home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

हाई ब्लड प्रेशर को कम कर सकता है जैतून का तेल, जानिए इसके 7 फायदे

हाई ब्लड प्रेशर को कम कर सकता है जैतून का तेल, जानिए इसके 7 फायदे

नारियल तेल और आंवले के तेल के फायदे तो सभी जानते हैं और इनका उपयोग भी करते आ रहे हैं लेकिन, शायद आप नहीं जानते होंगे कि जैतून का तेल भी बेहद फायदेमंद है। यह न सिर्फ स्किन के लिए अच्छा है बल्कि हार्ट डिसीज को रोकने और वजन घटाने के लिए भी जाना जाता है। जैतून के तेल को ऑलिव ऑइल भी कहते हैं। ऑलिव ऑइल में फ्लेवसेनॉयड्स स्कवेलीन और पोरीफेनोल्स एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। जैतून के तेल की खास बात यह है कि इसका इस्तेमाल आंतरिक और बाह्य दोनों तरीके से किया जा सकता है।

आइए जानते है जैतून तेल के कुछ फायदे:

1. वजन घटाने में :

जैतून तेल में मौजूद हेल्दी मोनो सैचुरेटेड फैट, पेट की चर्बी और वजन को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यदि सही मात्रा में इसका उपयोग किया जाए तो आप अपना वजन आसानी से कम कर सकते हैं। मोटापे से बचने के लिए रोजाना आधा चम्मच जैतून तेल का प्रत्येक सुबह सेवन करने से आपको फायदा हो सकता है।

और पढ़ें : दिल की बीमारी पर ब्रेक लगा सकता है सरसों का तेल

2. कोलेस्ट्रॉल को कम करने में

ऑलिव ऑयल का उपयोग करने से खराब कोलेस्ट्रॉल में काफी कमी आ सकती है। बुरे कोलेस्ट्रॉल से धमनियों में संकुचन पैदा हो सकता है और जैतून का तेल शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ाता है जो कि बॉडी को सुरक्षा प्रदान करता है। जैतून के तेल से दिल मजबूत होता है और दौरा पड़ने की संभावना भी कम हो सकती है।

3. सूजन के लिए

जैतून तेल में सूजन को कम करने के गुण भी मौजूद होते हैं। विशेष रुप से लंबे समय से चली आ रही सूजन को कम करने में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। इसके अलावा यह अल्जाइमर, डायबिटीज और गठिया जैसी बीमारियों को भी दूर कर सकता है।

4. चेहरे के लिए

जैतून तेल को त्वचा लिए एक अच्छा मॉइश्चराइजर माना जाता है। इसमें विटामिन ए और ई के साथ ही फैटी एसिड भी पाया जाता है। जिससे आपके चेहरे पर झुर्रियों का बनना रुकता है। नहाने के बाद शरीर पर ऑलिव ऑइल लगाने से शरीर से काले धब्बे समाप्त हो सकते हैं और त्वचा पर निखार भी आ सकता है।

और पढ़ेंः नाभि में तेल लगाने के अलग-अलग फायदें जिसके बारे में जानना है जरुरी

[mc4wp_form id=”183492″]

5. बालों के लिए

जैतून तेल में फैटी एसिड और कई सारे एंटीऑक्सीडेंट्स के साथ ही विटामिन-ई भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। ये तत्व, रूखे और क्षतिग्रस्त बालों के इलाज में काफी उपयोगी साबित हो सकते हैं। इससे दो मुंहे बालों की समस्याओं का भी समाधान हो सकता है। सिर्फ इतना ही नहीं,अगर आपको डैंड्रफ की समस्या है तो जैतून के तेल को इस्तेमाल करने से वो भी दूर हो सकती है।

6. हड्डियों की मजबूती के लिए

जैतून तेल की मालिश करने से आपके शरीर की हड्डियों में मजबूती आती है। ऑलिव ऑइल के इस्तेमाल से ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा भी कम हो सकता है। हड्डियों के स्वास्थय को ध्यान में रखते हुए इसका इस्तेमाल करें।

हेल्दी हार्ट

जैतून का तेल डाइट्री फैट का अच्छा सोर्स है जो कि हार्ट के लिए अच्छा है। स्पेन में हुए एक अध्ययन के अनुसार जो लोग ऑलिव ऑइल का सेवन करते हैं उनमें हाई ब्लड प्रेशर, स्ट्रोक और हाइपरलिपिडिमिया ( हाई ब्लड कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड का स्तर) के लक्षण कम दिखाई दिए। ऑलिव ऑइल में खाना बनाने से मेटाबॉलिज्म ठीक रहता है।

और पढ़ेंः विशेष स्थिति के लिए आहार भी हो विशेष, ऐसा कहना हैं एक्सपर्ट का

7. डायबिटीज के उपचार में

शुद्ध जैतून तेल का इस्तेमाल डायबिटीज को भी कंट्रोल कर सकता है, क्योंकि यह शुगर को नियंत्रित करके इंसुलिन के प्रति संवेदनशीलता को बढ़ाता है। इसके साथ ही जैतून का तेल ट्राइग्लिसराइड के स्तर को भी बनाए रखने में मददगार हो सकता है।

8. हाई ब्लड प्रेशर में

हाई ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए दवा खाने के साथ ऑलिव ऑइल की सहायता से आप हाई ब्लड प्रेशर में राहत पा सकते हैं। इसके अलावा खाने में जैतून तेल का इस्तेमाल करने से हमारे शरीर के ब्लड सर्कुलेशन में सुधार आता है।

9. ब्रेस्ट कैंसर को रोकता है

जैतून का तेल अन्य तेलों के मुकाबले इसलिए भी बेहतर है क्योंकि यह ब्रेस्ट कैंसर को रोकने की क्षमता रखता है। स्पेन के वैज्ञानिको ने अपने अध्ययन में पाया कि ऑलिव ऑइल ब्रेस्ट ट्यूमर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकता है साथ ही उन्हें खत्म भी कर सकता है।

10. लिवर के लिए हेल्दी

एक अध्ययन के मुताबिक एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑइल लीवर को ऑक्सीडेटिव तनाव से बचता है जो कि फ्री रेडिकल्स (मुक्त कणों ) और अन्य अणुओं के बीच रासायनिक प्रक्रिया के कारण होता है। इसलिए ऑलिव ऑइल से बना खाना खाने से लीवर भी हैल्दी रहता है।

11. स्किन के लिए ऑलिव ऑयल

जैतून के तेल का सेवन करना या स्किन पर लगाना सुरक्षित है। हमारे शरीर में एक दिन की कैलोरी के लिए हम जैतून का तेल 14 प्रतिशत सुरक्षित रूप से इस्तेमाल कर सकते हैं। यह प्रतिदिन के हिसाब से लगभग दो बड़े चम्मच (28 ग्राम) के बराबर हैं। कॉन्टिनेंटल फूड खाने वालों के हिसाब से बात करें, तो जैतून का तेल लगभग 6 वर्षों तक एक लीटर / प्रति सप्ताह तक सुरक्षित रूप से इस्तेमाल किया जा सकता है।

और पढ़ेंः ड्राई स्किन से हैं परेशान? तुरंत फॉलो करें रूखी त्वचा के लिए ये डाइट

क्या जैतून के तेल से कोई नुकसान भी होते हैं?

बहुत ही कम मामलों में ऑलिव ऑयल सेवन करने पर जी मिचलाना जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है। ऑलिव का पेड़ पोलेन का उत्पादन करता है, जो कि कुछ लोगों में सीजनल रेस्पेरेटरी एलर्जी का कारण बन सकता है। जैतून के तेल से आपको एलर्जी या त्वचा के संपर्क में आने से रिएक्शन जैसे सूजन या किसी चर्म रोग की समस्या हो सकती है।

इन बातों का रखें खास ध्यान

जैतून का तेल ब्लड के शुगर लेवल को कम कर सकता है। डायबिटीज से जूझ रहे लोगों को जैतून के तेल के इस्तेमाल से पहले अपने ब्लड शुगर की जांच करानी चाहिए।

वहीं जैतून का तेल ब्लड शुगर लेवल पर असर डाल सकता है। सर्जरी के दौरान और उसके बाद ऑलिव ऑयल के इस्तेमाल से ब्लड शुगर के कंट्रोल पर असर पड़ सकता है। सर्जरी से दो हफ्ते पहले ही जैतून का तेल लेना बंद कर दें।

यहां बताए गए प्रयोगों से आप समझ ही गए होंगे कि जैतून का तेल कितना लाभदायक है। यूनिवर्सिटी ऑफ नवरा और लास पालमास डी ग्रैन कैनरिया के स्पेनिश रिसर्चर के अनुसार, जैतून के तेल से भरपूर आहार मानसिक बीमारी से भी बचा सकता है। इन सब फायदों को देखते हुए आप अपने डेली रूटीन में जैतून के तेल को शामिल कर सकते हैं।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Sushmita Rajpurohit द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/04/2021 को
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड