ये योगासन आपको रखेंगे हेल्दी और फिट

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

योग को अपना कर आप अपने शरीर को प्राकृतिक तरीके से निरोगी बनाएं रख सकते हैं। यह शरीर को स्वस्थ रखने का बहुत सरल और सुरक्षित तरीका है। योग हमें कई शारीरिक बीमारियों तथा मानसिक तनाव से बचाता है| इसके अलावा हमारे तन और मन को तरो-ताजा भी रखता है। योग के प्राचीन इतिहास और इसकी महत्वता को भी आज सारी दुनिया में सराहा और माना जाता है। यहीं कारण है कि आज लोग इसकी ओर आकर्षित हो रहे हैं। तो यहां हम आपको ऐसे ही कुछ योगासन के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप एक स्वस्थ्य जीवन जी सकते हैं। 

1.विन्यास योग

विन्यास योग, योगासन के प्रकार का सबसे ज्यादा चर्चित आसन है। विन्यास योग जिम और योग कलासेस में ज्यादा मशहूर है। विन्यास का मतलब सांस को गती से जोड़ना। विन्‍यास संस्‍कृत का शब्‍द है जिसका अर्थ है, ‘सांसों की गति को संकलित करना। यह बहुत ही सरल आसन है। सब से पहले आप को जमीन पर ऊपर की ओर मुंह कर के एक दम सीधे लेटना है। इसके बाद धीमी गति से सांस लें और उसी गति से छोड़ें। यह आसन आप को कम से कम मिनट तक करना है। इससे तन और मन दोनों को आराम और शांति मिलती है।

और पढ़ें :  साइनस (Sinus) को हमेशा के लिए दूर कर सकते हैं ये योगासन, जरूर करें ट्राई

2.त्रिकोणासन

इस योगासन से ब्लड सर्कूलेशन में सुधार होता है और गुर्दे स्वस्थ रहते हैं। इस योग को करने के लिए सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं फिर दोनो पैरों को फैला लें| अब दाएं पैर की उंगलियों को दाएं हाथ से छूने की कोशिश करें ओर बाएं हाथ को ऊपर की ओर सीधा रखें, एक मिनट तक इसी स्तिथि में रहें, फिर शरीर के बाएं ओर से इसी प्रक्रिया को दोहराएं|

3.बुद्धकोनासन

यह योगासन पेट और किडनी की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। सबसे पहले योग मैट पर बैठ जाएं। फिर अपने दोनो पैर के पंजों को आपस में मिलाएं। पैर के मिले हुए स्थान को अपने दोनो हाथों से पकड़ें ओर तितली के पंख की तरह उड़ाएं। यह आसन बहुत सरल और मजेदार है।

और पढ़ें : सर्वाइकल दूर करने के लिए करें ये योगासन

4.भुजंगासना

यह योगासन पेट के कई रोगों के लिए लाभदायक है| गैस, अपच, कब्ज जैसे रोगों से राहत दिलाने के लिए भुजंगासन योग किया जाता है| मोटापा कम करने में भी इससे सहायता मिलती है और रक्त का संचार भी बेहतर होता है| इस आसन को करने के लिए सबसे पहले पेट के बल लेट जाएं|  फिर एक लम्बी सांस के साथ सर गर्दन और सीने को ऊपर आसमान की ओर ले जाएं और  शरीर को सीधा ही रहने दें। इसके लिए हाथों का सहारा लें और हाथ को पर पूरा वजन जाने दें। 10-20 सेकेंड रुकें फिर नीचे आ जाएं| इस आसान को पांच से छह बार दोहराएं।

5.वृक्षासन

यह योगासन पैरों और रीढ़ की हड्डी को मजबूत बनाता है। यह आसन करने के लिए सब से पहले जमीन पर सीधे खड़े हो जाएं। उसके बाद अपने दाएं पैर को बाएं पैर की जांघ पर रख कर बाएं पैर पर खड़े हो जाएं। उसके बाद अपने दोनो हाथों को प्रार्थना की तरह जोड़ कर ऊपर की तरफ ले जाएं और एक दम ऊपर सीधा कर के खड़े हो जाएं। इसी हालत में 30 से 35 सेकेंड तक खड़े रहें।

6.शवासन

यह योगासन सब से सरल योग है। इससे हमारे शरीर को बहुत लाभ होता है। इसे करने के लिए जमीन पर एक दम सीधे लेट जाएं और दोनो पैरों को एक दूसरे से अलग रखें। उसके बाद धीरे धीरे सांस लें और छोड़ें। इससे शरीर को बहुत रिलेक्स मिलता है।

और पढ़ें : वजन कम करने में फायदेमंद हैं ये योगासन, जरूर करें ट्राई

7.सुखासन

यह योगासन रीढ़ की हड्डी के लिए अच्छा होता है। इससे स्ट्रेैस और मानसिक तनाव में कमी होती है। यह आसन करने के लिए सब से पहले जमीन पे योग आसन के लिए बैठ जाएं। उसके बाद रीढ़ की हड्डी को सीधा कर लें।अपने दोनो हाथों की हथेलियों को घुटने क ऊपर रख के आंख बंद कर लें। धीरे-धीरे लंबी सांस लें फिर छोड़ें।

8.ताड़ासन

यह योगासन हाइट बढ़ाने में मदद करता है और रीढ़ की समस्याओं को दूर करता है। इस आसान को करने के लिए सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं। अपने दोनो पैरों के बीच थोड़ा सा गैप रखें। फिर पैर के पंजों पे खड़े होकर धीरे-धीरे हाथ ऊपर उठाएं और ऊपर ले जाकर दोनो उंगलियों से जोड़ लें। 20-30 सेकेंड तक ऐसे ही खड़े रहें फिर अपने हाथों को नीचे ले आएं।

9. धनुरासन

exercise

धनुरासन करने से वजन कम होता है और साथ ही शरीर भी सही शेप में आ जाता है। यही नहीं, यह आसन करने से पेट की समस्याएं भी दूर होती हैं और रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है। इस आसन में शरीर धनुष की तरह लगता है, इसलिए इस आसन को धनुरासन कहा जाता है। ये एक बेहतरीन वेट लॉस योगा है।

कैसे करें?

  • धनुरासन को करने के लिए सबसे पहले पेट के सहारे किसी दरी या चटाई पर लेट जाएं।
  • अपने पैरों पीछे की तरफ से मोड़ें और अपने सिर की तरफ ले कर जाए।
  • अब अपने हाथों को पीछे ले जाएं और अपनी एड़ियों को पकड़ने की कोशिश करें।
  • अपने कंधों को भी ऊपर उठाएं। साथ में सांस लें और छोड़ें।
  • लगभग 30 सेकेंड से लेकर एक मिनट तक ऐसे ही रहें।
  • फिर अपनी सामान्य स्थिति में आ जाएं और कुछ देर बाद फिर से इसे दोहराएं।

10. उत्कटासन

exercise

उत्कटासन को चेयर पोज के नाम से भी जाना जाता है। यह पूरे शरीर को सुडौल बनाने और वजन कम करने के लिए अच्छा आसन है। इस आसन को करते हुए पुजिशन कुर्सी की तरह लगती है इसलिए, इसे चेयर पोज कहा जाता है। ये एक फायदेमंद वेट लॉस योगा पोज है।

और पढ़ें : लाफ लाइंस से छुटकारा दिलाएंगी ये एक्सरसाइज

कैसे करें?

  • उत्कटासन को करने के लिए किसी मैट पर सीधा होकर खड़े हो जाएं।
  • दोनों पैरों को एक दूसरे के नजदीक रखें और हाथों को भी सीधा रखें।
  • अब गहरी सांस लें और दोनों हाथों को ऊपर आसमान की तरफ ले कर जाएं और सिर के ऊपर ले जा कर नमस्कार की मुद्रा में खड़े हो जाएं।
  • अब अपने घुटनों को मोड़ कर अपने हिप्स को इस तरह से मोड़ें जैसे नीचे बैठ रहे हों।
  • इस दौरान अपनी कमर को सीधा रखें।
  • इस तरह से आपकी पुजिशन से कुर्सी का आभास होगा।
  • आप इस आसन में अपने हिप्स को फर्श के पास लाने की कोशिश करें।
  • जब तक आप इस आसन में रह सकते हैं तब तक रहें।
  • इसके बाद सामान्य स्थिति में आ जाएं।

इस तरह योगासन के इन सरल तरीकों से अपनी जीवन शैली में शामिल करें और स्वस्थ रहें| हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है, अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

वृक्षासन योग से बढ़ाएं एकाग्रता, जानें कैसे करें इस आसन को और क्या हैं इसके फायदे

वृक्षासन कैसे करें, इस आसन के लाभ, वृक्षासन को किन स्थितियों में नहीं करना चाहिए, Vrikshasana in Hindi, Benefits of Vrikshasana

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma

दिमाग को शांत करने के लिए ट्राई करें विपरीत करनी आसन, और जानें इसके अनगिनत फायदें

विपरीत करनी आसन करने का तरीका, कैसे है विपरीत करनी आसन लाभदायक, इसे किन स्थितियों में नहीं करना चाहिए, पाइए पूरी जानकारी, Viparita Karani Aasan in hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma

क्या है क्रोकोडाइल पोज या मकरासन, जानें करने का तरीका और फायदें?

मकरासन (Crocodile pose) क्या है। इसे कैसे किया जाए एक्सपर्ट के हवाले से जानें, वहीं इसके फायदे और नुकसान को जानने के साथ किसे करना चाहिए और किसे नहीं जानें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

रीढ़ की हड्डी के लिए फायदेमंद ऊर्ध्व मुख श्वानासन को कैसे करें, क्या हैं इसे करने के फायदे जानें

ऊर्ध्व मुख श्वानासन, ऊर्ध्व मुख श्वानासन करने का तरीका , क्या हैं इस आसन को करने के फायदे और नुकसान जानिए विस्तार से, Urdhva Mukha Shvanasana in hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma

Recommended for you

लॉकडाउन में पीसीओएस पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS)

लॉकडाउन में पीसीओएस को कैसे दें मात? फॉलो करें ये टिप्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ सितम्बर 16, 2020 . 9 मिनट में पढ़ें
बच्चों में एकाग्रता/concentration

बच्चों में एकाग्रता बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ सितम्बर 15, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अग्नि मुद्रा-Agni Mudra

मोटापे से हैं परेशान? जानें अग्नि मुद्रा को करने का सही तरीका और अनजाने फायदें

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Ruby Ezekiel
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ अगस्त 28, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
पवनमुक्तासन-Wind Relieving Pose

पेट की परेशानियों को दूर करता है पवनमुक्तासन, जानिए इसे करने का तरीका और फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ अगस्त 20, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें