क्या डायबिटीज के कारण पहुंच सकता है बालों को नुकसान?

    क्या डायबिटीज के कारण पहुंच सकता है बालों को नुकसान?

    डायबिटीज की बीमारी न केवल आपके ब्लड में शुगर के लेवल को बढ़ाने का काम करती है बल्कि शरीर के विभिन्न ऑर्गन को नुकसान पहुंचाने का काम भी करती है। अगर डायबिटीज की बीमारी को समय पर नियंत्रित नहीं किया जाता है, तो धीरे-धीरे विभिन्न प्रकार की समस्याएं भी शुरू हो जाती हैं। आपने स्ट्रेस के कारण बालों के गिरने या फिर हेयर लॉस के बारे में तो सुना होगा लेकिन डायबिटीज में हेयर लॉस (Hair loss in diabetes) का कारण भी बन सकती हैं। जी हां! ये बात सच है कि मधुमेह की बीमारी के कारण बाल झड़ना शुरू हो जाते हैं। ध्यान न देने पर गंजेपन की नौबत भी आ सकती है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको डायबिटीज में हेयर लॉस (Hair loss in diabetes) के बारे में जानकारी देंगे और बताएंगे कि किस तरह से मधुमेह की बीमारी बालों को नुकसान पहुंचा सकती है।

    और पढ़ें: डायबिटीज में ओरल हेल्थ : पहचाने इस समस्या की हर आहट को!

    डायबिटीज में हेयर लॉस (Hair loss in diabetes)

    हेयर लॉस से मतलब बालों का आसानी से झड़ना है। इस कारण से स्कैल्प के कई हिस्सों में हेयर नहीं आ पाते हैं या यूं कहें कि बालों की संख्या दिन प्रति दिन कम होने लगती है। डायबिटीज की बीमारी के कारण इंसुलिन पर्याप्त मात्रा में नहीं प्रोड्यूस हो पाता है। इंसुलिन शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण हॉर्मोन माना जाता है। अगर ये सही मात्रा में नहीं बन पाता है, तो ब्लड में शुगर लेवल (Blood sugar level) बढ़ने लगता है और शरीर के अन्य ऑर्गन धीमे-धीमे डैमेज होना शुरू हो जाते हैं। आंखों के साथ ही नर्व और किडनी को भी नुकसान पहुंचता है। मधुमेह के कारण ब्लड वैसल्स भी डैमेज होने लगती हैं।

    ब्लड वैसल्स ऑक्सीजन को शरीर के विभिन्न हिस्सों में पहुंचाने का काम करती है। जब हेयर फॉलिकल में ब्लड वैसल्स पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंचा पाती है, तो हेयर ग्रोथ सायकिल प्रभावित होती है और बालों का गिरना शुरू हो जाता है। डायबिटीज में हेयर लॉस (Hair loss in diabetes) का सामना किसी भी व्यक्ति को करना पड़ सकता है।

    और पढ़ें: डायबिटीज में इस सब्जी का सूप पहुंचाता है बहुत सारे लाभ!

    डायबिटीज में हेयर लॉस: हेयर ग्रोथ सायकिल और डायबिटीज में संबंध

    बालों के ग्रोथ की प्रक्रिया मुख्य रूप से तीन चरणों से गुजरती है। एक्टिव ग्रोइंग फेज करीब दो साल चलती है और इस दौरान एक से दो महीने में बाल करीब एक से दो सेमी तक बढ़ते हैं। फिर रेस्टिंग फेज के शुरू होती है, जो 100 दिन के करीब रहती है। इस दौरान कुछ बाल झड़ जाते हैं। जिन लोगों को डायबिटीज की समस्या होती है, उनकी हेयर फेज बिगड़ जाती है। ऐसे में बाल गिरना शुरू हो जाते हैं और पूरे शरीर के बाल धीरे-धीरे झड़ने लगते हैं। ये प्रोसेस धीमी होती है और फिर धीरे-धीरे नए बाल भी आना शुरू हो जाते हैं। डायबिटीज पेशेंट में एलोपेसिया एरीएटा (Alopecia areata) कंडिशन की अधिक संभावना रहती है।

    इस कंडिशन में शरीर का इम्यून सिस्टम हेयर फॉलिकल पर अटैक करता है और हेयर फॉल का कारण बनता है। कई बार डायबिटीज के कारण जो मेडिसिंस ली जाती हैं, वो भी हेयर फॉल का कारण बन जाती हैं। मधुमेह वाले कुछ लोगों को थायरॉइड की बीमारी भी होती है, जो हेयर फॉल का कारण बन सकती है।

    और पढ़ें: डायबिटीज पेशेंट में इंसुलिन से एलर्जी हो सकती है घातक, रहें अलर्ट!

    गिर रहे हैं बाल, तो तुरंत करें डॉक्टर से संपर्क!

    अगर आपको डायबिटीज की समस्या है और हेयर लॉस या बाल गिरने की समस्या शुरू हो गई है, तो आपको बिना देरी किए डॉक्टर से बात करनी चाहिए। डॉक्टर आपके बीमारी के साथ ही ली जाने वाली दवाइयों के बारे में जानकारी लेंगे और बाल गिरने का कारण पता करेंगे। पुअर ब्लड फ्लो के कारण लेग और आर्म के बाल भी गिरना शुरू हो जाते हैं। अगर बाल डायबिटीज के कारण गिर रहे हैं, तो डॉक्टर आपको डायट में परिवर्तन के साथ ही समय-समय पर डायबिटीज चेकअप की सलाह दे सकते हैं। डॉक्टर आपको हेयर फॉल से बचाने के लिए मेडिसिन भी दे सकते हैं। अगर एलोपेशिया (Alopecia) के कारण बाल गिर रहे हैं, तो डॉक्टर आपको स्टेरॉयड मेडिसिन दे सकते हैं, जो सूजन को कम करने का काम करती है।

    डॉक्टर हेयर फॉल को रोकने के लिए बायोटिन (Biotin) विटामिन दे सकते हैं। बायोटिन सप्लिमेंट का सेवन करने से हेयर लॉस की समस्या कम हो जाती है। डॉक्टर वयस्कों को 30 माइक्रोग्राम बायोटिन विटामिन लेने की सलाह दे सकते हैं। अगर आपको बालों या हेयर के संबंध में किसी अन्य समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आप डॉक्टर से जानकारी ले सकते हैं। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता हैं।

    और पढ़ें: एंटीकोआगुलेंट्स : डायलेटेड कार्डियोमायोपैथी के ट्रीटमेंट में क्यों किया जाता है इन दवाओं का उपयोग?

    डायबिटीज में हेयर लॉस हो, तो इन बातों का रखें ध्यान

    अगर आपको डायबिटीज की समस्या है और तेजी से बाल झड़ रहे हैं, तो आपको सबसे पहले अपनी डायबिटीज को कंट्रोल में करने की जरूरत है। हेयर फॉल को रोकने के लिए आपको पहले हेयर फॉल के कारण को समझने की जरूरत है। आप रोजाना दवाईयों का सही समय पर सेवन करें और साथ ही लाइफस्टाइल में भी बदलाव करें, जिससे आपका ब्लड शुगर कंट्रोल में रहेगा और इसका सीधा असर आपकी सेहत पर भी दिखाई पड़ेगा। जानिए हेयर फॉल को रोकने के लिए डायबिटीज को कंट्रोल में करने के साथ ही कर उपाय कर सकते हैं।

    • डायबिटीज में हेयर लॉस (Hair loss in diabetes) से बचने के लिए व्यायाम अहम भूमिका निभा सकता है। रोजाना एक्सरसाइज करें। एक्सरसाइज (Exercise) से मेटाबॉलिज्म में सुधार होता है और साथ ही शरीर के बाकी हिस्सों को भी मजबूती मिलती है। आप शीर्षासन (shirshasana) योग भी कर सकते हैं।
    • बैलेंस डाइट के साथ ही खाने में उन फूड्स को जरूर शामिल करें, जो आपकी बालों की सेहत के लिए फायदेमंद हो। बायोटिन (Biotin), फोलिक एसिड (Folic acid), ओमेगा 3 फैटी एसिड, प्रोटीन, विटामिन ई आदि से युक्त डायट को खाने में शामिल करें।
    • आपको स्ट्रेस से भी दूर रहना चाहिए। डायबिटीज के कारण स्ट्रेस की समस्या (Stress problem) होना आम है। इसका सीधा असर आपके बालों पर भी पड़ता है।
    • डायबिटीज में हेयर लॉस (Hair loss in diabetes) से बचना है, तो अच्छी नींद लेने के साथ ही पर्याप्त मात्रा में पानी भी पिएं।
    • पोषण के साथ ही बालों की केयर भी बहुत जरूरी है। आपको बालों की मालिश भी करनी चाहिए ताकि ब्लड सर्कुलेशन बढ़े और बालों को मजबूती मिले।
    • डायबिटीज में हेयर लॉस (Hair loss in diabetes) से बचना है, तो बिना जानकारी के किसी भी हेयर प्रोडक्ट को यूज न करें। बालों में किसी भी ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने से बचें, जो हेयर फॉल का कारण बन सकता है।

    और पढ़ें: डायबिटीज से बढ़ जाता है पैंक्रियाज के कैंसर का खतरा!

    डायबिटीज को अगर कंट्रोल न किया जाए, तो ये शरीर को बड़ा नुकसान भी पहुंचाती है। अगर मधुमेह है, तो उसे नियंत्रण में रखें। बिना जानकारी के खाने में ऐसे फूड्स को शामिल न करें, जो ब्लड में शुगर के लेवल को बढ़ा दे। आपको अगर डायबिटीज को कंट्रोल करने को लेकर कोई भी सवाल हो, तो डॉक्टर से इस बारे में जानकारी लें। ऐसा करके आप बड़ी समस्या से बच सकते हैं।

    हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता हैं। इस आर्टिकल के माध्यम से आपको डायबिटीज में हेयर लॉस (Hair loss in diabetes) के बारे में जानकारी मिल गई होगी। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको डायबिटीज में हेयर लॉस (Hair loss in diabetes) संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Alopecia areata: Overview
    aad.org/dermatology-a-to-z/diseases-and-treatments/a—d/alopecia-areata/diagnosis-treatment/ Accessed on 21/09/2021

    Biotin/nlm.nih.gov/medlineplus/druginfo/natural/313.html/Accessed on 21/09/2021

    Evidence for supplemental treatments in androgenetic alopecia/jddonline.com/articles/dermatology/S1545961614P0809X#close/Accessed on 21/09/2021

     Alopecia areata: More than skin deep [Abstract].ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/24383154/Accessed on 21/09/2021

     Hair loss: Treatments and drugs/mayoclinic.org/diseases-conditions/hair-loss/basics/treatment/con-20027666

    Diabetes Diet/https://medlineplus.gov/diabeticdiet.html/ Accessed on 23rd November 2021

    Diabetes/https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/diabetes/symptoms-causes/syc-20371444/

    लेखक की तस्वीर badge
    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/04/2022 को
    Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड