क्या है एरियल योगा(Aerial Yoga), जानें इसके फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट June 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

एरियल योगा, हाल ही प्रचलित योग का नया प्रकार है, जो जिम्नास्टिक, डांस, पिलाटेस और योग की नई एक्सरसाइज से मिलकर बना है| इसमें सर्कस ट्रिक्स की तरह शरीर को रेशम के कपड़े में लपेटकर योग की मुद्राएं की जाती है। इससे शरीर में लचीलापन बढ़ता है। यह मानसिक और शारीरिक सेहत को बेहतर बनाता है और बीमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ाता है। आइए जानें क्या हैं एरियल योगा के फायदे हैं लेकिन, एरियल योगा गर्भवती महिला, हाई ब्लड प्रेशर और ग्लूकोमा के पेशेंट को नहीं करना चाहिए।  

एरियल योगा को एंटी-ग्रेविटी योगा भी कहा जाता है। इस योगा पुजिशन को कई बॉलीवुड अभिनेत्री या अभिनेता फिट रहने के लिए आजमा चुके हैं। जमीन से ऊपर और रेशमी कपड़ों में किये जाने वाले इस योगा पुजिशन को शुरू में करने पर परेशानी हो सकती है लेकिन, धीरे-धीरे इसे आसानी से कर सकते हैं।

और पढ़ें: फिटनेस के लिए कुछ इस तरह करें घर पर व्यायाम

एरियल योगा से पूरे शरीर का वर्कआउट होता है

एरियल योगा आपके शरीर के हर हिस्से को हरकत में ला कर स्ट्रेच करता है। यह व्यायाम का बेहतरीन विकल्प है, जिससे मसल्स टोन होते हैं और आप पर्फेक्ट शेप पाते हैं। आपकी हड्डियां स्ट्रॉन्ग होती हैं और इसमें की जाने वाली एक्सरसाइज से जॉइंट्स मजबूत होते हैं। 

शरीर का लचीलापन बढ़ता है

एरियल योगा आपको आजादी से कम मेहनत लगा कर ग्रेविटी के अगेंस्ट हरकत करने में मदद करता है। हवा में रहने से हड्डियों का तनाव कम होता है और मसल्स का लचीलापन बढ़ता है। यह आपके कोर मसल्स को ताकत देने और रीढ़ की हड्डी और कन्धों को लचीला बनाने में मदद करता है। 

पाचन को बेहतर बनाता है

स्ट्रेचिंग करके व्यायाम करने से पाचन प्रक्रिया बेहतर होती है और पाचन से जुड़ी कई समस्याएं जैसे कब्ज और उपच से राहत मिलती है। 

वजन घटाने में मददगार है 

एरियल योगा, योगा का ही एक कठिन तरीका है। यह वजन घटाने में काफी हद तक मददगार साबित होता है । इस योग को ट्रेनर की निगरानी में ही करें, अपने मन से ट्राय न करें। यह योग हवा में झूलते हुए आपके शरीर को सक्रिय रखता है और मेटाबोलिक गति को बढ़ा कर वजन कम करने में मदद करता है।

पीठ दर्द से निजात दिलाता है 

हवा में लटकने से रीढ़ की हड्डी को लम्बाई की ओर सीधी करने में मदद मिलती है। आम एक्सरसाइज की तुलना में एरियल योगा करने से आपकी पीठ, रीढ़ की हड्डी और कूल्हे की हड्डी पर तनाव कम पड़ता है।

और पढ़ें: फिट रहने के लिए वेट लॉस योगा कैसे करें?

बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करता है

एरियल योगा करने से आपके शरीर में रक्त का संचार बेहतर होता है, जिसके कारण यह बढ़ती उम्र के लक्षणों को नियंत्रित करने में मदद करता है। यह शरीर को डेटॉक्स करता है और दिल की धड़कन को बेहतर गति से चलने में मदद करता है। यही कारण है कि इस योग से कई तरह की कार्डियोवैस्कुलर समस्याओं से बचा जा सकता है 

मूड अच्छा रखता है

योगा से तनाव कम होता है और मूड बेहतर होता है और एरियल योगा आपके मूड को और ज्यादा अच्छा रखता है। ये योगा पुजिशन अन्य वर्कआउट की तुलना में आपको ज्यादा रिलैक्स महसूस करवाने में मदद कर सकता है।

बॉडी का बैलेंस बनता है

एरियल योग काफी एक्साइटिंग योगा पुजिशन है। इसे ठीक तरह से और नियमित करने से बॉडी बैलेंस बनाने के साथ-साथ बॉडी को स्ट्रॉन्ग बनाने में मददगार होता है।

दिल की परेशानी को रखता है दूर

शरीर को फिट रखने के लिए हमसभी क्या नहीं करते हैं। इसलिए अगर एरियल योगा नियमित रूप से और सही तरीकेसे किया गया तो दिल से जुड़ी बीमारी का खतरा टल सकता है। एरियल योगा करने से शरीर में ऑक्सिजन और ब्लड सर्कुलेशन दोनों बेहतर होता है। अगर इस योगा पुजिशन को शुरुआत से ही अपनाया जाये तो यह हेल्थ के लिए काफी सहायक हो सकता है।

और पढ़ें: दिमाग नहीं दिल पर भी होता है डिप्रेशन का असर

एरियल योगा करने का तरीका क्या है?

एरियल योगा में आपको सिल्क के कपड़े से बांध दिया जाता है। एक निर्धारित ऊंचाई पर आपको ऊपर से लटकाया जाता है। यह आमतौर पर जमीन पर किए जाने वाले योगा की तुलना में काफी अलग है। इसे करते समय अपने शारीरक मूवमेंट और पोस्चर पर खास ध्यान दें।

एरियल योग आजकल बहुत ट्रेंड में है। कई लोग एरियल योग को अपने वर्कआउट रूटीन में शामिल कर रहे हैं। यह योग का चुनौतीपूर्ण विकल्प है जो शुरू में बहुत मुश्किल लगता है लेकिन आदत हो जाने पर यह खुद ही इंटरेस्टिंग महसूस होने लगता है।

  • सिल्क के कपड़े से योगा करने वाले व्यक्ति को बांधा जाता है।
  • एक निर्धारित ऊंचाई पर कपड़े की मदद से योगा करने वाले व्यक्ति को लटकाया जाता है।
  • इस दौरान आराम से सांस लें।
  • पैर के मूवमेंट पर कॉन्संट्रेट करें।
  • इस दौरान आप झूले में जैसे झूलते हैं वैसा महसूस करेंगे।
  • इस दौरान आपको सचेत रहने की जरूरत होती है।

और पढ़ें: क्या वीगन डायट फर्टिलिटी बढ़ाती है?

एरियल योगा करते समय किन-किन बातों का ख्याल रखें?

धरती की सतह से ऊपर किये जाने वाले इस योगा पुजिशन में शरीर एक तरह से हवा में होता और आप योग करते हैं इसलिए इस योगा के शुरुआत में या शुरू करने के पहले अपने साथ एक्सपर्ट को रखें या उनकी मदद लें।

अगर आप एरियल योगा नहीं कर पा रहें हैं, तो आप आसान से किये जाने वाले योगा जैसे प्राणायाम, अनुलोम-विलोम और सूर्य नमस्कार जैसे योगा किये जा सकते हैं। अगर आप आसान से किये जाने वाले योगा भी करने में असमर्थ हैं, तो आप सुबह-शाम वॉक पर जा सकते हैं। वॉकिंग शरीर के लिए एक्सरसाइज की तरह काम करता है अगर इसे रोजना किया जाये। आप  फिट रहने के लिए स्विमिंग का भी विकल्प अपना सकते हैं। फिटनेस एक्सपर्ट के अनुसार सप्ताह में 5 दिन स्विमिंग की जा सकती है।

योगा या एक्सरसाइज करने पर आहार का विशेष ख्याल रखें।

  • मौसमी फल का सेवन करें
  • हरी सब्जी खाने की आदत डालें
  • अंकुरित अनाज का सेवन करें
  • डिहाइड्रेशन से बचें
  • पुरुषों को 3 लीटर तक पानी पीना चाहिए वहीं महिलाओं को 2 लीटर पानी रोजाना पीना चाहिए
  • प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फायबर युक्त आहार का सेवन करें
  • नारियल पानी भी रोज पीने की आदत डालें

अगर आप एरियल योगा से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

दिमाग को शांत करने के लिए ट्राई करें विपरीत करनी आसन, और जानें इसके अनगिनत फायदें

विपरीत करनी आसन करने का तरीका, कैसे है विपरीत करनी आसन लाभदायक, इसे किन स्थितियों में नहीं करना चाहिए, पाइए पूरी जानकारी, Viparita Karani Aasan in hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma

क्या है क्रोकोडाइल पोज या मकरासन, जानें करने का तरीका और फायदें?

मकरासन (Crocodile pose) क्या है। इसे कैसे किया जाए एक्सपर्ट के हवाले से जानें, वहीं इसके फायदे और नुकसान को जानने के साथ किसे करना चाहिए और किसे नहीं जानें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

अपान मुद्रा: जानें तरीका, फायदा और नुकसान

अपान मुद्रा को कर हम कब्जियत के साथं साथ डायजेशन से जुड़ी परेशानियों को कम कर सकते हैं। इतना ही नहीं शारिरिक के साथ इसके कई मानसिक फायदे भी हैं, जाने।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

अर्ध चंद्रासन करने का तरीका और इसके चमत्कारी फायदे

अर्ध चंद्रासन (Half Moon Pose) के फायदे और तरीके के बारे में पाएं जानकारी, अर्ध चंद्रासन किसे नहीं करना चाहिए? Benefits of Ardha chandrasana in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma

Recommended for you

इस तरह के स्पोर्ट्स से आप रह सकते हैं फिट, जानें इन स्पोर्ट्स के बारे में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Sharma
प्रकाशित हुआ August 28, 2020 . 3 मिनट में पढ़ें
परिणीति चोपड़ा डायट प्लान

परिणीति चोपड़ा के डायट प्लान से होगा वेट लॉस आसान, जानिए वर्कआउट सीक्रेट भी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ August 20, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
पवनमुक्तासन-Wind Relieving Pose

पेट की परेशानियों को दूर करता है पवनमुक्तासन, जानिए इसे करने का तरीका और फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ August 20, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
वृक्षासन-Vrikshasana (Tree pose)

वृक्षासन योग से बढ़ाएं एकाग्रता, जानें कैसे करें इस आसन को और क्या हैं इसके फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ August 17, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें