दिल्ली में कोरोना वायरस के 2 मामले, पांच बच्चों के भी लिए गए सैंपल

Medically reviewed by | By

Update Date जून 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस से पीड़ित दो लोगों की पहचान हुई है। जिसके बाद से दिल्ली में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। जिनमें से एक फिलहाल दिल्ली और दूसरा तेलंगाना में है। दिल्ली में कोरोना वायरस के पीड़ित मरीज की पहचान नोएडा के मयूर विहार निवासी के रूप में की गई है।

यह भी पढ़ेंः कोरोना वायरस फेस मास्क से जुड़ी अफवाहों से बचें, जानें इसकी सही जानकारी

दिल्ली में कोरोना वायरस

दिल्ली के मयूर विहार में रहने वाला पीड़ित व्यक्ति शुक्रवार, 28 फरवरी को इटली से दिल्ली लौटा है। पीड़ित व्यक्ति के मुताबिक, शुक्रवार के दिन ही उसने नोएडा के सेक्टर-104 स्थित एटीएस वन हेमलेट में एक जन्मदिन की पार्टी में हिस्सा लिया था, जिसमें उसकी जान-पहचान के कई दोस्त, उनके बच्चे, माता-पिता और कुछ शिक्षक शामिल हुए थे। हालांकि, पार्टी से आने के बाद ही व्यक्ति को पता चला की उसे कोरोना वायरस ने अपनी चपेट में ले लिया है।

दिल्ली में कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट, तेलंगाना सरकार भी सर्तक

कोरोना वायरस का शिकार हुआ दूसरा शख्स इस वक्त तेलंगाना में है, जो दुबई से दिल्ली वापस लौटा था। राज्य में कोरोना की खबर मिलते ही कर्नाटक सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर आपात बैठक बुलाई है। इसके अलावा नोएडा के सेक्टर-135 स्थित श्री राम मिलेनियम स्कूल में भी बच्चों के सैंपल लिए गए हैं। नोएडा के सीएमओ ने कहा है कि पांच स्कूली बच्चों के सैंपल को जांच के लिए भेजा गया है। उनकी देखरेख में स्कूल की निगरानी की जा रही है। उन्होंने खुद अपने सामने 40 लोगों का टेस्ट भी करवाया है जिनके रिजल्ट नेगेटिव आए हैं। उन्होंने लोगों से अपील भी की है कि लोग अफवाहों पर ध्यान न दें।

यह भी पढ़ेंः जल्द ही आ सकती है कोरोना वायरस की वैक्सीन

दिल्ली में कोरोना वायरस : बच्चों के लिए गए सैंपल

दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले सामने आते ही नोएडा के सेक्टर-135 स्थित श्री राम मिलेनियम स्कूल में 5 बच्चों के सैंपल लिए गए हैं। जिनमें फ्लू जैसे लक्षण पाए गए हैं। इसके अलावा, स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पूरे स्कूल को सैनिटाइजर किया है और स्कूल को अगले आदेश तक बंद रहने का नोटिस दिया है। स्वास्थ्य मंत्रालय उन व्यक्तियों के संपर्क में है जो कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति के संपर्क में थे और उन्हें अगले 14 दिनों के लिए घर में ही रहने के लिए कहा गया है। हालांकि, सैंपल लिए गए बच्चों के रिजल्ट बुधवार तक आने की संभावना है।

स्कूल में टाली गई परीक्षा

बता दें कि, नोएडा के श्री राम मिलेनियम स्कूल में बच्चों की वार्षिक परीक्षाएं चल रही थी, जिसे फिलहाल के लिए रद्द कर दिया गया है। इस स्कूल में आईसीएसई बोर्ड की परीक्षाओं का सेंटर पड़ा है, जो अगले कुछ दिनों के लिए रद्द हो चुकी हैं।

यह भी पढ़ें- कोरोना वायरस का शिकार लोगों पर होता है ऐसा असर, रिसर्च में सामने आई ये बातें

दिल्ली में कोरोना वायरस का क्या है पूरा मामला?

सोमवार, 2 मार्च को दिल्ली और तेलंगाना में कोविड-19 के दो मामलों का पता चला था। दोनों ही पीड़ित व्यक्ति इटली और दुबई से दिल्ली आए हुए हैं। हालांकि, दोनों का कहना है कि अपनी इस यात्रा से पहले उन्हें अपने स्वास्थ्य के लक्षणों के बारे में कोई भी जानकारी नहीं थी।

बता दें कि, दिल्ली में कोरोना वायरस भले ही नया मामला हो, लेकिन यह अब तक 70 से अधिक देशों में फैल चुका है। लगभग 88,000 से अधिक लोगों में अब तक कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं। इटली और ईरान में भी इसका प्रभाव देखा जा रहा है। ईरान में लगभग 43 लोगों की मृत्यु कोरोना वायरस के कारण हो चुकी है। वहीं, चीन में अब तक 3,000 से अधिक लोगों की मृत्यु कोरोना वायरस के कारण हो चुकी हैं।

दिल्ली में कोराना वायरस से कैसे बचाव किया जाए?

हेल्थ एक्सपर्ट और रिसर्च के अनुसार कोरोना वायरस के लक्षणों से बचने के लिए लोगों को अपने खाने-पीने की आदतों पर विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। हेल्दी फूड हैबिट से किसी भी बीमारी या संक्रमण से आसानी से बचाव किया जा सकता है। पौष्टिक आहार के सेवन से इम्यून पावर स्ट्रॉन्ग होता है। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार कोरोना वायरस रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है जिससे रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट को नुकसान पहुंचता है। कोरोना वायरस की वजह से खांसी, बुखार या रेस्पिरेक्टरी ट्रैक्ट इंफेक्शन के अन्य लक्षण दिखने लगते हैं। इसके लक्षण आम फ्लू या ठंड की वजह से होने वाले लक्षणों जैसे ही हो सकते हैं, जिसकी वजह से लोगों को इसकी पहचान करने में भी भ्रम हो सकता है।

कोरोना वायरस से बचाव करने के लिए आप नीचे बताए गए तरीकों को फॉलो कर सकते हैंः

यह भी पढ़ें- तो क्या ये दुर्लभ जानवर है कोरोना वायरस के लिए जिम्मेदार?

1.एल्कोहॉल युक्त हैंड वाॅश का इस्तेमाल करें

कोरोना वायरस एक संक्रामक वायरस है जो एक व्यक्ति से किसी दूसरे व्यक्ति में बहुत तेजी से फैलता है। ये मात्र छूने, छींकने और खांसने भर से ही किसी अन्य व्यक्ति में फैल सकता है। इसलिए कोरोना वायरस से बचने के लिए अपने हाथों को हमेशा साफ रखें। इस खतरनाक वायरस से बचाव करने के लिए हर बार खाना खाने से पहले और खाना खाने के बाद में एल्कोहॉल युक्त हैंड वॉश का इस्तेमाल करें। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, एल्कोहॉल युक्त हैंड वॉश के इस्तेमाल से कोरोना वायरस से काफी हद तक बचाव किया जा सकता है।

2.सैनेटाइजर रखें पास

अगर घर से कहीं बाहर जा रहे हैं, तो अपने बैग या जेब में एक सैनेटाइजर जरूर रखें। किसी भी चीज को छूने के बाद सैनेटाइजर का इस्तेमाल जरूर करें।

3.मास्क का इस्तेमाल करें

घर से बाहर निकलते समय चेहरे पर मास्क का इस्तेमाल करें। ज्यादा भीड़भाड़ वाले इलाके में न जाएं। साथ ही, अगर किसी व्यक्ति के पास सर्दी-जुकाम जैसे लक्षण हैं, तो उससे थोड़ी बनाकर ही रखें। उस व्यक्ति के ज्यादा पास न जाएं।

4.पालतू पशुओं का भी रखें ख्याल

अगर आपके पास कोई पालतू पशु है, तो कोशिश करें वो भी पूरा दिन घर में ही रहे। साथ ही, उनकी साफ-सफाई का भी पूरा ध्यान रखें। घर के जिस भी हिस्से में वो रहते हैं उसे साफ-सुथरा रखें। अगर घर में नवजात शिशु है, तो उसे पालतू पशुओं से दूर ही रखें। हर बार पेट के साथ खेलने या उसे छूने के बाद हाथों को अच्छे से धुलें।

यह भी पढ़ें- सबसे खतरनाक वायरस ने ली थी 5 करोड़ लोगों की जान, जानें 21वीं सदी के 5 जानलेवा वायरस

5.बिना धोएं न करें फल और सब्जियों का इस्तेमाल

जब भी मार्केट से कोई भी फल या सब्जी खरीदें, तो उसका इस्तेमाल करने से पहले उसे जरूर धोएं। इन्हें साफ करने के लिए आप हल्के गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें।

हाईजीन के नियमों का भी रखें विशेष ध्यान

ऊपर बताए गई बातों के अलावा आपको हाईजीन के नियमों का भी खास ध्यान रखना रखना चाहिए। हो सके तो, सिर्फ घर पर बना खाना ही खाएं। स्ट्रीट फूड या ऑनलाइन खाने-पीने की चीजों से परहेज करें। अगर आपको कोरोना महामारी के बारे में कोई जानकारी चाहिए हो तो आप डॉक्टर से सलाह ले सकती हैं।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

और पढ़ें:-

कोरोना वायरस ( 2019-nCoV) को लेकर ग्लोबल इमरजेंसी घोषित, इंडियन आर्मी ने कर ली तैयारी

कोरोना वायरस से बचाव संबंधित सवाल और उनपर डॉक्टर्स के जवाब

Novel Coronavirus: जानें क्यों बेहद खतरनाक है चीन में फैल रहा कोरोना वायरस

भारत में फैल रही हैं कोरोना वायरस की अफवाह, स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी की हेल्पलाइन

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

15 अगस्त तक लॉन्च हो सकती है भारत की स्वदेशी कोरोना वैक्सीन ‘कोवैक्सीन’

कोवैक्सीन क्या है, भारत की स्वदेशी कोरोना वैक्सीन, आईसीएमआर, भारत बायोटेक, BBV152, भारत की स्वदेशी वैक्सीन का नाम क्या है, Covaxin corona vaccine.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
कोरोना वायरस, कोविड 19 और शासन खबरें जुलाई 4, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

पीएम मोदी स्पीच : देश में अनलॉक 2.0 की हुई शुरुआत, लापरवाही पड़ सकती है भारी

पीएम मोदी स्पीच लाइव टूडे, पीएम मोदी लॉकडाउन स्पीच, क्या लॉकडाउन बढ़ेगा, PM Modi Speech Live Today PM Modi Speech covid-19

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
कोरोना वायरस, कोविड 19 और शासन खबरें जून 30, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

क्या मॉनसून और कोरोना में संबंध है? बारिश में कोविड-19 हो सकता है चरम पर

मॉनसून और कोरोना में क्या संबंध है, मॉनसून और कोरोना से खुद को कैसे रखें सुरक्षित, बारिश में कोरोना से कैसे बचें, Monsoon spread corona easily.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
कोरोना वायरस, कोविड-19 जून 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

कोरोना की पहली आयुर्वेदिक दवा “कोरोनिल” को पतंजलि करेगी लॉन्च

कोरोना की आयुर्वेदिक दवा कोरोनिल को बाबा रामदेव, पतंजलि संस्थान में लॉन्च करने जा रहे हैं। कोरोना के इलाज के लिए पहली आयुर्वेदिक दवा कोरोनिल से लगभग एक हजार कोरोना मरीज ठीक हो चुके हैं। ऐसा दावा पतंजलि कंपनी कर रही है। 

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shikha Patel
कोरोना वायरस, कोविड 19 उपचार जून 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें