home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

घर पर बनाएं ये वाइटहेड्स मास्क, चेहरा हो जाएगा खिला खिला

घर पर बनाएं ये वाइटहेड्स मास्क, चेहरा हो जाएगा खिला खिला

वाइटहेड्स भी ब्लैकहेड्स की तरह ही जिद्दी होते हैं। अगर इनकी जरा सी भी अनदेखी की जाए, तो यह चेहरे की खूबसूरती को बिगाड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ते। यह अक्सर नाक, चिन आदि हिस्सों पर आते हैं। हालांकि इ्न्हें मात देने के लिए कुछ घरेलू व्हाइटहेड्स मास्क हैं, जिनका इस्तेमाल आप भी कर सकती हैं लेकिन उससे पहले इसके बारे में जुड़ी कुछ और भी बातों को समझना जरूरी हैं। जानिए क्या होती है वाइटहेड्स की समस्या।

वाइटहेड्स (whiteheads) क्या होते हैं?

वाइटहेड्स मृत त्वचा और पोर्स में पैदा होते हैं। वाइटहेड्स ज्यादातर ऑयली स्किन में होते हैं, जो कई तरह के संक्रमण का कारण भी हो सकते हैं। ऑयली स्किन की सतह पर सीबम नामक प्राकृतिक तेल होता है, जिनकी संरचनाओं को पाईलोसिबेशीयस यूनिट (पीएसयू) कहा जाता है। यह चेहरे, छाती और पीठ पर सबसे ज्यादा देखे जाते हैं।अगर वाइटहेड्स पर ध्यान न दिया जाए, तो ये स्किन में उभरे से दिखने लगते हैं। जानिए कैसे वाइटहेड्स की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

और पढ़ें: जानें मुंहासे में मवाद के कारण और इलाज

कैसे पाएं वाइटहेड्स से छुटकारा?

कानपुर की ब्यूटीशियन कनक शर्मा इस बारे में कहती हैं कि स्किन की समस्याओं से बचने के लिए आपको एक दिन नहीं बल्कि रोजाना इसे साफ रखने की जरूरत है। वाइटहेड्स की समस्या से छुटकारे के लिए आप बेकिंग सोडा का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप इसे वाइटहेड्स वाले स्थान में कुछ समय के लिए लगाएंगे, तो कुछ ही दिनों बाद आपको इसका असर महसूस होने लगेगा। जानिए वाइटहेड्स से छुटकारा पाने के कुछ उपायों के बारे में।

1.शहद और अंडे का वाइटहेड्स मास्क

एक कटोरी में एक बड़ा चम्मच शहद लें। उसमें अंडे का सफेद भाग मिलाएं। इसे बादाम तेल और दही की मदद से मिक्स करें। इसके बाद, इसके चेहरे और वाइटहेड्स वाली त्वचा पर लगाएं। जब यह सूख जाए, तो इसे हटा दें और साफ पानी से चेहरा धो लें।

2.बेसन और दूध का वाइटहेड्स मास्क

एक कटोरी में थोड़ा कच्चा दूध लें। उसमें बेसन मिलाकर पतला पेस्ट बनाएं। फिर इस पेस्ट को आपने पूरे चेहरे पर अच्छी तरह से लगाएं। इसे कुछ मिनट तक चेहरे पर लगा रहने दें। सूखने पर इसे हल्के गुनगुने पानी से साफ कर लें। इसके बाद चेहरे पर गुलाब जल लगाएं।

और पढ़ें: लेजर ट्रीटमेंट से होगा स्पाइडर वेन का इलाज, जानें इस बीमारी के बारे में जरूरी बातें

3.चीनी और शहद का वाइटहेड्स मास्क

चीनी और शहद का एक गाढ़ा पेस्ट बनाएं और इसे अपने चेहरे पर लगाएं। फिर इससे चेहरे की मालिश करें। जब यह पेस्ट चेहरे से पूरी तरह से हट जाए, तो एक बार दोबारा से इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और सूखने के लिए इसे छोड़ दें। फिर हल्के गुनगुने पानी में स्पॉन्ज भिगोएं और उसकी मदद से चेहरा साफ करें।

4.मेथी के पत्तों का वाइटहेड्स मास्क

एक कप ताजी मेथी के पत्ते लेकर इन्हें साफ करें। मिक्सी की मदद से उनका गाढ़ा पेस्ट बनाएं। इसे रात में सोने के दौरान लगाएं और 20 मिनट बाद चेहरा धो लें।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में वैरीकोज वेन्स की समस्या कर सकती हैं काफी परेशान, जानें इससे बचाव के तरीके

5. ग्रीन टी वाइटहेड्स मास्क

ग्रीन टी की पत्तियों को गुनगुने पानी में डुबोएं। थोड़ी देर बार कॉटन बाल की मदद से ग्रीन टी के उस गुनगुने पानी को पूरे चेहरे पर लगाएं। ग्रीन टी चेहरे पर तेल के प्रोडक्शन को कम करने में मदद करती है। इन घरेलू उपायों के अलावा, ऐसे कई और भी उपाय हैं जिन्हें आप ट्राई कर सकते हैं। हालांकि, इन सभी उपायों को हफ्ते में कम से कम दो से तीन बार दोहराना होगा।

चेहरे पर वाइटहेड्स (whiteheads) आएं तो इन टिप्स को भी करें ट्राई

चेहरे को दें भाप

किसी बर्तन में गर्म पानी लें। फिर चेहरे को मोटे कपड़े या तौलिए से कवर करें और चेहरे को भाप दें। भाप स्किन के बंद हुए पोर्स को खोलता है। जो वाइटहेड्स से छुटकारा पाने का सबसे आसान तरीका होता है।

मास्क में मिलाएं एलोवेरा

एलोवेरा का इस्तेमाल स्किन प्रॉब्लम को दूर करने के लिए किया जाता है। अगर आपको वाइटहेड्स की समस्या रहती है, तो आप मास्क का इस्तेमाल करते समय कुछ मात्रा में एलोवेरा जैल को भी मिला सकते हैं। आप चाहे तो एक्ने प्रोडक्ट में भी एलोवेरा जैल मिलाकर लगा सकते हैं।

सेब का सिरका लगाएं

एप्पल साइडर यानी सेब का सिरका अम्लीय होता है। जो खुले हुए पोर्स को बंद करता है। साथ ही इसमें कीटाणुओं को खत्म करने और एंटी-माइक्रोबियल गुण भी पाए जाते हैं। उम्मीद है कि इन वाइटहेड्स मास्क से आपको चेहरे पर फर्क नजर आए।

और पढ़ें: Skinlite Cream : स्किनलाइट क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

अपनाएं ये स्किन केयर टिप्स

  • वाइटहेड्स मास्क का इस्तेमाल करने के साथ ही आपको स्किन की देखभाल के लिए इन बातों का ध्यान रखने की आवश्यकता है।चेहरे को दिन में एक बार अच्छे से साफ जरूर करें।
  • क्लीसनिंग और बाथिंग के लिए गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें।
  • स्किन को कभी भी तेजी से न रगड़ें।
  • अगर आपको एक्ने की समस्या अक्सर रहती है, तो बिना स्किन स्पेशलिस्ट की सलाह लिए कोई भी प्रोडक्ट यूज न करें।
  • हेयर प्रोडक्ट को स्किन से हमेशा दूर रखें।
  • स्किन की सुरक्षा के लिए अपने स्मार्टफोन, पिलोकेस, सनग्लासेस को रेग्युलर साफ करें। इन बातों का ध्यान रख आप स्किन को साफ रख सकते हैं। साफ स्किन में
  • इन्फेक्शन या फिर पिंपल जैसी समस्याओं की संभावना कम ही रहती है।

आपको इस आर्टिकल के माध्यम से चेहरे पर वाइटहेड्स के बारे में जानकारी मिल गई होगी। अगर आपको चेहरे पर वाइटहेड्स की समस्या होती है, तो आप ब्यूटीशियन से फेस मास्क के बारे में जानकारी ले सकते हैं। अगर आपको स्किन संबंधी समस्या है, तो बेहतर होगा कि स्किन स्पेशलिस्ट से संपर्क करें। आप इस बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श कर सकते हैं। आप स्वास्थ्य संबंधी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं और अन्य लोगों के साथ साझा कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Dr. Hemakshi J के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Ankita mishra द्वारा लिखित
अपडेटेड 20/08/2019
x