home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

हार्ट फेलियर से बचाने में मदद करते हैं एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स!

हार्ट फेलियर से बचाने में मदद करते हैं एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स!

एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स एल्डोस्टेरोन (Effects of aldosterone) के प्रभाव को रोकता है। एल्डोस्टेरोन मुख्य मिनरलोकॉर्टिकॉइड हॉर्मोन (Main mineralocorticoid hormone) है, एड्रेनल ग्लैंड (adrenal gland) के एड्रिनल कॉर्टेक्स से प्रोड्यूस होता है। एल्डोस्टेरोन किडनी, सलाइवरी ग्लैंड (Salivary glands), स्वेट ग्लैंड्स (Sweat glands) और कोलन ( Colon) में सोडियम एब्जॉर्बशन को बढ़ाता है। यह हाइड्रोजन और पोटेशियम आयन के उत्सर्जन को बढ़ाता है। एल्डोस्टेरोन के प्रभाव को ब्लॉक करके, एंटागोनिस्ट ड्रग्स एल्डोस्टेरोन सोडियम के दोबारा एब्जॉर्बशन को रोकते हैं, जो वॉटर लॉस को इनकरेज करने का काम करता है। ये ब्लड प्रेशर में कमी करके और हार्ट के आसपास तरल पदार्थों को कम करता है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको हार्ट फेलियर में एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स (Aldosterone antagonists drugs in Heart failure) के बारे में जानकारी देंगे।

और पढ़ें: कंजेस्टिव हार्ट फेलियर ट्रीटमेंट के लिए अपनाए जाते हैं यह तरीके

हार्ट फेलियर में एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स (Aldosterone antagonists drugs in Heart failure)

Aldosterone antagonists drugs

एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स जन्मजात हार्ट फेलियर (Congestive heart failure) के साथ लो पोटैशियम की समस्या को भी खत्म करता है। जानिए ऐसे कुछ ड्रग्स के बारे में।

हार्ट फेलियर में एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स: एल्डेक्टोन टैबलेट (Aldactone Tablet)

एल्डेक्टोन टैबलेट एक डाययूरेटिक पिल या वॉटर पिल है। इस दवा का इस्तेमाल मुख्य रूप से हार्ट फेलियर के साथ ही हाय ब्लड प्रेशर की समस्या से छुटकारे के लिए किया जाता है। ये दवा स्वैलिंग की समस्या से राहत दिलाने के साथ ही शरीर के लो पोटैशियम लेवल के ट्रीटमेंट में यूज की जाती है। इस दवा का इस्तेमाल करने से शरीर कम मात्रा में सॉल्ट का अवशोषण करता है इस तरह से पोटैशियम लेवल की मात्रा कम नहीं हो पाती है। इस दवा का इस्तेमाल हार्ट फेलियर के साथ ही हाय ब्लड प्रेशर (Hypertension), लो पोटैशियम लेवल, एडिमा, जन्मजात हार्ट फेलियर, लिवर सिरोसिस (Cirrhosis of the liver), किडनी डिसऑर्डर (Kidney disorder) आदि में किया जाता है। ये दवा आपके शरीर में नमक और पानी के संतुलन को विनियमित करने में मदद करती है। इस दवा में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में स्पिरोनोलैक्टोन (Spironolactone) होता है। इस दवा के इस्तेमाल से वॉमिटिंग, चक्कर या फिर स्वैलिंग की समस्या हो सकती है। इस दवा की एक स्ट्रिप की कीमत 25 रु है।

और पढ़ें: सिस्टोलिक हार्ट फेलियर : लाइफस्टाइल में हेल्दी बदलाव से सुधर सकती है दिल की यह कंडिशन!

एप्लिनाइस 25mg टैबलेट (Eplinice 25mg Tablet)

हार्ट फेलियर में एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स के रूप में इस दवा का इस्तेमाल हार्ट फेलियर और हार्ट अटैक के खतरे को कम करने के लिए किया जाता है। ये हाय ब्लड प्रेशर को कम करने के भी काम आती है। आप इस दवा का सेवन बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं कर सकते हैं। इस दवा में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में एप्लेरेनोन (Eplerenone) होता है। अगर आपको हाय पोटैशियम लेवल, सेवर किडनी डिजीज (Severe kidney disease), हाय एल्बुमिन के साथ टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 diabetes) की समस्या हो, तो इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। दवा का इस्तेमाल करने से डायरिया (Diarrhea), हेडएक (Headache), कफ आदि की समस्या हो सकती है। स्थिति गंभीर न होने दें और तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। आपको इस बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। इस दवा की एक स्ट्रिप की कीमत 27 रु है।

नोट – ब्रैंड्स का प्राइज थोड़ा कम या फिर ज्यादा हो सकता है। आप जहां से प्रोडक्ट खरीद रहे हैं, वहां का प्राइज अन्य जगह से अलग हो सकता है।

हार्ट फेलियर में एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स: कैरोस्पीयर (CaroSpir)

हार्ट फेलियर में एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स के रूप में इस दवा का इस्तेमाल डाययूरेटिक (Water pill) या वॉटर पिल के रूप में किया जाता है। ये शरीर से अधिक मात्रा में सॉल्ट के अवशोषण को रोकने का काम करती है। इस कारण से लो पोटैशियम लेवल में सुधार होता है। इस दवा का इस्तेमाल हार्ट फेलियर, हाय ब्लड प्रेशर, लो पोटैशियम लेवल की समस्या से राहत पाने के लिए किया जाता है। ये दवा एडिमा की समस्या से भी बचाती है। जन्मजात हार्ट फेलियर की समस्या, लिवर सिरोसिस या फिर किडनी डिसऑर्डर जैसे कि नफरोटिक सिंड्रोम (Nephrotic syndrome) में भी ये दवा असरदार होती है। कैरोस्पिर का उपयोग ऐसी स्थिति का निदान या उपचार करने के लिए भी किया जाता है जिसमें आपके शरीर में बहुत अधिक एल्डोस्टेरोन होता है। एल्डोस्टेरोन हॉर्मोन शरीर में नमक और पानी के संतुलन को रेग्युलेट करने में मदद करता है। इस दवा में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में स्पैरोनोलेक्टोन (Spironolactone) मौजूद होता है। अगर आपको यूरिन नहीं आ रही है या फिर अधिक पोटैशियम लेवल है, तो इस दवा का इस्तेमाल न करने की सलाह दी जाती है। हार्ट फेलियर में एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से जानकारी लें।

और पढ़ें: राइट साइड हार्ट फेलियर के लक्षणों को न करें नजरअंदाज, हो सकते हैं जानलेवा

हार्ट डिजीज के बारे में अधिक जानकारी के लिए देखें ये बायो डिजिटल वीडियो

हाय ब्लड प्रेशर को न करें इग्नोर

हार्ट फेलियर (Heart failure) को जन्मजात हार्ट फेलियर (Congestive heart failure) के नाम से भी जाना जाता है। हार्ट फेलियर की समस्या होने पर छाती में दर्द, कमजोरी का एहसास, हार्ट बीट का अनियमित होना, सांस लेने में समस्या होना आदि लक्षण दिखाई पड़ते हैं। अगर आपको भी ये लक्षण नजर आएं, तो बिना देरी किए डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। अगर आपको हार्ट फेलियर डायग्नोज हुआ है, तो बिना देरी किए ट्रीटमेंट शुरू कर देना चाहिए। हार्ट फेलियर चार प्रकार के हो सकते हैं। इनमें लेफ्ट साइड हार्ट फेलियर (Left-sided heart failure), राइट साइड हार्ट फेलियर (Right-sided heart failure), सिस्टोलिक हार्ट फेलियर (Systolic heart failure), डायसिस्टोलिक हार्ट फेलियर (Diastolic heart failure) शामिल हैं। अगर आपको इनमें से कोई भी कंडीशन डायग्नोज हुई है, तो ये आपके हार्ट को कमजोर करने का काम करेंगे और साथ ही हार्ट फेलियर का कारण बनेंगे। अगर आपको हाय ब्लड प्रेशर की समस्या हमेशा रहती है, तो इसे छोटी बीमारी समझने की भूल न करें। हाय ब्लड प्रेशर के कारण हार्ट को अधिक काम करना पड़ता है। एक्स्ट्रा एक्जर्शन के कारण हार्ट मसल्स वीक होने लगती हैं और कुछ समय बाद ये हार्ट फेलियर का कारण बन सकती हैं। बेहतर होगा कि जांच के बाद समय पर दवाओं का सेवन कर अपनी लाइफस्टाइल में सुधार करें और हार्ट हेल्थ को बेहतर बनाएं।

और पढ़ें: लिवर सिरॉसिस और हार्ट फेलियर में क्या है संबंध? जानिए यहां

इस आर्टिकल में दिए गए ब्रांड के नाम का हैलो स्वास्थ्य प्रचार नहीं कर रहा है। डॉक्टर से परामर्श के बाद ही दवाओं का इस्तेमाल करना चाहिए। हार्ट की दवाओं का इस्तेमाल सही समय पर रोजाना करना चाहिए वरना दवाओं का सेवन न करने की स्थिति में आपको अन्य बीमारियां भी हो सकती हैं। दवाओं के साथ ही आपको खानपान पर भी ध्यान देने की जरूरत है। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता। इस आर्टिकल में हमने आपको हार्ट फेलियर में एल्डोस्टेरॉन एंटागोनिस्ट ड्रग्स (Aldosterone antagonists drugs in Heart failure) के संबंध में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे और आपकी परेशानी का समाधान करेंगे।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/09/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड