home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

सिर्फ विलेन ही नहीं हीरो का भी रोल करता है स्ट्रेस, जानें स्ट्रेस के फायदे

सिर्फ विलेन ही नहीं हीरो का भी रोल करता है स्ट्रेस, जानें स्ट्रेस के फायदे

अक्सर आप सुनते हैं कि स्ट्रेस हेल्थ के लिए हानिकारक होता है। इससे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य बिगड़ता है। लेकिन, क्या आपको यकीन होगा अगर हम कहें कि स्ट्रेस के फायदे भी होते हैं? अमेरिकन साइकोलॉजिकल एसोसिएशन के एनुअल कन्वेंशन के दौरान एक प्रेजेंटेशन में एक मनोवैज्ञानिक ने स्ट्रेस और एंग्जायटी के लाभों के बारे में बताया। वहीं, अमेरिकन इंस्टीट्यूट ऑफ स्ट्रेस की माने तो तनाव जीवन के अनुभवों के लिए एक नेचुरल शारीरिक और मानसिक प्रतिक्रिया है। इसलिए, चाहे वह फाइनेंशियल, हेल्थ, प्रोफेशनल या रिलेशनशिप हो किसी न किसी पॉइंट पर हर कोई तनावग्रस्त महसूस करता है। इस स्ट्रेस के फायदे भी होते हैं। जानते हैं इस लेख में तनाव के लाभों के बारे में-

गुड स्ट्रेस Vs बैड स्ट्रेस

ज्यादातर लोग सोचते हैं कि हर तरह का तनाव बुरा ही है, लेकिन ऐसा नहीं है। सच में, सभी स्ट्रेस एक जैसे नहीं होते हैं। जाहिर है, जब आप भावनात्मक रूप से कमजोर और किसी चीज के दबाव में होते हैं तो किसी चीज के फायदे देखना मुश्किल होता है और अगर किसी ने आपको बताया कि तनाव आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है, तो आप इस बात पर यकीन भी नहीं करेंगे। लेकिन, यह सही है।

इसका मतलब यह नहीं है कि अपनी लाइफ को कॉम्प्लिकेटेड और तनावपूर्ण बनाना चाहिए। “स्ट्रेस किल्स (stress kills)” कहावत सही हो सकती है। जब क्रोनिक स्ट्रेस (जो कि बैड स्ट्रेस है) आपके विचारों पर दिन प्रतिदिन हावी होता रहता है, तो यह थकान, हाई ब्लड प्रेशर, अवसाद आदि का कारण बन सकता है।

इस तरह के स्ट्रेस से दूर रहने के लिए आपको कोशिश करनी चाहिए। लेकिन, थोड़ा-सा तनाव होने पर आपको इसे पॉजिटिव तरीके से लेना चाहिए। ह्यूमन बॉडी में हर रोज सामान्य तनावों से निपटने के लिए जन्म से ही शारीरिक प्रतिक्रिया (physiological reaction) मौजूद होती है। और जब ये प्रतिक्रियाएं बचाव करने के दौरान एक्टिव होती हैं तो ये आपके लिए फायदेमंद होती हैं। इसलिए, इससे पहले कि आप मानसिक तनाव को एक विलेन के रूप में देखें, स्ट्रेस के फायदे पर भी गौर करें।

यह भी पढ़ें : आंखों की एक्सरसाइज के साथ ही कैलोरी बर्न भी करता है भारतीय नृत्य

स्ट्रेस के फायदे

जानते हैं तनाव के शारीरिक और मानसिक लाभ क्या हैं?

ब्रेनपावर को बढ़ाने में मददगार

निम्न-स्तर का मानसिक तनाव मस्तिष्क के रसायनों के उत्पादन को उत्तेजित करता है (जिन्हें न्यूरोट्रोफिन कहा जाता है) और मस्तिष्क में न्यूरॉन्स के बीच संबंधों को मजबूत करता है। वास्तव में, यह प्रोडक्टिविटी और एकाग्रता को बढ़ाने में मदद करता है। शार्ट टर्म मनोसाइकोलॉजिकल स्ट्रेस का भी समान प्रभाव हो सकता है। साथ ही, जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के रिसर्चर के द्वारा जानवरों पर की गई स्टडी की माने तो तनाव के लिए शरीर की प्रतिक्रिया मेमोरी और सीखने की एबिलिटी को अस्थायी रूप से बढ़ा सकती है।

यह भी पढ़ें : माइग्रेन में खाना क्या चाहिए जिससे मिलेगी जल्दी राहत

स्ट्रेस के फायदे : इम्युनिटी बूस्ट हो सकती है

जानकर हैरानी होगी कि स्ट्रेस आपको संक्रमण से बचा सकता है। थोड़ा-सा तनाव शरीर में इंटरल्यूकिन का उत्पादन करता है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है और आपको बीमारियों से बचाता है। हालांकि, क्रोनिक स्ट्रेस का मानव शरीर पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। 2012 के एक स्टैनफोर्ड शोध में पाया गया कि कम मानसिक तनाव के लिए लैब में मौजूद चूहों ने अपने ब्लड स्ट्रीम में कई प्रकार की इम्यून सेल्स का उत्पादन किया।

यह भी पढ़ें : तनाव और चिंता से राहत दिलाने में औषधियों के फायदे

स्ट्रेस के फायदे : आप ज्यादा फ्लेक्सिबल होते हैं

साइंस ऑफ रेसिलिएंस की स्टडी के अनुसार, तनावपूर्ण स्थितियों से निपटने के लिए सीखना, भविष्य में किसी चीज को मैनेज करने की एबिलिटी को आसान बना सकता है। तनावपूर्ण स्थितियों के बार-बार संपर्क में आने से शारीरिक और मनोवैज्ञानिक नियंत्रण की भावना डेवलप करने का मौका मिलता है।

2013 में कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय सैन फ्रांसिस्को के एक अध्ययन में पाया गया कि क्रोनिक स्ट्रेस हमारे डीएनए और आरएनए के ऑक्सीडेटिव लॉस को बढ़ावा देता है। वहीं, रोजमर्रा की जिंदगी में होने वाले तनाव का मध्यम स्तर वास्तव में इसकी रक्षा करता है और “मनोवैज्ञानिक आत्मीयता यानी साइकोबायोलॉजिकल रेसिलिएंस” को बढ़ाता है।

यह भी पढ़ें : जानें बॉडी पर कैफीन के असर के बारे में, कब है फायदेमंद है और कितना है नुकसान दायक

आपको सफल होने के लिए प्रेरित करता है

अच्छा तनाव, जिसे साइंटिफिक कम्युनिटी में यूस्ट्रेस (eustress) के नाम से भी जाना जाता है। गुड स्ट्रेस के फायदे आपको मिल सके इसके लिए इसे बस सही ढंग से काम पर लाने की आवश्यकता होती है। यह आपके व्यवहार को प्रभावी ढंग से उत्तेजित करने वाला होता है ताकि आप सिचुएशन को और अच्छे से मैनेज कर सके। गुड स्ट्रेस तनावपूर्ण स्थितियों को एक चुनौती के रूप में देखता है जिनसे आप जीत सकते हैं। यूस्ट्रेस जागरूकता बढ़ाकर आपको एक एक्टिविटी में बहुत लीन होने में मददगार साबित होता है। इस यूस्ट्रेस का इस्तेमाल आप वर्कप्लेस, स्पोर्ट्स आदि में सफलता पाने में कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : अगर आपके ऑफिस में किसी को है क्रॉनिक डिजीज तो उसे ऐसे करें सपोर्ट

स्ट्रेस के फायदे : चाइल्ड डेवलपमेंट में सहायक

प्रेग्नेंट महिलाओं को अक्सर चिंता होती है कि उनका स्ट्रेस गर्भ में पल रहे शिशु को नकारात्मक रूप से प्रभावित करेगा। लेकिन 2006 के जॉन्स हॉपकिन्स के एक अध्ययन में पाया गया है कि गर्भावस्था के दौरान हल्के से मध्यम स्तर का तनाव बच्चे के लिए अच्छा हो सकता है। 137 महिलाओं पर हुए इस शोध में पाया गया कि जिन शिशुओं का जन्म उन माताओं से हुआ था जिन्होंने प्रेग्नेंसी के दौरान थोड़ा स्ट्रेस का अनुभव किया था, वे बच्चे जब दो साल के हुए तो उनमें मोटर और डेवलपमेंटल स्किल्स तनाव न लेने वाली महिलाओं के बच्चों की तुलना में ज्यादा थी।

यह भी पढ़ें : माइग्रेन के लिए मरिजुआना का कैसे किया जाता है इस्तेमाल?

स्ट्रांग बनते हैं आप

स्ट्रेस के तमाम फायदे में से एक यह है कि जब आप जल्दी-जल्दी और छोटी-छोटी तनावग्रस्त स्थितियों का सामना करते हैं तो ये सिचुएशन आपको भावनात्मक रूप से मजबूत बनाती हैं। साथ ही ऐसे लोग दूसरे लोगों को इमोशनल सपोर्ट देने में भी आगे होते हैं। स्ट्रेस एंड हेल्थ पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि तनाव का अनुभव करने से लोगों को किसी अन्य व्यक्ति से इमोशनल सपोर्ट लेने और देने की अधिक संभावना होती है।

स्ट्रेस के फायदे तो आप जान गए लेकिन इसके नुकसान भी कम नहीं हैं। थोड़ा तनाव आपके लिए लाभदायक साबित हो सकता है। लेकिन, लंबे समय तक बना रहने वाला माइल्ड स्ट्रेस भी आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। यह स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। कई मेडिकल रिपोर्टों के अनुसार, क्रोनिक स्ट्रेस से मोटापा, हृदय रोग, मधुमेह, अवसाद, अस्थमा, अल्जाइमर जैसी स्वास्थ्य स्थितियां बिगड़ जाती हैं। साथ ही, अध्ययन बताते हैं कि तनाव सीधे टाइप 2 मधुमेह वाले लोगों के ग्लूकोज स्तर को बढ़ा सकता है। क्रोनिक स्ट्रेस माइग्रेन, अवसाद और चिंता से जुड़ा हुआ है। इसलिए, जितना संभव हो उतना क्रोनिक स्ट्रेस से बाहर निकलने का प्रयास करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें :

दोस्त होता है स्ट्रेस बस्टर, जानें ऐसे ही तनाव को दूर करने के 9 उपाय

रेड वाइन पीना क्या बना सकता है हेल्दी, जानिए इसके हेल्थ बेनीफिट्स

तनाव और चिंता से राहत दिलाने में औषधियों के फायदे

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Mild Maternal Stress May Actually Help Children Mature. https://www.jhsph.edu/news/news-releases/2006/dipietro-stress.html. Accessed On 14 May 2020

Researchers find out why some stress is good for you. https://news.berkeley.edu/2013/04/16/researchers-find-out-why-some-stress-is-good-for-you/. Accessed On 14 May 2020

Building your resilience. https://www.apa.org/topics/resilience. Accessed On 14 May 2020

Researchers Explore the Benefits of Stress and Anxiety. https://www.stress.org/researchers-explore-the-benefits-of-stress-and-anxiety. Accessed On 14 May 2020

लेखक की तस्वीर badge
Shikha Patel द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/08/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड