी दूसरे सब्सटेंस जो निप्पल्स के डैमेज या ड्राय होने का कारण बनते हैं उनका उपयोग ना करें। इसकी जगह ब्रेस्ट को पानी से साफ करें। ताकि वह ऑयल ना बहें जो कि निप्पल को कोमल और जर्म फ्री रखता है। इसके साथ ही अगर आप ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं तो ब्रेस्ट मिल्क की कुछ बूंदें निप्पल पर मल लें। क्योंकि इसमें मॉश्चराइजिंग (Moisturizing) और एंटीमाइक्रोबियल (Antimicrobial) प्रॉपर्टीज होती हैं। ये इंफेक्शन से बचाने में मददगार भी है।

    इसके साथ ही ऐसी ब्रा और पैड्स का यूज करें जो ब्रीदेबल मटेरियल (Breathable material) से बनी हो जिसमें कॉटन शामिल है। जो ग्लैंड्स को ड्रा और इंफेक्शन फ्री रखेगा। अगर आपके निप्पल में क्रेक है या उनमें सूखापन है, तो डॉक्टर की सलाह पर कोई क्रीम या मॉश्चराइजर यूज करें।

    और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में एल्डरबेरी: जानिए इसके फायदे और नुकसान के बारे में

    अगर मोंटगोमरी ग्लैंड्स में इंफेक्शन हो जाए तो क्या करें? (What to do if Montgomery glands get infected?)

    दुर्भाग्य से ये ग्लैंड्स इंफेक्टेड हो सकते हैं। इनमें नोचें या छेड़ें नहीं। अगर आप इनमें किसी प्रकार की कोई लालिमा, दर्द या सूजन को नोटिस करें तो डॉक्टर को दिखाएं। हॉट कंप्रेस और ओरल एंटीबायोटिक्स आसानी से इंफेक्शन का इलाज कर सकते हैं। जिससे ये नॉर्मल शेप और साइज में वापस आ सकते हैं। अगर आप खुजली या चकत्ते का अनुभव करते हैं तब भी डॉक्टर से संपर्क करें क्योंकि ये यीस्ट इंफेक्शन (Yeast infection) का संकेत हो सकता है। अगर आप किसी डिस्चार्ज का अनुभव करती हैं या ब्लड या पस आता है ब्रेस्ट तो डॉक्टर से बात करना जरूरी हो जाता है। ब्रेस्ट के कुछ बदलाव ब्रेस्ट कैंसर का लक्षण भी हो सकता है। जिसमें निम्न शामिल हैं।

    • आपके स्तन पर सख्त गांठ
    • निप्पल के आकार या आकार में परिवर्तन
    • आर्मपिट में बढ़े हुए लिम्फ नोड्स
    • वजन में कमी
    • एक स्तन के शेप या साइज में परिवर्तन
    • निप्पल से डिस्चार्ज

    मोंटगोमरी ग्लैंड्स (Montgomery glands) को कैसे हटाएं?

    मोंटगोमरी ग्लैंड्स (Montgomery glands) को हटाने का कोई कारण नहीं है। क्योंकि ये मॉश्चराइज करके और इंफेक्शन से बचाकर आपके निप्पल्स को प्रोटेक्ट करती हैं। सर्जरी, लेजर या इलेक्ट्रोड के द्वारा इसे रिमूव किया जा सकता है, लेकिन सामान्य तौर पर इसकी जरूरत नहीं पड़ती। अगर आप ब्रेस्टफीडिंग फ्री हो चुकी हैं और आप भविष्य में प्रेग्नेंसी प्लानिंग नहीं करना चाहती, तो आप इन्हें डॉक्टर की सलाह पर हटा सकती हैं। सर्जिकल रिमूवल में डॉक्टर एरोला के पास कट (Excision) लगाते हैं। यह एक हॉस्पिटल में किया जाने वाला प्रॉसीजर है जिसमें लगभग 30-40 मिनट का समय लगता है। इसके लिए हॉस्पिलाइजेशन की जरूरत नहीं होती है। सर्जरी के बाद घाव का निशान हो सकता है।

    और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में आयोडीन का सेवन है फायदेमंद, लेकिन इसे सही मात्रा में लेना है आवश्यक!

    क्या प्रेग्नेंसी के बिना भी मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स हो सकती हैं? (Can Montgomery tubercles occur without pregnancy?)

    कई महिलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स (Montgomery tubercles) नोटिस करती हैं, लेकिन हॉर्मोनल इंबैलेंस, तनाव और वजन में होने वाला परिवर्तन इन्हें अधिक नोटिसेबल बना देता है। अगर आप प्रेग्नेंट नहीं है तो कृपया अपने डॉक्टर से बात करें और हॉर्मोन लेवल को चेक करें। मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स (Montgomery tubercles) महिलाओं की लाइफ का जरूरी हिस्सा है। ये आपको देखने में खराब लग सकते हैं लेकिन इनके प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कई फायदे हैं। इनमें किसी प्रकार की छेड़छाड़ किए बिना इन्हें ऐसे ही रहने दें। अगर इनमें किसी प्रकार का इंफेक्शन या कोई अन्य परेशानी हो रही है तो डॉक्टर की सलाह लें।

    मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स (Montgomery tubercles) कर रहे हैं परेशान तो अपनाए जा सकते हैं ये उपाय

    अगर आप प्रेग्नेंट नहीं है ना ही ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं और मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स (Montgomery tubercles) का साइज कम करना चाहती हैं तो निम्न उपाय अपनाए जा सकते हैं।

    • गर्म पानी में एक टॉवेल को डुबोए और उसे दोनों निप्पल पर 20 मिनट के लिए रखें।
    • एलोवेरा जेल, शिया बटर और कोको बटर निप्पल्स के पास लगाएं
    • हेल्दी डायट लें और शुगर और सॉल्ट इंटेक को कम करें जो उन ब्लॉकिंग कंडिशन को कम करने में मदद करते हैं जो ट्यूबरकल्स के साइज के बढ़ने का कारण बनती हैं।
    • अपने निप्पल्स को क्लीन रखें। प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ब्रेस्ट को गुनगुने पानी से धोएं। अगर आप ब्रेस्टफीडिंग नहीं करा रही हैं तो जेंटल क्लींजर का उपयोग किया जा सकता है।
    • ऑयल या किसी लुब्रिकेंट्स का उपयोग ना करें।

    और पढ़ें: पहली तिमाही से तीसरी तक प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट में आते हैं ये बदलाव, ऐसे करें देखभाल!

    इस बात का रखें ध्यान

    मोंटगोमेरी के ट्यूबरकल ब्रेस्ट फंक्शन का एक सामान्य हिस्सा हैं। जिसके लिए आमतौर पर चिंता की कोई बात नहीं होती है। यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं, तो इससे आपको और आपके बच्चे को लाभ होने की संभावना है। आमतौर पर ट्यूबरकल्स में दर्द नहीं होना चाहिए। आप शायद उन्हें ज्यादातर समय नोटिस भी नहीं करेंगे, लेकिन आपको अगर इनसे कोई तकलीफ हो रही है तो डॉक्टर से जरूर बताएं। इनके अलावा भी प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट में कई प्रकार के बदलाव होते हैं उनके बारे में भी डॉक्टर से जानकारी प्राप्त कर सकती हैं।

    उम्मीद करते हैं कि आपको प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग में मोंटगोमरी ट्यूबरकल्स (Montgomery tubercles) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 13/12/2021 को
    Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड