आइंस्टीन के जितना स्मार्ट बनाना है अपना ब्रेन, तो इस्तेमाल करें ये 5 औषधियां

By Medically reviewed by Dr. Pranali Patil

शरीर के स्वास्थ्य के साथ ब्रेन के स्वास्थ्य का भी ख्याल रखना बहुत जरूरी है। हेल्दी ब्रेन के लिए हेल्दी खाना और दिमाग तेज करने की दवा जरूरी है। जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती जाती है, उम्र के साथ-साथ हमारी मेमोरी को भी नुकसान होता है। जिससे दिमाग कमजोर होना चालू हो जाता है। एक हेल्दी ब्रेन उसे कहते हैं जो सामान्य स्तर पर क्रिया करता है जैसे कि मेमोरी और बॉडी के मूवमेंट्स सामान्य होना। आज हम ऐसे ही पांच हर्बस के बारे में जानेंगे जो ब्रेन को हेल्दी रखने में मदद करते हैं। इनका इस्तेमाल हम दिमाग तेज करने की दवा के तौर पर भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः ब्रेन एक्टिविटीज से बच्चों को बनाएं क्रिएटिव, सीखेंगे जरूरी स्किल्स

सवाल

ब्रेन को हेल्दी रखने के लिए प्राकृतिक तरीकें क्या हो सकते हैं?

जवाब

1. शंखपुष्पी (कन्वोलवुलस प्लुरिकालिस)

शंखपुष्पी को मस्तिष्क का टॉनिक कहा जाता है। ये याददाश्त तेज करता है। मस्तिष्क की गतिविधियां भी प्रभावित करता है। सिर दर्द और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को भी कम करता है। साथ ही, ये मन को शांत रखता है और तंत्रिका तंत्र को मजबूत करके लंबी उम्र प्रदान करता है।

यह भी पढ़ेंः सिर्फ प्यार में नींद और चैन नहीं खोता, हर उम्र में हो सकती है ये बीमारी

2. मुलेठी (Liquorice)

मुलेठी स्वाद में मीठी होती है। इसमें कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट्स, एंटीबायोटिक्स और प्रोटीन होते हैं। यह तनाव कम करने वाली औषधि है, जो हमें स्ट्रेस फ्री रहने में मदद करके ब्रेन का स्वास्थ्य भी दुरूस्त करता है। आपको किसी भी मुश्किल स्थिति में मन को शांत बनाए रखने में मदद भी करती है। ये नर्वस सिस्टम के ब्लड सर्कुलेशन को भी बेहतर बनाती है। बच्चों से लेकर ये वयस्कों की भी दिमाग तेज करने की दवा और कारगर औषधि होती है।

3. मण्डूकपर्णी (गोटू कोला) (ब्राह्मी बूटी)

गोटू कोला नर्व को डैमेज होने से रोकने में मदद करता है। मस्तिष्क के स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है। आमतौर पर इसका इस्तेमाल बुध्दि और ज्ञान बढ़ाने के लिए ही किया जाता है। अल्जाइमर डिजीज को रोकने के लिए और अनिद्रा की समस्या दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही डिप्रेशन दूर करने में भी यह मददगार होता है।

4. ब्राह्मी (बाकोपा मोंनिरी)

ब्राह्मी कॉर्टिसोल लेवल को कम करता है जो की एक स्ट्रेस हार्मोन होता है। इसे ‘ब्रेन बूस्टर’ के नाम से भी जाना जाता है जिसे आप दिमाग तेज करने की दवा भी कह सकते हैं। ब्राह्मी आयुर्वेदिक और दिमाग तेज करने की दवा के साथ उम्र बढ़ाने में भी मददगार होता है। अल्जाइमर डिजीज में ये टॉनिक की तरह काम करता है। ये ब्रेन की पावर और मेंटल कैपेसिटी भी बढ़ाता है।

यह भी पढ़ेंः Brain Aneurysm : ब्रेन एन्यूरिज्म (मस्तिष्क धमनी विस्फार) क्या है?

5. अश्वगंधा (Withania somnifera)

अश्वगंधा में भी एंटीस्ट्रेस गुण होते हैं जो स्ट्रेस फ्री रह कर ब्रेन का स्वास्थ्य बढ़ाने और विकास करने में लाभकारी होता है। ये मस्तिष्क के कार्य को प्रभावित करता है। अश्वगंधा अनिद्रा में भी काफी लाभकारी होता है। ब्रेन को न्यूट्रिशन देकर उसकी हेल्थ सुधारने में भी मदद करता है।

ऊपर दी गई सलाह कोई भी चिकित्सक सलाह प्रदान नहीं करता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपजने डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

और पढ़ेंः-

जानें अश्वगंधा के 10 चमत्कारी गुण

स्टेमिना बढ़ाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

बार-बार बीमार पड़ना हो सकता है लो इम्यूनिटी का संकेत, ऐसे बढ़ाएं इम्यून पावर

शीघ्रपतन का घरेलू इलाज : खाएं ये चीजें और पाएं तुरंत राहत

अभी शेयर करें

रिव्यू की तारीख दिसम्बर 2, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया दिसम्बर 4, 2019

सूत्र