home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

ढूंढ रहे हैं डिलिवरी रूम के लिए एलर्जी फ्री फूल? ये हैं बढ़िया विकल्प

ढूंढ रहे हैं डिलिवरी रूम के लिए एलर्जी फ्री फूल? ये हैं बढ़िया विकल्प

कई बार मिलने आने वाले लोग तो आप खुद भी पार्टनर को खुश करने के लिए डिलिवरी रूम में फूल ले जाते हैं। आमतौर पर महिलाओं को फूल से बेहद लगाव होता है। गिफ्ट के रूप में फूल मिलने से वे खुश हो जाती हैं लेकिन, कई बार इन फूलों को लेकर जाना आपके लिए महंगा पड़ सकता है क्योंकि यह महिला की हेल्थ के लिए नुकसानदायक हो सकता है। इस लेख में हम आपको एलर्जी फ्री फूल से जुड़ी जानकारी देंगे…

कुछ महिलाओं को फूलों से एलर्जी होती है तो कुछ फूल एलर्जी का कारण बनते हैं। फूल में मौजूद पराग कई बार हवा में उड़कर मां और शिशु के लिए एलर्जी भरा माहौल पैदा कर देते हैं। जिससे लगातार छींक आना और खांसी जैसी समस्या हो सकती है।

जिन फूलों की महक तेज होती है उनमें पराग ज्यादा होता है। यहीं पौधे एलर्जी का कारण बनते हैं। परागण के दौरान, पराग मेल फ्लावर से निकलकर हवा के जरिए सेचन के लिए फीमेल फ्लावर तक जाता है। ये पार्टिकल अगर इनहेल कर लिए तो इससे इचिंग, स्नीजिंग और सूजन की शिकायत हो सकती है। नवजात शिशु के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं। इसलिए बेबी के लिए सबसे अच्छा गिफ्ट होगा कि आप उनके लिए हाइपोएलर्जेनिक फूल लेकर जाएं।

आज हम आपको कुछ ऐसी फूल की किस्मों के बारे में बता रहे हैं, जो न सिर्फ एलर्जी फ्री होंगे बल्कि पार्टनर को भी पसंद आएंगे।

एलर्जी फ्री फूल: हाइड्रेंजिया फूल (Hydrangea flower)

यह फूल नीले, बैंगनी, गुलाबी और सफेद रंगों में आते हैं। अलग-अलग रंगों में इनकी किस्म पार्टनर को बेहद पसंद आएगी। सबसे अहम बात यह है कि ये फूल एलर्जी फ्री हैं। इन्हें आप डिलिवरी रूम में ले जा सकते हैं।

और पढ़ेंगर्भावस्था में पालतू जानवर से हो सकता है नुकसान, बरतें ये सावधानियां

एलर्जी फ्री फूल: गुलाब के फूल (Rose flower)

गिफ्ट के तौर पर गुलाब को दुनियाभर में सबसे बेहतरीन माना जाता है। गुलाब कई रंगों में आता है। इसमें पोलेन का स्तर न्यूनतम होता है, जो डिलिवरी रूम के लिए सबसे अच्छा है। इन्हें 7-8 दिनों तक आसानी से रखा जाता है। मौका चाहे जो भी हो गुलाब के फूल देखकर सबका मन खुश हो जाता है।

एलर्जी फ्री फूल: पिओनिज फ्लावर (Peonies flowers)

यदि पार्टनर को फूलों से एलर्जी है तो पिओनिज फूल उनके लिए एकदम बढ़िया विकल्प हो सकते हैं। यह खुशबूदार फूल गुलाबी, सफेद, क्रीम कलर में आते हैं। इन फूलों का सीजन अप्रैल से जून तक रहता है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान अल्फा फिटोप्रोटीन टेस्ट(अल्फा भ्रूणप्रोटीन परीक्षण) करने की जरूरत क्यों होती है?

ट्यूलिप फ्लावर (Tulip flower)

फूलों की एलर्जी फ्री किस्मों में ट्यूलिप एक अन्य विकल्प है। वसंत ऋतु में ट्यूलिप की अनेकों वैरायटी मिलती हैं। आमतौर पर यह फूल सालभर उपलब्ध होता है।

हालांकि, सालभर इसकी समान्य वैरायटी बाजार में उपलब्ध होती हैं। डबल ट्यूलिप, फ्रेंच ट्यूलिप, फ्रिंग्ड ट्यूलिप और पेरेट ट्यूलिप इसकी कुछ अन्य किस्मे हैं। आप अलग-अलग रंगों के ट्यूलिप फूलों को एक गुलदस्ते में गिफ्ट के तौर पर लेकर जा सकते हैं।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में कार्पल टर्नल सिंड्रोम क्यों होता है?

एलर्जी फ्री फूल: ईरिस (Irises)

ट्यूलिप की तरह ईरिस फ्लावर भी एलर्जी से परेशान लोगों के लिए बेहतर ऑप्शन है। ये भी वसंत ऋतु में आने वाले फूल हैं। ये ब्लू, लाइट ब्लू, व्हाइट और यैलो कलर में आते हैं। आप अपनी पसंद के अनुसार फूलों का चयन करके गुलदस्ता बनवाकर अपने करीबी के लिए ले जा सकते हैं। फूलों को लेने से पहले एक बार उनकी गुणवत्ता जांच लें।

एलर्जी फ्री फूल: लिली के फूल (Lily flower)

इस फूल की कई किस्में पोलेन (पराग) फ्री होती हैं। यह गुलाबी, लाल और संतरी जैसे चमकदार रंगों में मिल जाते हैं। पोलेन फ्री होने की वजह से मां और शिशु के संपर्क में आने से उन्हें छींक नहीं आएगी। हालांकि, तेज खुशबुदार वाले लिली के फूल कुछ लोगों के लिए संवेदनशील हो सकते हैं। इन्हें खरीदने से पहले अपने डॉक्टर और इसके विक्रेता से एक बार इनके पोलेन फ्री होने के बारे में पूछ लें। खरीद रहे फूल से जुड़ी सारी जानकारी जुटाने के बाद ही ये फूल लेकर जाने का फैसला लें।

एलर्जी फ्री फूल: ऑर्किड के फूल (Orchid flower)

नवजात और मां को गिफ्ट के तौर पर इन फूलों को देना बढ़िया विकल्प रहेगा। यह फूल आपको अलग-अलग रंगों में मिल जाएंगे। इन्हें खरीदने से पहले एक बार फूल विक्रेता से इनके पोलेन फ्री होने के बारे में जानकारी जरूर मांग लें। इस फूल की कुछ किस्म एलर्जी पैदा करने वाली हो सकती हैं।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में ड्रैगन फ्रूट खाना सेफ है या नहीं?

एलर्जी फ्री फूल: डैफोडिल फ्लावर (Daffodil flower)

डैफोडिल फ्लावर वसंत के मौसम में आने वाले फूल हैं। ये चमकदार फूल पराग मुक्त नहीं हो सकते लेकिन इन्हें हाइपोएलर्जेनिक फूल माना जाता है। हालांकि ये फूल दूसरे फूलों की तुलना में कम पराग का उत्पादन करते हैं। यदि कोई एलर्जी से पीड़ित है तो ऐसे में इन फूलों को ले जाने की सलाह नहीं देते हैं।

यहां बताए गए फूलों की खुशबू से न सिर्फ वे तरोताजा महसूस करेंगी बल्कि, यह पूरे डिलिवरी रूम को सुगंध से भर देंगे। अगर आप किसी प्रेग्नेंट महिला से या डिलिवरी के बाद उससे मिलने जा रहे हैं और साथ में फूल लेकर जा रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि वे पोलेन फ्री या नहीं। हमेशा एलर्जी फ्री फूल लेकर ही मिलने जाएं।

फूलों को खरीदने से पहले इन बातों का रखें ध्यान:

  • बहुत सारे हॉस्पिटल में फूल ले जाने की अनुमति नहीं होती है। इसलिए यदि आप अपने किसी अपने से अस्पताल मिलने जा रहे हैं तो पहले आप यह पता करले कि उस हॉस्पिटल में फूल ले जाने की अनुमति है या नहीं।
  • हमेशा एलर्जी फ्री फूल का चयन करें। हमने ऊपर आपको ऐसे कुछ फूलों की जानकारी भी दी है।
  • फूलों को लेते समय इस बात का ध्यान दें कि फूलों में बग या कीड़े तो नहीं है। या फिर फूलों के ऊपर बग तो नहीं आ रहे जो पूरे अस्पताल के कमरे में फैल सकते हैं।
  • हमेशा ऐसे फूलों का चयन करें जिनके तने लकड़ी क हो। रिपोर्ट्स के अनुसार, इस तरह की तनों को जल्दी से धूप नहीं मिलती है। इन फूलों के लिए बार-बार पानी बदलने की जरूरत नहीं होती है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में मूली का सेवन क्या सुरक्षित है? जानें इसके फायदे और नुकसान

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में एलर्जी फ्री फूल से जुड़ी हर जरूरी जानकारी देने की कोशिश की गई है। यदि आप इससे जुड़ी अन्य कोई जानकारी पाना चाहते हैं तो आप अपना सावाल कमेंट कर पूछ सकते हैं। आपको हमारा यह लेख कैसा लगा यह भी आप हमें कमेंट सेक्शन में बता सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

The Allergen-Free Bedroom: https://www.greenamerica.org/green-living/allergen-free-bedroom Accessed July 23, 2020

Smart Gardening: Tips for an Allergy-Friendly Garden: https://community.aafa.org/blog/smart-gardening-tips-for-a-allergy-friendly-gardening Accessed July 23, 2020

Tips for choosing get well soon flowers: https://www.proflowers.com/blog/tips-for-choosing-get-well-flowers-for Accessed on 09/12/2019

Allergy Friendly Flowers: https://www.fiftyflowers.com/blog/top-10-allergy-friendly-flowers/ Accessed on 09/12/2019

Picking perfect Allergy Friendly Flowers: https://sg.theasianparent.com/picking-perfect-allergy-friendly-flowers-delivery-room Accessed on 09/12/2019

Best Worst Flowers for Allergy Sufferes: https://www.teleflora.com/floral-facts/best-worst-flowers-for-allergy-sufferers Accessed on 09/12/2019

Te Best Hypoallergenic Flowers: https://www.1800flowers.com/blog/flower-facts/the-best-hypoallergenic-flowers/ Accessed on 09/12/2019

Tips for choosing get well soon flowers: https://www.proflowers.com/blog/tips-for-choosing-get-well-flowers-for Accessed on 09/12/2019

लेखक की तस्वीर
Mayank Khandelwal के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Sunil Kumar द्वारा लिखित
अपडेटेड 19/08/2019
x