क्या सफेद दाग का इलाज संभव है, जानें विटिलिगो के घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अगस्त 16, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

विटिलिगो एक प्रकार का ऑटोइम्मयून कंडीशन है। इसके तहत शरीर के वैसे सेल्स जो स्किन पिग्मेंट प्रोड्यूस करते हैं वो नष्ट हो जाते हैं। नतीजतन स्किन में व्हाइट पैचेस बनने लगते हैं। वैसे लोग जो इस बीमारी से जूझ रहे होते हैं उन्हें काफी जिज्ञासा रहती है कि खानपान में बदलाव कर या फिर जीवन शैली में बदलाव कर क्या वो इस प्रकार के शारिरिक बदलाव को रोक सकते हैं या नहीं।

द नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (एनआईएच) की रिपोर्ट के अनुसार 15 से 25 फीसदी लोग जो विटिलिगो की बीमारी से पीड़ित होते हैं उनमें एक अन्य ऑटोइम्मयून से जुड़ा डिसऑर्डर होता है। जैसे रुमेटायड अर्थराइस, टाइप 1 डायबिटीज या फिर सोरायसिस। मौजूदा समय में वैसे तो इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है कि स्किन के पिग्मेंटेशन को ठीक कर प्रभावित स्किन को सामान्य किया जा सके। लेकिन कुछ ट्रीटमेंट व उपाय है जिनको अपनाकर इस बीमारी को बढ़ने से रोका जा सकता है।

तो आइए इस आर्टिकल में हम विटिलिगो के घरेलू उपाय के बारे में चर्चा करते हैं और जानने की कोशिश करते हैं कि किन घरेलू चीजों को अपनाकर हम इस बीमारी से निजात पा सकते हैं या फिर बीमारी के लक्षणों को कम कर सकते हैं।

क्यों होती है यह बीमारी

विटिलिगो के घरेलू उपाय जानने से पहले हमें यह जानना बेहद ही जरूरी है कि आखिरकार यह बीमारी होती क्यों है। कुछ डॉक्टरों का यह मानना है कि विटिलिगो एक कॉस्मेटिक कंडीशन है, लेकिन अब अधिकतर यह मानते हैं कि यह बीमारी ऑटो इम्मयून डिसऑर्डर से जुड़ी बीमारी है। बॉडी के इम्मयून सिस्टम के कारण वो न चाहते हुए भी हेल्दी सेल्स पर अटैक करते हैं। इस मामले में इम्मयून सेल्स मोनोसाइट्स सेल्स  पर अटैक करते हैं, यह स्किन को कलर देने का काम करता है। इस बीमारी से ग्रसित 20 फीसदी लोग प्रभावित स्किन पर खुजली का एहसास करते हैं। वहीं अन्य की तुलना में इन्हें सनबर्न होने का खतरा भी ज्यादा रहता है। शोधकर्ता विटिलिगो को लेकर अनुवांशिक कारणों पर अभी भी शोध कर रहे हैं।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

प्राकृतिक रूप से विटिलिगो से बचाव कर

विटिलिगो के घरेलू उपाय के लिए यदि कोई पीड़ित चाहे तो प्राकृतिक रूप से विटिलिगो से बचाव कर सकता है। विटिलिगो सपोर्ट इंटरनेशनल के अनुसार वैसे लोग जो इस बीमारी से ग्रसित होते हैं, उनमें अनुवांशिक तौर पर ही न्यूट्रीएंट्स की कमी होती है, कुछ प्रकार के न्यूट्रीएंट्स के कारण ही उनमें ऐसी असमानता देखने को मिलती है। लेकिन मौजूदा समय में ऐसे कोई भी तथ्य नहीं है जो यह प्रमाणित करें कि न्यूट्रीएंट्स से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन कर विटिलिगो से बचाव किया जा सके या फिर विटिलिगो को और भी बदतर होने से रोका जा सके।

प्रमाणित न होने के बावजूद कुछ लोग यह दावा करते हैं कि वो विटिलिगो के घरेलू उपाय को आजमाकर बीमारी से निजात पा सकते हैं। इन पारंपरिक दवाओं में-

इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए डॉक्टरी सलाह लें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

लाइफस्टाइल में बदलवा कर, धूप में न निकले

विटिलिगो के घरेलू उपाय में लाइफस्टाइल में बदलाव कर इस बीमारी के लक्षणों को काफी हद तक कम कर सकते हैं। सामान्य तौर पर डॉक्टर सुझाव देते हैं कि इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति सूर्य की किरणों से स्किन को बचाकर रखें। ऐसा इसलिए है क्योंकि डिपिग्मेंटेशन स्किन काफी सेंसेटिव होती है। ऐसे में अल्ट्रावायलेट रेज प्रभावित स्किन को नुकसान पहुंचा सकती है।

कुछ डॉक्टर इस बीमारी से पीड़ित लोगों को स्पैक्ट्रम सन्सक्रीम लगाने का सुझाव देते हैं। यह सूर्य की रोशनी से स्किन को बचाता है।

त्वचा और बालों के लिए किचन रेमिडीज के बारे में जानें

आप चाहें तो अन्य तरीकों से सूर्य की रौशनी से ऐसे बच सकते हैं, जैसे

  • पूरे शरीर को ढकने वाले कपड़ों को पहनकर
  • धूप ज्यादा हो तो छांव में छिप जाए
  • इस बीमारी से पीड़ित लोग टेनिंग बेड और सन लैंप्स का इस्तेमाल कतई न करें
  • सन बाथ लेने की बजाय सेल्फ ट्रेनर, कास्टिंग क्रीम और मेकअप का इस्तेमाल करें

और पढ़ें : स्किन पॉलिशिंग के बारे में क्या नहीं जानते आप? इससे ऐसे त्वचा निखारें

विटिलिगो के घरेलू उपाय में शामिल करें यह डाइट

मौजूदा समय में विटिलिगो के घरेलू उपाय से निपटने के लिए आधिकारिक तौर पर कोई भी डाइट को सार्वजनिक नहीं किया गया है। लेकिन विटिलिगो डाइट के तहत हेल्दी न्यूट्रीएंट्स से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करने के साथ ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करना चाहिए। वहीं किसी भी ऑटोइम्मयून डिसऑर्डर की बीमारी के मामले में पीड़ित व्यक्ति अपने इम्मयून सिस्टम को बढ़ाकर बीमारी को मात दे सकता है। इसके लिए आप चाहें तो फायटोकैमिकल्स, बीटा कैरोटीन और एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते हैं। विटिलिगो के घरेलू उपाय में यहां कुछ खाद्य सामग्री हैं जिसका सेवन कर बीमारी से बचाव कर सकते हैं। इनमें

  • केला
  •  सेब
  •  अंजीर और खजूर
  •  रूट वेजीटेबल जैसे बीट, गाजर, मूली आदि का ज्यादा से ज्यादा सेवन कर
  •  चना, जिसे गारबानजो बींस (garbanzo beans) भी कहा जाता है
  • हरी पत्तेदार सब्जियां, जैसे केल और रोमेन लिट्यूस आदि का सेवन कर

और पढ़ें : स्किन टाइटनिंग के लिए एक बार करें ये उपाय, दिखने लगेंगे जवान

विलिटिगो डाइट के तहत इन खाद्य पदार्थों का न करें सेवन

विटिलिगो के घरेलू उपाय के तहत जिस प्रकार इस बीमारी से बचाव के लिए कोई खास डाइट नहीं है ठीक उसी प्रकार बीमारी की कंडीशन को बदतर करने के लिए मेडिकली प्रूव कोई खाद्य पदार्थों की सूची भी नहीं है। कुछ लोगों में देखा गया है कि कुछ खास खाद्य पदार्थों का सेवन करने पर उनमें नेटेटिव रिएक्शन देखने को मिलते हैं। खासतौर से वैसे लोग जिसमें डिपिग्मेंटिंग एजेंट हाइड्रो क्विनोन्स पाया जाता है। वहीं हर व्यक्ति का शरीर अलग है, वहीं अलग-अलग खाद्य सामग्री का सेवन करने पर उनका शरीर अलग-अलग तरह से रिएक्ट करता है। तो ऐसे में यहां कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिनका सेवन कर विटिलिगो के मरीजों में दुष्प्रभाव दिख सकते हैं, ऐसे में सही यही है कि विटिलिगो के घरेलू उपाय के तहत इस बीमारी से पीड़ित लोग इन खाद्य पदार्थों का सेवन न करें, जैसे

  • शराब
  •  रेड मीट
  •  ब्लूबेरीज
  •  नाशपाती
  •  सिट्रस
  •  अनार
  • आचार
  •  अंगूर
  •  कॉफी
  • दही
  •  आंवला
  •  मछली
  •  फ्रूट जूस
  •  टमाटर
  • आंटे के प्रोडक्ट

इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए डॉक्टरी सलाह लें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें : हेल्दी स्किन के लिए नए साल में नए टिप्स, इन्हें जरूर आजमाएं

विटिलिगो के प्रिवेंशन और ट्रीटमेंट के लिए विटामिन का इस्तेमाल 

विटिलिगो के घरेलू उपाय के तहत इस बीमारी से ग्रसित कुछ मरीजों से यह महसूस किया है कि कुछ विटामिन व हर्ब का इस्तेमाल करने से उन्हें इस समस्या से निताज मिली। वहीं उनकी स्किन सामान्य रंग में तब्दील हुई। लेकिन यह तथ्य मेडिकली प्रूव नहीं है। इसको लेकर सिर्फ वास्तविक सबूत ही है। इन विटामिन में

  • अमीनो एसिड
  •  इंजाइम्स
  •  विटामिन बी 12 और फॉलिक एसिड
  •  विटामिन सी
  •  विटामिन डी
  •  बेटा केरोटीन
  •  जिन्कगो बिलोबा

कुछ मिनरल्स में भी देखा गया है कि उसका इस्तेमाल कर या फिर यूं कहें उसे विटिलिगो के घरेलू उपाय में शामिल कर समस्या से निजात मिलती है, उन मिनरल्स में इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति इन घरेलू उपाय को आजमाकर बीमारी से राहत पाने का प्रयास कर सकता है, जैसे

क्या इसका इलाज संभव है

कुछ लोगों में अनुवांशिक कारणों से यह बीमारी होने की संभावनाएं रहती है। वहीं डॉक्टर्स भी यह अंदाजा नहीं लगा पाते हैं कि लोगों में अनुवांशिक कारणों से यह बीमारी होगी कि नहीं। विटिलिगो बीमारी को होने से रोकने को लेकर कोई तरीका नहीं है, लेकिन कुछ ट्रीटमेंट हैं जिसकी मदद से प्रभावित स्किन की डी पिगमेंटेशन को बढ़ने से रोका जा सकता है।

और पढ़ें : जानें, फेशियल योगा से कैसे स्किन को टाइट करें

ट्रीटमेंट ऑप्शन पर एक नजर

विटिलिगो के घरेलू उपाय तो हमने जान लिए, लेकिन क्या आपको पता है कि इस बीमारी से ग्रसित कुछ लोग इलाज कराते तक नहीं है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह पैचेस उनके शरीर में काफी कम एरिया को प्रभावित करता है। वहीं कुछ लोगों के लिए यह बीमारी विचलित करने वाली हो सकती है। युवाओं में खासतौर पर देखा गया है कि विटिलिगो के कारण उनकी जीवनशैली प्रभावित होती है। इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति मेकअप, सेल्फ टेनर्स और स्किन डाई जैसे विकल्पों की ओर रुख करता है। लेकिन जब यही बीमारी शरीर के बड़े हिस्से को प्रभावित करती है तो ऐसे में मेडिकल ट्रीटमेंट की आवश्यकता पड़ती है। ताकि सामान्य लोगों की ही भांति स्किन कलर पा सके।

क्विज खेल जाने स्किन को हेल्दी रखने के उपाय : Quiz : हेल्दी स्किन के लिए करने चाहिए ये जरूरी उपाय

जानें ट्रीटमेंट में कौन-कौन से हैं विकल्प

  • कोर्टिकोस्टेरॉयड क्रीम
  • लाइट ट्रीटमेंट
  • पुवा थेरेपी
  • सर्जरी
  • डी पिगमेंटेशन
  • नेचुरल प्रोडक्ट
  • लाइफ स्टाइल हेबिट

इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए डॉक्टरी सलाह लें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

लाइफ लांग समस्या है विटिलिगो

विटिलिगो एक लाइफ लांग समस्या है। कुछ मामलों में इस बीमारी का इलाज संभव नहीं है। लेकिन विटिलिगो के घरेलू उपाय के तहत कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन कर व कुछ खाद्य पदार्थों को न खाकर स्थिति को बद से बदतर होने से रोका जा सकता है। इसके लिए आपको कुछ लाफइस्टाइल में बदलाव करने की भी जरूरत पड़ सकती है। इसलिए जरूरी है कि इस बीमारी से पीड़ित लोगों को हेल्दी डाइट लेने की सलाह दी जाती है। लेकिन उचित सलाह के लिए आपको अपने डर्मेटोलॉजिस्ट से सलाह लेनी चाहिए।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

विटिलिगो: सफेद दाग के रोगियों के लिए डायट प्लान

सफेद दाग डायट प्लान क्या है?विटिलिगो डायट प्लान कैसे किया जाता है, इस आर्टिकल में जाने सफेद दाग से पीड़ित लोगों का डायट प्लान, vitiligo diet plan

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
आहार और पोषण, स्वस्थ जीवन जुलाई 13, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Nurokind Od: न्यूरोकाइंड ओडी क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

न्यूरोकाइंड ओडी टैबलेट की जानकारी in hindi. इस दवा का किस बीमारी में होता है इस्तेमाल, इसके साइड इफेक्ट्स, डोज, सावधानियां-चेतावनी को जानने के लिए पढ़ें ये लेख।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 22, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

क्या है पतली आईब्रो को माइक्रोब्लेडिंग कर मोटा करने की प्रक्रिया, जाने पूरी जानकारी

माइक्रोब्लेडिंग करवाने के खर्च से लेकर आखिर कौन करवाता है इसे, मौजूदा समय में कास्मेटिक ट्रीटमेंट में क्यों हो रहा है पॉपुलर, जाने पूरी जानकारी।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्वस्थ जीवन मई 5, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें

क्या परफ्यूम आपकी सेहत के लिए हानिकारक है?

परफ्यूम के नुकसान की बात करें तो इसमें इतने कैमिकल्स होते हैं कि उससे शारीरिक परेशानी हो सकती है, वहीं कंपनियां तमाम कैमिकल्स की जानकारी भी नहीं देती। इस आर्टिकल में जानिए परफ्यूम के नुकसान।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्वस्थ जीवन अप्रैल 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

डर्मिकेम ओसी क्रीम

Dermikem OC Cream : डर्मिकेम ओसी क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 11, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
क्लोबेन जी क्रीम

Cloben G Cream : क्लोबेन जी क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 10, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
त्वचा के रूखेपन के घरेलू उपाय/dry skin home remedies

ड्राई स्किन से हैं परेशान, तो आजमाएं कुछ आसान घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ अगस्त 6, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें
पिगमेंटेशन (झाइयां) के घरेलू उपाय

अगर चाहिए पिगमेंटेशन (झाइयां) से मुक्त त्वचा, तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ अगस्त 5, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें