backup og meta

शरीर, त्वचा और बालों के लिए विटामिन-ई (Vitamin E) के फायदे

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Dr. Pooja Bhardwaj


Mubasshera Usmani द्वारा लिखित · अपडेटेड 11/05/2021

शरीर, त्वचा और बालों के लिए विटामिन-ई (Vitamin E) के फायदे

विटामिन-ई क्या है?

विटामिन-ई (Vitamin E) को त्वचा, शरीर और बालों के लिए जादुई तत्व माना जाता है। इसे आप डॉक्टर की सलाह के बाद, डायट सप्लीमेंट के तौर पर ले सकते है। विटामिन-ई प्राकृतिक स्रोत जैसे सोया, जैतून का तेल और मकई द्वारा प्राप्त किया जा सकता है। आपके लिए क्यों जरुरी है विटामिन ‘ई’? सबसे पहले आपको अपने शरीर में इसकी की मात्रा जांचने की जरूरत होगी। विटामिन-ई एक तरह का एंटीऑक्सिडेंट हैं। यह शरीर की कोशिकाओं को डैमेज होने से बचाता है। विटामिन-ई आठ अलग-अलग तरह के होते हैं और सबसे ज्यादा अल्फा-टोकोफेरॉल में एक्टिव होता है।

विटामिन-ई के क्या हैं फायदें?

विटामिन-ई के निम्नलिखित फायदे हैं। जैसे-

1. विटामिन-ई एंटीऑक्सीडेंट से है भरपूर

यह एक एंटीऑक्सिडेंट है जो, जो शरीर के सेल्स को खराब या डैमेज होने से बचता है। एंटीऑक्सीडेंट के तौर पर यह ह्यूमन बॉडी से हानिकारक तत्वों को निकालने में मदद करता है। यह धूम्रपान और प्रदूषण के कारण शरीर में जगह बनाने वाले जहरीले तत्वों का सफाया करके शरीर को फायदा पहुंचाता हैं। शरीर में बैलेंस्ड एंटीऑक्सिडेंट की मौजूदगी कई बीमारियों जैसे हार्ट डिजीज और कैंसर के खतरे को कम करता है। 

और पढ़ें : विटामिन और मिनरल से भरपूर पार्सले के 7 हेल्थ बेनिफिट्स 

2. विटामिन-ई इम्युनिटी सिस्टम को स्ट्रॉन्ग बनाता है 

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) के अनुसार और एक्सपर्ट्स के अनुसार विटामिन-‘ई’ से भरपूर खाद्य पदार्थ आपके शरीर में ऊर्जा के स्तर को बढ़ाते हैं। यह शरीर में इम्यून सेल्स की मात्रा बढ़ाने में मदद करता है जो बैक्टीरिया खत्म करने में मदद करता है।

3. विटामिन-ई से त्वचा में नमी लाएं

विटामिन-ई कई मॉइस्चराइजर में अहम तत्व के तौर पर शामिल होता है। इसके तेल से त्वचा को मॉइस्चर करके त्वचा में नमी लाई जा सकती है जिससे सूखी और बेजान त्वचा से छुटकारा मिल सकता है। इसके नियमित इस्तेमाल से त्वचा में नई जान आ जाती है। त्वचा को प्राकृतिक रूप से हेल्दी बनाये रखने का राज है विटामिन-ई। इसलिए त्वचा को हेल्दी बनाये रखने के लिए फल, हरी सब्जी और पौष्टिक आहार का सेवन करें।  

और पढ़ें : Acid Ascorbic (Vitamin C) : विटामिन सी क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

4. विटामिन-ई से चेहरे के दाग-धब्बे मिटाएं

अक्सर त्वचा से जुड़े एक्सपर्ट्स विटमिन-ई के तेल के इस्तेमाल की सलाह देते हैं। त्वचा से जुड़े इसके अनेक फायदों में मुहांसों और उनके जिद्दी दाग-धब्बों से छुटकारा दिलाने में मदद करना भी शामिल है। सूर्य की पराबैगनी किरणों से भी हुई त्वचा के नुकसान को बचाने में विटामिन-ई सहायक होता है। भारत के अलावा अन्य देश जैसे यूनाइटेड स्टेट्स में विटामिन-ई के सप्लीमेंट्स का सेवन नहीं करते हैं लेकिन, आहार के माध्यम से इसकी पूर्ति कर लेते हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स ये भी बताते हैं की शरीर में विटामिन-ई की मात्रा अत्यधिक नहीं होनी चाहिए। इससे शरीर को नुकसान पहुंच सकता है।  

5. विटामिन-ई से झुर्रियों को मिटाएं

विटामिन-ई के नियमित इस्तेमाल से आपकी त्वचा पर नए सेल्स बनते हैं जिससे आपकी त्वचा जवान और निखरी हुई नजर आती है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट की उच्च मात्रा मौजूद होती है और यह ब्लड सर्कुलेशन को प्रभावित करता है इसलिए यह झुर्रियों को कम करने में भी सहायक हो सकता है। 

6. विटामिन-ई से बालों को झड़ने से बचाएं

यह बालों की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। यह बालों में चमक पैदा करता है और उनकी ग्रोथ में मदद करता है। बालों के झड़ने  एक छोटे से शोध अध्ययन में पाया गया कि विटामिन ई के घटकों में से एक ने बालो के विकास में सुधार किया।

विटामिन ‘ई’ कई सेहत से जुड़े गुणों से भरपूर है, इसे अपने रोजमर्रा के जीवन शैली में शामिल करें और इसके गुणों का फायदे उठाएं।  

विटामिन-ई का इस्तेमाल कैसे करें?

विटामिन-ई का इस्तेमाल निम्नलिखित तरह से किया जा सकता है। जैसे-

  1. चेहरे को अच्छी तरह से हल्के गर्म पानी और फेस वॉश करें और चेहरे को अच्छी तरह से कॉटन के टॉवल से चेहरे पर मौजूद पानी को हटायें
  2. विटामिन-ई ऑयल में होहोबा ऑयल (Jojoba Oil), आलमंड ऑयल या नारियल तेल की 10 बूंदें मिक्स करें
  3. उंगलियों की मदद से ऑयल को अपने चेहरे पर आराम से लगाएं और हल्के हाथों से मसाज करें। चेहरे पर जबभी मसाज करें तो सर्कुलर मोशन में मसाज करें। इससे फेस पर ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और त्वचा में नई चमक आ जाती है
  4. विटामिन-ई ऑयल से 20 से 25 मिनट तक मसाज करें। ऐसा हफ्ते में कम से कम 2 बार करें और कोशिश करें की रात को सोने से पहले ऐसा करें
  5. विटामिन-ई ऑयल में नारियल तेल मिलाकर हफ्ते में दो दिन बालों में लगाकर मसाज करने से बाल हेल्दी और घने होते हैं
  6. नियमित रूप से विटामिन-ई ऑयल लगाने से चेहरे पर कुछ ही हफ्तों में फर्क महसूस करने लगेंगी।

    विटामिन-ई के प्रयोग से पहले किन-किन बातों का ध्यान रखें?

    विटामिन-ई के प्रयोग से पहले निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। जैसे-

    • यह ऑयल किसी-किसी स्किन पर एलर्जी भी पैदा कर सकती है।
    • चेहरे पर आये पोर्स को भरने के लिए विटामिन-ई ऑयल का इस्तेमाल किया जा सकता है।
    • विटामिन-ई की टैबलेट या सप्लीमेंट्स कुछ दिनों तक ली जा सकती है लेकिन, ज्यादा दिनों तक टैबलेट का सेवन करें या बेहतर होगा की डॉक्टर से सलाह लें।
    • विटामिन-ई के ज्यादा सेवन से शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या कम हो सकती है और ब्लड जरूरत से ज्यादा पतला भी हो सकता है।
    • अगर आप ब्लड थिनर जैसी दवाओं का सेवन करते हैं, तो इसके सेवन से पहले डॉक्टर से सलाह लें।
    • ब्लीडिंग डिसऑर्डर जैसी समस्या होने पर भी विटामिन-ई सप्लीमेंट्स लेने से बचना चाहिए।

    वैसे अगर आप चेहरे के लिए विटामिन-ई का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो इसके मास्क का प्रयोग किया जा सकता है। बाजार में उपलब्ध ब्यूटी मास्क में विटामिन-ई चेहरे के लिए लाभदायक होती है। इन मास्क में विटामिन-ई और विटामिन-सी दोनों की मौजूदगी होती है जो चेहरे को सॉफ्ट और जवां बनाये रखने में मददगार हो सकती है।

    आप चाहें तो घर पर खुद से विटामिन-ई मास्क को बना सकते हैं। इसके लिए विटामिन-ई ऑयल में आलमंड ऑयल मिलाएं। इस मिक्सचर में नींबू का रस, शहद और एवोकैडो (एवोकैडो पेस्ट) मिलाएं। अब इसे चेहरे पर 20 मिनट के लिए लगाएं और उसके बाद हल्के हाथ से मसाज करते हुए पानी से धो लें। ऐसा सप्ताह में 2 बार करने से चेहरा सॉफ्ट होने के साथ ही चेहरे पर चमक आती है।

    विटामिन-ई में एलोवेरा जूस मिलाकर भी मास्क बनाई जा सकती है। एलोवेरा में मौजूद विटामिन-सी और विटामिन-ई होता है। त्वचा के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले इस पौधे में त्वचा को निखारने के लिए कई तत्व शामिल हैं। यह त्वचा को मॉइस्चराइज भी करता है। इसमें मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण त्वचा को ठंडक पहुंचाते हैं और कील मुंहासों को जड़ से मिटा देते हैं।

    अगर आप विटामिन-ई से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

    नोट : नए संशोधन की डॉ. प्रणाली पाटील द्वारा समीक्षा

    डिस्क्लेमर

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    Dr. Pooja Bhardwaj


    Mubasshera Usmani द्वारा लिखित · अपडेटेड 11/05/2021

    ad iconadvertisement

    Was this article helpful?

    ad iconadvertisement
    ad iconadvertisement