आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

अनानास के स्वास्थ्य लाभः कई बीमारियों में लाभदायक है इसका सेवन

अनानास के स्वास्थ्य लाभः कई बीमारियों में लाभदायक है इसका सेवन

अनानास एक रसीला, खट्टा-मीठा फल होता है, जिसमें प्रोटीन (Protein), फॉस्फोरस (Phosphorus), कैल्शियम (Calcium), विटामिन-ए (Vitamin A) और विटामिन-सी (Vitamin C) की भरपूर मात्रा होती है। ज्यादातर लोगों को यह अपने अनोखे स्वाद की वजह से पसंद होता है। साथ ही, इसमें कई औषधीय गुण भी पाए जाते हैं, तो अनानास के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of pineapple) सेहत के साथ-साथ खूबसूरती बनाए रखने में भी मदद करते हैं।

इसे लोग कई तरह से खाना पसंद करते हैं। आप चाहें तो, इसे ताजा काटकर और छीलकर खा सकते हैं या फिर चाहे तो इसके काट कर रख सकते हैं और कई दिनों तक इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर इसका जूस पी सकते हैं। आप चाहें तो, इसका इस्तेमाल सलाद के रूप में भी कर सकते हैं।

और पढ़ें : उचित नूट्रिशन (आहार-पोषण) के बारे में जानने के लिए क्विज खेलें

अनानास के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of pineapple) और गुण

यह एक उष्णकटिबंधीय फल है। इसमें पाए जाने वाले विटामिन, एंजाइम (Enzyme) और एंटीऑक्सिडेंट्स (Antioxidants) हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune system) को मजबूत बनाते हैं और हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। साथ ही, पाचन क्रिया को भी ठीक करते हैं। स्वाद में यह मीठा होता है। हालांकि, फिर भी इसमें कैलोरी की कम मात्रा पाई जाती है।

मूल रूप से अनानास दक्षिण अमेरिका में पाया जाता है। वहां पर शुरुआती यूरोपीय खोजकर्ताओं ने इसका नाम इसके पिनकॉन के समान बताया था। लेकिन, बहुत जल्द ही यह अपने स्वाद और इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्वों, एंटीऑक्सिडेंट और अन्य सहायक यौगिकों के गुणों की वजह से यह मसहूर हो गया। इसमें एंजाइम की मात्रा होती है, जो सूजन और बीमारी से लड़ने में शरीर की मदद कर सकता है।

[mc4wp_form id=”183492″]

और पढ़ेंः पिकी ईटर्स के लिए रेसिपी, जो उनको देगीं भरपूर पोषण

अनानास के स्वास्थ्य लाभ, पोषण तथ्य (Nutrition facts) और औषधीय गुण

  1. अमेरिकी खाद्य और औषधि प्रशासन के अनुसार, कच्चा अनानास पोषण का सबसे बड़ा स्त्रोत हो सकता है। अनानास के नियमित सेवन से शरीर में घुले विषैले तत्व बाहर निकल जाते हैं। इसमें क्लोरीन की भरपूर मात्रा होती है, जो पीलिया (Jaundice), गले के रोग और मूत्र रोगों (Urinary diseases) में लाभकारी होती है।
  2. अगर आप दिन भर में एक गिलास अनानास का रस पीते हैं, तो आपके शरीर में मैग्नीशियम की 75 फीसदी की पूर्ति होगी। यह आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी मददगार होता है।
  3. ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों का दावा है कि यह कैंसर (Cancer) के खतरे को भी कम करता है। इसमें उच्च एंटी-ऑक्सिडेंट पाया जाता है, जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है।

अनानास के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of pineapple) मिलते हैं गंभीर रोगों (Serious disease) में

अनानास का फल एंटीऑक्सिडेंट का एक अच्छा स्रोत होता है। यह हृदय रोग, मधुमेह (डायबिटीज) और कुछ कैंसर जैसे पुराने रोगों के जोखिम को कम कर सकता है। अनानास में कई एंटीऑक्सिडेंट बाध्य होते हैं, जिनका प्रभाव शरीर में लंबे समय तक बना रहता है। अनानास के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of pineapple) के जरिए इसके एंटीऑक्सीडेंट अणु हमारे शरीर को ऑक्सीडेटिव तनाव से निपटने में मदद प्रदान करता है। ऑक्सीडेटिव तनाव एक ऐसी स्थिति है जिसमें शरीर में बहुत अधिक मुक्त कण होते हैं। ये मुक्त कण शरीर की कोशिकाओं के साथ इंटरैक्शन करते हैं और शरीर की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाते हैं। जिसके कारण पुरानी सूजन, कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली और कई हानिकारक बीमारियों का जोखिम बढ़ जाता है। इसके साथ ही, अनानास विशेष रूप से एंटीऑक्सिडेंट में फ्लेवोनोइड और फेनोलिक एसिड के रूप में सबसे समृद्ध फल होता है।

अनानास के स्वास्थ्य लाभ: आर्थराइटिस के लक्षणों (Arthritis symptoms) को कम कर सकते हैं

अर्थराइटिस की समस्या की बात करें, तो डायबिटीज (Diabetes) और ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) की समस्या के बाद अर्थराइटिस के मरीजों की संख्या लगातार तेजी से बढ़ रही है। अर्थराइटिस को हिंदी में गठिया की समस्या कहते हैं। इसकी समस्या में शरीर के अलग-अलग हड्डियों के जोड़ों में दर्द होता है। अर्थराइटिस के कई अलग-अलग प्रकार होते हैं। हालांकि, अनानास के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of pineapple) आपको हर प्रकार के अर्थराइटिस में मिल सकता है। चूंकि अनानास में ब्रोमेलैन होता है, जिसमें एंटी इंफ्लामेट्री गुण होते हैं, इसलिए यह सूजन वाले गठिया के कारण होने वाले दर्द से राहत प्रदान करने में मददगार हो सकता है।

इस तथ्य को लेकर, 1960 के दशक की शुरुआत में एक शोध भी किया गया था। जिसमें यह पाया गया था कि ब्रोमेलैन का उपयोग गठिया के लक्षणों को दूर करने के लिए किया जा सकता है। जिसके बाद कई हालिया अध्ययनों ने गठिया के इलाज के लिए ब्रोमेलैन की प्रभावशीलता पर ध्यान भी दिया।ऑस्टियोआर्थराइटिस के रोगियों में एक अध्ययन में पाया गया कि ब्रोमेलैन युक्त पाचन एंजाइम का इस्तेमाल करना गठिया के इलाज के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले दवा के समान ही लाभकारी होता है।

साथ ही, यह गठिया के लक्षणों को बहुत ही कम समय में कम करने में मदद भी करता है। हालांकि, यह गठिया के लक्षणों को कब तक के लिए दूर कर सकता है, इस बारे में अभी भी अध्ययन किया जा रहा है।

और पढ़ें : ब्रोकली की हेल्दी रेसिपी जो घर में कुछ मिनटों में हो जाएंगी तैयार

अन्य गुण

  • अगर छाती में दर्द (Chest Pain) हो रहा हो या भोजन के बाद पेट दर्द हो रहा हो, तो भोजन के पहले अनानास के 25 से 50 मिली. रस में चार चम्मच अदरक का रस मिलाएं और एक चुटकी पिसा हुआ अजवायन पीने से आराम मिलता है।
  • जिन महिलाओं को पीरियड्स अनियमित आता हो, उन्हें इसके 25 से 50 मिली. रस में एक चम्मच शहद व अदरक का रस मिलाकर पीना चाहिए। अनानास के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of pineapple) से पीरियड्स नियमित होने में मदद मिलती है।
  • जिन्हें फोड़े-फुंसियां बहुत ज्यादा होती है, उन्हें अनानास का गूदा पीसकर फुंसियों पर लगाना चाहिए। हफ्ते भर में फर्क नजर आने लगेगा।
  • अगर किसी को पथरी (Stone) की समस्या है, तो वो 15 से 20 दिनों कर रोजाना एक गिलास अनानास का रस पीएं।
  • जिन्हें पेशाब करने के दौरान जलन होती है, पेशाब कम होती है, पेशाब से बहुत ज्यादा दुर्गन्ध आती है या रुक-रुककर पेशाब आती है, तो वो एक गिलास अनानास के रस में एक चम्मच मिश्री डालकर भोजन से पहले पिएं।
  • जिन्हें बहुत ज्यादा पेशाब आता हो, वो अनानास के रस में जीरा, जायफल, पीपल का चूर्ण मिलाकर पिएं।

और पढ़ें: कच्चे आम के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, गर्मी से बचाने के साथ ही कोलेस्ट्रॉल को करता है कंट्रोल

अनानास के साइड इफेक्ट (Pineapple side effects)

  • इसके अधिक सेवन से कफ (Cough) की समस्या बढ़ सकती है। इसलिए, पुराना जुकाम, सर्दी, खांसी, दमा, बुखार, जोड़ों के दर्द वाले मरीजों और गर्भवती महिलाओं का इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • पित्त होने या बहुत ज्यादा सर्दी होने पर इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अनानास को कभी भी दूध या दूध से बनी चीजों में मिलाकर न खाएं।

उम्मीद है अनानास के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of pineapple) जानकर आप इसे अपनी डेली डायट में जरूर शामिल करेंगे। अनानास के स्वास्थ्य लाभ आपको हेल्दी बनाने में मदद करेगा और साथ ही इसका स्वाद भी आपको काफी पसंद आएगा।

अगर आपको अनानास के स्वास्थ्य लाभ या साइड इफेक्ट्स से संबंधित किसी भी तरह की अन्य जानकारी चाहिए, तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Pineapple – https://healthysd.gov/pineapple/ Accessed on 05 February 2020.

Pineapples – https://snaped.fns.usda.gov/seasonal-produce-guide/pineapples Accessed on 05 February 2020.

Pineapple – https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/ingredientsprofiles/Pineapple Accessed on 05 February 2020.

Bromelain – https://www.nccih.nih.gov/health/bromelain Accessed on 05 February 2020.

THE WAR ON PINEAPPLE: Understanding Foreign Interference in 5 Steps – https://www.dhs.gov/sites/default/files/publications/19_0717_cisa_the-war-on-pineapple-understanding-foreign-interference-in-5-steps.pdf  Accessed on 05 February 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/09/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड