home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

वजन घटाने के सबसे बड़े झूठ, जानिए इनका सच

वजन घटाने के सबसे बड़े झूठ, जानिए इनका सच

आजकल सोशल मीडिया से लेकर ढ़ेर सारे ऐप और वेबसाइट्स वजन घटाने यानी फैट कम करने के तरीके और वर्कआउट बता रहें हैं। कुछ लोग वजन घटाने के लिए जमकर एक्सरसाइज करते हैं, लेकिन परिणाम उनकी सोच के मुताबिक नहीं आता, ऐसा क्यों जानते हैं आप? क्योंकि वजन घटाने का दावा करने वाली कुछ एक्सरसाइज वाकई में कारगर नहीं होती, इनके वजन घटाने के दावे झूठे हैं। वजन घटाने के झूठ की क्या है सच्चाई चलिए जानते हैं।

वजन कम करने के लिए अक्सर लोग वर्कआउट की सलाह देते हैं और आजकल हर बॉडी टाइप और बॉडी के अलग-अलग हिस्से के लिए अलग तरह की एक्सरसाइज बताई जाती हैं, लेकिन क्या यह वाकई में काम करता है? वजन घटाने के झूठ और सच निम्नलिखित हैं।

वजन घटाने के झूठ- खास हिस्से का वजन कम करने के लिए अलग एक्सरसाइज होती है

कुछ वर्कआउट में बॉडी के किसी खास हिस्से का फैट कम करने का दावा किया जाता है, जैसे- एब वर्कआउट से बेली फैट कम होगा, बैक एक्सरसाइज से बैक फैट, लेग एक्सरसाइज से लेग फैट और चेस्ट एक्सरसाइज पुरुषों की छाती को टारगेट किया जाता है। फेस एक्सरसाइज से चेहरे का मोटापा कम होता है आदि। ये सारी बातें असल में सच नहीं है।

क्योंकि वर्कआउट मसल्स को टारगेट करता है न कि मसल्स के ऊपर के फैट को। कई अध्ययन में भी यह बात साबित हो चुकी है कि वर्कआउट से शरीर के किसी खास हिस्से का फैट बर्न नहीं होता है।

और पढ़ें: वेट लॉस डायट प्लान में शामिल करें ये 5 इंडियन रेसिपीज, पांच दिन में घटेगा वजन

वजन घटाने के झूठ- लाइट वेट या हाई रिपिटेशन= वेट लॉस

ऐसा माना जाता है कि हल्के वजन और ज्यादा रिपिटेशन के साथ वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज करने से वजन जल्दी कम होता है, जबकि हैवी वेट और कम रिपिटेशन के साथ वर्कआउट से मसल्स बनती हैं।

दोनों ही बातें गलत है क्योंकि पहली बात तो यह कि किसी खास लक्ष्य के लिए कुछ रिपिटेशन रेंज कम या अधिक हो सकते हैं और मसल्स का निर्माण तो हर रिपिटेशन के साथ होता है, भले ही वह कम या अधिक हो।

जब आप कम वजन का इस्तेमाल करते हैं और रिपिटेशन अधिक करते हैं तो इससे शरीर पर कोई जादुई असर नहीं होता है और नाही फैट तुरंत बर्न होने लगता है।

सच्चाई यह है कि जब आप हैवी वेट उठाने से अचानक लाइट वेट उठाने लगते हैं तो इससे उत्तेजना में कमी आती है और इससे मांसपेशियों को नुकसान पहुंच सकता है।

और पढ़ें: मेडिकल न्यूट्रिशन थेरिपी क्या होती है? जानिए इसके बारे में

वजन घटाने के झूठ- फैट बर्न करने और मसल्स बनाने के लिए अलग-अलग तरह की एक्सरसाइज जरूरी है।

कुछ एक्सरसाइज मशीन से की जाती है और कुछ ऐसे ही। आमतौर पर कहा जाता है मशीन पर की जाने वाली और कुछ बॉडी वेट एक्सरसाइज से फैट बर्न होता है जबकि कुछ फ्री वेट वर्कआउट से अपने आप मसल्स बन जाती हैं। यह भी पूरी तरह से गलत है।

क्योंकि शरीर को यह पता नहीं होता और न ही इसकी परवाह होती है कि आप वर्कआउट में किस तरह के उपकरण का इस्तेमाल कर रहे हैं। ‘यह वेट लॉस वर्कआउट है और यह मशीन एक्सरसाइज है’, आपकी बॉडी एक्सरसाइज में ऐसा अंतर नहीं कर सकती है। बस आपके शरीर को एक्सरसाइज से होने वाले तनाव, थकान और नुकसान की परवाह होती है, चाहे वह मशीन से किया जा रहा हो या ऐसे ही। फैट बर्न का दावा करने वाले वेट ट्रेनिंग वर्कआउट से असल में वजन कम होता नहीं है। जब तक डायट का ध्यान न रखा जाए।

और पढ़ेंः सब्जा (तुलसी) के बीज से कम करें वजन और इससे जुड़े 8 अमेजिंग बेनिफिट्स

वजन घटाने के झूठ- टोनिंग वर्कआउट से बॉडी टोन्ड बनती है

कुछ खास तरह की एक्सरसाइज बॉडी को टोन करने का दावा करती है। यदि आपको बल्की बॉडी चाहिए तो फलां एक्सरसाइज करें, पतली बॉडी चाहिए तो यह वाली करें, क्योंकि यह खास बॉडी टाइप के लिए है। इस बात में कोई सच्चाई नहीं है।

आप अपने शरीर के किसी एक हिस्से को टोन नहीं कर सकते। आप बस वहां मसल्स कम ज्यादा कर सकते हैं, लेकिन वजन कम नहीं कर सकते हैं। यानी आप यह तय नहीं कर सकते कि बॉडी के किसी खास हिस्से का फैट कम हो। ऐसा करना संभव नहीं है।

टोनिंग एक्सरसाइज का कॉन्सेप्ट बस मार्केटिंग और पॉप्युलैरिटी के लिए है। इसका सच से नाता नहीं है।

वजन घटाने के झूठ- अधिक कार्डियो करने से वजन कम होता है

यदि आप वजन घटाने के लिए ट्रेडमील पर खूब दौड़ते हैं तो यह तरीका सही नहीं है। हां, पारंपरिक कार्डियो वर्कआउट से आपको कैलोरी घटाने में मदद मिलती है जो वजन कम करने में सहायक है, लेकिन लंबे समय के लिए यह तरीका ठीक नहीं है, क्योंकि इससे मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं और आराम करते समय भी कैलोरी खर्च होती रहती है। वजन घटाने के लिए हाई-इंटेंसिटी कार्डियो और स्ट्रेंथ ट्रेनिंग के साथ ही हेल्दी डायट जरूरी है। सिर्फ ट्रेडमील पर भागने से कुछ नहीं होगा।

वजन घटाने में किसी खास तरह की एक्सरसाइज का नहीं, बल्कि डायट और फुल बॉडी पर फोकस करने वाली एक्सरसाइज ही कारगर होती है। एक बात याद रखिए यदि आप खूब एक्सरसाइज करते हैं, लेकिन खाने में कैलोरी काउंट का ख्याल नहीं रखते तो वजन कम करना मुश्किल है। वजन तभी कम होगा जब आपके शरीर द्वारा खर्च की गई कैलोरी की मात्रा आपके द्वारा ली गई कैलोरी से अधिक होगी। यानी आप जितनी कैलोरी का सेवन करते हैं शरीर उससे अधिक खर्च करें।

और पढ़ेंः पुरुषों के लिए वेट लॉस डायट टिप्स, जानें एक्सपर्ट्स की सलाह

अब आप समझ गए हाेंगे कि कितने सारे वजन घटाने के झूठ फैले हुए हैं जिन पर लोग भरोसा करते हैं। अगर आप वजन घटाने के झूठ से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। वैसे यहां हम आपको वजन घटाने के झूठ नहीं बल्कि आपको ऐसे एक्सरसाइज के बारे में बताने जा रहें, जिससे आप अपने वेट को बैलेंस रख सकते हैं। जर्नल ऑफ क्लिनिकल एंडोक्रिनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म के रिसर्च अनुसार सुबह के वक्त एक्सरसाइज करने से वजन को तेजी से कम किया जा सकता है। इसलिए अगर आप अपने बढ़े हुए वजन से परेशान हैं और कम करने के लिए लगातार कोशिश कर रहें हैं और कई उपाय अपना चुके हैं, तो सबसे पहले मॉर्निंग एक्सरसाइज करने की आदत डालें और करें निम्नलिखित व्यायाम।

1. साइकिलिंग- वेट कम करने के लिए या संतुलित बनाएं रखने के लिए साइकिल चलना प्रभावी माना जाता है। नियमित साइकिल चलाने से वजन आसानी से कम किया जा सकता है। इसलिए हफ्ते में कम से कम पांच दिन आधे से एक घंटे साइकिलिंग की डालें।

2. स्विमिंग- स्विमिंग बेस्ट वर्कऑउट्स में से एक है। तैरने से पूरे शरीर का वर्कआउट होता है। तैरने से बॉडी वेट मेंटेन रखा जा सकता है या अगर आप वजन कम करने की कोशिश में लगे हुए हैं, तो एक और कोशिश करें स्विमिंग की। इससे वजन कम करने में सहायता मिलेगी।

3. जम्पिंग जैक्स- मोटापा कम करने के लिए जम्पिंग जैक्स एक्सरसाइज की जा सकती है। इस वर्कआउट को करने के लिए न आपको जिम जाने की जरूरत है और न घर पर जिम से जुड़े मशीनों की। इसके लिए सिर्फ आपको खड़े हो कर अपने दोनों हाथों को ऊपर की दिशा में सीधी रखनी है। अब पैरों को पंजे के सहारे जंप करना है और वापस नीचे आना है। यह ठीक रस्सी कूदने जैसा होता है।

4. रस्सी कूदना- बचपन के गेम में शामिल स्किपिंग वयस्कों के वर्कआउट में शामिल है। नियमित स्किपिंग से बॉडी को फिट बनाया जा सकता है। फिटनेस एक्सपर्ट्स के अनुसार तेजी से वजन कम करने के लिए स्किपिंग का विकल्प अपनाया जा सकता है। लेकिन स्किपिंग को अपने रोज की दिनचर्या में शामिल करना जरूरी है। सिर्फ एक दिन या एक हफ्ते में आपको पॉसिटिव रिजल्ट नहीं मिल सकता है। पॉसिटिव रिजल्ट के लिए रोजाना रस्सी कूदना जरूरी है।

5. स्क्वॉट्स- स्क्वॉट्स एक्सरसाइज आप घर पर ही कर सकते हैं। स्क्वॉट्स वर्कआउट करने के लिए स्टैंडिंग पुजिशन ले लें और अपने दोनों हाथों को अपने सामने स्ट्रेट रखें। अब अपने घुटनों को मोड़ें और कुर्सी पर बैठने की पोज लें और बॉडी को बैठने की पुजिशन में लाएं और फिर स्ट्रेट खड़े हो जाएं। ऐसा आप शुरूआती दिनों में दस से पंद्रह बार करें। अगर आप ज्यादा कर सकते हैं, तो आप अपने बॉडी की कैपेसिटी के अनुसार करें।

और पढ़ें : पेट की परेशानियों को दूर करता है पवनमुक्तासन, जानिए इसे करने का तरीका और फायदे

इन आसान से एक्सरसाइज की मदद से आप बिना जेब ढ़ीली किये हुए वजन को कम कर सकते हैं या संतुलित बनाये रख सकते हैं। वैसे वेट लॉस के लिए एक्सरसाइज के साथ-साथ या एक्सरसाइज न कर योग करना भी लाभकारी हो सकता है। योग के लिए आपको अपना कुछ वक्त नियमित देना होगा। योग आप घर के अंदर, बाहर, गार्डेन या किसी भी ऐसे स्थान पर कर सकते हैं, जहां शांति हो खुली हवा हो। वजन कम करने के लिए निम्नलिखित योगासन किये जा सकते हैं।

1. सूर्यनमस्कार- सूर्यनमस्कार काफी प्रभावी आसनों में से एक है। इस एक योगासन में कई सारी मुद्राएं आती हैं, जो सिर्फ बॉडी वेट बैलेंस रखने को ही कार्य नहीं बल्कि कई अलग-अलग बीमारियों से भी आपको बचाये रखता है।

2. भुजंगासन- यह आसन जितना बैक और चेस्ट के लिए लाभकारी है, उतना ही बढ़ते हुए वजन को कंट्रोल करने में भी आपको सहायता मिलेगी।

3. पूर्वोत्तनासन- पूर्वोत्तनासन करना शुरुआती दिनों में कठिन हो सकता है। लेकिन रोजाना करने से पीठ, कंधों, हाथ, रीढ़ की हड्डी, कलाई और मांसपेशियों को अत्यंत लाभ मिलता है। इससे वजन को भी कम किया जा सकता है।

अगर आप वजन कम करने से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Some Myths about Nutrition & Physical Activity/https://www.niddk.nih.gov/health-information/weight-management/myths-nutrition-physical-activity/Accessed on 13/05/2020

Exercise and Fitness Development Investigation: Myth or Fact?/https://www.edu.gov.mb.ca/k12/cur/physhlth/frame_found_gr12/rm/5_fm.pdf/Accessed on 13/05/2020

Weight loss – common myths/https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/HealthyLiving/weight-loss-common-myths/Accessed on 13/05/2020

Can you boost your metabolism?/https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000893.htm/Accessed on 13/05/2020

लेखक की तस्वीर badge
Kanchan Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/10/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x