home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

एनीमिया और महिलाओं के बीच क्या संबंध है?

एनीमिया और महिलाओं के बीच क्या संबंध है?

एनीमिया (anemia) क्या है ?

एनीमिया तब होता है जब आपके शरीर में पर्याप्त स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाओं या हीमोग्लोबिन नहीं होता है। आपके रक्त में लाल और सफेद रक्त कोशिकाएं होती हैं। लाल कोशिकाएं ऑक्सीजन ले जाती हैं और सफेद कोशिकाएं संक्रमण से लड़ती हैं। यदि आपके पास बहुत कम लाल रक्त कोशिकाएं (आरबीसी) हैं या यदि आपके लाल रक्त कोशिकाओं में हीमोग्लोबिन (एचजीबी) का स्तर सामान्य से कम है तो आपको एनीमिया हो सकता है।

  • एचजीबी एक प्रोटीन है जो ऑक्सीजन ले जाने के लिए आयरन का उपयोग करता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं में पाया जाता है और रक्त को अपना लाल रंग देता है। एचजीबी फेफड़ों से ऑक्सीजन को शरीर के बाकी हिस्सों तक पहुंचाता है। शरीर को ऊर्जा बनाने और अपने सभी कार्यों को पूरा करने के लिए ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है।
  • आपको बता दें एनीमिया हल्के, मध्यम या गंभीर (बहुत खराब) हो सकते हैं। यह अस्थायी या लंबे समय तक चलने वाली समस्या भी हो सकती है। गंभीर या लंबे समय तक चलने वाले एनीमिया के साथ, रक्त में ऑक्सीजन की कमी हृदय, मस्तिष्क और शरीर के अन्य अंगों को नुकसान पहुंचा सकती है। बहुत गंभीर एनीमिया यहां तक ​​कि मौत का कारण बन सकता है। अच्छी खबर यह है, एनीमिया का निदान और उपचार किया जा सकता है। बहुत कम लोग जानते हैं की महिलाओं के शरीर पर एनीमिया का क्या प्रभावर पड़ता है। आइए जानते हैं महिलाओं और एऩीमिया के बीच क्या समानता है।

और पढ़ें – डायबिटीज में डायरिसिस स्वास्थ्य को कैसे करता है प्रभावित? जानिए राहत पाने के कुछ आसान उपाय

महिलाओं और एनीमिया में क्या ऱिश्ता है (Relation between women and anemia)

दुनिया भर में एनीमिया होने का सबसे आम कारण आयरन की कमी है, यह आयरन की कमी के कारण होता है। महिलाओं को विशेष रूप से इस प्रकार के एनीमिया के कई कारणों स् विकसित होने की संभावना है। सबसे पहले, 12 से 49 वर्ष की आयु की महिलाएं अपने पीरियड्स के दौरान महीने में लगभग काफी बल्ड खे देती हैं। दोबारा रक्त को बनाने के लिए आयरन की आवश्यकता होती है जो प्रत्येक मासिक धर्म के साथ लॉस हुए बल्ड में बदल देता है।

  • एनीमिया का खतरा उन महिलाओं में अधिक होता है जिनको विशेष रूप से मासिक धर्म कई दिनों तक या काफी अधिक मात्रा में रक्तस्राव होता हैं।
  • कुछ महिलाओं में गर्भाशय फाइब्रॉएड (गर्भ में नॉन-कैंसर ग्रोथ) से आयरन की कमी हो जाती है, जो धीरे-धीरे रक्तस्राव या जन्म नियंत्रण के लिए कुछ अंतर्गर्भाशयी उपकरणों (आईयूडी) के उपयोग से होने वाले रक्तस्राव से होता है।
  • महिलाओं को अपने शिशुओं के समुचित विकास के लिए गर्भावस्था के दौरान अतिरिक्त आयरन की आवश्यकता होती है।
  • गर्भवती महिलाओं को सामान्य से 50 प्रतिशत अधिक आयरन की आवश्यकता होती है (सामान्य 18 मिलीग्राम प्रति दिन के बजाय 27 मिलीग्राम प्रति दिन)।
  • प्रसव के दौरान महिलाओं को रक्त की कमी हो जाती है। यह उन महिलाओं के लिए महत्वपूर्ण है जो गर्भवती हैं या गर्भवती होने की योजना बना रही हैं ताकि उनके आयरन के स्तर की जांच की जा सके और एनीमिया के किसी भी लक्षण के बारे में अपने स्वास्थ्य देखभाल प्रदाताओं को बताया जा सके। प्रसव पूर्व विटामिन में आयरन होता है और यह कम आयरन के स्तर और गर्भावस्था से संबंधित एनीमिया को रोकने में मदद कर सकता है।

और पढ़ें: Megaloblastic Anemia: मेगालोब्लास्टिक एनीमिया क्या है? जानिए इसके लक्षण और इलाज

एनीमिया के लक्षण (Symptoms of anemia)

सबसे पहले तो बता दें, एनीमिया इतना हल्का हो सकता है कि आप इसे नोटिस नहीं करते हैं। लक्षण आमतौर पर दिखाई देते हैं और एनीमिया के रूप में बदतर हो जाते हैं। इसके लक्षण इस प्रकार से हो सकते हैं।

उपचार

एनीमिया का इलाज कैसे करूं? (How to treat anemia?)

पाचन तंत्र की समस्या से खून की कमी-

यदि आपको अल्सर है, तो अल्सर का इलाज करने के लिए आपका डॉक्टर आपको एंटीबायोटिक या अन्य दवा दे सकता है। यदि आपके रक्तस्राव एक पॉलीप या कैंसर ट्यूमर के कारण होता है, तो आपको इसे हटाने के लिए सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है।

भारी मासिक धर्म से रक्त की कमी

आपका डॉक्टर आपको भारी मासिक धर्म से राहत देने के लिए हार्मोनल जन्म नियंत्रण दे सकता है। यदि आपका भारी रक्तस्राव बेहतर नहीं होता है, तो आपका डॉक्टर सर्जरी की सिफारिश कर सकता है। भारी रक्तस्राव को नियंत्रित करने के लिए सर्जरी के प्रकारों में एंडोमेट्रियल एब्लेशन शामिल हैं।

आयरन की बढ़ी जरूरत

यदि आपको आयरन को अवशोषित करने में समस्याएं हैं या आयरन का स्तर कम है, लेकिन गंभीर एनीमिया नहीं है, तो डॉक्टर आपको आयरन स्तर को ठीक करने के लिए गोली खाने को सुझाव दे सकता है, जितनी जल्दी हो सके अपने आयरन के स्तर ठीक हो सके। पहले अपने डॉक्टर या नर्स से बात किए बिना किसी भी आयरन की गोलियां न लें।

  • अधिक खाद्य पदार्थ खाने से जिनमें आयरन होता है। लोहे के अच्छे स्रोतों में मांस, मछली, अंडे, बीन्स, मटर और फोर्टीफाइड खाद्य पदार्थ शामिल हैं।
  • विटामिन सी युक्त अधिक खाद्य पदार्थ खाने से विटामिन सी आपके शरीर को आयरन को अवशोषित करने में मदद करता है। विटामिन सी के अच्छे स्रोतों में संतरे, ब्रोकोली, और टमाटर शामिल हैं।
  • यदि आपको गंभीर रक्तस्राव या सीने में दर्द या सांस की तकलीफ के लक्षण हैं, तो आपका डॉक्टर आय़रन या लाल रक्त कोशिका की कमी या संक्रमण की सिफारिश कर सकता है। आय़रन की कमी से संक्रमण होना बहुत आम बात है।

जोखिम (Risk)

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में एनीमिया का खतरा

आपके गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए अधिक आयरन की आवश्यकता होती है। वास्तव में, गर्भवती महिलाओं को लगभग दोगुना आयरन की आवश्यकता होती है, गर्भावस्था के दौरान पर्याप्त आयरन न मिलना, समय से पहले जन्म का जोखिम बढ़ाता है।असामयिक शिशु जन्म, शिशु मृत्यु का सबसे आम कारण है। समय से पहले जन्म और कम वजन आपके बच्चे के जन्म और बचपन में स्वास्थ्य और विकास संबंधी समस्याओं के लिए जोखिम बढ़ाते हैं। आपको हर दिन 27 मिलीग्राम आयरन मिलना चाहिए। हर दिन आयरन के साथ एक प्रसवपूर्व विटामिन लें, या अपने डॉक्टर से आयरन के गोली लेने के बारे में बात करें।

स्तनपान के दौरान अधिक आयरन की कमी से एनीमिया का खतरा

स्तनपान के दौरान आपको अधिक आयरन की आवश्यकता नहीं होती है। वास्तव में, आपको गर्भवती होने से पहले कम आयरन की आवश्यकता होती है। स्तनपान के दौरान आयरन महिलाओं की मात्रा 14 से 18 की युवा माताओं के लिए 10 मिलीग्राम प्रति दिन और 18 से अधिक उम्र की महिलाओं को स्तनपान कराने के लिए प्रति दिन 9 मिलीग्राम है। स्तनपान करते समय आपको आयरन की आवश्यकता होती है क्योंकि आप अपने मासिक धर्म चक्र के माध्यम से बहुत कुछ नहीं खोएंगे। कई स्तनपान कराने वाली महिलाओं में एक अवधि नहीं होती है या केवल एक हल्की अवधि हो सकती है। इसके अलावा, यदि आपको गर्भावस्था के दौरान पर्याप्त आयरन मिला है (एक दिन में 27 मिलीग्राम), तो आपका ब्रेस्टमिल्क आपके बच्चे के लिए पर्याप्त आयरन की आपूर्ति करेगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Anemia and Women/https://www.thewellproject.org/hiv-information/anemia-and-women/Accesseed on 24/07/2020

Determining factors for the prevalence of anemia in women of reproductive age in Nepal: Evidence from recent national survey data/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6561639/Accesseed on 24/07/2020
Prevalence of anemia and related factors among women in Turkey/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5432718/Accesseed on 24/07/2020
Iron deficiency is neglected in women’s health/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC1124649/Accesseed on 24/07/2020
लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/02/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x