home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

खेल में नंबर-1 आने के लिए बॉडी रखनी पड़ती है फिट, इस तरह खिलाड़ी रखते हैं अपनी बॉडी फिटनेस का ध्यान

खेल में नंबर-1 आने के लिए बॉडी रखनी पड़ती है फिट, इस तरह खिलाड़ी रखते हैं अपनी बॉडी फिटनेस का ध्यान

इंटरनेशनल डे ऑफ स्पोर्ट्स फॉर डेवलपमेंट एंड पीस (IDSDP) एनुअल सेलीब्रेशन है। सामाजिक बदलाव, कम्युनिटी डेवलपमेंट और शांति स्थापित करने के लिए हर साल इंटरनेशनल डे ऑफ स्पोर्ट्स फॉर डेवलपमेंट एंड पीस मनाया जाता है। इस दिन का संबंध 6 अप्रैल, 1896 में हुए मॉर्डन ओलंपिक गेम्स से है। यूनाइटेड नेशन की ओर से अप्रैल महीने को स्पोर्ट्स डे के रूप में सेलीब्रेट किया जाता है। साल 2013 में इंटरनेशनल स्पोर्ट्स डे की शुरुआत हुई थी, तब से इसे हर साल धूमधाम से मनाया जाता है। अगर भारत देश की बात की जाए तो कुछ सालों में ही युवाओं की रुचि स्पोर्ट्स की ओर अधिक बढ़ गई है। भारत देश ने अब तक धुरंधर स्पोर्ट्स प्लेयर दिए हैं जो नेशनल के साथ इंटरनेशनल लेवल पर भारत का परचम लहरा चुके हैं। ये बात बिल्कुल सही है कि बॉडी फिटनेस ही एक प्लेयर को नई ऊचाइंयों तक ले जाती है। इस इंटरनेशनल स्पोर्ट्स डे पर आर्टिकल के माध्यम से जानिए कि कैसे स्टेट से लेकर इंटरनेशनल प्लेयर अपनी बॉडी फिटनेस का ध्यान रखते हैं और किस तरह की डायट को अपने खाने में शामिल करते हैं। अगर आप भी अपनी बॉडी को फिट रखना चाहते हैं तो प्लेयर्स के वर्कआउट और डायट से बहुत कुछ सीख सकते हैं।

और पढ़ें: मछली खाने के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, कम होता है दिल की बीमारियों का खतरा

जीत के लिए जरूरी है बॉडी फिटनेस

भोपाल की रहने वाली इंदु प्रसाद 100 मीटर और 200 मीटर में स्प्रींटर एथलीट हैं। इंदु स्टेट लेवल में गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं और अब चंडीगढ़ में नेशनल कॉम्पटीशन के लिए तैयारी में जुटी हैं। 39वीं राष्ट्रीय पायका महिला खेलकूद प्रतियोगिता में एथलेटिक्स में 200 मीटर की डबल फर्राटा में मध्यप्रदेश की इंदू प्रसाद ने 25.0 सेकेंड में दौड़ पूरी कर स्वर्ण पदक जीता है। इंदु अपनी बॉडी फिटनेस को लेकर बहुत कॉन्शियस रहती हैं। एथलेटिक्स के लिए बहुत फुर्ती की जरूरत होती है। इंदु अपनी बॉडी को फिट और एक्टिव रखने के लिए फास्ट फूड्स से दूर रहती हैं। साथ ही रोजाना दौड़ना उनकी रोज की प्रैक्टिस में शामिल है। नेशनल के लिए गोल्ड की इच्छा रखने वाली इंदू प्रसाद को खाने में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और जरूरी न्यूट्रिएंट्स से भरपूर फूड पसंद है। उनका डायट चार्ट एकेडमी तरफ से प्रिपेयर किया जाता है। इंदु अपना पसंदीदा खाना यानी स्वीट्स भी कभी-कभार जरूर लेती हैं।

एथलीट्स के लिए न्यूट्रिशन चार्ट

कार्बोहाइड्रेट – 55-65%
प्रोटीन – 15–20%
वसा – 20-30%

और पढ़ें: क्या वीगन डायट फर्टिलिटी बढ़ाती है?

वर्ल्ड चैम्पियन पीवी सिंधु की बॉडी फिटनेस

बॉडी फिटनेस

भारत की बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु बॉडी फिटनेस पर पूरा ध्यान देती हैं। वर्ल्ड बैडमिंटन चैम्पियनशिप में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच देने वाली पीवी सिंधू की ट्रेनिंग और डायट कड़े नियमों से होकर गुजरती है, इसी कारण से उनकी बॉडी बैडमिंटन के लिए एकदम फिट है। 24 घंटे में से कम से कम वह आठ घंटे वर्कआउट करती हैं। इतना ही नहीं पीवी सिंधु की फिटनेस का राज एक्सरसाइज के साथ डायट भी है। वह जितना कठोर वर्कआउट करती हैं उतना ही डायट पर भी ख्याल रखती हैं। सिंधु एक दिन में लगभग 6-7 घंटे और हफ्ते में 6 दिन ट्रेनिंग लेती हैं। सिंधू का वर्कआउट प्लान हर दिन अलग होता है। उनके वर्कआउट सेशन की प्लानिंग महीने की शुरुआत में कर ली जाती है, जिसमें बैक से लेकर घुटनों और कंधों तक की एक्सर्साइज शामिल होती है। वर्कआउट के आकॉर्डिंग ही सिंधू की डायट भी डायटीशियन तय करता है। हेल्थ और खेल का बहुत बड़ा संबंध है, जिन लोगों को ये बात पता है वहीं लोग स्पोर्ट्स में सक्सेस पाते हैं। पीवी सिंधू ने भी हेल्थ और खेल में अच्छा बैलेंस बना कर रखा है।

और पढ़ें: कैलोरी और एनर्जी में क्या है संबंध? जानें कैसे इसका पड़ता है आपके शरीर पर असर

सिंधु का डाइट प्लान

नाश्ता – दूध, अंडे और ताजे फल।

दोपहर का भोजन – चावल, मीट और सब्जियां।

स्नैक्स – फल, सूखे मेवे, एनर्जी ड्रिंक।

रात का खाना – चावल, मांस और सब्जियां।

सिंधु बिरयानी, मीठा दही और आइसक्रीम खाना पसंद करती हैं। लेकिन अगले दिन कैलोरी बर्न करना नहीं भूलती हैं।

बॉडी फिटनेस के लिए सीजनल्स फ्रूट्स और वेजीटेबल्स

भारतीय क्रिकेट टीम के कैप्टन विराट कोहली को कौन नहीं जानता है। विराट कोहली को न सिर्फ उनके खेल की वजह से जाना जाता है, बल्कि विराट अपनी फिटनेस को लेकर भी हमेशा चर्चा में रहते हैं। विराट कोहली हाल ही में वीगन बन गए हैं। कोहली की हाल ही की डायट के बारे में बात करें तो वो प्रोटीन शेक, वेजीटेबल्स और सोया पर पूरी तरह से डिपेंडेंट हैं। उन्होंने एग्स और डेयरी प्रोडक्ट से पूरी तरह से दूरी बना ली है। विराट एक दिन में कई मील्स में खाना खाते हैं। विराट को सीजनल्स फल के साथ ही सब्जियां खाना पसंद है। पपाया, वॉटरमेलन विराट के फेवरेट फ्रूट्स हैं। एक मीडिया हाउस को दिए गए इंटरव्यू में विराट ने बताया था कि वो ब्रेकफास्ट में नट्स बटर के साथ ही ग्लुटेन फ्री ब्रेड लेते हैं। साथ ही विराट को ग्रीन टी भी बहुत पसंद है। बॉडी फिटनेस के लिए विराट कोहली न सिर्फ ग्री टी पीते हैं बल्कि सीजनल्स वेजीटेबल्स सूप लेना भी उन्हें पसंद है। पालक और बीटरूट का सूप उनका पसंदीदा है। आपको बता दें कि विराट पहले नॉन वेजीटेरियन थे। उनके लिए नॉन-वेजीटेरियन से वीगन तक का सफर कठिन था। विराट को अपने गेम में बेस्ट देने के लिए बॉडी को फिट रखना बहुत जरूरी था। विराट ने खेल और हेल्थ में बैलेंस बनाए रखा है।

और पढ़ें: आखिर क्या है आलिया भट्ट के स्लिम बॉडी का राज, जानिए उनका फिटनेस सीक्रेट

[health_tool_article id=”21529″]

बॉडी फिटनेस के लिए पानी समय पर पिएं

लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली बैडमिंटन स्टार साएना नेहवाल को किसी खास पहचान की जरूरत नहीं है। यूथ आइकन साएना आपने गेम और बॉडी फिटनेट में बैलेंस बनाया हुआ है। साएना सुबह जल्दी उठ जाती हैं। स्ट्रेंथ ट्रेनिंग के 2 से 4 सेशन करने के बाद साएना रनिंग करती हैं। साएना बॉडी फिटनेस के लिए योग भी करती हैं। साएना प्रोटीन की अधिक डोज लेने के लिए चिकन खाती हैं। साथ ही उनके नाश्ते में एग्स भी शामिल होते हैं। वेट गेन ज्यादा न हो, इसके लिए साएना कार्बोहाइड्रेड अधिक नहीं लेती हैं। बॉडी फिटनेस के लिए बॉडी को हमेशा हाइड्रेट रखना भी बहुत जरूरी है। साएना टूर्नामेंट के बाद अपना फेवरेट फूड खाना नहीं भूलती हैं।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 13/10/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x