backup og meta

जानें गुड़हल के फूल के स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी फायदे

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Dr. Pooja Bhardwaj


Sushmita Rajpurohit द्वारा लिखित · अपडेटेड 26/08/2020

जानें गुड़हल के फूल के स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी फायदे

गुड़हल एक खूबसूरत फूलों वाला पौधा है । इसका वनस्पतिक नाम है- हीबीस्कूस् रोजा साइनेन्सिस। गुड़हल का पौधा वैसे तो एक आम सा पौधा होता है। लेकिन यदि इसके गुणों को देखा जाए तो वह बहुत ही खास होते है और स्‍वास्‍थ्‍य के खजाने से भरे पड़े है। गुड़हल के फूल बहुत ही गुणकारी और लाभदायक होते हैं। इसमें हमारे स्वस्थ्य संभादित कही सारे अलग-अलग गुण होते हैं।

तो आईये जानते है क्या है गुड़हल के फूल के फायदे:

कोलेस्ट्रॉल को करे काम:

गुडहल की पत्ती से बनी चाय कोलेस्टेरॉल को कम करने में काफी प्रभावी है इसमें पाए जाने वाले तत्व अर्टरी में प्लैक को जमने से रोकते हैं जिससे कोलेस्टेरॉल का स्तर कम होता है। गुड़हल के फूलों में एंटी-ऑक्सीडेंट पाया जाता है जो कोलेस्ट्रॉल कम करने के साथ ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल करता है। इसके लिए इसके फूलों को गर्म पानी में उबालकर पीना फायदेमंद हो सकता है । और आप इसकी पत्तियों से बनी चाय का सेवन भी कर सकते है ।

और पढ़ें: गर्भावस्था में हर्पीस: लक्षण, कारण और इलाज

डायबिटीज के लिए:

डायबिटीज के लिए नियमित आप इसकी 20 से 25 पत्तियों का सेवन शुरू कर दे ये आपकी डाइबिटीज का शर्तिया इलाज है। इसका पौधा नर्सरी से आसानी से मिल जाता है और इसे आप घर में लगा सकते है।

किडनी की समस्‍या:

गुड़हल को किडनी के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। गुडहल की पत्ती से बनी चाय को कई देशों में दवा के रूप में इस्‍तेमाल किया जाता है। किडनी के रोगी इस चाय को बिना शक्‍कर के पिए । यह किडनी की पथरी को दूर करने में भी मदद करती है।

गजब का हेयर कंडीशनर:

गुड़हल की पत्ती और गुड़हल के फूल की पंखुड़ी से पेस्ट बनाकर उसका इस्‍तेमाल प्राकृतिक हेयर कंडीशनर के तौर पर किया जा सकता है। जब इसे शैंपू के बाद लगाया जाता है तो यह बालों के रंग को काला करता है और डैंड्रफ से भी छुटकारा दिलाता है

छाले ठीक करने में:

मुंह में छाले हो गए है तो आप गुडहल के पत्ते चबाये आराम हो जाएगा। लार में वृद्धि और पाचन शक्ति को बनाने और मुँह के छालों के लिए गुडहल की 3-4 पत्तियों को चबाना चाहिए। आपको लाभ होगा।

और पढ़ें : दिल की बीमारी पर ब्रेक लगा सकता है सरसों का तेल

त्‍वचा की खास देखभाल:

गुड़हल का इस्तेमाल कॉस्मेटिक स्किन केयर में भी किया जाता है। गुड़हल की पत्ती का इस्तेमाल एंटी-सोलर एजेंट के रूप में किया जाता है। यह अल्ट्रावाइलेट रेडिएशन को सोखकर आपकी त्‍वचा को नया रंग और रूप देता है। इतना ही नहीं त्‍वचा की झुर्रियों से भी निजात दिलाने में गुड़हल का इस्‍तेमाल होता है।

घाव पर करे वार:

गुड़हल का तेल का इस्तेमाल खुले घाव को जल्‍दी भरने में मदद करता है। इसके साथ ही कैंसर से हुए घाव पर भी गुड़हल का तेल लगाने से काफी लाभ होता है। साथ ही ये कैंसर के प्रारंभिक चरण में अगर गुड़हल का इस्‍तेमाल किया जाए तो यह उसे रोकने में मदद करता है।

एंटी एजिंग:

गुडहल की पत्ती एंटी ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होते हैं। यह शरीर में मौजूद फ्री-रेडिकल्स को हटाता है। इससे उम्र बढ़ने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है। कई मामलों में तो जीवन में भी वृद्धि हो जाती है। 

खुजली और जलन को रखे दूर:

गुड़हल का फूल सूजन के साथ ही खुजली और जलन जैसी समस्याओं से भी आपको राहत दिलाता है। गुड़हल के फूल की पत्तियों को मिक्सी में अच्छे से पीस लें तथा सूजन और जलन वाले हिस्से पर लगाएं कुछ ही मिनटों में समस्या दूर हो हो सकती है ।

और पढ़ें : Peanut Oil: मूंगफली का तेल क्या है?

मासिक धर्म की समस्या:

शरीर की कई बीमारियों से लड़ने के लिए इम्यूनिटी सिस्टम का मजबूत होना बहुत ही जरूरी है। गुडहल की पत्तियां, शरीर को उर्जा प्रदान करती हैं और इम्यूनिटी लेवल को बढ़ाती हैं। इसकी पत्तियां मेनोपॉज और मासिक धर्म में बहुत ही फायदा करती है। जिन महिलाओं को मासिक धर्म  समय पर नहीं आता उन्हें गुड़हल की पत्तियों की चाय पीनी चाहिए।

बालों को बढ़ाने में गुड़हल के फायदे

गुड़हल के पौधे के फूल के साथ-साथ पत्तों के भी कई फायदे हैं। गुड़हल आपके बालों के लिए अच्छा साबित होता है। बालों के लिए यह काफी लाभाकारी साबित हो सकता है। इसके लिए आपको गुड़हल के पत्तों को पीसकर उसकी लुग्दी बना लेनी चाहिए। इसके बाद धीरे-धीरे इसे अपने बालों पर लगाएं और मसाज करें। इसे लगाने के बाद कुछ घंटों के लिए इसे यूं ही छोड़ दें। बाद में केवल पानी से इस पेस्ट को धो दें। ऐसा करने से आपके बालों को पोषण मिलता है। साथ ही आपका सिर भी ठंडा रहता है। इसके अलावा गुड़हल के फूल का रस और जैतून के तेल को बराबर मात्रा में मिलकार गर्म कर लें। इसके बाद ठंडा होने पर इसे एक बोतल में छान कर इकट्ठा कर लें। इस तेल से नियमित बालों की जड़ों की मसाज करने पर यह आपको चमकीले और लंबे बाल मिलते हैं।

नींद की समस्या में गुड़हल के फूल के फायदे

नींद की समस्या में भी गुड़हल के फायदे देखे जाते हैं। इसके लिए आप गुड़हल के फूल लें और इन फूलों की पखुड़ियों को तोड़कर नींबू के रस में मिला लें। इसके बाद इस मिश्रण को किसी कांच के बर्तन में खुले स्थान पर रख दें। इसके कुछ घंटों के बाद इसे मसलकर छान लें। इसके बाद इसमें चीनी या मिश्री मिला लें और गुलाब जल को इसे पूरे मिश्रण में मिला लें। इस पूरे मिश्रण किसी कांच की बोतल में बंद करके दो दिन के लिए धूप में रख दें। इन दो दिनों में बीच-बीच में बोतल को हिलाते रहें। चीनी का पूरा मिश्रण में घुल जाने पर यह एक शरबत की तरह बन जाता है। इसके बाद 15 से 40 मिलीग्राम इस पेय को पीते रहने से नींद आने की समस्या में फायदा हो सकता है।

इन सभी के आलावा भी गुड़हल के फूल बहुत से अलग काम करता है। आप गुड़हल के फूल का इस्तेमाल आपकी बहुत सी स्वस्थ्य संभदित समस्याओं को दूर करने काम आ सकता हैं। आप गुड़हल के फूल को आसानी से अपने घर के गार्डन में भी उगा सकते हैं। ऐसा करने से आपको जब कही फ्रेश फूल मिल सकता है।     

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Dr. Pooja Bhardwaj


Sushmita Rajpurohit द्वारा लिखित · अपडेटेड 26/08/2020

advertisement iconadvertisement

Was this article helpful?

advertisement iconadvertisement
advertisement iconadvertisement