जानिए कॉफी से जुड़ी मजेदार बातें, जो आपने पहले कभी नहीं सुनी होंगी

Medically reviewed by | By

Update Date जनवरी 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

“क्या आप जानते हैं क्रेम पफ नाम की 38 वर्षीय एक बिल्ली जिसके नाम पर दुनिया की सबसे पुरानी बिल्ली होने का रिकॉर्ड दर्ज है, वह अपनी हर सुबह की शुरुआत कॉफी के साथ किया करती थी।”

जी हां यह बिलकुल सच है। ऐसे अनगिनत लोग हैं जिनकी सुबह बिना कॉफी के कप के शुरू नहीं होती। वैसे यह बुरा भी नहीं हैं। वैज्ञानिकों की मानें तो रोजान 2-3 कप कॉफी आपको कई स्वास्थ्य से जुड़े फायदे दे सकती है। सुबह इसका एक कप दिनभर के लिए आपको एनर्जेटिक रखने के लिए काफी है। यह स्वाद में जितनी टेस्टी है उससे कहीं ज्यादा दिलचस्प इसे जुड़ी हुईं बातें हैं। जिन्हें जानना और सुनना अपने आप में बड़ा मजेदार है।

यह भी पढ़ें : कॉफी का पहला कप करता है दिमाग में 5 बदलाव

कॉफी से जुड़े रोचक तथ्य

बकरियों ने की थी कॉफी की खोज

कॉफी के इतिहास के मुताबिक नौंवी सदी यानी कि 800 ईस्वी में इथियोपिया के पठार के एक जंगल में बकरी चराने वाले चरवाहे अपनी बकरियों को चरा रहे थें। तभी उन्होंने देखा कि एक खास पौधे के बीज को खाने के बाद बकरियां ज्यादा एक्टिव लगने लगी। बकरियों के एक्टिव होने की वजह कैफीन थी। जिसके बाद कालदी नामक चरवाहे ने उस बीज से ड्रिंक बनाई, जिसे पीने के बाद वह रात भर जागता रहा। बस फिर क्या था, यही से एक कप कॉफी की शुरुआत हो गई।

यह भी पढ़ें : अगर आप पीते हैं ज्यादा कॉफी तो हो सकती हैं खतरनाक बीमारियां

दुनिया का दूसरा सबसे ज्यादा पीए जाने वाला ड्रिंक क्या है?

कॉफी पीने का तरीका

अगर सबसे ज्यादा पीए जाने वाले पेय पदार्थ की बात करें तो वह पानी है। लेकिन पानी के बाद जो सबसे ज्यादा पीए जाने वाला ड्रिंक है वो कॉफी है। वहीं, कॉफी कच्चे तेल के बाद दूसरी सबसे बड़ी व्यापारिक वस्तु है। इसका मूल्य दुनिया भर में 100 बिलियन डॉलर से भी ज्यादा है। तो कहा जा सकता है कि ये दुनिया की सबसे चहेती चीज है। जिसके बिना तो कई लोग अपनी जिंदगी सोच भी नहीं सकते हैं। 

यह भी पढ़ें : क्या ग्रीन-टी या कॉफी थायरॉइड पेशेंट्स के लिए फायदेमंद हो सकती है?

कॉफी बीन नहीं, कुछ और है

कॉफी चेरी

कॉफी को कहा सामान्यतः लोग कॉफी बीन कहते हैं। क्योंकि ये देखने में लेग्यूम्स यानी कि फलियों जैसी लगती है। लेकिन, वह बीन नहीं है, बल्कि बीज है। कॉफी के फल बेरी जैसे होते हैं, जिसके बीच में उसका बीज होता है। 

यह भी पढ़ें : कॉफी (coffee) अगर है पहली पसंद : जानें इसके फायदे और नुकसान

कॉफी चेरी को आप खा सकते हैं

कॉफी की खोज होने के बाद कुछ लोग इसके फल को फैट के साथ मिला कर खाते थे। कॉफी चेरी से बनाई गई इस डिश को एनर्जी-रिच स्नैक बॉल की तरह खाया जाता था। इसके अलावा लोग कॉफी चेरी के गूदे को फर्मेंट करा के शराब जैसा ड्रिंक बनाया जाता था। जिसकी मांग शुरुआती दिनों में बहुत थी। 

कॉफी मुख्य दो प्रकार की होती है

कॉफी की बात चली है तो उसके प्रकारों के बारे में भी जानना चाहिए। पहला को है अरेबिका और दूसरा है रॉबस्टा। सबसे ज्यादा अरेबिका का सेवन किया जाता है। लेकिन, बहुत ज्यादा कॉफी पसंद करने वाले लोगों को रॉबस्टा भी पसंद आता है। रॉबस्टा अरेबिका की तुलना में ज्यादा कड़वी और कैफीन की ज्यादा मात्रा से भरी होती है। 

यह भी पढ़ें : कॉफी (Coffee) पीने का सही तरीका अपनाएं और कॉफी से होने वाले नुकसानों को भूल जाएं

एस्प्रेसो का मतलब है ‘प्रेस्ड आउट’

कॉफी के फायदे

एस्प्रेसो के बनाने का तरीका नॉर्मल से थोड़ा अलग होता है। एस्प्रेसो को बनाने के लिए पानी में कॉफी बीन को प्रेस कर के डाला जाता है। एस्प्रेसो का इटैलियन मतलब प्रेस्ड आउट होता है। एस्प्रेसो दुनिया की सबसे हार्ड कॉफी है, जिसमें कैफीन की मात्रा सबसे ज्यादा होता है। 

दुनिया की सबसे महंगी कॉफी को बनाता है एक जानवर

पाम कैविट

दुनिया की सबसे महंगी कॉफी की कीमत है 600 डॉलर प्रति पाउंड। जो पाम सिवेट (Palm Civet) नामक जानवर के पॉटी से बनती है। पाम सिवेट कॉफी चेरी को खाता है और गूदे को पचा लेता है। लेकिन पाम सिवेट का पाचन तंत्र कॉफी के बीज को नहीं पचा पाता है और वह पॉटी के द्वारा बाहर निकाल देता है। इसे कोपी ल्यूवैक कॉफी कहते हैं। जिसका स्वाद सभी कॉफी से हट कर होता है। 

यह भी पढ़ें : चाय, कॉफी की जगह पिएं गर्म पानी, फायदे हैरान कर देंगे

कॉफी पीने से उम्र लंबी होती है

नियमित रूप से कॉफी पीने से कैंसर, हृदय रोग और अल्जाइमर जैसी बीमारियों का खतरा कम हो सकता है। अगर आप एक दिन में तीन से चार कप कॉफी पीते हैं तो आपको टाइप 2 डायबिटीज और पार्किंसन जैसी बीमारियां नहीं होंगी। 

डीकैफ का मतलब कैफीन फ्री नहीं होता है

कॉफी के लती लोग अपनी लत छुड़ाने के लिए डीकैफ कॉफी पीने लगते हैं। उन्हें लगता है कि उसमें कैफीन की मात्रा बहुत कम होगी। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं होता है, कैफीन की मात्रा डीकैफ में भी होती है, बस थोड़ी कम होती है।

यह भी पढ़ें : क्या आप भी नींद भगाने के लिए पीते हैं कॉफी? आज से शायद बदल जाए आपका नजरिया !

सबसे कम कैलोरी की होती है ब्लैक कॉफी

सामान्यतः कॉफी में हम दूध, क्रीम, शुगर आदि मिलाते हैं। जिसके कारण 600 कैलोरी ऊर्जा मिलती है। वहीं, अगर हम ब्लैक कॉफी पीते हैं तो उसमें मात्र एक कैलोरी ऊर्जा ही पाई जाती है। 

खूबसूरत का खजाना भी है

कॉफी पीने और लगाने में फर्क होता है, जिसके प्रयोग से आप खूबसूरत बन सकते हैं। कॉफी का स्क्रब लगाने से चेहरे की त्वचा स्मूद होती है। साथ ही डेड स्किन भी निकल जाती है। वहीं, कैफीन त्वचा में ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ाता है। 

ब्राजील है कॉफी धनी देश

इंटरनेशनल कॉफी एसोसिएशन कि एक रिपोर्ट के अनुसार, यूरोप दुनिया में सबसे अधिक इसका आयात करता है वहीं ब्राजील कॉफी में प्रमुख निर्यातक देश है। ब्राजील दुनिया की 40% कॉफी का उत्पादन करता है।

यह भी पढ़ें : कैंसर के साथ इन बीमारियों से भी बचाती है ब्लैक कॉफी, जानिए कैसे

कुछ अन्य मजेदार तथ्य

  • सन 1932 में ब्राजील के पास अपने खिलाड़ियों को ओलिम्पिक में भेजने के लिए पर्याप्त धन नहीं था, तो सरकार ने खिलाड़ियों को कॉफी बेचने के लिए दी। जिसे बेचकर खिलाड़ियों ने खुद ओलिम्पिक्स के लिए पर्याप्त राशि जमा की।
  • एक शोध के दौरान वैज्ञानिकों ने कॉफी को सफलतापूर्वक बायोडीजल में कंवर्ट कर यह साबित कर दिया कि यह भी ईंधन का काम कर सकती है। 
  • इसमें अगर क्रीम मिला दी जाए तो कॉफी 20 प्रतिशत ज्यादा समय तक गर्म रहती है।
  • दुनिया भर में लोग प्रतिदिन लगभग 2.25 बिलियन कप कॉफी का सेवन करते हैं।
  • अल्जाइमर (Alzheimer) से पीड़ित लोग बातें भूलने लगते हैं, उनकी सोचने की क्षमता भी काफी हद तक खत्म हो जाती है। डॉक्टरों के अनुसार अल्जाइमर (Alzheimer) से ग्रसित व्यक्ति अगर नियमित रूप से कॉफी का सेवन करे तो उसकी समस्या दूर हो सकती है।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। ज्यादा जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। 

और पढ़ें :

जानिए ग्रीन कॉफी (Green Coffee) के फायदे

फर्टिलिटी को नुकसान पहुंचाने वाली आदतें कौन सी हैं?

स्ट्रेस को दूर भगाना है तो दोस्त को पास बुलाएं, जानें दोस्ती के बारे में इंटरेस्टिंग फैक्ट्स

डिटॉक्स टी आज ट्रेंड में है, इंटरनेशनल टी डे पर जानें इसके फायदे और साइड इफेक्ट्स

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    Throat Ulcers : गले में छाले क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

    गले में छाले होने की वजह से आपको खाने-पीने, बात करने आदि में दर्द व परेशानी हो सकती है। आइए, जानते हैं कि गले में छाले के लक्षण, कारण और इलाज क्या होता है।

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Surender Aggarwal
    हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    Fatigue : थकान क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

    थकान की अनुभूति तो सब करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं यह होता क्यों है? जानिये कैसे थकान को नैचुरल तरीके से कम किया जा सकता है। Fatigue in Hindi.

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Surender Aggarwal
    हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    Hepatitis : हेपेटाइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

    लिवर में सूजन आने की समस्या को हेपेटाइटिस कहा जाता है। इससे बचने के उपाय व इलाज के बारे में विस्तार से जानते हैं। Hepatitis in Hindi.

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Surender Aggarwal
    हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    Testicular Pain : अंडकोष में दर्द क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

    अंडकोष में दर्द कई कारणों से हो सकता है। आइए, इससे बचाव व इसके उपचार के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं। Testicular Pain in Hindi.

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Surender Aggarwal
    हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें