अब फेसबुक पर लगा इस ऐप के साथ मिलकर स्वास्थ्य से संबंधित पर्सनल इंफॉर्मेशन लीक करने का आरोप

By

Update Date सितम्बर 12, 2019
Share now

सोशल मीडिया पर यूजर्स का डाटा लीक होने की खबरें आए-दिन आती रहती हैं। थोड़े दिन पहले फेसबुक पर यूजर्स की पर्सनल इंफॉर्मेशन को बेचने का आरोप लगा था और अब फेसबुक पर यूजर्स के स्वास्थ्य से संबंधित निजी डाटा को लीक करने का मामला सामने आया है। दरअसल, ब्रिटेन के एडवोकेसी ग्रुप प्राइवेसी इंटरनेशनल (Privacy International) की एक रिपोर्ट के अनुसार महिलाओं में पीरियड (mensuration )और प्रेग्नेंसी ट्रैक करने वाली ऐप माया (Maya) अपने यूजर्स का निजी डाटा फेसबुक के साथ शेयर कर रही है। इस ऐप में डाटा यूजर्स खुद रिकॉर्ड करता है, जिसमें कई बातें शामिल होती हैं जैसे आखिरी बार शारीरिक संबंध कब बनाया?, कौन-सा गर्भनिरोधक उपाय अपनाया? आदि।

रिपोर्ट के अनुसार, यह सूचना ‘फेसबुक सॉफ्टवेयर डेवलेपमेंट किट’ द्वारा लीक हो रही है। फेसबुक सॉफ्टवेयर डेवलेपमेंट किट (Facebook Software Development Kit) किसी खास ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए ऐप डेवलेप करने, ट्रैक एनालिटिक्स और ऐप को मोनेटाइज करने में सहायता करती है। प्राइवेसी इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार जैसे ही यूजर द्वारा माया ऐप डाउनलोड की जाती है, वैसे ही ये अपना डाटा फेसबुक के साथ शेयर करना शुरू कर देती है।

क्या प्रेग्नेंसी में हॉट वॉटर बाथ लेना सुरक्षित है?

क्या है माया ऐप?

लड़कियों और महिलाओं के बीच काफी लोकप्रिय माया ऐप पीरियड्स, प्रेग्नेंसी, मूड स्विंग और अन्य संबंधित जानकारियां देता है। इस ऐप के जरिए महिलाओं को उनके द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब आसानी से मिल जाते हैं। महिलाएं कुछ समस्याओं को किसी और से बताने में संकोच करती हैं। ऐसे में इस ऐप का प्रयोग कर महिलाएं अपनी प्राइवेसी को बरकरार रखते हुए पीरियड आदि से जुड़ी समस्याओं की जानकारी आसानी से प्राप्त कर सकती है।

जानें प्री-टीन्स में होने वाले मूड स्विंग्स को कैसे हैंडल करें

डाटा का इस्तेमाल इनके लिए हो सकता है उपयोगी

यूजर्स के स्वास्थ्य से संबंधित लीक हुए डाटा का उपयोग विज्ञापन और इंश्योरेंस कंपनियों द्वारा गलत इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, BuzzFeed की एक रिपोर्ट के अनुसार, फेसबुक के प्रवक्ता जो ओसबर्न ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है। वहीं माया ऐप डेवलपर्स ने कहा है कि ऐप यूजर्स का कोई भी सेंसटिव डाटा शेयर नहीं करती है। फिर भी नए वर्जन में फेसबुक सॉफ्टवेयर डेवलेपमेंट किट को हटा दिया गया है।

http://

ये भी पढ़ें-

गर्भनिरोधक गोलियां खाने से हो सकते हैं ये 10 साइड इफेक्ट्स

पत्नी की प्रेग्नेंसी के दौरान पति क्यों देते हैं धोखा?

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    प्रेग्नेंसी में बुखार: कहीं शिशु को न कर दे ताउम्र के लिए लाचार

    प्रेग्नेंसी में बुखार के कारण शिशु में स्पाइन और ब्रेन की समस्या शुरू कर सकता है? गर्भावस्था में बुखार से बचने के क्या हैं उपाय? fever in pregnancy in hindi

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Nidhi Sinha

    प्रेग्नेंसी में स्ट्रेस का असर पड़ सकता है भ्रूण के मष्तिष्क विकास पर

    प्रेग्नेंसी में स्ट्रेस किन-किन कारणों से हो सकता है ? प्रेग्नेंसी के दौरान अत्यधिक तनाव भ्रूण पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है? प्रेग्नेंसी में स्ट्रेस...stress during pregnancy in hindi

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Nidhi Sinha

    पेरेंट्स बनने के लिए आईयूआई तकनीक है बेस्ट!

    IUI (आईयूआई) क्या है? आईयूआई प्रेग्नेंसी किन कपल्स के लिए सही विकल्प नहीं है? आईयूआई को सफल बनाने के लिए टिप्स और सुझाव क्या है ? IUI pregnancy process in hindi

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Nidhi Sinha

    गर्भावस्था में चेचक शिशु के लिए जानलेवा न हो जाएं

    NCBI के अनुसार गर्भावस्था में चिकनपॉक्स शिशु के लिए हो सकता है नुकसानदायक। प्रेग्नेंसी में चेचक के कारण शिशु के शारीरिक अंगों पर भी पड़ता है असर? chickenpox during pregnancy in hindi

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Nidhi Sinha