कोरोना वायरस (कोविड-19) के बारे में क्या ये सबकुछ जानते हैं आप ? खेलें क्विज

By

कोरोना वायरस की पहचान 1937 में पक्षियों में फैले संक्रामक ब्रोंकाइटिस वायरस से की गई थी। पिछले करीब 70 सालों में वैज्ञानिकों ने ये पाया है कि कोरोना वायरस चूहों, कुत्तों, बिल्ली, घोड़ों, सूअर और कैटल्स को भी संक्रमित कर सकता है। कोरोना वायरस व्यक्ति और जानवर के साथ ही अन्य प्रजातियों को भी संक्रमित करता है। जब चीन में सार्स फैला था तो उस वक्त इस संक्रमण का शिकार 37 देशों को होना पड़ा था। सार्स से 774 लोगों की मौत हुई थी। । लोगों में सर्दियों के समय संक्रमण अधिक पाया जाता है। सामान्य सर्दी लगने पर कुछ दिन बाद ठीक हो जाती है, लेकिन कोरोना वायरस (कोविड-19) का संक्रमण हो जाने पर ये महीनों नहीं सही होता है। अगर सही हो भी गया तो कुछ महीनों बाद फिर से समस्या हो जाती है।

भारत में भी कोविड-19 के संक्रमण से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। हाल ही में इस बीमारी की दवा बनाने का दावा भी कुछ देश कर चुके हैं। लेकिन अभी तक इस बारे में कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिली है। भले ही वैज्ञानिक वायरस को खत्म करने के लिए तेजी से काम कर रहे हो, लेकिन दुनिया भर में ये वायरस तेजी से फैल रहा है। अब जबकि लोग सभी प्रकार की सतर्कता रख रहे हैं, ऐसे में वायरस का जल्द खात्मा सभी के लिए बहुत जरूरी हो जाता है। लोग कोरोना वायरस (कोविड-19) के बारे में अधिक से अधिक जानकारी जुटाने की कोशिश कर रहे हैं। अगर आपको भी कोरोना वायरस के बारे में जानकारी है तो खेलें क्विज और बढ़ाएं अपनी नॉलेज।

और पढ़ें 

कोरोना वायरस ( 2019-nCoV) को लेकर ग्लोबल इमरजेंसी घोषित, इंडियन आर्मी ने कर ली तैयारी

कोरोना वायरस से बचाव संबंधित सवाल और उनपर डॉक्टर्स के जवाब

Novel Coronavirus: जानें क्यों बेहद खतरनाक है चीन में फैल रहा कोरोना वायरस

भारत में फैल रही हैं कोरोना वायरस की अफवाह, स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी की हेल्पलाइन

Share now :

Share now :

रिव्यू की तारीख मार्च 23, 2020 | आखिरी बार संशोधित किया गया मार्च 23, 2020

शायद आपको यह भी अच्छा लगे