प्रेग्नेंसी के दौरान ट्राई की जा सकती हैं ये सेक्स पुजिशन

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट नवम्बर 5, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने का मन करता है तो पहले दिमाग में ये बात आती है कि इस दौरान सेक्स करना सही होगा या नहीं? अगर प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करते भी हैं तो प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन को लेकर मन में कई सवाल रहते हैं। प्रेग्नेंसी की आखिरी तिमाही में पेट का आकार बढ़ जाता है। इस समय सभी सेक्स पुजिशन आरामदायक नहीं होती हैं। कुछ सेक्स पुजिशन प्रेग्नेंट महिला के लिए आरामदायक हो सकती हैं। आपको इस बारे में जानकारी होना जरूरी है। गर्भावस्था में सेक्स पुजिशन को लेकर महिलाओं के मन में सावल और डर होता है जिसके बारे में जानकारी होना जरूरी है।

कोलकाता के फोर्टिस हॉस्पिटल की कंसल्टेंट गायनोकोलॉजिस्‍ट डॉ. सगारिका बसु कहती हैं कि, ”प्रेग्नेंसी के दिनों में सेक्स की उसी पुजिशन को अपनाएं जो पहले प्लेजर देती थी। शरीर में बदलाव की वजह से महिला चाहे तो सेक्स पुजिशन में कुछ बदलाव अपना सकती है। हो सकता है कि आपको नए पुजिशन ज्यादा अच्छी लगे।”

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में अपनाएं ये डायट प्लान

प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन को लेकर न हो परेशान

गर्भावस्था में सेक्स पुजिशन को लेकर आपके या पार्टनर के मन में कोई सवाल है तो आप एक बार नीचे दी गई सेक्स पुजिशन ट्राई कर सकते हैं। ये दोनों के लिए आरामदायक होगा। साथ ही इन पुजिशन को अपनाकर आप कई समस्याओं को भी दूर कर सकते हैं जो खासकर गलत सेक्स पुजिशन अपनाने के कारण होती हैं। प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन का ध्यान रखना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि इससे महिला के गर्भाशय पर भी असर पड़ सकता है।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।
  • सेक्स फ्रॉम बिहाइंड (Sex from behind)

इसे डॉगी स्टाइल से भी जाना जाता है। इस पुजिशन को तीसरी तिमाही में सही माना जाता है। इसमें महिला के बैक में और पेल्वक एरिया में ज्यादा प्रेशर नहीं पड़ता है। इस पुजिशन में महिला हाथ और घुटनों के बल आराम महसूस कर सकती है। इस दौरान सहूलियत के लिए तकिए का प्रयोग भी किया जा सकता है। प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन के लिए डॉगी स्टाइल का इस्तेमाल किया जा सकता है।

और पढ़ें: 5 तरह के फूड्स की वजह से स्पर्म काउंट हो सकता है लो, बढ़ाने के लिए खाएं ये चीजें

  • काउगर्ल पुजिशन (Cowgirl position)

गर्भावस्था में सेक्स पुजिशन को प्रेग्नेंसी की दूसरी तिमाही में अपनाना सही रहेगा। इसमें महिला अपने पार्टनर के ऊपर होती है। इस पुजिशन में पुरुष को जी स्पॉट तक पहुंचने में आसानी होती है। साथ ही काउगर्ल पुजिशन आपको और पार्टनर को ज्यादा प्लेजर फील करवा सकती है।

  • स्पूनिंग (spooning)

इस पुजिशन को प्रेग्नेंसी के दौरान कभी भी अपनाया जा सकता है। इस पुजिशन में कपल एक-दूसरे के साइड बाई साइड लेटते हैं। चूकिं प्रेग्नेंसी के दौरान पेट बड़ा होता है तो सामने से सेक्स नहीं किया जा सकता है। ऐसे में सेक्स को आरामदायक बनाने के लिए स्पूनिंग पुजिशन ट्राय  की जा सकती है। इस पुजिशन में कंफर्ट फील हो सकता है। गर्भावस्था में सेक्स पुजिशन में स्पूनिंग आरामदायक हो सकता है। मेरठ में रहने वाली सुजाता शर्मा ने बताया- प्रेग्नेंसी के दौरान मैंने स्पूनिंग पुजिशन को एंजॉय किया। ये बहुत आरामदायक है।

  • रिवर्स काउगर्ल (reverse cowgirl)

काउगर्ल पुजिशन में जब महिला साथी के ऊपर रहते हुए पुजिशन चेंज कर लेती है तो उसे रिवर्स काउगर्ल पुजिशन कहा जाता है।

  • स्टेन्डिंग ( standing)

ये पुजिशन प्रेग्नेंसी पहली या दूसरी तिमाही के दौरान आरामदायक रहती है। इस पुजिशन में महिला व पुरुष खड़े होकर सेक्स करते हैं। ये पुजिशन प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ लोगों को सही लग सकती है। प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपको कैसे सेक्स करना पसंद है।

  • सीटेड प्रेग्नेंसी सेक्स (seated pregnancy sex)

प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन में सीटेड प्रेग्नेंसी सेक्स पॉपुलर है। ये महिला के लिए कंफर्टेबल रहता है। इसमें पुरुष साथी को भी कोई दिक्कत नहीं होती है। गर्भावस्था में सेक्स पुजिशन के लिए लोग इस पुजिशन को चुनते हैं।

  • एनल सेक्स (Anal Sex)

अगर आपने प्रेग्नेंसी के पहले एनल सेक्स नहीं किया है तो हो सकता है प्रेग्नेंसी के दौरान ये आपको अजीब लगे। जो लोग इसे पहले कर चुके हैं, वो इसे अपना सकते हैं। एनल सेक्स में पुरुष अपना लिंग साथी के एनस में प्रवेश कराता है। गर्भावस्था में सेक्स पुजिशन के लिए एनल सेक्स को बहुत कम लोग पसंद करते हैं।

  • साइड सैडल सेक्स पुजिशन (Side saddle sex position)

इस पुजिशन के दौरान प्रेग्नेंट महिला को कुछ नहीं करना होता है। इस दौरान आप आराम से लेट सकती हैं। आपके पार्टनर को ही सारा काम करना पड़ेगा। तीसरी तिमाही में हो सकता है कि पीठ के बल लेटने पर आपको दिक्कत महसूस हो या फिर चक्कर जैसा लगे। ज्यादा देर इस अवस्था में न रहें। प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन चुनने से पहले आप चाहें तो अपने डॉक्टर से बात कर सकते हैं।

और पढ़ें : किन मेडिकल कंडिशन्स में पड़ती है आईवीएफ (IVF) की जरूरत?

गर्भावस्था में सेक्स कब इग्नोर करना चाहिए ?

किसी भी प्रकार का कॉम्पिलकेशन होने पर सेक्स नहीं करना चाहिए। अगर डॉक्टर ने मना किया है तो आपको इस बात का ध्यान रखना होगा। प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन को तभी सेफ माना जा सकता है जब आपको किसी भी प्रकार की समस्या न हो, और आपकी प्रेग्नेंसी नॉर्मल हो, नीचे दी हुई किसी भी प्रकार की समस्याएं से आप जूझ रही हैं तो सेक्स को इग्नोर करें।

  • प्रेग्नेंसी के दौरान ब्लीडिंग– गर्भावस्था के दौरान यदि ब्लीडिंग हो रही है तो बेहतर होगा कि सेक्स को एवॉइड करें।
  • पेट में किसी परेशानी की वजह से दर्द होना
  • गर्भाशय ग्रीवा में किसी प्रकार की समस्या होना
  • प्लेसेंटा प्रीविया के दौरान
  • वॉटर ब्रेक हो जाने पर
  • जुड़वा या अधिक बच्चे होने की स्थिति में- यदि गर्भ में एक से ज्यादा बच्चे हैं यानी मल्टी प्रेग्नेंसी में सेक्स न करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि मां का पेट बड़ा होता है, जिस वजह से सेक्स तकलीफ दे सकता है।
  • अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स एंजॉय नहीं कर रहे हैं तो ये बात आप पार्टनर को बता सकते हैं। मन न होने पर बेहतर होगा कि आप सेक्स न करें।
  • अगर आपको सेक्स के दौरान अधिक दर्द महसूस हो रहा हो तो आप इस बारे में डॉक्टर को भी बता सकते हैं। कई बार प्रेग्नेंसी में इंफेक्शन के दौरान भी ऐसी समस्या का सामना करना पड़ जाता है। बेहतर होगा कि आप इस बार में डॉक्टर को बताएं।
  • अगर प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने के दौरान ब्लीडिंग हो रही हो तो भी आपको डॉक्टर को जरूर बताना चाहिए। प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स को एंजॉय करना किया जा सकता है लेकिन सावधानी रखना भी बहुत जरूरी है।
  • अगर आपक प्रेग्नेंसी के दूसरे या तीसरे ट्राइमेस्टर में सेक्स करते हैं तो आपको बेबी मूवमेंट का अधिक एहसास हो सकता है। सेक्स के बाद अक्सर बेबी का मूवमेंट बढ़ जाता है। ऐसे में परेशान होने की जरूरत नहीं है। बच्चे का मूवमेंट दिन में किसी भी दौरान हो सकता है,लेकिन दिनभर मूवमेंट न होने पर आपको डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए।

और पढ़ें : कैसे स्ट्रेस लेना बन सकता है इनफर्टिलिटी की वजह?

गर्भावस्था में सेक्स : अपने डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए ?

प्रेग्नेंसी में आपके लिए सेक्स करना कितना सेफ यह आपके चिकित्सक ही बता पाएंगे। यदि सेक्स के दौरान आपको निम्नलिखित में से कोई परेशानी होती है तो इसके लिए

प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करना सही है या नहीं, ये बात आपको डॉक्टर से पूछनी चाहिए क्योंकि आपका डॉक्टर प्रेग्नेंसी के नॉर्मल या फिर कॉम्प्लिकेशन होने की बात जानता है। प्रेग्नेंसी के दौरान आजकल महिलाएं सेक्स करना अवॉयड करती हैं। अगर आपको प्रेग्नेंसी के संबंध में कोई भी समस्या है तो उचित होगा कि आप एक बार डॉक्टर से परामर्श करें। आप स्वास्थ्य संबंधि अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं।

powered by Typeform

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

सरोगेट मां का ध्यान रखना है जरूरी ताकि प्रेग्नेंसी में न आए कोई परेशानी

सरोगेट मां का ध्यान कैसे रखें in hindi. हेल्दी प्रेग्नेंसी के लिए सामान्य गर्भवती महिला की तरह ही सरोगेट मां का ध्यान रखा जाना भी जरूरी है। सरोगेट मां का ध्यान कैसे रखा जा सकता है जानिए यहां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रेग्नेंसी प्लानिंग, प्रेग्नेंसी जनवरी 23, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

क्या आपने बनाई प्रेग्नेंसी चेकलिस्ट? जान लें इसके फायदे

प्रेग्नेंसी चेकलिस्ट in hindi. पहली तिमाही से आखिरी तिमाही तक बहुत जरूरी है Pregnancy checklist फॉलो करना। जान लीजिए इसके फायदे..

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nikhil Kumar
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी जनवरी 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

गर्भावस्था में हर्पीस: लक्षण, कारण और इलाज

गर्भावस्था में हर्पिस के क्या लक्षण हो सकते हैं? गर्भावस्था में हर्पिस का घरेलू उपचार.. गर्भावस्था में हर्पिस होने पर इसका इलाज क्या हो सकता है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Nikhil Kumar
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी जनवरी 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

प्रेग्नेंसी के दौरान अनिद्रा (इंसोम्निया) से राहत दिला सकते हैं ये उपाय

प्रेग्नेंसी के दौरान इंसोम्निया in hindi. प्रेग्नेंसी के दौरान इंसोम्निया होने पर कुछ घरेलू उपाय अपनाकर राहत प्राप्त की जा सकती हैं। जानते हैं उन उपायों के बारे में साथ ही प्रेग्नेंसी के दौरान इंसोम्निया के लक्षण भी। insomnia during pregnancy

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nikhil Kumar

Recommended for you

प्रेग्नेंसी में मूली का सेवन

प्रेग्नेंसी में मूली का सेवन क्या सुरक्षित है? जानें इसके फायदे और नुकसान

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ मई 18, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
तीसरी तिमाही में उल्टी होना-Vomiting in third trimester

क्या तीसरी तिमाही में उल्टी होना नॉर्मल है? जानें कारण और उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ मई 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Prochlorperazine, प्रोक्लोरपेराजाइन

Prochlorperazine: प्रोक्लोरपेराजाइन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anoop Singh
प्रकाशित हुआ फ़रवरी 11, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
इम्प्लांटेशन ब्लीडिंग - implantation bleeding

इम्प्लांटेशन ब्लीडिंग (Implantation Bleeding) क्या होती है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nikhil Kumar
प्रकाशित हुआ जनवरी 24, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें