home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

एंटीकोआगुलेंट्स : डायलेटेड कार्डियोमायोपैथी के ट्रीटमेंट में क्यों किया जाता है इन दवाओं का उपयोग?

एंटीकोआगुलेंट्स : डायलेटेड कार्डियोमायोपैथी के ट्रीटमेंट में क्यों किया जाता है इन दवाओं का उपयोग?   

एनसीबीआई (NCBI) में छपी एक स्टडी के अनुसार डायलेटेड कार्डियोमायोपैथी के कारण होने वाले हार्ट फेलियर के उपचार में एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) का उपयोग प्रभावी है। एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) को ब्लड थिनर (Blood thinner) और एंटी प्लेटलेट ड्रग्स (Anti-platelet drugs) भी कहा जाता है। ये दवाएं ब्लड क्लॉट्स को बनने से रोकने में मदद करती हैं। दरअसल ब्लड वेसल्स में प्लाक के जमने से ब्लड क्लॉट्स का निमार्ण हो जाता है और ये ब्लड वेसल्स में फंस जाते हैं। जिससे ब्लड फ्लो या तो कम या पूरी तरह ब्लॉक हो सकता है। इससे प्रभावित एरिया में ऑक्सीजन की कमी हो जाताी और वह ठीक से काम नहीं कर पाता। जिससे हार्ट हार्ट अटैक आ सकता है।

अगर ये क्लॉट ब्रेन तक पहुंच जाए, तो स्ट्रोक का कारण बन सकता है। ऐसे में एंटीकोआगुलेंट्स ड्रग ब्लड क्लॉट्स को बनने से रोकते हैं। हालांकि, एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) मौजूदा ब्लड क्लॉट्स (Blood Clots) को तोड़ने में मददगार नहीं है।

डायलेटेड कार्डियोमायोपैथी क्या है‌? (Dilated cardiomyopathy)

डायलेटेड कार्डियोमायोपैथी (Dilated cardiomyopathy) हार्ट मसल्स से जुड़ी एक बीमारी है। जो हार्ट के प्रमुख पंपिंग चेम्बर (left ventricle) से शुरू होती है। इसमें हार्ट वेंट्रिकल स्ट्रेच होकर थिन या कहें कि डायलेट (Dilate) हो जाते हैं। जिससे हार्ट एक हेल्दी हार्ट की तरह पंप नहीं कर पाता। कार्डियोमायोपैथी हार्ट फेलियर (Heart Failure) का कारण बन सकती है।

हार्ट डिजीज जैसे कि हार्ट या वेसल्स से जुड़ी बीमारियां जिनमें, एर्टियल फिब्रिलेशन, हार्ट वॉल्व रिप्लेसमेंट, कॉन्जेनिटल हार्ट डिफेक्टस शामिल है के उपचार के अलावा इन ड्रग्स का उपयोग डीप वेन थ्रोम्बोसिस (Deep vein thrombosis) और पल्मोनरी एंबोलिज्म (Pulmonary embolism) के इलाज में भी किया जाता है। सर्जरी के बाद ब्लड क्लॉट बनने की आशंका होने पर एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) प्रिस्क्राइब किए जाते हैं।

इस ड्रग के उदाहरण इस प्रकार हैं:

  • वार्फरिन (Warfarin)
  • हेपरिन (Heparin)
  • एपिक्साबेन (Apixaban)
  • रिवेरोक्साबैन (Rivaroxaban)
  • डाबिगेट्रान (Dabigatran)
  • एडॉक्सबान (Edoxaban)

और पढ़ें: नाइट्रोग्लिसरीन : हार्ट पेशेंट इस दवा के सेवन से पहले बरतें सावधानी!

एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants)

डायलेटेड कार्डियोमायोपैथी (Dilated cardiomyopathy) के उपचार में एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) का उपयोग कैसे किया जाता है?

डॉक्टर इस बारे में गाइड करते हैं कि एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) का उपयोग किस समय और कितनी मात्रा में किया जाना चाहिए। ज्यादातर मरीजों को दिन में एक या दो बार टैबलेट या कैप्सूल को लेने की सलाह दी जाती है। दवा का पानी या भोजन के साथ सेवन किया जाता है। दवा का उपयोग कब तक किया जाना है यह मरीज की हेल्थ कंडिशन पर निर्भर करता है। चलिए अब जान लेते हैं एंटीकोआगुलेंट्स ड्रग के बारे में।

एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants)

यहां बताई जा रहीं दवाओं में से किसी का उपयोग डॉक्टर की सलाह के बिना ना करें। हमारा उद्देश्य किसी ब्रांड का प्रचार करना नहीं, बल्कि अपने पाठकों तक सही जानकारी पहुंचाना है। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि यहां बताई गई दवाओं की कीमत और जहां से आप दवा खरीदते हैं उसकी कीमत में अंतर हो सकता है।

वार्फ 5 (Warf 5)

यह एक एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) है जिसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के तौर पर वार्फरिन (Warfarin) पाई जाती है। यह पैरों, फेफड़ों और हृदय में ब्लड क्लॉट को बनने से रोकने में मदद करती है। हालांकि, यह पहले बने हुए क्लॉट्स को डिसॉल्व नहीं करती, लेकिन यह उन्हें बढ़ने से रोकती है जो ब्लड वेसल्स में ब्लॉकेज का कारण बनते हैं।

इस दवा का कॉमन साइड इफेक्ट ब्लीडिंग है। जब तक दवा का उपयोग कर रहे हैं तब तक शेविंग करते वक्त, अंगूठे और उंगलियों के नाखून काटते वक्त सावधान रहे। अगर यूरिन या स्टूल में ब्लड आता है, तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं। दवा के साथ एल्कोहॉल का उपयोग ना करें। इससे साइड इफेक्ट्स के बढ़ने की संभावना है। साथ ही ट्रीटमेंट के दौरान डायट में अचानक कोई बदलाव ना करें। इस दवा की ऑनलाइन कीमत 24 रुपए है।

एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants)

सोफारिन (Sofarin)

यह भी एक एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) है जिसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के तौर पर वार्फरिन (Warfarin) पायी जाती है। यह पैरों, फेफड़ों और हृदय में ब्लड क्लॉट को बनने से रोकने में मदद करती है। हालांकि, यह पहले बने हुए क्लॉट्स को डिसॉल्व नहीं करती, लेकिन यह उन्हें बढ़ने से रोकती है जो ब्लड वेसल्स में ब्लॉकेज का कारण बनते हैं।

इस दवा का कॉमन साइड इफेक्ट ब्लीडिंग है। जब तक दवा का उपयोग कर रहे हैं तब तक शेविंग करते वक्त, अंगूठे और उंगलियों के नाखून काटते वक्त सावधान रहे। अगर यूरिन या स्टूल में ब्लड आता है, तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं। दवा के साथ एल्कोहॉल का उपयोग ना करें। इससे साइड इफेक्ट्स के बढ़ने की संभावना है। साथ ही ट्रीटमेंट के दौरान डायट में अचानक कोई बदलाव ना करें। इस दवा की ऑनलाइन कीमत 29 रुपए है।

और पढ़ें: वायरल मायोकार्डिटिस : इस तरह से किया जाता है इस हार्ट कंडीशन का ट्रीटमेंट!

हेप (Hep)

यह भी एक एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) है जिसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के तौर पर हेपरिन पाई जाती है। इसका उपयोग हार्ट अटैक के इलाज में किया जाता है। यह पैरों, फेफड़ों और हृदय में ब्लड क्लॉट को बनने से रोकने में मदद करती है। हालांकि, यह पहले बने हुए क्लॉट्स को डिसॉल्व नहीं करती, लेकिन यह उन्हें बढ़ने से रोकती है जो ब्लड वेसल्स में ब्लॉकेज का कारण बनते हैं। यह दवा इंजेक्शन के रूप में उपलब्ध है। इसे इंजेक्शन या ड्रिप के रूप में वेन्स में दिया जाता है।

हेपेरिन का उपयोग ब्लीडिंग का रिस्क बढ़ा सकता है। अगर यूरिन या स्टूल में ब्लड आता है, स्किन, मसूड़ों या नोज से असामान्य ब्लीडिंग होती है, तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं। इस दवा की ऑनलाइन कीमत 135 रुपए है।

हार्ट अटैक के बारे में जानें इस 3D मॉडल के माध्यम से

और पढ़ें: हार्ट अटैक और स्ट्रोक का कारण बन सकता है हाय ब्लड प्रेशर!

केपरिन (Caprin)

यह दवा भी एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) ड्रग्स की लिस्ट में शामिल है जिसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के तौर पर हेपरिन पाई जाती है। इसका उपयोग हार्ट अटैक के इलाज में किया जाता है। यह पैरों, फेफड़ों और हृदय में ब्लड क्लॉट को बनने से रोकने में मदद करती है। हालांकि, यह पहले बने हुए क्लॉट्स को डिसॉल्व नहीं करती, लेकिन यह उन्हें बढ़ने से रोकती है जो ब्लड वेसल्स में ब्लॉकेज का कारण बनते हैं। यह दवा इंजेक्शन के रूप में उपलब्ध है। इसे इंजेक्शन या ड्रिप के रूप में वेन्स में दिया जाता है।

हेपेरिन का उपयोग ब्लीडिंग का रिस्क बढ़ा सकता है। अगर यूरिन या स्टूल में ब्लड आता है, स्किन, मसूड़ों या नोज से असामान्य ब्लीडिंग होती है, तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं। इस दवा की ऑनलाइन कीमत 26 रुपए है।

और पढ़ें: हायपरट्रॉफिक कार्डियोमायोपैथी: हार्ट से जुड़ी इस समस्या के बारे में जानते हैं आप?

इलिक्विस (Eliquis)

इलिक्विस एक नोवल ओरल एंटीकोआगुलेंट्स (Novel oral anticoagulant) है। यह बॉडी में ब्लड क्लॉट्स के फॉर्मेशन को रोककर काम करती है। इसका उपयोग स्ट्रोक को रोकने के साथ ही डीप वेन थ्रोम्बोसिस (Deep vein thrombosis) और पल्मोनरी एंबोलिज्म (Pulmonary embolism) के उपचार में भी किया जाता है। यह पैर, फेफड़े और हार्ट में ब्लड क्लॉट्स को बनने से रोकती है।

इस दवा का कॉमन साइड इफेक्ट ब्लीडिंग है। जब तक दवा का उपयोग कर रहे हैं तब तक शेविंग करते वक्त, अंगूठे और उंगलियों के नाखून काटते वक्त सावधान रहे। अगर यूरिन या स्टूल में ब्लड आता है, तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं। दवा की ऑनलाइन कीमत 1 रुपए-1450 के बीच है।

उम्मीद करते हैं कि आपको एंटीकोआगुलेंट्स (Anticoagulants) के उपयोग से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Anticoagulation in patients with dilated cardiomyopathy, low ejection fraction, and sinus rhythm: back to the drawing board/
https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23279759/Accessed on 12th August 2021

[Anticoagulant therapy in patients with dilated cardiomyopathy]/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/10349204/Accessed on 12th August 2021

Dilated cardiomyopathy/https://www.heart.org/en/health-topics/cardiomyopathy/what-is-cardiomyopathy-in-adults/dilated-cardiomyopathy-dcm/ Accessed on 12th August 2021

Dilated cardiomyopathy/https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/dilated-cardiomyopathy/diagnosis-treatment/drc-20353155/Accessed on 12th August 2021

Blood thinners/ https://medlineplus.gov/bloodthinners.html/Accessed on 12th August 2021

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 13/08/2021 को
और Admin Writer द्वारा फैक्ट चेक्ड
x