home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

क्या डायबिटीज में पपीते का सेवन फायदेमंद हो सकता है?

क्या डायबिटीज में पपीते का सेवन फायदेमंद हो सकता है?

पपीता एक प्रसिद्ध फल है, जो दुनियाभर में पाया जाता है। यह फल स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक है। इसमें कई सारे आवश्यक विटामिन जैसे ए, बी, सी, ई के साथ ही आवश्यक मिनरल्स जैसे कि फोलेट, मैग्नीशियम, कॉपर, पोटेशियम, ल्यूटीन, पेंटोथेनिक एसिड पाया जाता है। पपीता एंटीऑक्सीडेंट लाइकोपीन का अच्छा सोर्स है इसलिए इसका उपयोग कई बीमारियों में फायदेमंद होता है जैसे कि डायबिटीज। डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) के उपयोग की सलाह इसलिए दी जाती है क्योंकि इसमें फायबर अधिक मात्रा में पाया जाता है और शुगर कम मात्रा में।

डायबिटीज (Diabetes) एक ऐसी कंडिशन है जिसमें बॉडी कम मात्रा में या ना के बराबर इंसुलिन का निमार्ण करती है। इसके साथ ही वह इंसुलिन का जैसा उपयोग करना चाहिए नहीं कर पाती। इंसुलिन एक हॉर्मोन है जो ग्लूकोज (Glucose) या शुगर (Sugar) को बॉडी की कोशिकाओं में पहुंचाने में मदद करता है। यदि बॉडी इंसुलिन (Insulin) का निमार्ण नहीं करती या उसे यूज नहीं कर पाती तो शुगर ब्लड में इकठ्ठा हो जाती है।

डायबिटीज को मैनेज करने के लिए कुछ दवाओं की मदद लेते हैं। वहीं कुछ एक्सरसाइज और हेल्दी डायट से इसे मैनेज करते हैं। जिसमें फल और सब्जियां शामिल होती हैं। इसमें से एक ही फल पपीता भी है, जो इसे मैनेज करने में मदद करता है।

डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes)

फल नैचुरली स्वीट होते हैं और इनका उपयोग करने से शुगर लेवल (Sugar level) प्रभावित होता है। इसलिए कुछ लोग सोच सकते हैं कि इनका उपयोग नुकसानदायक हो सकता है, लेकिन फल हेल्दी डायट का हिस्सा होते हैं। इनहें संतुलित मात्रा में खाना चाहिए। डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) निम्न प्रकार से फायदेमंद हो सकता है।

और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज का आयुर्वेदिक उपचार: क्या इसे जड़ से खत्म किया जा सकता है, जानें एक्सपर्ट की राय

शुगर की मात्रा होती है काफी कम (Papaya is low sugar fruit)

एक कप ताजे पपीते में 11 ग्राम के लगभग शुगर पाई जाती है। डायबिटीज को मैनेज करने के लिए जरूरी है कि एडेड शुगर के इंटेक को कम किया जाए। जिससे वजन नियंत्रण रहने के साथ ही ब्लड शुगर भी टार्गेट रेंज में रहे। महिलाओं को 100 कैलोरीज से ज्यादा वहीं पुरुषों को 150 कैलोरीज से ज्यादा दिन में नहीं लेना चाहिए। पपीते में शुगर की मात्रा कम पाई जाती है। इसलिए इसका उपयोग डायबिटीज में किया जा सकता है।

ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Glycemic index) नहीं है ज्यादा

ग्लाइसेमिक इंडेक्स फूड्स की वैल्यू है जो यह बताती है कि कोई फूड कैसे ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है। कुछ फूड्स को खाने से व्यक्ति का ब्लड शुगर लेवल तेजी बढ़ जाता है तो कुछ के सेवन से इस पर कोई असर नहीं होता। पपीते का ग्लाइसेमिक इंडेक्स 60 होता है। इसलिए यह ब्लड शुगर लेवल को तेजी से नहीं बढ़ाता। लो जीआई (Low GI) फूड्स का स्कोर 20 से 49, संतुलित मात्रा में जीआई (GI) 50-69 हाय जीआई फूड्स 70-100 है। डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) का उपयोग इसलिए नुकसानदायक नहीं है।

और पढ़ें: डायबिटीज और इनफर्टिलिटी: कहीं डायबिटीज ना बन जाएं इनफर्टिलिटी का कारण!

ब्लड शुगर को कम करने में मददगार (Can help in reduce blood sugar level)

मीडियम जीआई होने की वजह से ही नहीं डायबिटीज के मरीज एक अन्य वजह से भी इसे अपनी डायट का हिस्सा बना सकते हैं। दरअसल बीएमसी में छपे एक जर्नल के अनुसार पपीते में हायपोग्लाइसेमिक इफेक्ट होता है। इसके साथ ही इसमें फ्लेवोनॉइड्स पाए जाते हैं जो कि नैचुरल एंटीऑक्सीडेंट्स हैं जो ब्लड शुगर को रेगुलेट करने में मदद करते हैं। इसलिए डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) खाया जा सकता है।

फायबर का अच्छा सोर्स (Good source of fiber)

पपीता फायबर का अच्छा सोर्स है। इसके साथ ही इसमें कैलोरी काफी कम मात्रा में पाई जाती है। फायबर अधिक होने से इसके सेवन से पेट भरे होने का एहसास होता है। और मरीज गैरजरूरी शुगर के कंजप्शन से बच जाते हैं। साथ ही कैलोरी की मात्रा कम होने से यह वजन को भी संतुलित रखता है जो डायबिटीज को ट्रिगर करता है। डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) इसलिए भी उपयोगी है।

और पढ़ें: डायबिटिक नेफरोपैथी में एसीई इनहिबिटर्स ड्रग्स से जुड़ी जानकारी है यहां!

टाइप 2 डायबिटीज के बारे में अधिक जानने के लिए देखें ये 3डी मॉडल:

पपीते में पाए जाने वाले पोषक तत्व

डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) खाने से आपको कई प्रकार के पोषक तत्व प्राप्त हो सकते हैं। अमेरिकी कृषि विभाग के अनुसार एक छोटे ताजे पपीते में 67 कैलोरीज पाई जाती हैं। इसके अलावा इसमें पोषक तत्व निम्न मात्रा में पाए जाते हैं
2.67 ग्राम डायट्री फायबर, आपके डेली वैल्यू का 10 प्रतिशत
286 मिलीग्राम (मिलीग्राम) पोटेशियम, आपके डेली वैल्यू का 6.08 प्रतिशत
95.6 मिलीग्राम विटामिन सी, आपके डेली वैल्यू का 106.2 प्रतिशत
33 मिलीग्राम मैग्नीशियम, आपके डेली वैल्यू का 8 प्रतिशत
31 मिलीग्राम कैल्शियम, आपके डेली वैल्यू का 3.1 प्रतिशत

डायबिटीज में किन फलों का सेवन नहीं करना चाहिए? (fruits should not use in diabetes)

डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes)

डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) का सेवन फायदेमंद है, लेकिन कुछ फलों के सेवन से ब्लड शुगर लेवल बढ़ा सकता है। सामान्य तौर पर भी लोगों को अपनी डायट में फलों की मात्रा बहुत नहीं बढ़ानी चाहिए। एनसीबीआई में छपी एक स्टडी के अनुसार फलों का सेवन डायबिटीज से बचाव में मददगार है। हालांकि जिन लोगों को पहले से डायबिटीज है उन्हें निम्न फलों का सेवन कम करना चाहिए

  • तरबूज
  • सूखा खजूर
  • अन्नानास
  • पका हुआ केला

इन फलों का जीआई स्कोर 70-100 के बीच है। साथ ही इनमें शुगर का लेवल भी हाय है। इन फलों का सेवन डायबिटीज के मरीज कर सकते हैं, लेकिन कम मात्रा में।

हाय कार्बोहाइड्रेट्स फ्रूट्स (High carbohydrates)

डायबिटीज यूके के अनुसार, एक व्यक्ति जितना कार्ब्स खाता है, उसका ब्लड शुगर लेवल पर सबसे अधिक प्रभाव पड़ता है। यदि कोई व्यक्ति कम कार्ब वाली डायट को फॉलो कर रहा है, तो उन्हें यह पहचानना चाहिए कि वे कौन से कार्ब्स खा रहे हैं जो पोषक तत्वों में कम हैं या अन्य तरीकों से अनहेल्दी हैं और फिर उन्हें सबसे पहले अपनी डायट से हटा दें। ताजे फलों से कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं, इसलिए यह सूची में पहले स्थान पर नहीं हो सकता है। उदाहरण के लिए एक छोटे सेब में 15-20 ग्राम कार्ब्स पाए जाते हैं। वहीं एक चॉकलेट मफिन में 55 ग्राम।

और पढ़ें: पैंक्रियाटिक कैंसर और डायबिटीज : दोनों के बीच के लिंक के बारे में जानें यहां!

फलों का जूस (Fruit juice)

सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के अनुसार बता दें कि भोजन के दौरान या अकेले फलों का जूस पीने से व्यक्ति का ब्लड शुगर लेवल तेजी से बढ़ता है।हालांकि, जब कोई व्यक्ति पूरा फल खाता है तो, फलों में मौजूद फायबर और साधारण शर्करा का संयोजन रक्त में शर्करा के अवशोषण को धीमा कर देता है। 2013 के एक रिसर्च पेपर के अनुसार फलों का सेवन इस संभावना को प्रभावित करता है कि एक व्यक्ति टाइप 2 मधुमेह विकसित करेगा।

परिणामों से पता चला कि जिन लोगों ने अधिक फल का सेवन किया, उनमें इस स्थिति के विकसित होने की संभावना कम थी। जो लोग अधिक मात्रा में फलों का रस पीते थे, उनमें इस स्थिति के विकसित होने की संभावना अधिक थी। डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) खाएं, लेकिन फलों के जूस का सेवन डॉक्टर की सलाह के बिना ना करें।

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id="typef_orm", b="https://embed.typeform.com/"; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,"script"); js.id=id; js.src=b+"embed.js"; q=gt.call(d,"script")[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()
powered by Typeform

डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) के अलावा इन फलों का भी कर सकते हैं सेवन

जैसे कि आप समझ ही चुके हैं कि पपीता में मीडियम जीआई पाया जाता है। ऐसे में अगर आप लोअर जीआई रेंज का फ्रूट्स का सेवन करना चाहते हैं, तो निम्न फलों को खा सकते हैं।

  • सेब
  • एप्रिकोट
  • ब्लूबेरीज
  • क्रेनबेरीज
  • ग्रेप फ्रूट
  • पल्मस
  • नाशपाती
  • स्ट्राबेरीज

इन फलों का सेवन भी सीमित मात्रा में ही करें। अगर आप किसी प्रकार के डायबिटीज कॉम्प्लिकेशन से जूझ रहे हैं, तो पपीता को अपनी डायट का हिस्सा बनाने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

उम्मीद करते हैं कि आपको डायबिटीज में पपीता (Papaya in diabetes) खाया जा सकता है या नहीं इससे संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी को शिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

 

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Antidiabetic properties of dietary flavonoids: a cellular mechanism review/https://nutritionandmetabolism.biomedcentral.com/articles/10.1186/s12986-015-0057-7#citeas/ Accessed on 20th July 2021

Diabetes Meal Planning/https://www.cdc.gov/diabetes/managing/eat-well/meal-plan-method.html/Accessed on 20th July 2021

Fresh fruit consumption in relation to incident diabetes and diabetic vascular complications/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5388466/Accessed on 20th July 2021

Diabetes/ https://www.idf.org/aboutdiabetes/what-is-diabetes.html/Accessed on 20th July 2021

Glycemic index/https://www.nhrmc.org/~/media/testupload/files/low-gylcemic-meal-planning.pdf?la=en/Accessed on 20th July 2021

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/07/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड