आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

null

डर्मेटेलॉजिस्ट के पास कब जाना हो जाता है जरूरी और वे किन-किन परेशाानियों का कर सकते हैं इलाज जानिए

    डर्मेटेलॉजिस्ट के पास कब जाना हो जाता है जरूरी और वे किन-किन परेशाानियों का कर सकते हैं इलाज जानिए

    डर्मेटोलॉजिस्ट्स (Dermatologist) भी एक प्रकार के डॉक्टर होते हैं जो स्किन, हेयर, नेल से संबंधित बीमारियों और म्यूकस मेम्ब्रेन डिसऑर्डर्स का इलाज करने में एक्सपर्ट होते हैं। ये कॉस्टमेटिक से संबंधित परेशानियों का इलाज करने में भी सक्षम होते हैं। साथ ही स्किन, हेयर और नाखून की अपीरिएंस को सुधारने में भी मदद कर सकते हैं। आजकल डर्मेटोलॉजिस्ट्स के पास लोगों की विजिट काफी बढ़ने लगी है। ये कैसे स्किन से संबंधित परेशानियों का इलाज करते हैं और किन कंडिशन्स के लिए इनका इलाज जरूरी होता है। इसके बारे में यहां जानकारी दी जा रही है।

    डर्मेटेलॉजी (Dermatology)

    डर्मेटेलॉजी मेडिसन का एक क्षेत्र है जो ऐसे हेल्थ से संबंधित मुद्दों पर फोकस करता है जिसमें स्किन, हेयर, नेल्स और म्यूकस मेम्ब्रेन्स शामिल है। स्किन बॉडी का सबसे अंग है। यह पेथोजेन्स और इंजरी के खिलाफ डिफेंस की पहली पंक्ति होती है और यह ओवरऑल हेल्थ के लिए अच्छा इंडिकेटर हो सकता है।

    डर्मेटोलॉजिस्ट्स की क्वालिफिकेशन (Dermatologist qualification)

    डर्मेटोलॉजिस्ट्स के पास जाने से पहले यह जान लेना जरूरी है कि उसके पास लाइसेंस और सर्टिफिकेट हो। कुछ प्रेक्टिशनर, स्पा और ब्यूटी क्लिनिक्स खुद को डर्मेटेलॉजिस्ट कहते हैं, लेकिन उनके पास उचित सर्टिफिकेट नहीं होता है।

    और पढ़ें: स्कैल्प सोरायसिस और डैंड्रफ (Scalp Psoriasis And Dandruff) में अंतर जानें

    कॉमन कंडिशन्स (Common conditions) जिनमें डर्मेटोलॉजिस्ट्स की मदद की जरूरत हो सकती है

    डर्मेटेलॉजिस्ट्स के पास क्लिनिकल नोलेज होने की जरूरत होती है क्योंकि कई इंटरनल हेल्थ प्रॉब्लम्स स्किन से संबंधित लक्षणों का कारण बन सकती हैं। त्वचा विशेषज्ञ 3,000 से अधिक स्थितियों का इलाज कर सकते हैं। नीचे उनके कुछ उदाहरण दिए गए हैं जिन्हें वे सबसे अधिक देखते हैं:

    मुंहासे (Acne)

    सबसे अधिक प्रचलित स्किन प्रॉब्लम्स में मुंहासों के कई कारण होते हैं जो विभिन्न प्रकार के पिंपल्स का कारण बन सकते हैं। कुछ इसकी वजह से स्केरिंग, कम आत्मसम्मान और अन्य जटिलताओं का अनुभव करते हैं।

    डर्मेटाइटिस और एक्जिमा (Dermatitis and eczema)

    डर्मेटाइटिस त्वचा की सूजन है, और यह आमतौर पर खुजली वाले दाने या चकत्ते के साथ सूजन का कारण बनती है। एटोपिक डर्मेटाइटिस सहित इसके विभिन्न रूप हैं, जो एक्जिमा का सबसे आम प्रकार है।

    फंगल संक्रमण (Fungal infection)

    ये आम हैं और कभी-कभी इसमें त्वचा, नाखून और बाल शामिल होते हैं। कैंडिडा नामक यीस्ट का एक समूह फंगल संक्रमण की एक विस्तृत श्रृंखला का कारण बन सकता है, जिसमें ओरल थ्रश, दाद, एथलीट फुट और बैलेनाइटिस शामिल हैं।

    और पढ़ें: मुंहासे के लिए भी सैलिसिलिक एसिड का उपयोग कितना प्रभावी है?

    बालों का झड़ना (Hair fall)

    सिर में जूं सहित कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी बालों के झड़ने का कारण बन सकती हैं। इन सभी का इलाज डर्मेटोलॉजिस्ट्स से कराया जा सकता है।

    वॉर्ट्स (Warts)

    ये संक्रामक, सौम्य त्वचा वृद्धि हैं जो तब दिखाई देते हैं जब किसी वायरस ने त्वचा की ऊपरी परत को संक्रमित कर दिया हो। एक डर्मेटोलॉजिस्ट्स लगातार होने वाले इन मस्सों को हटाने के लिए कई तरह के उपचारों का उपयोग कर सकता है।

    नाखूनों से संबंधित समस्याएं (Nails problems)

    डर्मेटोलॉजिस्ट्स नाखून के आसपास की स्किन और नाखून की अंदर की स्किन को डैमेज करने वाली स्थितियों का भी इलाज करते हैं। इनग्रोन नेल्स, फंगल इंफेक्शन्स और दूसरी कंडिशन इस डैमेज का कारण बनती हैं।

    विटिलिगो (Vitiligo)

    इसमें त्वचा का मेलेनिन को खोना शामिल है जो कि एक पिगमेंट है। नतीजतन, त्वचा के कुछ पैच दूसरों की तुलना में हल्के रंग के होते हैं।

    और पढ़ें: Vitiligo On Black Skin: काली त्वचा पर विटिलिगो की समस्या क्या है? जानते विटिलिगो यानी सफेद दाग से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    सोरायसिस (Prosaisis)

    यह पुरानी ऑटोइम्यून बीमारी त्वचा कोशिकाओं के विकास को गति देती है, जिसके परिणामस्वरूप त्वचा के पैच मोटे, लाल, बैंगनी, या सिल्वर रंग के और पपड़ीदार हो सकते हैं। सोरायसिस के कई प्रकार होते हैं।

    रोसेसिया (Rosacea)

    यह चेहरे में लाली का कारण बनता है, कभी-कभी पस से भरे हुए बम्प्स, स्पष्ट रूप से दिखाई देने वाली रक्त वाहिकाओं और पलकों की सूजन भी इसके लक्षण होते हैं। लक्षण नाक और गाल से माथे, ठुड्डी, कान, छाती और पीठ तक फैल सकते हैं।

    दाद (Shingles)

    यह वायरल संक्रमण एक दाने का कारण बनता है जो दर्दनाक हो सकता है। यह उपचार के बिना कुछ हफ्तों में ठीक हो सकता है, लेकिन चिकित्सा हस्तक्षेप गति को ठीक करने और जटिलताओं को रोकने में मदद कर सकता है, जो गंभीर हो सकता है।

    त्वचा कैंसर (Skin cancer)

    अब त्वचा कैंसर के मामले भी बढ़ने लगे हैं। उम्र बढ़ने के साथ स्किन कैंसर होने की आशंका रहती है। सबसे सामान्य रूप बेसल सेल कार्सिनोमा, मेलेनोमा और स्क्वैमस सेल कार्सिनोमा हैं। इन कैंसरों की पहचान करने में भी डर्मेटोलॉजिस्ट्स मदद कर सकते हैं।

    डर्मेटोलॉजिस्ट्स किन प्रॉसीजर्स की मदद लेते हैं?

    डर्मेटोलॉजिस्ट्स त्वचा, नाखून और बालों को प्रभावित करने वाली समस्याओं के प्रबंधन के लिए कई तरह की चिकित्सा और कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं का उपयोग करते हैं।

    दवाएं और गैर-इनवेसिव उपचार कई त्वचा स्थितियों का इलाज कर सकते हैं, जबकि अन्य को अधिक अग्रेसिव ट्रीटमेंट की आवश्यकता होती है। इलाज के लिए उपयोग की जाने वाली ये प्रक्रियाएं डॉक्टर के क्लिनिक या अस्पताल में हो सकती हैं।

    और पढ़ें: सिर्फ क्रायोथेरेपी ही नहीं, बल्कि स्किन कैंसर के उपचार में यह तकनीकें भी हैं असरदार!

    केमिकल पील्स (Chemical peels)

    इस प्रक्रिया में कैमिकल सॉल्यूशन को त्वचा के उस हिस्से पर लगाया जाता है जिसे पील ऑफ करना होता है। ताकि स्किन को स्मूद बनाया जा सके। डर्मेटोलॉजिस्ट्स इस प्रॉसीजर का उपयोग सन डैमेज्ड स्किन का इलाज करने के लिए करते हैं। कुछ प्रकार के मुंहासों का इलाज भी इस प्रॉसेस से किया जाता है। एज स्पॉट्स और आंखों के अंदर धारियां होने पर भी यह प्रॉसीजर फायदा पहुंचाता है।

    कॉस्मेटिक इंजेक्शन्स (Cosmetic injections)

    झुर्रियां, झाईयां और फुले हुए फेस को कम करने के लिए इंजेक्शन का उपयोग किया जाता है। ये इन समस्याओं को अस्थाई तौर पर हल करते हैं। डर्मेटोलॉजिस्ट बोटोक्स या फिलर्स का उपयोग करते हैं। रिजल्ट कुछ महीनों में दिखाई देता है और प्रभाव बनाए रखने के लिए रेगुलर इंजेक्शन लेने पड़ते हैं। वहीं कुछ बोटोक्स के प्रति एंटीबॉडीज बना लेते हैं जिससे इंफेक्शन अप्रभावी हो जाता है।

    क्रायोथेरेपी (Cryotherapy)

    मस्से जैसे कई सौम्य त्वचा संबंधी मुद्दों के लिए क्रायोथेरेपी एक त्वरित उपचार हो सकता है। इस प्रक्रिया में प्रभावित कोशिकाओं को नष्ट करने के लिए अक्सर तरल नाइट्रोजन के साथ त्वचा के घावों को जमने देना शामिल है।

    डर्माब्रेशन (Dermabrasion)

    डर्माब्रेशन टिशू स्कार को कम करने में मदद कर सकता है। झुर्रियों और टैटू की उपस्थिति, और संभावित रूप से त्वचा के पूर्व-कैंसर वाले क्षेत्रों में। एक उच्च गति वाले घूमने वाले ब्रश का उपयोग करके, डर्मेटोलॉजिस्ट्स त्वचा की ऊपरी परत को हटा देते हैं।

    घावों को छांटना (Excision of lesions)

    डर्मेटोलॉजिस्ट् कई कारणों से त्वचा के घावों को हटाने में मदद करते हैं। वे इन घावों को काट सकते हैं:

    • बीमारी को फैलने से रोकने के लिए
    • कॉस्मेटिक कारणों से
    • फिर से होने वाले संक्रमण को रोकने के लिए
    • लक्षणों को कम करने के लिए
    • एक अंतर्निहित समस्या का निदान करने के लिए

    घाव के आकार के आधार पर, वे प्रभावित व्यक्ति को इसे हटाने से पहले स्थानीय या सामान्य एनेस्थीसिया दे सकते हैं।

    बालों को हटाना या रिस्टोर करना

    एक त्वचा विशेषज्ञ प्रत्यारोपण सहित बालों के झड़ने की समस्या को दूर करने के लिए विभिन्न तरीकों का उपयोग कर सकता है। वैकल्पिक रूप से, वे लेजर्स का उपयोग करके शरीर के अनचाहे बालों को हटा सकते हैं।

    लेजर सर्जरी (Laser surgery)

    डर्मेटोलॉजिस्ट विभिन्न प्रकार की त्वचा संबंधी समस्याओं या कॉस्मेटिक शिकायतों के इलाज के लिए लेजर सर्जरी का भी उपयोग कर सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

    • ट्यूमर
    • मौसा
    • तिल
    • अवांछित टैटू
    • दाग
    • निशान
    • झुर्रियों

    अन्य प्रॉसीजर

    ऊपर बताई प्रॉसीजर के अलावा डर्मेटोलॉजिस्ट अन्य प्रक्रियाओं को भी संपन्न करते हैं। जो निम्न है।

    • वेन प्रॉसीजर
    • स्किन ग्राफ्ट्स और फ्लैप
    • बायोप्सी
    • पुवा
    • मोह्स सर्जरी

    डर्मेटोलॉजिस्ट्स को कब दिखाना चाहिए?

    अगर स्किन, नेल या हेयर से संबंधित परेशानियां होम ट्रीटमेंट के प्रति रिस्पॉन्ड नहीं करती हैं तो प्रोफेशन अटेंशन की जरूरत होती है। अगर प्रभावित व्यक्ति कॉस्टमेटिक रीजन के चलते प्रोफेशनल हेल्प लेना चाहता है तो उसे कॉस्मेटिक डर्मेटोलॉजिस्ट से मिलना चाहिए।

    उम्मीद करते हैं कि आपको डर्मेटोलॉजिस्ट्स से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड